मंगलवार, 24 नवंबर 2020

संदिग्धों की निगरानी के लिए प्रतिष्ठानों में लगाए तीसरी आंख-पुलिस अधीक्षक सूरजपुर.......

तीसरी आंख लगाने में व्यापारीगण करेंगे सहयोग।

प्रतिष्ठानों में कार्यरत् व्यक्तियों का पुलिस वेरिफिकेशन कराने को कहा।

सूरजपुर: बीते रविवार को छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू व डीजीपी श्री डी.एम.अवस्थी ने वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिए सभी पुलिस अधीक्षकों से कानून व्यवस्था एवं अपराधों की रोकथाम तथा व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में सीसीटीव्ही कैमरा लगाने के लिए उन्हें प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए थे।
          इसी परिपेक्ष्य में सोमवार 23 नवम्बर 2020 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने नगर के व्यवसायिक संस्थानों के संचालकों की मीटिंग पुलिस कन्ट्रोल रूम में आयोजित किया और उनसे सीसीटीव्ही की उपलब्धता, औचित्य तथा सुरक्षा विषयों को लेकर उनसे चर्चा की। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि आज अपराधों की रोकथाम और अपराध अन्वेषण एवं खोज-बीन के लिए नवीन तकनीक का उपयोग सबसे कारगर साबित हो रहा है। शहर के मुख्य चौक-चौराहों पर सीसीटीव्ही कैमरा के अलावा हम सभी की जिम्मेदारी है कि अपनी सुरक्षा के लिए खुद जागरूक रहें और इसके उपाए करें। उन्होंने कहा कि आप सभी के साथ मीटिंग करने का उद्देश्य संयुक्त रूप से सुरक्षा को प्राथमिकता देना है जिससे अपराध पर अंकुश लगे और असामाजिक तत्वों पर इसका खौफ बना रहेगा। अपराध को रोकने के लिए आप सभी सतर्क रहे और सीसीटीव्ही कैमरा लगाकर हमें सहयोग प्रदान करें। उन्होंने प्रतिष्ठानों में काम करने वाले व्यक्तियों का पुलिस वेरिफिकेशन अनिवार्य रूप से कराने की समझाईश दी।

बैठक की प्रमुख बाते।

          बैठक में पुलिस अधीक्षक ने कहा कि अक्सर देखा गया है कि व्यापारीगण दुकान के आंतरिक सुरक्षा को प्रथम तथा बाहरी सुरक्षा को दूसरे स्थान पर प्राथमिकता देते है जिसका अपराधियों को लाभ मिलता है। अपराधी वारदात को अंजाम देने के बाद सीसीटीव्ही कैमरे के हार्डडिस्क की तोड़फोड़ कर या उसे लेकर फरार हो जाते है जिसके कारण पुलिस को घटना की जांच व अपराधियों तक पहुंचने में दिक्कत होती है। सभी व्यापारीगण अपने-अपने प्रतिष्ठानों में सीसीटीव्ही कैमरा अवश्य लगवाए व कम से कम 2 कैमरा दुकान के बाहर इस तरह से लगवाए जिससे रोड़ पर होने वाली गतिविधियों एवं संदिग्धों पर नजर रखी जा सके, यथासंभव सीसीटीव्ही कैमरा अच्छी क्वालिटी के लगवाए, कई बार यह देखने को मिला है कि संदेही तो दिख रहे है किन्तु पिक्चर क्वालिटी अच्छी नहीं होने के कारण उन्हें पहचानने में काफी मशक्कत करनी पड़ती है।

तीसरी आंख लगाने में व्यापारीगण करेंगे सहयोग।

         बैठक में पुलिस अधीक्षक ने नगर में लगे सीसीटीव्ही कैमरा के अद्यतन स्थिति की जानकारी ली और व्यापारीगण से प्रमुख चौक-चौराहों सहित अन्य संवेदनशील स्थानों पर सीसीटीव्ही लगाने हेतु सहयोग करने की अपील की जिसमें व्यापारीगण ने पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया। बैठक में गोलू टाईल्स के संदीप गुप्ता, सांवारिया फ्लैक्स के संस्कार अग्रवाल, बनवारी लाल बिसेसर लाल के अंकुर गर्ग, सहित कई अन्य व्यापारीगण ने तीसरी आंख लगवाने में सहयोग करने की सैद्धांतिक सहमति दी।
          इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, थाना प्रभारी दीपक पासवान, सीएमओ नपा दीपक एक्का सहित काफी संख्या में नगर के व्यापारीगण मौजूद रहे।

सूरजपुर पुलिस ने हत्या के फरार आरोपी को किया गिरफ्तार....


सूरजपुर: बीते 22 नवम्बर को ग्राम पलढ़ा चौकी खड़गवां निवासी सुखदेव सिंह ने चौकी खड़गवां में रिपोर्ट दर्ज कराया कि रविवार के शाम 5.30 बजे इसकी माॅ हीरामुनी जंगल से झाड़ू बहरा काटकर घर वापस आ रही थी जो रास्ते में डल्लू के घर के पास आरोपी सहोदर ने इसकी माॅ हीरामनी को जमीन विवाद की बात पर टांगी से संघातिक प्रहार कर हत्या कर भाग गया है रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 198/20 धारा 302 भादवि का पंजीबद्व किया गया। मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने चौकी प्रभारी खड़गवां को फरार आरोपी की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। एसडीओपी प्रतापपुर पी.एस.महिलाने के मार्गदर्शन में चौकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह ने घटना के बाद से ही आरोपी के रहने के सभी संभावित स्थानों पर दबिश किन्तु रात्रि होने से आरोपी का कोई सुराग नहीं चला। 23 नवम्बर को मामले के आरोपी को गौरा जंगल में छिपे होने की सूचना मिलने पर पुलिस की टीम ने गौरा जंगल से आरोपी सहोदर पिता राम शरण सिंह को घेराबंदी कर पकड़ा। आरोपी के मेमोरण्डम कथन के आधार पर हत्या में प्रयुक्त टांगी को जप्त कर गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
           इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह, एएसआई बजरंगी लाल चैहान, प्रधान आरक्षक विशाल मिश्रा, विवेकानंद सिंह, आरक्षक अभय तिवारी, मिथलेश गुप्ता, कौशलेन्द्र सिंह, सैनिक रामनिवास, श्याम प्रकाश व विकास सिंह सक्रिय रहे।

गुरुवार, 19 नवंबर 2020

छठ घाटों का पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने लिया जायजा.........

घाटों पर पुलिस अधिकारी व जवानों की रहेगी कड़ी चौकसी

सूरजपुर। लोक आस्था का पर्व छठ को लेकर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने गुरुवार 19 नवम्बर को सूरजपुर के रेड़ नदी स्थित छठ घाट सहित विश्रामपुर के गौरीशंकर मंदिर और गोरखनाथपुर छठ घाट का जायजा लिया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक  ने घाटों की सफाई एवं समुचित व्यवस्था को देखकर संतुष्ट दिखे। उन्होंने छठ घाटों पर कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सरकार की ओर से जारी गाइड लाइन का पालन कराने, छठ घाटों पर लाइटिग के साथ गोताखोर और मेडिकल टीम की तैनाती समेत कई आवश्यक दिशा निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान पुलिस अधीक्षक ने छठ घाटों पर स्थानीय छठ पूजा आयोजन समिति के सदस्यों और जन प्रतिनिधियों से भी वहां की जा रही तैयारी की जानकारी ली और कई निर्देश भी दिए। पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा ने बताया कि जिले में जिन-जिन स्थानों पर छठ पर्व मनाया जाता है वहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के प्रबंध किए है। जिन छठ घाट पर ज्यादा भीड़ होने की संभावना है उन जगहों पर पुलिस अधिकारी-कर्मचारी के अलावा सीएसपी-एसडीओपी को भी तैनात किया गया है।
          इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एसडीएम पुष्पेन्द्र शर्मा, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर, नपा सीएमओ दीपक एक्का, नायब तहसीलदार अंकिता तिवारी, जनप्रतिनिधि व गणमान्य नागरिकगण मौजूद रहे।

मंगलवार, 17 नवंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने हत्यारे पति को किया गिरफ्तार........

घरेलू बात को लेकर पत्नी की हत्या कर शव का छुपाया था पैरावट में।

सूरजपुर। बीते 10 नवम्बर को ग्राम झांसी निवासी माधो सिंह पिता गोपाल राम ने चौकी बसदेई में रिपोर्ट दर्ज कराया कि मंगलवार को गांव का ललन सिंह घर आकर बताया कि तुम्हारीे माॅ धनमेत मामा के खलिहान में रखे पैरा में सोई है, सूचना पाकर यह खलिहान के पास गया तो देखा कि पैरा के बगल में कपड़ा ढ़का था जिसे उठाकर देखा तो कपड़े के नीचे माॅ मृत हालत में पड़ी थी जिसके नाक, कांन, मुंह से खून निकला था, इसके माता-पिता एक दूसरे से लड़ाई-झगड़ा करते थे तथा बीते रात में लड़ाई झगड़ा किऐ थे तथा सुबह इसकी माॅ की मृत्यु हो गई और सुबह से गोपाल राम भी घर में नहीं है कहीं भाग गया है। इसकी माॅ को पिता ही मारकर हत्या किया है रिपोर्ट पर चौकी में अपराध क्रमांक 467/20 धारा 302 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।
          मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने हत्या के मामले में फरार आरोपी की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने एवं स्वयं मामले की लगातार मानिटरिंग कर पुलिस टीम को आरोपी के रहने के संभावित स्थानों पर दबिश देने में लगाया। मामले में आरोपी की पतासाजी पुलिस टीम द्वारा की जा रही थी इसी दौरान चौकी प्रभारी सुनीता भारद्धाज को मुखबीर से सूचना मिली कि आरोपी जिला कोरिया के उदलकछार में घुमते देखा गया है जिसकी जानकारी से पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराया जिस पर उन्होंने तुरंत पुलिस टीम को आरोपी की गिरफ्तारी के लिए टीम रवाना किया।
          पुलिस की टीम मुखबीर की सूचना के आधार पर सोमवार 16 नवम्बर को मनेन्द्रगढ़ के उदलकछार क्षेत्र में आरोपी की पतासाजी करते हुए वहां के रेलवे स्टेशन के पास पहुंची जो आरोपी ग्राम झांसी निवासी 46 वर्षीय गोपाल सिंह पिता नलू सिंह को ट्रेन में सवार होकर भागने की फिराक के दौरान घेराबंदी कर पकड़ा। पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि 9 नवम्बर की रात्रि में पत्नी धनमेत के साथ घरेलू बात को लेकर झगड़ा विवाद होने पर उसे हाथ मुक्का से मारपीट किया जिसके कारण उसकी मृत्यु हो गई तब शव को कुंजन सिंह के खलिहान में रखा पैरा में ले जाकर छुपा देना स्वीकार किया। मामले में पृथक से धारा 201 भादवि जोड़ी जाकर आरोपी को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
          इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी सुनीता भारद्वाज, एएसआई बीएम गुप्ता, प्रधान आरक्षक वरूण तिवारी, राहुल गुप्ता, निर्मल मिंज, हंसराम कनेडिया, आरक्षक अमरेन्द्र दुबे, जितेन्द्र पटेल, महेन्द्र सिंह, प्रदीप साहू, प्रदीप जायसवाल, व अमित सिंह सक्रिय रहे।

बुधवार, 11 नवंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने चोरी के 77 हजार रूपये कीमत के सामग्री बरामद कर 3 को किया गिरफ्तार................

सूरजपुर। दिनांक 05 अक्टूबर 2020 को वार्ड क्रमांक 12 केतका रोड़ निवासी श्री के.के.अग्रवाल के घर के बाड़ी में बने कमरे का ताला तोड़कर किसी अज्ञात व्यक्ति ने कमरे में रखे 50 हजार रूपये कीमत बर्तन चोरी करने की रिपोर्ट 6 अक्टूबर को थाना सूरजपुर में किए जाने पर अपराध क्रमांक 401/20 धारा 457, 380 भादवि का पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया। दूसरे मामले में 01 नवम्बर को मेन रोड़ निवासी पवन डोसी के कमरे का ताला तोड़कर किसी अज्ञात व्यक्ति ने 1 एचपी का समरसिबल पम्प, वायर, पुरानी टीव्ही, सिलाई मशीन सहित अन्य वस्तुएं चोरी की गई। तीसरे मामले में 3 नवम्बर को राहुल केजरीवाल के घर के पीछे बाड़ी कुआं में लगे हाफ एचपी का टूल्ले पम्प को चोरी कर ले जाने के मामलों में धारा 457, 380 भादवि के तहत् मामला पंजीबद्व विवेचना में लिया गया।
          चोरी की वारदात पर अंकुश लगाने हेतु पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने पुलिस अधिकारियों को रात्रि गश्त प्रभावी तरीके से करने, संदिग्धों की जांच एवं सूचना प्रणाली को मजबूत बनाने के निर्देश दिए थे।
          चोरी के मामले की विवेचना के दौरान जांच कर रही कोतवाली की पुलिस टीम ने मुखबीर की सूचना पर संदेही राहुल साहू उर्फ कल्लू, राजकुमार सिंह व सन्नी पासवान को तलब कर बारीकी से पूछताछ किए जाने पर बताए कि वार्ड क्रमांक 12 केतका रोड़ के घर बाड़ी में बने कमरे का ताला तोड़कर चोरी करना स्वीकार किया जिनके निशानदेही पर 6 नग पीतल का गंज, 2 नग पीतल का सुपली, 01 नग पीतल का गधरा, 1 नग एल्युमिनियम का परात कीमत 40 हजार रूपये का बरामद किया गया। पवन डोसी के यहां हुई चोरी में राहुल साहू उर्फ कल्लू व राजकुमार सिंह द्वारा 1 समरसिबल पम्प, वायर, 1 रंगीन टीव्ही, 1 गैस कटर कीमत 35 हजार रूपये एवं राहुल केजरीवाल के यहां हुए चोरी में राहुल साहू उर्फ कल्लू पिता रामअवतार साहू उम्र 20 वर्ष निवासी साहू गली सूरजपुर से 1 हाफ एचपी का टूल्लू पम्प कीमत 2 हजार रूपये कुल मशरूका 77 हजार रूपये का बरामद कर तीनों को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          इस कार्यवाही में एसआई हिम्मत सिंह शेखावत, एएसआई गजपति मिर्रे, प्रधान आरक्षक बिसुनदेव पैंकरा, राजकुमार नायक, आरक्षक रावेन्द्र पाल, सुरेश साहू, गौतम दुबे, महिला आरक्षक बालकुमारी मिंज, सक्रिय रहे।

मंगलवार, 10 नवंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने किया महिला संबंधी अपराधों पर त्वरित कार्यवाही......

छेड़छाड़ के मामले में 4 तो दुष्कर्म के मामले में 3 दिवस के भीतर पेश किया चालान।

सूरजपुर: पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा के निर्देशन में जिले की पुलिस ने बालिका व महिलाओं के विरूद्व होने वाले अपराधो में तत्परता के साथ जल्द से जल्द चालान पेश करने की मुहिम निरंतर जारी है। इसी कड़ी में थाना जयनगर के द्वारा एक महिला से छेड़छाड़ एवं एक महिला से दुष्कर्म के मामले में त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी कर महज 4 तथा 3 दिनों के भीतर चालान पेश किया है।
          पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा के द्वारा जिले के पुलिस अधिकारियों को बालिका एवं महिलाओं पर घटित हुए अपराधों को गंभीरता से लेते हुए त्वरित कार्यवाही एवं मामले की विवेचना शीघ्रता से पूर्ण कर चालान न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे ताकि पीड़ित को जल्द न्याय मिल सके।
          सूरजपुर जिले के थाना जयनगर का यह मामला है, जहां 15 अक्टूबर 2020 को एक महिला को आरोपी प्रकाश विश्वास ने बेईज्जत करने की नियत से छेड़छाड़ किया। जिसकी रिपोर्ट थाना जयनगर 04 नवम्बर को पीड़िता के द्वारा की गई। मामले में पुलिस ने आरोपी प्रकाश विश्वास के विरूद्व अपराध क्रमांक 243/20 धारा 354 भारतीय दण्ड संहिता के तहत् मामला दर्ज किया गया। मामले की विवेचना थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान के द्वारा करते हुए एफआईआर के 24 घंटे के भीतर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। जांच में पीड़िता का कथन महिला पुलिस अधिकारी से कराया गया एवं पीड़िता का माननीय न्यायालय में धारा 164 सीआरपीसी का बयान दर्ज कराते हुए मामले में महज 04 दिन के भीतर साक्ष्य संकलित करते हुए विवेचना पूर्ण कर अभियोग पत्र तैयार कर माननीय न्यायालय सूरजपुर में दिनांक 07 नवम्बर को पेश कर किया गया।
          दूसरे मामले में एक महिला ने एक व्यक्ति के विरूद्व शादी करने का झांसा देकर अनाचार करने एवं शादी करने से इंकार कर दिया। जिसकी रिपोर्ट थाना जयनगर 07 नवम्बर 2020 को पीड़िता के द्वारा की गई। मामले में पुलिस ने आरोपी राजकुमार कुर्रे के विरूद्व अपराध क्रमांक 245/20 धारा 376 भा.दं.सं. के तहत् मामला दर्ज किया गया। इस मामले की भी विवेचना थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान के द्वारा करते हुए एफआईआर के 6 घंटे के भीतर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। जांच में पीड़िता का कथन महिला पुलिस अधिकारी से कराया गया एवं पीड़िता का माननीय न्यायालय में धारा 164 सीआरपीसी का बयान दर्ज कराते हुए मामले में महज 03 दिन के भीतर साक्ष्य संकलित करते हुए विवेचना पूर्ण कर दिनांक 9 नवम्बर को अभियोग पत्र माननीय न्यायालय सूरजपुर में पेश कर किया गया।
          इससे आरोपी को जल्द सजा मिल सकेगी और इस तरह की सोच रखने वालों को पुलिस की ओर से सख्त मैसेज भी जायेगा। ज्ञात हो कि इसके पूर्व भी चौकी रेवटी, चौकी लटोरी व थाना सूरजपुर के द्वारा भी महिला संबंधी अपराधों में जल्द विवेचना पूर्ण कर चालान पेश किया गया है।

बुधवार, 4 नवंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने नाबालिक बालिका के अपहरण व अनाचार के मामले में 6 दिनों के भीतर पेश किया चालान.......

24 घंटे के भीतर आरोपियों को किया गया गिरफ्तार।

सूरजपुर: पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा के निर्देशन में जिले की पुलिस ने बालिका व महिलाओं के विरूद्व होने वाले अपराधो में तत्परता के साथ जल्द से जल्द चालान पेश करने की मुहिम चला रखा है। इसी कड़ी में थाना सूरजपुर के द्वारा एक नाबालिक बालिका के अपहरण व दुष्कर्म के मामले में त्वरित कार्यवाही कर 24 घंटे के भीतर आरोपियों की गिरफ्तारी करते हुए महज 6 दिनों के भीतर चालान पेश किया है। पुलिस महानिदेशक छत्तीसगढ़ श्री डी.एम.अवस्थी के द्वारा पुलिस अधिकारियों को बालिका एवं महिलाओं के विरूद्व घटित होने वाले अपराधों में तत्काल कार्यवाही करने तथा आरोपियों को गिरफ्तार कर जल्द चालान माननीय न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे।
           पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा के द्वारा जिले के पुलिस अधिकारियों को बालिका एवं महिलाओं पर घटित हुए अपराधों को तत्परता एवं संवेदनशीलता के साथ त्वरित कार्यवाही एवं मामले की विवेचना शीघ्रता से पूर्ण कर चालान न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे ताकि पीड़ित को जल्द न्याय मिल सके।
मामला थाना सूरजपुर का है, जहां 05 अक्टूबर 2020 को एक नाबालिक लड़की जंगल में लकड़ी लेने गई थी जिसे किसी अज्ञात व्यक्ति ने बहला फुसलाकर भगाकर ले गया था जिसकी रिपोर्ट थाने में 29 अक्टूबर को दर्ज कराई गई। मामले में अज्ञात के विरूद्व अपराध क्रमांक 443/20 धारा 363 भादवि के तहत् मामला दर्ज किया गया।
           प्रकरण की विवेचना थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला ने किया जो जांच के दौरान जानकारी मिली कि नाबालिक लड़की को आरोपी सुनील कसेर बहला फुसलाकर भगाकर ले गया था जहां उसके साथ अनाचार किया, इस घटना में उसकी बहन ने भी साथ दिया था, मामले में पृथक से धारा 366, 376(2-ढ), 376(2-झ), 34 भादवि व पोक्सो एक्ट की धारा 4, 6, 17 जोड़ी जाकर दोनों को 30 अक्टूबर को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया। जांच में पीड़िता का कथन महिला पुलिस अधिकारी से कराया गया, पीड़िता का माननीय न्यायालय में धारा 164 सीआरपीसी का बयान एवं सीडब्ल्यूसी सूरजपुर के समक्ष काउन्सलिंग कराया गया और मामले में महज 06 दिन के भीतर साक्ष्य संकलित करते हुए विवेचना पूर्ण कर अभियोग पत्र तैयार कर 03 नवम्बर को चालान माननीय न्यायालय सूरजपुर में पेश कर दिया गया।

सोमवार, 2 नवंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने संजयनगर पेट्रोल पम्प से डकैती व लूट का डीजल खरीदने वाले 1 आरोपी को किया गिरफ्तार.......

सूरजपुर। दिनांक 18.10.20 को माॅ वैष्णणी पेट्रोल पम्प संजयनगर में काम करने वाले मैनेजर अमर दयाल यादव ने थाना जयनगर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 17-18 अक्टूबर की दरम्यिानी रात्रि में 1 स्कार्पियों तथा 1 बोलेरो वाहन में 7-8 लोग लाठी, डण्डा, सब्बल लेकर पहुंचे और डरा धमकाकर उसके सामने ही खड़ी टैंकर के टंकी का लाक तोड़कर 6 जरकीन डीजल निकाले और उसके पाकिट से 2 हजार रूपये, आधार कार्ड व अन्य दस्तावेज लूट लिए। प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना जयनगर में अपराध क्रमांक 224/20 धारा 395 भारतीय दण्ड संहिता का पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।
          पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा के मार्गदर्शन में 20 अक्टूबर को मामले के 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक पर भेजा गया था। पेट्रोल पम्प में खड़ी टैंकर के टंकी से डीजल निकालने के बाद डीजल को ग्राम खुटाटोला, थाना जैतहरी, मध्यप्रदेश निवासी रमेश गुप्ता को बिक्री करने की जानकारी आरोपियों ने बताई थी। जिसके बाद से ही पुलिस अधीक्षक ने आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस टीम लगाया था जो मुखबीर की सूचना पर जयनगर की पुलिस टीम ने गत् दिवस मामले में आरोपी रमेश गुप्ता पिता रामप्रसाद गुप्ता उम्र 35 वर्ष को उसके गांव से घेराबंदी कर पकड़ा, पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि वह डीजल को खरीदा था और इसके लिए उसने ही जरकिन उपलब्ध कराया था। प्रकरण में चोरी की वस्तु होने की जानकारी के बाद भी उसकी खरीदी कर बिक्री करना पाए जाने पर विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, प्रधान आरक्षक रजनीश त्रिपाठी, तालीब शेख, आरक्षक राजकुमार पासवान सक्रिय रहे।

शनिवार, 31 अक्तूबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने अनाचार के मामले में 3 दिनों के भीतर पेश किया चालान...............


सूरजपुर। जिले की पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए जान से मारने की धमकी देकर लगातार पीड़िता के साथ अनाचार करने और घटना के बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देने के मामले में आरोपी की गिरफ्तारी व विवेचना पूर्ण कर महज 3 दिनों के भीतर चालान प्रस्तुत कर नजीर पेश किया है। श्रीमान् पुलिस महानिदेशक, छत्तीसगढ़ ने पुलिस अधिकारियों को बालिका एवं महिलाओं के विरूद्व घटित होने वाले अपराधों में तत्काल कार्यवाही करने तथा आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए जल्द चालान न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा के द्वारा जिले के पुलिस अधिकारियों को बालिका एवं महिलाओं पर घटित हुए अपराधों को गंभीरता से लेते हुए त्वरित कार्यवाही एवं मामले की विवेचना शीघ्रता से पूर्ण कर चालान न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे। ताकि पीड़ित को जल्द न्याय मिल सके।
          पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में जिले की पुलिस के द्वारा महिलाओं से संबंधित मामलों को प्राथमिकता के आधार पर जांच की जा रही है। सूरजपुर जिले के थाना सूरजपुर का यह मामला है, करीब 1 वर्ष पूर्व से एक महिला को आरोपी गुलाब प्रसाद साहू के द्वारा उसके पिता को जान से मारने की धमकी देकर लगातार उसके साथ अनाचार करते रहा और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दिया, जिसकी रिपोर्ट थाना सूरजपुर में 27 अक्टूबर को पीड़िता के द्वारा की गई। मामले में कोतवाली पुलिस ने आरोपी गुलाब प्रसाद साहू के विरूद्व अपराध क्रमांक 436/20 धारा 376 (2-ढ़), 506 भारतीय दण्ड संहिता के तहत् मामला दर्ज किया।
          मामले की विवेचना कोतवाली में पदस्थ एसआई रश्मि सिंह राज के द्वारा करते हुए एफआईआर के महज डेढ घंटे के भीतर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। जांच में पीड़िता का कथन, पीड़िता का माननीय न्यायालय में धारा 164 सीआरपीसी का बयान दर्ज कराते हुए प्रकरण में महज 03 दिनों के भीतर साक्ष्य संकलित करते हुए विवेचना पूर्ण कर अभियोग पत्र तैयार कर दिनांक 29 अक्टूबर को माननीय न्यायालय सूरजपुर में पेश कर किया गया। इससे आरोपी को जल्द सजा मिल सकेगी और इस तरह की सोच रखने वालों को पुलिस की ओर से सख्त मैसेज भी जायेगा। ज्ञात हो कि जिले की पुलिस के द्वारा पूर्व में भी महिला संबंधी 2 प्रकरणों में अपराध पंजीबद्व होने के महज 5 दिनों के भीतर चालान पेश की जा चुकी है।

बुधवार, 28 अक्तूबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने चोरी के मामले में 2 वर्षो से फरार आरोपी को किया गिरफ्तार।

सूरजपुर: दिनांक 08.05.2018 को मकनपुर निवासी देवानंद यादव पिता दामोदर यादव ने थाना प्रतापपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि खुर्शीद आलम पिता स्व. मोहम्मद अब्दुल अजीज आलम निवासी तारानाखो, चौकी घोडथम्भा, थाना धनवार, जिला गिरीडीह झारखंड प्रार्थी के घर में 04 वर्षो से किराये में रहता था और स्वयं का जेसीबी मशीन रखा था जिससे खेत खुदाई का काम करवाता था, जेसीबी नबर जेएच 02 एबी 8133 की देखभाल प्रार्थी करता था। दिनांक 04.05.18 को यह और इसकी पत्नी शादी में गए थे घर में इनके बच्चे थे, इसी दौरान प्रार्थी के घर में रखा एक टीन का पेटी जिसमें 3 लाख रूपये को गुलाबा तोड़कर एवं घर के बरामदे में रखा मोटर सायकल स्पेलेन्डर क्रमांक सीजी 15-7378 को चोरी कर ले गया और जेसीबी मशीन को ऑपरेटर के माध्यम से तीन दिन पहले ही अपने गांव भेज चुका था। प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना प्रतापपुर में अपराध क्रमांक 59/18 धारा 380 भा.दं.सं. के तहत मामला पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया। प्रकरण का आरोपी ग्राम तारानाखो निवासी खुर्शीद आलम घटना दिनांक से ही फरार था जिसकी गिरफ्तारी हेतु कई बार पुलिस टीम उसके रहने के संभावित स्थानों व सकुनत पर दबिश दे चुकी थी किन्तु वह पकड़ा में नहीं आया था।
          पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने जिले की कमान संभालने के बाद से ही पुराने लंबित अपराधों के निकाल एवं फरार आरोपियों की पतासाजी कर उनकी धरपकड़ हेतु पुलिस टीम गठित कर लगातार मामलों की मानिटरिंग करते हुए टीम को दिशा-निर्देश देते रहे।
          पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में मामले के आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस टीम उसके सकुनत ग्राम तारानाखो, चौकी घोडथम्भा, थाना धनवार, जिला गिरीडीह झारखंड पहुंची और गत दिवस पुलिस टीम ने वहां की स्थानीय पुलिस की मदद, सूझबूझ तथा बेहतर रणनीति के बदौलत आरोपी खुर्शीद आलम के सकुनत पर दबिश देकर उसे हिरासत में लिया। पूछताछ पर आरोपी ने अपराध करना स्वीकार कर बताया कि चोरी की गई रकम को खर्च कर दिया है, आरोपी के निशानदेही पर स्पेलेण्डर मोटर सायकल क्रमांक सीजी 15-7378 को बरामद कर वापस प्रतापपुर पहुंची जहां उसकी विधिवत गिरफ्तार के बाद न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, एसआई सी.पी. तिवारी, एएसआई बजरंगी लाल चौहान, प्रधान आरक्षक राहुल गुप्ता, आरक्षक रावेन्द्र पाल व नौशाद खान सक्रिय रहे।

बुधवार, 21 अक्तूबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने चोरी के मामले में वर्षो से फरार 1 आरोपी को किया गिरफ्तार........

सूरजपुर: दिनांक 13.09.18 को बिहारपुर निवासी राजेन्द्र सिंह ने थाना चांदनी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि उनके बंद मकान में लोहे की सिकड़ी को अटास कर दरवाजा खोलकर घर के अन्दर के अलमारी को तोड़कर उसमें रखे सोने-चांदी के जेवरात व नगदी रकम कुल 4,65,100 रूपये को अज्ञात चोरों के द्वारा रात्रि में चोरी कर लिया। रिपोर्ट पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व अपराध क्रमांक 51/18 धारा 380, 457, 34 भादवि के तहत मामला पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया था।
           मामले की विवेचना कर आरोपियों की पतासाजी कर दिनांक 04.01.2019 को 05 आरोपी ग्राम लामीदाह थाना सरई जिला सिंगरौली निवासी सिपाहीलाल बसोर उर्फ रामवृक्ष बसोर, बहादुर बसोर, ग्राम बुधेला, थाना बैढ़न, जिला सिंगरौली निवासी रामकुमार बसोर, गोविन्द बसोर उर्फ सेठ एवं ग्राम बरहवाटोला, थाना बरगांवा, जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश निवासी रामजनम बसोर को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लगभग 964.22 ग्राम चांदी का जेवरात व नगदी समेज कुल 44 हजार 6 सौ 40 रूपये का बरामद कर उनके विरूद्व चालान न्यायालय में पेश किया गया। चॅूकि मामले में 2 अन्य आरोपी फरार थे जिनके विरूद्व धारा 173(8) जा.फौ. के तहत विवेचना कर लगातार पतासाजी की जा रही थी।
         पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने धारा 173(8) जा.फौ. के लंबित मामले में जिनमें आरोपी फरार है ऐसे मामलों के निराकरण में तेजी लाने, फरार आरोपियों की जानकारी जुटाते हुए उन्हें जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश थाना प्रभारियों को दिये थे। एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के मार्गदर्शन में मामले की विवेचना के दौरान थाना प्रभारी चांदनी को मुखबीर से जानकारी मिली कि मामले में फरार एक आरोपी रामसागर बसोर पिता बेचन बसोर अपने गांव लामीदाह थाना सरई, जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश का गांव में 2 मकान है जहां पर वह लुक-छिप कर रह रहा है। जिसकी जानकारी से पुलिस अधीक्षक को अवगत कराने पर उन्होंने विधिवत् थाना प्रभारी चांदनी के नेृतत्व में पुलिस टीम गठित कर मध्यप्रदेश भेजा। पुलिस टीम ने दिनांक 19.10.2020 को जिला सिंगरौली के पुलिस चौकी तीनगुड़ी के पुलिस अधिकारियों से समन्वय बनाकर आरोपी के दोनों घरों पर कड़ी निगाह रखने के दौरान अंधेरा हो गया इसी बीच आरोपी रामसागर मोटर सायकल से घर के पास आया जिसे पुलिस टीम ने घेराबंदी कर धरदबोचा। आरोपी रामसागर ने पूछताछ पर अपराध करना स्वीकार किया व अपने हिस्से में मिले चोरी के सामान सोने के चैन को फेरीवाले के पास साप्ताहिक बाजार गजराबहरा में 21 हजार रूपये में बेचना तथा नगद मिले को खर्च कर देना बताया। आरोपी से चोरी के समान 2 जोड़ी चांदी का बिछिया कीमत करीब 600 रूपये व मकान के दरवाजे व अलमारी को तोड़ने के लिए उपयोग में लाया गया सब्बल जप्त कर विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। मामले में एक अन्य आरोपी फरार है जिसकी पतासाजी पुलिस टीम के द्वारा की जा रही है।
         इस कार्यवाही में थाना प्रभारी चांदनी शिवकुमार खुटे, प्रधान आरक्षक शरद सिंह, आरक्षक बलजीत पैंकरा, हरिलाल पैंकरा व जिला सिंगरौली के चौकी प्रभारी तीनगुड़ी एसआई ए.के.अग्निहोत्री व स्टाफ सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने सोशल मीडिया पर अश्लील गाली-गलौज करने वाले शख्स को किया गिरफ्तार.......

सूरजपुर: दिनांक 08.09.2020 को ग्राम केवरा निवासी एक महिला ने थाना झिलमिली में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 17 अगस्त के रात्रि करीब 11 बजकर 4 मिनट में इसके फेसबुक पर कोई अज्ञात व्यक्ति एक दूसरे फेसबुक एकाउंट से गाली-गलौज व अश्लील टिप्पणी लिखकर पोस्ट कर रहा है। पीड़िता की रिपोर्ट पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व अपराध क्रमांक 68/20 धारा 509(ख) भादवि व धारा 67 आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करते हुए जांच शुरू की गई।
          महिलाओं के विरूद्व हो रहे आपराधिक मामले तथा सोशल मीडिया पर अश्लील और आपत्तिजनक टिप्पणी पोस्ट करने के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने मामले की जांच की जिम्मेदारी थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान को सौंपते हुए आरोपी की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिए।
          जांच के दौरान नई तकनीक की मदद से फेसबुक प्रोफाईल को लेकर सबूत हाथ लगे, सुराग मिलने के बाद तकनीकी का इस्तेमाल करते हुए उस सुराग को और पुख्ता किया गया और पुलिस अधीक्षक ने विधिवत एक पुलिस टीम को शहडोल मध्यप्रदेश भेजा। टीम वहां पहुंचकर आरोपी आशुतोष साहू पिता त्रिलोकी नाथ साहू उम्र 21 वर्ष, निवासी अरझूला कालोनी, कुदरी सुहागपुर, थाना खैराहा, जिला शहडोल मध्यप्रदेश को हिरासत में लिया। आरोपी ने पूछताछ में अपना गुनाह कबूल लिया जिसे 20 अक्टूबर को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, एएसआई देवनाथ चौधरी, प्रधान आरक्षक अरूण गुप्ता, ऐसन पाल, अदीप प्रताप सिंह, आरक्षक सत्यम सिंह, शक्ति पासवान व अखिलेश पाण्डेय सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने छेड़छाड़ के मामले में 5 दिनों के भीतर पेश किया चालान.............


सूरजपुर: जिले की पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए घर में घुसकर महिला को बेईज्जत करने की नियत से छेड़छाड़ के मामले में आरोपी की गिरफ्तारी व विवेचना पूर्ण कर 5 दिनों के भीतर चालान पेश किया है। छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिदेशक ने पुलिस अधिकारियों को बालिका एवं महिलाओं के विरूद्व घटित होने वाले अपराधों में तत्काल कार्यवाही करने तथा आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए जल्द चालान न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे।         

          पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा के द्वारा जिले के पुलिस अधिकारियों को बालिका एवं महिलाओं पर घटित हुए अपराधों को गंभीरता से लेते हुए त्वरित कार्यवाही एवं मामले की विवेचना शीघ्रता से पूर्ण कर चालान न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे ताकि पीड़ित को जल्द न्याय मिल सके।
          
          सूरजपुर जिले के चौकी लटोरी का यह मामला है, जहां 16 अक्टूबर 2020 को एक महिला को घर में अकेला देखकर आरोपी खेलावन सिंह के द्वारा घर में घुसकर बेईज्जत करने की नियत से छेड़छाड़ किया। जिसकी रिपोर्ट चौकी लटोरी में 16 अक्टूबर को पीड़िता के द्वारा की गई। मामले में लटोरी पुलिस ने आरोपी खेलावन सिंह के विरूद्व अपराध क्रमांक 223/20 धारा 454, 354 भारतीय दण्ड संहिता के तहत् मामला दर्ज किया गया।

          मामले की विवेचना चौकी प्रभारी लटोरी सुनील सिंह के द्वारा करते हुए एफआईआर के महज 2 घंटे के भीतर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। जांच में पीड़िता का कथन महिला पुलिस अधिकारी से कराया गया एवं पीड़िता का माननीय न्यायालय में धारा 164 सीआरपीसी का बयान दर्ज कराते हुए मामले में महज 05 दिन के भीतर साक्ष्य संकलित करते हुए विवेचना पूर्ण कर अभियोग पत्र तैयार कर माननीय न्यायालय सूरजपुर में पेश कर किया गया। इससे आरोपी को जल्द सजा मिल सकेगी और इस तरह की सोच रखने वालों को पुलिस की ओर से सख्त मैसेज भी जायेगा। ज्ञात हो कि इसके पूर्व में चौकी रेवटी के एक मामले में घर में घुसकर नाबालिक से अनाचार के प्रयास के मामले में भी 5 दिनों के भीतर चालान पेश की गई थी।

सूरजपुर पुलिस ने डकैती व लूट के 5 आरोपियों को किया गिरफ्तार.......

संजयनगर पेट्रोल पम्प में डकैती व बाईपास में खड्री ट्रक से डीजल निकाल पैसे लूटने की वारदात को दिया थे अंजाम।

मामले में फरार अन्य आरोपियों की जा रही है सरगर्मी से पतासाजी।

सूरजपुर: दिनांक 18.10.20 को माॅ वैष्णणी पेट्रोल पम्प संजयनगर में काम करने वाले मैनेजर अमर दयाल यादव ने थाना जयनगर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 17-18 अक्टूबर की दरम्यिानी रात्रि में 1 स्कार्पियों तथा 1 बोलेरो वाहन में 7-8 लोग लाठी, डण्डा, सब्बल लेकर पहुंचे और डरा धमकाकर उसके सामने ही खड़ी टैंकर के टंकी का लाक तोड़कर 6 जरकीन डीजल निकाले और उसके पाकिट से 2 हजार रूपये, आधार कार्ड व अन्य दस्तावेज लूट लिए। प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना जयनगर में अपराध क्रमांक 224/20 धारा 395 भारतीय दण्ड संहिता का पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।
          मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने थाना प्रभारी जयनगर को पेट्रोल पम्प में लगे सीसीटीव्ही कैमरा की फुटेज प्राप्त कर आरोपियों की पहचान करते हुए पतासाजी कर गिरफ्तार करने एवं संघन वाहन चेकिंग करने तथा थाना प्रभारी जयनगर सहित पुलिस की कई टीमें गठित कर डीजल चोर-लूटेरे गिरोह को पकड़ने के निर्देश दिए।
          पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में मामले के आरोपियों को पकडने थाना जयनगर की पुलिस टीमों ने चारों ओर जाल बिछाकर संदेहियों के धरपकड के प्रयास में लगे थे इसी बीच थाना जयनगर के सामने 19 अक्टूबर के शाम को उस समय सफलता मिली जब संदेेह के आधार पर बिना नंबर के स्कार्पियों वाहन को चेक किया गया। स्कार्पियों वाहन में थाना कोतमा क्षेत्र के गोविन्दा कालोनी निवासी इन्द्रपाल सिंह पिता छोटन सिंह उम्र 22 वर्ष तथा ग्राम सिलपुर निवासी ध्रुव लोनी पिता बलदाउ लोनी उम्र 19 वर्ष, अंशुमान लोनी पिता बिहारी लोनी उम्र 22 वर्ष मिले जो पूछताछ पर दिनांक 17-18 अक्टूबर के मध्य रा़ित्र संजयनगर राष्ट्रीय राजमार्ग किनारे स्थित मां वैष्णवी पेट्रोल पंप केे किनारे खडे टेंकर से 200 लीटर डीजल एवं लाठी, डंडा व सब्बल से जान से मारने की धमकी देकर पेट्रोल पंप के मैनेजर से 2000 रूपये नगद एवं कागजात लूटना कबूल किये। स्कार्पियों वाहन इन्द्रपाल की है एवं बोलेरो 1 साथी की है। आरोपियों के मेमोरंडम के आधार पर इन्द्रपाल से बिना नंबर के स्कार्पियों वाहन, पेट्रोल पंप के मैनेजर से लूटी गई 2000 रूपये नगद एवं कागजात जप्त किया गया है। आरोपी ध्रुव लोनी से घटना में प्रयुक्त सब्बल एवं डीजल निकालने वाला पाइप तथा आरोपी अंशुमान लोनी से घटना में प्रयुक्त डंडा एवं ,खाली प्लास्टिक का जरकीन जप्त किया गया है।
          पुलिस टीम रात में ही कोतमा सिलपुर मध्यप्रदेश में रेड कार्यवाही कर आरोपी इंदल लोनी एवं बसंत उर्फ ठाकुर को सूझबझ व कड़ी मशक्कत के बाद गिरफ्तार किया गया। इनसे भी पूछताछ की गई जो आरोपियों ने बताया कि दिनांक 3-4 अक्टूबर के दरमियानी रात सूरजपुर बाईपास में खडी ट्रक से 100 लीटर डीजल एवं 500 रूपये नगद एवं कागजात लूटना स्वीकार किया। थाना सूरजपुर के अपराध क्रमांक 222/20 धारा 392 भादवि के मामले में आरोपी इंदल से सूरजपुर में ट्रक से लूट की गई नगद रकम 500 रूपये एवं दस्तावेज जप्त किया गया है। आरोपीगण चोरी एवं लूट की गई डीजल को ग्राम खूंटाटोला निवासी एक व्यक्ति को बेचते है। प्रकरण में शामील अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास पुलिस टीम के द्वारा निरंतर की जा रही है। दोनों ही मामलों में 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया है।
          सूरजपुर पुलिस की इस कार्यवाही से राष्ट्रीय राजमार्गों से गुजरने वाले माल वाहक वाहनों के चालक राहत महसूस कर रहे है, आरोपीगण लंबे समय से डीजल चोरी एवं लूट की घटनाओं को अंजाम दिए थे, पकड़े गए आरोपियों के विरूद्व किन-किन थानों में अपराध पंजीबद्व है उसकी जानकारी खंगाली जा रही है।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, एएसआई देवनाथ चौधरी, विराट विशी, राजाराम राठिया, कमलदास बनर्जी, प्रधान आरक्षक अरूण गुप्ता, ऐसन पाल, रजनीश त्रिपाठी, अदीप प्रताप सिहं, तालीब सेख, शिवकुमार सारथी, विवेक पाण्डेय, पुष्पा रवि, आरक्षक राजकुमार पासवान, सत्यम सिंह, अखिलेश पाण्डेय, चन्द्रप्रकाश पाल, रावेन्द्र पाल, अनिल सिंह, जितेन्द्र सिंह, रवि पाण्डेय, सुरेश तिवारी, ललन सिहं, शिव राजवाडे, जयप्रकाश यादव, दीपक दुबे, मदन लाल, बंधु सारथी, सैनिक नोहर राजवाडे, दीपक मूर्ति व श्याम सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने पुलिस स्मृति दिवस पर किया खेलकूद का आयोजन.......

स्वस्थ शरीर और मस्तिष्क के लिए खेल जरूरी-पुलिस अधीक्षक सूरजपुर।

सूरजपुर: पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर पुलिस लाईन सूरजपुर में पुलिस अधिकारी व जवानों ने बाॅलीबाल व कबड्डी खेल का शानदान प्रदर्शन किया। बुधवार 21 अक्टूबर को पुलिस स्मृति दिवस पर पुलिस लाईन में बालीवाल व कबड्डी खेलकूद का आयोजन किया गया जिसका पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने शुभारंभ किया। पुलिस लाईन में आयोजित बाॅलीबाल प्रतियोगिता में आरआई इलेवन व जाबिर इलेवन की टीम ने शानदार खेल का प्रदर्शन कर रोमांच से भर दिया और 1-1 मैच जीता जिसके बाद अगले मैच में जाबिर इलेवन की टीम ने शानदार जीत दर्ज किया। इसके उपरान्त कबड्डी प्रतियोगिता भी खेली गई।
          पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री कुकरेजा ने कहा कि पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन कराया गया। जिले के पुलिस अधिकारी व जवानों में काफी खेल प्रतिभा है। उन्होंने कहा कि खेल सभी के जीवन में विशेष स्थान रखता है। खास कर यह पुलिस जवानों के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जवानों को खेल में सक्रिय रूप से भाग लेना चाहिए। खेल से जवान शारीरिक और मानसिक रूप से तंदरुस्त रह सकते हैं। जिन लोगों की दिनचर्या व्यस्त रहती है वे बहुत जल्द काम के दौरान थक जाते हैं। उन्होंने कहा कि सफलता के लिए कड़ी मेहनत की आवश्यक है। उसी प्रकार स्वस्थ शरीर और मस्तिष्क प्राप्त करने के लिए खेल आवश्यक है। इसी उद्देश्य से बाॅलीबाल व कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है।
          इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एएसपी मुख्यालय पी.एस.महिलाने, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज, रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे, थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, कार्यालय अधीक्षक संतोष वर्मा, अखिलेश सिंह, चौकी प्रभारी बसदेई सुनीता भारद्धाज सहित पुलिस के अधिकारी-कर्मचारीगण मौजूद रहे।

शनिवार, 17 अक्तूबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने चोरी के मामले में 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार...........

सूरजपुर: दिनांक 14.10.2020 को ग्राम डुमरिया निवासी तुलेश्वर राजवाड़े ने थाना सूरजपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 13 अक्टूबर की रात्रि में किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा घर के अंदर आलमारी में रखे सोने चांदी के जेवर सहित अन्य वस्तुओं कीमत 37 हजार 9 सौ रूपये को चोरी कर लिया, रिपोर्ट पर अज्ञात के विरूद्व धारा 457, 380 के तहत अपराध पंजीबद्व किया है। दूसरे मामले में दिनांक 16.10.2020 को ग्राम नरेशपुर निवासी साथराम चैधरी ने थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया कि अपने मकान में 05 अगस्त को ताला लगाकर ससुराल गया था जो पिछले दिन इसके भाई सुखराम ने फोन कर बताया कि रात में कोई अज्ञात चोर घर में चोरी किया है तब यह अपने घर आकर देखा तो आलमारी में रखा 10 हजार नगदी रकम, कांस का थाली व लोटा कुल 12 हजार रूपये की चोरी किया है। रिपोर्ट पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व धारा 457, 380 के तहत अपराध पंजीबद्व किया गया।
          चोरी के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने थाना प्रभारी को चोरी के मामले में संलिप्त आरोपियों की पतासाजी कर जल्द पकड़ने के निर्देश दिए। तुलेश्वर के घर हुए चोरी के मामले की जांच विवेचना के दौरान मुखबीर की सूचना पर संदेही सहदेव देवांगन पिता जागर साय देवांगन उम्र 25 वर्ष ग्राम डुमरिया, को तलब कर पूछताछ करने पर तुलेश्वर राजवाड़े के घर अपने एक साथी के साथ मिलकर चोरी कर आपस में बटवारा करना स्वीकार किया। जिसके निशानदेही पर एलसीडी टीव्ही 1 नग, रिसिवर 3 नग, कांस का लोटा 1 नग, साड़ी 1 नग जप्त कर गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। मामले में 1 आरोपी फरार है जिसकी पतासाजी की जा रही है। दूसरे मामले में नरेशपुर के साधराम के यहां हुए चोरी के मामले में संदेही हीरूलाल पिता स्व. ललुआ राम हरिजन उम्र 30 वर्ष निवासी नरेशपुर को तलब कर पूछताछ करने पर अपने 1 साथी के साथ मिलकर चोरी करना स्वीकार किया। आरोपी के निशानदेही पर 2 नग कांस का थाली, 2 नग थाली कीमत 5 हजार रूपये का जप्त किया गया तथा हिस्से में प्राप्त रकम को खाने-पीने में खर्च कर देना बताया जिसे विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          मामले के आरोपी हीरूलाल से चोरी की वस्तुएं बरामद करने के दौरान उसके घर से चोरी का 1 नग टुल्लू पम्प बरामद किया गया जिसके बारे में पूछताछ करने पर बताया कि अपने एक साथी के साथ मिलकर करीब 2 माह पूर्व ग्राम नेवरा तरफ रात में जाकर बाड़ी के कुआं में लगे अलग-अलग जगहों से 2 नग टूल्लू पम्प चोरी किए थे और आपस में बटवारा कर लिए थे, इसके साथी के द्वारा 1 नग टुल्लू पम्प को डुमरिया के सहदेव देवांगन को बेच देना बताया जिसके कब्जे से 1 नग टूल्लू पम्प बरामद की गई उक्त दोनों पम्प चोरी की होने की पूर्ण संभावना पर हीरूलाल व सहदेव देवांगन के विरूद्व धारा 41(1-4)/379 के तहत कार्यवाही कर गिरफ्तार किया गया।
         इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एसआई हिम्मत सिंह शेखावत, प्रधान आरक्षक बिसुनदेव पैंकरा, आरक्षक प्रेमसागर साहू, जयप्रकाश तिवारी सक्रिय रहे।

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने पेट्रोल पम्प व कई संस्थानों का लिया जायजा.........



पेट्रोल पम्प संचालकों को नो मास्क-नो पेट्रोल का पालन सख्ती से कराने दिया निर्देश।

सड़क पर अव्यवस्थित खड़े वाहन के चालकों पर हुई कार्यवाही।


सूरजपुर: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण जिले में लगातार बढ़ती जा रही है परन्तु लोग सुरक्षा की अनदेखी कर रहे है। मास्क न लगाने वालों को समझाईश के साथ ही सख्ती को लेकर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने प्रशासन व पुलिस की टीम के साथ शुक्रवार, 16 अक्टूबर को जिला मुख्यालय स्थित पेट्रोल पम्प सहित अन्य संस्थानों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने पेट्रोल पम्प सहित अन्य संस्थानों के संचालकों को संक्रमण से बचाव के लिए स्वयं तथा काम करने वाले कर्मचारियों को मास्क लगाने, नो मास्क-नो पेट्रोल, बिना मास्क लगाए दुकान में आने वाले ग्राहकों को सामग्री न देने के कड़ी हिदायत दी है।
          शुक्रवार की दोपहर में पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा प्रशासन व पुलिस की टीम के साथ स्थानीय नत्थू,अशोक व तिवारी पेट्रोल पम्प पहुंचे और संचालकों एवं वहां काम करने वाले कर्मचारियों को सख्त हिदायत दी कि बिना मास्क लगाए वाहन में पेट्रोल भरवाने हेतु आने वाले ग्राहकों को पेट्रोल न दिया जाए। इस दौरान बिना मास्क के पहुंचे कई वाहन चालकों पर चालानी कार्यवाही भी की गई। उन्होंने भ्रमण के दौरान मेन रोड़ स्थित कपड़ा व बर्तन दुकान में काफी भीड़ देखकर वहां रूके और दुकान संचालकों को मास्क लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिग का पालन करने की हिदायत दी। इस दौरान सड़क पर अव्यवस्थित तरीके से खड़े कई फोर व्हीकल वाहन पर चालानी कार्यवाही करने के निर्देश यातायात प्रभारी को दिए।
         पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारी व यातायात प्रभारी को निर्देश दिया कि पुलिस लाईन से पर्याप्त बल लेकर प्रशासन व नगर पालिका की टीम के साथ शहर के मेन रोड़, भैयाथान रोड़ एवं प्रमुख चौक-चौराहों पर बिना मास्क, बिना नंबर के वाहनों तथा सड़क के किनारे अव्यवस्थित रूप से खड़े वाहनों पर नियमित रूप से अभियान चलाकर चालानी कार्यवाही की जाए।
        इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एसडीएम पुष्पेन्द्र शर्मा, थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, यातायात प्रभारी आर.सी.राय सहित कई पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।

गुरुवार, 15 अक्तूबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने विश्रामपुर ओसीएम खदान में हुए डकैती के मामले में 2 अपचारी बालक सहित 4 को गिरफ्तार......

योजनाबद्व तरीके से वारदात को दिए अंजाम।

सूरजपुर: बीते 13 अक्टूबर को प्रार्थी एसईसीएल विश्रामपुर सुरक्षा प्रहरी सुरेन्द्र राम पिता स्व. शिवशंकर राम उम्र 41 वर्ष निवासी चोपडा कालोनी विश्रामपुर थाना उपस्थित आकर इस आशय का लिखित आवेदन पत्र पेश किया कि 10 अक्टूबर के रात्रि अन्य गार्डो के साथ ओसीएम खदान क्वारी नंबर 10 की सुरक्षा में लगी थी, रात्रि करीब 1 से 2.30 बजे के मध्य ओसीएम क्वारी नम्बर 10 के अगल-बगल स्थित एसईसीएल की नर्सरी से 10 से 15 अज्ञात व्यक्ति अपना मुंह बांध कर हाथ में डंडा, टांगी व हेक्सा ब्लेड रखे खदान में आये प्रार्थी एवं उसके अन्य साथी गार्ड तथा ओसीएम में तैनात अधिकारी व कर्मचारियों कुल 08 लोग को एक जगह इकट्ठा कर गोल घेरा में बैठा दिये उसमे से 05-06 लोग अपने हाथ में टांगी, डंडा रखे थे जिसके भय से वहां पर तैनात सभी अधिकारी/कर्मचारी भयभीत हो गये तथा सभी को बंधक बना लिये सभी के पाकिट की तलाशी लेकर मोबाईल फोन व पैकेट में रखा पैसा व गाडी की चाभी लूट कर अपने पास रख लिये, इसके पाकिट में 7 सौ रूपये था उसे भी लूट लिये, इसे तथा वहां उपस्थित गार्ड तथा कर्मचारी व अधिकारियो को गाली-गलौज करते हुये जान से मारने की धमकी दिये उनमें से 4-5 व्यक्ति ड्रग लाईन शक्ति मशीन के पास गये वहीं लगे ट्रांसफार्मर से बिजली का तार को टांगी से काट दिये और काटकर अपने पास रखे हेक्सा ब्लेड से केबल वायर के दोनों छोर का करीब 35 मीटर कापर केबल वायर कीमती 56 हजार रूपये को काट कर ले गये, अज्ञात व्यक्तियों के द्वारा घटना करने के बाद केबल वायर को उठाकर वहां से चले गये, लूटा हुआ मोबाईल फोन व गाड़ियों की चाबी वहीं पर फेक दिये थे, उनके जाने के बाद ये सभी अपना-अपना मोबाईल व चाभी पहचान कर अपने-अपने पास रख लिये, अज्ञात व्यक्ति आपस में सरगुजिहा, हिन्दी भाषा में बात कर रहे थे, तथा अपने साथी को गुडमार्निंग नाम से पुकार रहा था रिपोर्ट पर धारा 395, 294, 506, 342 भा.दं.सं. का अपराध पंजीबद्व किया गया। मामले के पूरे हालात से थाना प्रभारी ने पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराया जिस पर उन्होंने केबल, कोयला, कबाड़ चोरी एवं पूर्व में इस प्रकार के मामले में शामील व्यक्ति पर कड़ी निगाह रखने के निर्देश दिए।
          पुलिस टीम के द्वारा अज्ञात आरोपियों एवं लूटा गया केबल वायर की सरगर्मी से तलाश की जा रही थी कि इसी बीच पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा को मुखबीर से जानकारी मिली कि कुम्दा बस्ती में गुडमार्निंग उर्फ संतोष नाम का लड़का रहता है जिसकी पिछले कुछ दिनों से गतिविधियां संदिग्ध है और कई संदिग्ध लोगों के साथ उठना-बैठना है जिस पर उन्होंने थाना प्रभारी विश्रामपुर को उस लड़के से कड़ाई से पूछताछ करने के निर्देश दिए।
           थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर ने गुडमार्निंग को तलब कर घटना के संबंध में बारीकी से पूछताछ करने पर जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि यह कोयला कबाड का काम करता है इसके साथ कुम्दा के ओम प्रकाश राजवाड़े व एक अपचारी बालक व अन्य भी कोयला कबाड़ का काम करते है, कोयला कबाड़ का काम करते समय एसईसीएल विश्रामपुर के 10 नम्बर क्वारी में कोयला खुदाई में लगे बड़ा शक्ति ड्रग लाईन मशीन में बड़ा मोटा केबल तार को कई बार देखे थे, कोयला कबाड़ का काम करने के दौरान भटगांव क्षेत्र में कबाड़ चोरी का काम करने वाले केनापारा के 1 अन्य व्यक्ति एवं अन्य साथियों से जान पहचान हुआ था जो कही भी ताॅबा तार केबल मिलेगा तो बताना बोले थे, तब इसने शक्ति ड्रगलाईन मशीन में लगे केबल तार के बारे में उन्हें बताया जो 10 अक्टूबर 2020 को सभी मिलकर टीम तैयार कर शक्ति मशीन का केबल काटने की योजना बनाये इसके बाद यह अपने साथ काम करने वाले ओम प्रकाश राजवाड़े व 2 अपचारी बालक सहित अन्य को बताकर ड्रग लाईन शक्ति मशीन में लगे केबल तार को चोरी करने का प्लान बनाये और 10 अक्टूबर की रात करीब 08ः00 बजे यह कुम्दा बस्ती के ओम प्रकाश राजवाड़े, 2 अपचारी बालक व अन्य लोगों के साथ कुम्दा बस्ती से निकलकर 10 नंबर पोखरी के पास पहुंचे वहां पर योजनानुसार सरस्वतीपुर के अन्य साथियों को लेकर पोखरी के पास पहुंचा, सभी मिलकर 10 नंबर क्वारी में लगे ड्रगलाईन मशीन के पास पहुंचे इसके बाद 4-5 आदमी ट्रांसफार्मर के पास से बिजली तार को टांगी से काट दिये और मशीन के चारो तरफ लगे केबल में से लगभग 30-35 मीटर केबल को कटर, टांगी व हेक्सा ब्लेड से काट लिये और मोबाइल छिनते समय यह एक वर्दी वाले गार्ड का 700 रूपये को भी लूट लिया, सभी मिलकर केबल को ढो कर पोखरी के रास्ते से ग्राम गांगीकोट के गौठान के पीछे पोखरी जंगल में ले गए और केबल के कव्हर को छिल-काट कर तांबा तार को अलग निकाले और कव्हर को वहीं पर छोड़ दिए और ताबा तार वहीे पर छोड दिये और तोबा तार को ढो कर 7-8 खदान के तरफ से करवां तक ले गये, वहां इसके 1 साथी ने अपने रिश्तेदार का पीकप मंगवाया जिसमें चोरी किये तांबा तार को लोडकर दिये जिसे बेचने के लिये ले जाना बताया है।
मामले में आरोपियों के निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त टांगी, लाठी, कटर, हेक्सा ब्लेड, केबर तार का कंवर जप्त करते हुए आरोपी 1. संतोष सिंह उर्फ गुडमार्निंग पिता ललन सिंह उम्र 18 वर्ष निवासी कुम्दा बस्ती विश्रामपुर 2. ओमप्रकाश राजवाड़े पिता दुधनाथ राजवाड़े उम्र 22 वर्ष, निवासी कुम्दा बस्ती एवं 2 अपचारी बालक को गिरफ्तार किया गया है, मामले में फरार अन्य आरोपियों की पतासाजी सरगर्मी से की जा रही है।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर, एएसआई उमेश सिंह, कमलदास बनर्जी, सोहन सिंह, सोहन सिंह, प्रधान आरक्षक आनंद सिंह, जयप्रकाश कुजूर, अविनाश सिंह, आरक्षक अकरम मोहम्मद, अखिलेश पाण्डेय, संजीव राजवाड़े, संजय राजपूत, सोनू सिंह, अजय प्रताप, खेलसाय राजवाड़े, बिहारी पाण्डेय, रविशंकर पाण्डेय, नागेश नाहक व प्यारेलाल सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ गांजा के साथ 01 को किया गिरफ्तार.....

सूरजपुर: जिले की पुलिस के द्वारा नशे के कारोबारियों पर लगातार कार्यवाही जारी है। नशे के विरूद्व एक और कार्यवाही में एक व्यक्ति से 1 किलो 300 ग्राम अवैध मादक पदार्थ गांजा जप्त कर उसके विरूद्व धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही किया है।
          गत् दिवस चौकी प्रभारी उमेश्वरपुर को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम श्यामपुर का शिवप्रसाद यादव गांजा बिक्री करने के लिए अपने घर में रखा है। जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर को अवगत कराए जाने पर उन्होंने कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
         एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में चौकी प्रभारी महेश्वर सिंह पुलिस टीम के साथ मुखबीर से प्राप्त सूचना की तस्दीकी व कार्यवाही हेतु श्यामपुर निवासी शिवप्रसाद यादव के घर पहुंचे और गवाहों के समक्ष विधिवत तलाशी पंचनामा तैयार करते हुए घर की तलाशी ली इस दौरान घर से मादक पदार्थ गांजा 1 किलो 3 सौ ग्राम कीमत 6 हजार रूपये का मिला जिसे जप्त कर धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत् अपराध पंजीबद्व कर शिवप्रसाद यादव पिता देवगुन यादव उम्र 35 वर्ष को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि उड़ीसा से गांजा जाकर क्षेत्र में चोरी-छिपे पुड़िया बनाकर नशेड़ी प्रवृत्ति के लोगों को बेचता था।
       इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी उमेश्वरपुर महेश्वर सिंह, आरक्षक सोहन सिंह नेताम, मंगलमूर्ति नेताम, शिवशंकर व अम्बिका सिंह सक्रिय रहे।


मंगलवार, 13 अक्तूबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने पकड़ा अंग्रेजी शराब का बड़ा जखीरा..........

 

2 लाख 49 हजार 140 रूपये कीमत के अंग्रेजी शराब व परिवहन में प्रयुक्त 8 लाख कीमत के बोलेरो वाहन जप्त।

फरार वाहन चालक की सरगर्मी से की जा रही पतासाजी।

सूरजपुर: पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में जिले की पुलिस नशे के कारोबार को जड़ से उखाड़े फेंकने की दिशा में लगातार अवैध नशीली दवाईयों व मादक पदार्थ गांजा के कारोबार में संलिप्त लोगों पर कार्यवाही करने में लगी है, निरंतर हो रहे कार्यवाहियों से पुलिस को भी महत्वपूर्ण सूचना मिल रही है, इसी का नजीता यह रहा कि सोमवार की रात्रि पुलिस ने 2 लाख 49 हजार 140 रूपये कीमत के अंग्रेजी शराब व परिवहन में प्रयुक्त 8 लाख रूपये कीमत के बोलेरो वाहन जप्त की गई, मामले में फरार आरोपी वाहन चालक के विरूद्व आबकारी एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्व कर उसकी सरगर्मी से पतासाजी में पुलिस की टीमें लगी हुई है।
          सोमवार, 12 अक्टूबर 2020 की रात्रि में पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को मुखबीर से सूचना मिली कि मध्यप्रदेश से मनेन्द्रगढ़ रोड़ होते हुए अम्बिकापुर की ओर बोलेरो वाहन में भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब जाने वाली है जिस पर उन्होंने पुलिस की टीमों को संघन वाहन चेकिंग करने के निर्देश दिए।
          अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान पुलिस टीम के साथ जयनगर रेलवे फाटक के पास वाहनों की संघन चेकिंग कर रहे थे इसी दौरान एक सफेद कलर की बोलेरो वाहन आकर रूकी जिसका चालक वाहन से निकलकर भागने लगा जिसे पुलिस टीम ने पीछा किया किन्तु रात्रि में अंधेरे का फायदा उठाकर वह व्यक्ति भाग निकला।
          बोलेरो वाहन की तलाशी लेने पर अंग्रेजी शराब गोवा 20 पेटी में 998 पाव, रायल स्टेज 1 पेटी में 48 पाव, मेगडावल नंबर वन 1 पेटी में 48 पाव, हेंडरेड पाईपर 2 पेटी में 750 एमएल का 24 बाॅटल, ब्लेडर प्राईट 2 पेटी में 750 एमएल का 24 बाॅटल कुल शराब 232.92 लीटर कीमत 2 लाख 49 हजार 140 रूपये एवं परिवहन में प्रयुक्त बोलेरो वाहन क्रमांक सीजी 10 एफ 9688 कीमत करीब 8 लाख रूपये को जप्त कर अज्ञात वाहन चालक के विरूद्व अपराध क्रमांक 221/20 धारा 34(2), 36 आबकारी एक्ट के पंजीबद्व किया गया। मामले में फरार आरोपी बोलेरो वाहन के चालक एवं वाहन स्वामी की पतासाजी सरगर्मी से की जा रही है।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, एएसआई देवनाथ चैधरी, राजाराम राठिया, विराट विशी, प्रधान आरक्षक ऐसन पाल, अरूण गुप्ता, शिव सारथी, आरक्षक राजकुमार पासवान, जितेन्द्र सिंह, दीपक दुबे, अनिल सिंह, रवि पाण्डेय, सैनिक जहांगीर आलम, मुजाहिद, महेश यादव, श्याम व नौहर राजवाड़े सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने नशे के कारोबार करने वाले 2 लोगों को किया गिरफ्तार........

 1 लाख 32 हजार 5 सौ रूपये मूल्य के नशीली दवाई जप्त।

सूरजपुर: सूरजपुर पुलिस के द्वारा नशीले दवाई इंजेक्शन, टेबलेट व मादक पदार्थ गांजा के अवैध कार्यो में लिप्त लोगों के विरूद्व लगातार एक के बाद एक बड़ी कार्यवाही कर रही है। इसी क्रम में पुलिस के द्वारा 2 लोगों से करीब 1 लाख 32 हजार 5 सौ रूपये मूल्य के नशीली दवाई जप्त कर एनडीपीएस एक्ट के तहत् कार्यवाही किया है। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने नशीले पदार्थ के क्रय-विक्रय पर अंकुश लगाने एवं अवैध कारोबार में संलिप्त लोगों के विरूद्व कठोर कार्यवाही करने को लेकर पुलिस अधिकारियों को पहले ही कड़े निर्देश दिए थे।
          सोमवार, 12 अक्टूबर को चौकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम नरेशपुर थाना सूरजपुर निवासी दीपक तिवारी व शशिकांत तिवारी दोनों सगे भाई ग्राम नरेशपुर से बोझा के रास्ते खड़गवां की ओर नशीली दवाई इंजेक्शन टेबलेट कैप्सूल बिक्री करने आने वाले है। जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने चैकी प्रभारी को घेराबंदी लगाकर पकड़ने के निर्देश दिए।
          चौकी प्रभारी पुलिस टीम के साथ खड़गवां गुड़रूडांड तिराहा पहुंचकर घेराबंदी लगाए इसके कुछ देर बाद मुखबीर के बताए अनुसार एक बजाज एवेंजर मोटर सायकल क्रमांक सीजी 15 डीसी 0881 में सवार दो लोग आते दिखे जिन्हें घेराबंदी कर पकड़ा गया। नाम पता पूछने पर दीपक तिवारी पिता गंगाराम तिवारी उम्र 37 वर्ष तथा शशिकांत तिवारी पिता गंगाराम तिवारी उम्र 24 वर्ष दोनों सगे भाई निवासी ग्राम नरेशपुर थाना सूरजपुर का होना बताए जो विधिवत तलाशी लिए जाने पर दीपक तिवारी से एविल इजेक्शन 69 नग, रेक्सोजेसिक इंजेक्शन 145 नग, लोरी इंजेक्शन 45 नग कुल 259 नग इंजेक्शन तथा स्पास्मो प्रॉक्सीवान प्लस कैप्सूल 06 पत्ता जिसमें कुल 144 नग कैप्सूल तथा शशिकांत तिवारी से एल्प्राजोलम टेबलेट 10 पत्ता कुल 600 नग टेबलेट मिला तथा परिवहन में प्रयुक्त मोटर सायकल को जप्त किया गया इन सभी दवाईयों का बाजार मूल्य करीब 1 लाख 32 हजार 5 सौ रूपये है। दोनों आरोपियों के विरूद्ध एनडीपीएस एक्ट के धारा 21(सी) एनडीपीएस एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्व कर विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          आरोपी दीपक तिवारी वर्ष 2015 से लगातार नशीली दवाईयां इंजेक्शन अवैध रूप से विक्री करने का कार्य करते आ रहा है। इसके विरुद्ध थाना सूरजपुर एवं थाना झिलमिली में एनडीपीएस एक्ट के कुल 04 मामले दर्ज हैं तथा थाना सूरजपुर के वर्ष 2018 के मामले में माननीय न्यायालय के द्वारा 05 वर्ष का सश्रम कारावास से दण्डित किया गया है आरोपी अपील अवधि में जमानत पर है तथा इसी दौरान पुनः नशीली दवा इंजेक्शन के अवैध कारोबार में संलिप्त हो गया है।
       इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह, प्रधान आरक्षक इन्द्रजीत सिंह, विशाल मिश्रा, माणिकचंद, आरक्षक कृष्णकांत पाण्डेय, श्याम सिंह, दीपक सिंह, शैलेष सिंह व प्रमोद गुप्ता सक्रिय रहे।


सोमवार, 28 सितंबर 2020

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने 1 निरीक्षक, 1 एसआई व 1 आरक्षक को चुना काॅप आफ द मंथ........

सूरजपुर: जिले में अपराधों की रोकथाम, बरामदगी एवं अनसुलझे मामलों का खुलासा करने में लगन एवं निष्ठा से कार्य करते हुए कर्तव्य निर्वहन पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने प्रति माह पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को काॅप आफ द मंथ से सम्मानित कर रहे है। इसी तारतम्य में पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री कुकरेजा ने इस माह के काॅप आफ द मंथ के लिए 1 थाना प्रभारी, 1 एसआई व 1 आरक्षक को इसके लिए चुना है।
          पुलिस अधीक्षक ने जिन 3 पुलिस अधिकारी-कर्मचारी को चुना है उनमें थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी का नाम शामिल है जिनके द्वारा प्रतापपुर के खोरमा में हुए अंधे कत्ल के खुलासे को लेकर कोविड-19 संक्रमण के बीच लगातार आरोपियों की धरपकड़ के लिए दिगर जिला व राज्य में जाकर लगातार डटे रहकर आरोपियों को पकड़ा और मामले का खुलासा किया। इसी प्रकार थाना भटगांव में पदस्थ एसआई सी.पी.तिवारी के द्वारा कुछ दिनों पूर्व लगातार हो रहे उठाईगिरी की वारदात को अंजाम देने वाले नट गिरोह को पकड़ा जिससे कई मामलों का खुलासा हो सका। इसके बाद बारी आती है थाना जयनगर में पदस्थ आरक्षक बंधुराम सारथी की जिन्होंने विगत दिनों सरगुजा रेंज में घुम-घुम कर मोटर सायकल चोरी करने वाले चोर गिरोह को अपने चुस्ती-फुर्ती व सूझबूझ के बदौलत धर दबोचा और एक बड़े बाईक चोर गिरोह का पर्दाफाश कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। पुलिस अधीक्षक ने इन तीनों पुलिस अधिकारी-कर्मचारी को काॅप आफ द मंथ के लिए चुना है।
          पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इन पुलिस अधिकारी-कर्मचारी से प्रेरणा लेकर अन्य पुलिस अधिकारी-कर्मचारी अपने-अपने क्षेत्रों में उत्कृष्ठ कार्य का प्रदर्शन करेंगे।

रविवार, 27 सितंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने प्रतापपुर में हुए अंधे कत्ल का खुलासा कर 03 आरोपियों को किया गिरफ्तार............


आरोपियों ने रायपुर से वाहन बुकिंग कर प्रतापपुर में ड्राईवर की थी हत्या।

1 नग कट्टा, 8 नग कारतूस, 2 चोरी के बाईक व 4 नग मोबाईल बरामद।

सूरजपुर: दिनांक 31.08.2020 को सूचक कदमपारा प्रतापपुर निवासी शैलेन्द्र कुमार सिंह ने थाना प्रतापपुर में सूचना दिया कि वह अमरकंटक से वापस प्रतापपुर आ रहा था कि रात्रि करीब 12.40 बजे ग्राम खोरमा मेन रोड पर एक अज्ञात व्यक्ति मरा पड़ा हुआ है सिर पर चोट लग कर खून निकल रहा है कि सूचना पर मर्ग क्रमांक 87/2020 धारा 174 जा0फौ0 कायम करते हुये तत्काल मौके पर थाना प्रभारी पुलिस टीम के साथ पहुंचे। शव पंचनामा व घटना स्थल निरीक्षण के बाद शव को पीएम हेतु भेजा। शार्ट पीएम रिपोर्ट में डाॅक्टर के द्वारा मृतक की मृत्यु न्यूरोजेनिक साॅक व हत्यात्मक प्रकृति का होना लेख करने पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व अपराध 142/2020 धारा 302 भादसं. के तहत् अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

          मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने इस मामले से जुडे़ सभी बिन्दुओं पर गंभीरतापूर्वक जांच कर अज्ञात आरोपी की पतासाजी करने एवं अज्ञात मृतक की शिनाख्तगी आसपास क्षेत्र में करने तथा सोशल मीडिया की सहायता लेने के निर्देश थाना प्रभारी विकेश तिवारी को दिए।

         एसडीओपी प्रतापपुर राकेश पाटनवार के नेतृव में थाना प्रतापपुर की पुलिस टीम के द्वारा अज्ञात मृतक व्यक्ति की पतासाजी आसपास क्षेत्र में करते हुए मृतक का फोटो सोशल मिडिया प्रसारित किया गया इसी बीच 02.09.2020 को उक्त मृतक की पहचान चितरेन साहू पिता राम सुहागी साहू उम्र 40 वर्ष ग्राम मनियारी थाना साजा जिला बेमेतरा छत्तीसगढ़ का हुआ। जिसका शव उत्खनन कराकर शव को परिजन दुष्यन्त साहू को सुपुर्दनामा पर दिया गया।

          पुलिस अधीक्षक ने मामले की जानकारी से प्रतिदिन पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज श्री रतनलाल डांगी से अवगत कराते रहे। आईजी सरगुजा ने भी लगातार पुलिस टीम को मार्गदशन देते रहें। 

          मृतक के परिजन दुष्यन्त साहू, हेमलाल साहू निवासी रायपुर से पूछताछ पर ज्ञात हुआ कि मृतक चितरेंग साहू अपने वाहन क्रमांक सीजी 04 एचए 0216 को बुकिंग में लेकर दो अज्ञात व्यक्तियों को रायपुर बस स्टैण्ड पण्डरी से लेकर प्रतापपुर आया था।

          पुलिस टीम ने आरोपियों के पतासाजी एवं साक्ष्य संकलन हेतु थाना प्रभारी विकेश तिवारी पुलिस टीम के साथ रायपुर गये। रायपुर पण्डरी बस स्टैण्ड के एजेण्टों एवं आसपास के लोगों से बारीकी से पूछताछ करते हुए रायपुर शहर में लगे सीसीटीव्ही कैमरा को देखा गया तथा होटलों को भी चेक किया किया जा रहा था, जो दिनांक 11.09.2020 को थाना आजाद चैक के पास सिटी प्लस होटल का रजिस्ट्रर चेक करने पर तीन व्यक्ति फैजान, अलीशान एवं फुरखान के नाम से रूके थे जो हौटल के मैनेजर से पूछने पर बताया कि उन लोगों पास लगेज नहीं था, फोटो एवं सीसीटीव्ही कैमरा से प्राप्त फोटो को दिखाने पर उन तीनों व्यक्तियों से हुलिया मिलना बताया जिस पर होटल से उनका आधार कार्ड एवं ड्राईवरी लायसेंस को प्राप्त किया गया। दस्तावेजों के आधार पर अज्ञात आरोपियों की पता तलाश किया जा रहा था।

          इसी दौरान दिनांक 26.09.2020 को मुखबीर से जानकारी मिली कि रामानुजगंज में तीन व्यक्ति एक रूम में रूके है उक्त सूचना से पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा को अवगत कराया गया जिस पर उन्होंने थाना प्रतापुपर की पुलिस टीम को रेड कार्यवाही कर धरपकड़ के निर्देश दिए। रामानुजगंह पहुंचकर पुलिस टीम ने एक कमरे में रूके तीन व्यक्तियों को पकड़ा जहहां उनके कमरे से लूट किये गये स्कार्पियों वाहन का नंबर प्लेट सीजी 04 एचए 0216 मिला तब उक्त तीनों व्यक्तियों से बारीकी से पूछने पर अपना नाम 1. शाहिद खान पिता मोहम्मद असलम उम्र 22 वर्ष ग्राम सरकोनी, थना मझयांव, जिला गढ़वा झारखण्ड, 2. फैजान पिता अफसार खान जाति मुसलमान उम्र 19 वर्ष सा0 शक्क्र कोनी थाना मझयांव जिला गढ़वा झारखंड व 3. सरवर पिता अनवर जाति मुसलमान उम्र 23 वर्ष सा0 ग्राम सुकबाना थाना गढ़वा जिला गढ़वा झारखंड का होना बताये साथ ही लूट कर हत्या करना स्वीकार किये।

          तीनों से घटना के संबंध में बारीकी से पूछताछ करने पर बताये कि दिनांक 27.08.2020 को झारखंण्ड से चोरी के मोटर सायकल में रामानुजगंज किराये के मकान में आये थे। रामानुजगंज में योजना बनाये कि रायपुर जाकर स्कार्पियों वाहन को बुकिंग करके लायेंगे और उसे लूट कर भागने का प्लान बनाए और दिनांक 28.08.2020 को मोटर सायकल से तीनों रायपुर के लिये निकले थे जो रात होने से चोटिया में रूके। दिनांक 29.08.2020 के सुबह वहां से निकल कर रायपुर पंडरी बस स्टैण्ड गये वहां जाकर स्कार्पियों बुकिंग के लिए खोजे जो नहीं मिला तो सिटी प्लस होटल में रूके, दिनांक 30.08.2020 को बस स्टैण्ड जाकर स्कार्पियों वाहन बुकिंग किये, बस स्टैण्ड से स्कार्पियों में फैजान एवं सरवर बैठकर आये और मोटर सायकल से शाहिद पीछे-पीछे आया भनपुरी चैक के आगे रोड किनारे मोटर सायकल छोड़ कर स्कार्पियों वाहन में बैठ गया। अम्बिकापुर से खड़गवां सोनगरा होते हुए पोड़ी मोड़ से प्रतापपुर के लिये मुड़े, सरहरी जंगल के पास स्कार्पियों रोक कर पुनः तीनों हत्या-लूट करने का योजना बनाते समय सरवर ने फैजान को गाड़ी चलाने के लिये तथा शाहिद खान को देशी कट्टा से ड्राईवर को मारने के लिये बोला एवं सरवर खुद अपने हाथ में हथौड़ी रख कर गाड़ी में बैठे। गाड़ी जैसे ही खोरमा के पास पहुंचा तो आरोपियों ने वाहन रोकने को बोला और डाईवर वाहन से नीचे उतरा उसी दौरान शाहीद कट्टा फायर नहीं किया तो सरवर खान ने हाथ में रखे हथौड़ी से ड्राईवर चितरेन साहू के सिर में तेज प्रहार कर हत्या कर दिया इसके बाद ड्राईवर की सीट पर फैजान बैठकर गाड़ी चलाते हुए रामानुजगंज चले गये। वहां पर बिहार का नंबर प्लेट गाड़ी में लगाये और रामानुजगंज में ही एक दिन रूके दूसरे दिन गढ़वा में सरवर खान के घर के पास गाड़ी खड़ा कर अपने अपने घर चले गये। मामले के आरोपियों ने झारखण्ड में 15-20 मोटर सायकल चोरी कर उपयोग करने पश्चात छोड़ दिया गया है एवं पुनः इकट्ठा होकर लूट करने की योजना बनाये थे।

          आरोपी फैजान, शाहीद खान एवं सरवर खान के पास से मृतक चितरेंग साहू का एक स्कार्पियो वाहन, 01 नग मोबाईल, डाईविंग लायसेंस, एटीएम, आरोपियों से 01 नग देशी कट्टा, 08 नग का कारतूस, 04 नग मोबाईल, घटना समय को पहने कपड़े, होटल में रूकने हेतु इस्तेमाल किए गए 01 नग डाईविंग लायसेंस, गढ़वा-डालटेनगंज से चोरी किए गए 02 नग मोटर सायकल जप्त कर मामले में पृथक से धारा 394, 34 भादसं. व 25, 27 आर्म्स एक्ट के तहत् विधिवत् गिरफ्तार किया गया।

          आईजी सरगुजा श्री रतनलाल डांगी ने कड़ी मेहनत से मामले का खुलासा करने पर पूरी पुलिस टीम को ईनाम देने की घोषणा की है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वाहन को बुकिंग में देने से पहले वाहन बुकिंग पर ले जाने वाले व्यक्ति का नाम, पता, मोबाईल नंबर और उनका आईडी की जानकारी लें। उन्होंने बताया कि आरोपीगण इतने शातीर थे कि कहीं भी अपने आईडी का इस्तेमाल नहीं किया। इन्हें पकड़ने में सीसीटीव्ही फुटेज व मुखबीर की सूचना ने अहम भूमिका निभाई और पुलिस टीम की कड़ी मेहनत से आरोपियों को पकड़ने में सफलता मिली। 

         इस कार्यवाही में एसडीओपी प्रतापपुर राकेश पाटनवार, एसडीओपी ओडगी मंजूलता बाज, थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, एसआई नवल किशोर दुबे, चैकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह, प्रधान आरक्षक संतोष सिंह, विशाल मिश्रा, विवेकानन्द सिंह, आरक्षक अविनाश कुजूर, विकास सोनी, शेखर मानिकपुरी, मिथलेश गुप्ता, इन्द्रजीत सिंह, युवराज यादव, रौशन सिंह, श्याम सिंह, विकास सिंह, प्रवीण सिंह, कृष्ण कांत पाण्डेय, रायपुर जिला से आरक्षक प्रमोद बट्टी व विनय पाण्डेय सक्रिय रहे।  

गुरुवार, 24 सितंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने एसईसीएल में नौकरी लगाने के नाम पर पैसा लेकर धोखाधड़ी करने वाले आरोपी को किया गिरफ्तार......


 सूरजपुर: दिनांक 08.09.2020 को ग्राम करतमा निवासी विनोद दास ने थाना जयनगर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 20.05.2018 को राजापुर लकड़ापारा निवासी शिवरतन प्रजापति ने एसईसीएल में नौकरी दिलाने के नाम पर 35 हजार रूपये एवं सुरेन्द्र सोनवानी से करीब 70 हजार रूपये लेकर धोखाधड़ी किया है रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 202/20 धारा 420 भादसं. का अपराध पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।धोखाधड़ी के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने जयनगर पुलिस को मामले की सूक्ष्मता से जांच करने तथा इस मामले में फरार आरोपी की पतासाजी कर जल्द पकड़ने के निर्देश दिए।
          मामले की जांच के दौरान फरार शिवरतन प्रजापति जो जगद बदल-बदल कर लुकछिप कर रहता था जिसके बारे में मुखबीर से प्राप्त सूचना के आधार पर उसे उदयपुर में घेराबंदी कर हिरासत में लिया गया। पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि विनोद दास के साथ वर्ष 2013 से 2015 तक कमलपुर अदानी कोल साईडिंग में गार्ड की नौकरी के दौरान जान-पहचान हुई थी, गार्ड की नौकरी छोड़ने के बाद एसईसीएल के एक कंपनी में गार्ड का काम करने के दौरान 2018 में विनोद दास मिला जिसे एसईसीएल में नौकरी लगाने हेतु 4 लाख रूपये लगेगा कहा इसके बाद विनोद से 30 रूपये, विनोद के दोस्त सुरेन्द्र से 60 हजार रूपये, सतीश रजक से 30 हजार रूपये तथा सतेन्द्र राजवाड़े से 30 हजार रूपये लिया जाना स्वीकार किया।
          आरोपी इनता शातीर था कि उसने सांवरटिकरा के एक व्यक्ति जिसकी जमीन एसईसीएल में फंसा था उसी जमीन के कागजात को दिखाकर नौकरी लगाने के नाम पर पैसा लेता और अपने हिस्से का रकम रखकर अपने एक सहयोगी मित्र के खाते में जमा करता। यहीं नहीं आरोपी अपने दामाद के नौकरी के लिए भी पैसा लेकर अपने सहयोगी के साथ बंटवारा किया। धोखाधड़ी से हासिल किए रकम को अपने जिस सहयोगी के खाते में जमा किया था उसकी माह अगस्त 2020 में मृत्यु होना एवं अपने हिस्से में प्राप्त किए रकम को खर्च कर देना बताया। मामले में आरोपी शिवरतन प्रजापति पिता स्व. ललका राम उम्र 50 वर्ष निवासी राजापुर, लकरापारा, थाना जयनगर हाल मुकाम पउआपारा विश्रामपुर के विरूद्व अपराध सबूत पाए जाने पर उसे विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, एएसआई विराट विशी, आरक्षक अनिल, सुरेश तिवारी व शिव राजवाड़े सक्रिय रहे।

आईजी सरगुजा ने सूरजपुर जिले का दौरा कर जवानों का बढ़ाया हौसला..........


पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने लाॅकडाउन हेतु लगाए गए व्यवस्थां की दी जानकारी।धोंधा, चपोता बैरियर का लिया जायजा, कई थाना-चैकी का किया आकस्मिक निरीक्षण।

कर्तव्य निष्ठा के साथ पुलिस जवानों को ड्यूटी करते देख नगद ईनाम देने की घोषणा।

सूरजपुर: कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिलेवासियों को सुरक्षित रखने के लिए सम्पूर्ण जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित कर लाॅकडाउन लगाया गया है। पुलिस अधीक्षक ने जिले की सम्पूर्ण सीमाओं को पूर्णतः सील कराकर पुलिस का सख्त पहरा लगा दिया है। लाॅकडाउन में पुलिस जवानों का हौसला बढ़ाने एवं व्यवस्थाओं का जायजा लेने बुधवार की सुबह आईजी सरगुजा श्री रतनलाल डांगी सूरजपुर जिले के दौरे पर निकले थे जिन्हें पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने लाॅकडाउन हेतु लगाए गए व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी दी।
          आईजी सरगुजा श्री डांगी, एसपी सूरजपुर के साथ सर्वप्रथम लटोरी चैकी के धोंधा चेकपोस्ट पहुंचे और ड्यूटी में लगे पुलिस जवानों, राजस्व व स्वास्थ्य कर्मियों से चर्चा कर उनका हौसला अफजाई की। इसके बाद वे जिला बलरामपुर के रघुनाथनगर थाने पहुंचकर थाना का आकस्मिक निरीक्षण कर सूरजपुर-बलरामपुर के बार्डर पर स्थित चपोता बैरियर पहुंचे जहां उन्होंने जवानों का मनोबल बढ़ाया और उन्हें सजगता के साथ कर्तव्य निर्वहन करने, कोविड-19 के संक्रमण से बचाव को लेकर आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने कहा कि ई-पास व उपचार हेतु जाने वाले लोगों को न रोका जाए, किसी के साथ दुव्यवहार नहीं होनी चाहिए। उन्होंने आसपास के ग्रामीणों से चर्चा कर लाॅकडाउन का पालन करने को लेकर समझाईश दी। इसके बाद आईजी ने थाना चांदनी व चैकी मोहरसोप का आकस्मिक निरीक्षण कर वहां के व्हीसीएनबी, रोजनामचा सहित अन्य रिकार्ड को देखा और अपना टीप दर्ज किया, थाना प्रभारी को अपराधों के जल्द निकाल को लेकर निर्देश दिए, पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों की समस्याओं को सुना, थाना का अच्छा कार्य देखकर थाना प्रभारी व अधिनस्थ जवानों को नगद पुरस्कार देने की घोषणा की। थाना में चल रहे निर्माण कार्यो का जायजा लिया और गुणवत्ता के साथ निर्माण कार्य जल्द पूरा कराने के निर्देश दिए। रात्रि में ही थाना ओड़गी, झिलमिली, चैकी बसदेई में पहुंच कर क्षेत्र एवं अपराधों के बारे में विस्तृत जानकारी ली, यहां की सभी व्यवस्थाओं से संतुष्ट दिखे और पुलिस जवानों के उत्साहवर्धन के लिए नगद ईनाम देने की घोषणा की।
          इस दौरान एसडीओपी ओडगी मंजूलता बाज सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।

बुधवार, 23 सितंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने मानसिक रूप से अस्वस्थ्य महिला का कराया उपचार.........

महिला को न्यायालय के आदेश पर बेहतर उपचार हेतु भेजा सेन्दरी बिलासपुर।

कोविड-19 संक्रमण व लाॅकडाउन के बीच पुलिस की सराहनीय पहल।

सूरजपुर: गत् 22 सितम्बर को थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर को कुम्दा कालोनी के ग्रामीणों ने सूचना दी कि बाबा मस्तनाथ मंदिर में कुछ समय से निवासरत एक मानसिक रूप से विक्षिप्त महिला के द्वारा रास्ते में आने-जाने वाले आम लोगों को गाली-गलौज एवं पत्थर फेंककर परेशान कर रही है जिस पर थाना प्रभारी ने इसकी तस्दीकी हेतु एएसआई उमेश सिंह व महिला आरक्षक कमला सिंह व अंजली कश्यप को मौके पर भेजा, पुलिस ने उस महिला से यह जानने का प्रयास किया कि वह कौन है और कहां की रहने वाली है, काफी प्रयास के बाद महिला ने अपना नाम माधुरी अग्रहरी निवासी चिरमिरी, जिला कोरिया का होना बताई। महिला की मनोदशा को देखते हुए उसे नये कपड़े उपलब्ध कराया एवं उसे उपचार हेतु विश्रामपुर चिकित्सालय लाया गया जहां उसका उपचार कराया गया किन्तु उसके रवैया में कोई परिवर्तन नहीं आ रहा था।
          थाना प्रभारी विश्रामपुर के द्वारा पूरे मामले की जानकारी से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराये जाने पर उन्होंने माननीय न्यायालय से आदेश प्राप्त कर महिला को राज्य मानसिक स्वास्थ्य चिकित्सालय भेजवाने हेतु अग्रिम कार्यवाही करने के निर्देश दिए। विश्रामपुर पुलिस ने डाॅक्टरों के मशवरे एवं महिला के रवैया में कोई परिवर्तन न आने पर उसे माननीय न्यायालय सूरजपुर के आदेश पर कोविड-19 व लाॅकडाउन के बीच राज्य मानसिक स्वास्थ्य चिकित्सालय सेंदरी बिलासपुर ले जाकर दाखिल करवाया। पुलिस के इस सार्थक पहल की लोगों ने जमकर प्रशंसा की है।

मंगलवार, 22 सितंबर 2020

हत्या के प्रयास के मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार......


सूरजपुर: दिनांक 20.09.2020 को अधिना सलका निवासी तुलेश्वर राजवाड़े ने थाना भटगांव में रिपोर्ट दर्ज कराया कि रामकुमार राजवाड़े का उसके पड़ोसी बसंत राजवाड़े, समयलाल राजवाड़े एवं दिनेश राजवाड़े से पूर्व से जमीन संबंधी विवाद चला आ रहा था जिसके संबंध में 20 सितम्बर को गांव में पंचायत बैठाए थे पर मामला नहीं सुलझा, इसी बीच रविवार को दोपहर में अधिना तालाब के पास बसंत, समयलाल व दिनेश ने मिलकर रास्ता रोककर अश्लील गाली-गलौज करते हुए जान से मार देने की धमकी देकर प्राणघातक हमला करते हुए टांगी से सिर व शरीर में कई जगह प्रहार कर किए, रामकुमार को मौके से उठाकर एसईसीएल अस्पताल लाए जहां से प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर उपचार के लिए अम्बिकापुर रेफर कर दिया गया कि रिपोर्ट पर तीनों के विरूद्व अपराध क्रमांक 85/20 धारा 341, 294, 506, 307, 34 भादसं. के तहत् अपराध पंजीबद्व किया गया।
           पुलिस अधीक्षक ने निर्देशन में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट व पुलिस टीम के द्वारा फरार आरोपियों की पतासाजी कर आरोपी बसंत राजवाड़े पिता स्व. गेंदाराम उम्र 60 वर्ष, दिनेश राजवाड़े पिता बसंत उम्र 32 वर्ष एवं समयलाल राजवाड़े पिता बसंत राजवाड़े उम्र 40 वर्ष को हिरासत में लिया एवं उनके निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त टांगी जप्त कर विधिवत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, सी.पी.तिवारी, एएसआई ललित तिर्की, प्रधान आरक्षक राजेश यादव, आरक्षक मनोज जायसवाल, अवधेश कुशवाहा, भोला शंकर राजवाड़े, महिपाल सिंह, रजनीश पटेल व अशोक कनौजिया सक्रिय रहे।


अनाचार का आरोपी गिरफ्तार........

सूरजपुर: थाना भटगांव क्षेत्र अन्तर्गत एक बालिका के साथ आरोपी शिवकुमार ने करीब 10-11 महिने पूर्व घर में घुसकर जान से मारने की धमकी देकर जबरन अनाचार किया और घटना के बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दिया। पीड़िता की रिपोर्ट पर गत् दिवस आरोपी के विरूद्व धारा 376, 452, 506 भादसं. के तहत् अपराध पंजीबद्व किया गया था। एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के निर्देशन में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट व पुलिस टीम के द्वारा त्वरित पतासाजी कर आरोपी शिवकुमार को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
             इस कार्यवाही में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, एसआई आराधना बनोदे, सी.पी.तिवारी, प्रधान आरक्षक संजय कुमार, आरक्षक प्रकाश साहू, मोहम्मद नौशाद, अवधेश कुशवाहा, रजनीश पटेल, अशोक कनौजिया, महिला आरक्षक रजनी सिंह व सरिता कुजूर सक्रिय रहे।

सोमवार, 21 सितंबर 2020

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर को मिली थी जंगल में जुआ खेलने की सूचना.........


मानी-गेतरा में जुआ खेल रहे 10 जुआड़ियों को पुलिस टीम ने पकड़ा।

जुआड़ियों व जुआ फड़ से 60 हजार 8 सौ रूपये बरामद।


सूरजपुर: सूरजपुर पुलिस ने मानी गेतरा जंगल में जुआ खेल रहे 10 जुआड़ियों को जुआ खेलते रंगे हाथ पकड़ा है जिनके पास व जुआ फड से 60 हजार 8 सौ रूपये जप्त कर इन लोगों के विरूद्व जुआ एक्ट, भारतीय दण्ड संहिता, महामारी अधिनियम के साथ ही प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की गई है। रविवार 20 सितम्बर 2020 की देर शाम पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को मुखबीर ने सूचना दी कि ग्राम मानी-गेतरा स्थित एक क्रेशर के पीछे जंगल में कुछ लोग रूपये पैसों का दाव लगाकर जुआ खेल रहे है। पुलिस अधीक्षक ने इन जुआड़ियों को घेराबंदी कर सावधानी बरतते हुए पकड़ने के निर्देश थाना प्रभारी सूरजपुर को दिए।
          थाना प्रभारी पुलिस टीम के साथ सतर्कता बरतते हुए मानी-गेतरा स्थित क्रेशर के पीछे जंगल में पहुंचकर रणनीति तैयार कर घेराबंदी करते हुए हारजीत का दाव लगाकर जुआ खेल रहे 10 लोगों को पकड़ा। जिनके कब्जे व जुआ फड से पुलिस टीम ने 60 हजार 8 सौ रूपये जप्त किया है, इसके अलावा इन जुआड़ियों से 6 नग मोबाईल फोन कीमत 35 हजार, 05 नग मोटर सायकल व 01 नग कार कीमत 8 लाख 65 हजार रूपये को भी जप्त किया है। पकड़े गए सभी जुआड़ियों के द्वारा कोरोना संक्रमण के दौरान बिना मास्क पहने एक स्थान पर एकत्रित होकर जुआ खेलते पाए जाने पर इनके विरूद्व धारा 13 जुआ एक्ट, भारतीय दण्ड संहिता की धारा 269, 270 एवं महामारी अधिनियम की धारा 3 के तहत् अपराध पंजीबद्व कर कार्यवाही किया है। पकड़े गए इन जुआड़ियों के विरूद्व पृथक से प्रतिबंधात्मक कार्यवाही भी की जा रही है। कार्यवाही के दौरान मानी-गेतरा जंगल में 5 नग मोटर सायकल लावारिश हालत में पाए जाने पर धारा 102 जा.फौ. के तहत कार्यवाही कर जप्त किया गया।

*पकड़े गए जुआड़ी:-*

1. मिलन राजवाड़े पिता कूलन राजवाड़े निवासी ग्राम डेडरी, थाना सूरजपुर
2. धर्मजीत राजवाड़े पिता स्व. फोकल साय राजवाड़े, निवासी ग्राम पचिरा, थाना सूरजपुर
3. सुरेन्द्र राजवाड़े पिता जानकी राम राजवाड़े, निवासी ग्राम सलका, थाना सूरजपुर
4. अजय बिंझिया पिता रामप्यारे राजवाड़े, निवासी ग्राम कुरूवां, थाना विश्रामपुर
5. अनिल राजवाड़े पिता जागर साय, निवासी ग्राम कुरूवां, थाना विश्रामपुर
6. मनोज राजवाड़े पिता शीतल प्रसाद राजवाड़े, निवासी ग्राम डेडरी, थाना सूरजपुर
7. साधूराम देवांगन पिता बुधियार देवांगन, निवासी ग्राम हर्राटिकरा, थाना जयनगर
8. हरिलाल यादव पिता पंचवटी यादव निवासी ग्राम कंदरई, थाना जयनगर
9. श्यामलाल बरगाह पिता केवला बरगाह, निवासी ग्राम भगवानपुर, थाना गांधीनगर
10. संजीत देवांगन पिता बद्री देवांगन निवासी ग्राम डेडरी, थाना सूरजपुर
इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एसआई हिम्मत सिंह शेखावत, प्रधान आरक्षक बिसुनदेव पैंकरा, अदीप प्रताप सिंह, विनोद सिंह, आरक्षक रावेन्द्र पाल, सुरेश साहू, रामकुमार नायक, कैलाश यादव, राजीव गवेल, अजीत प्रताप सिंह, प्रेमसागर साहू व संदीप शर्मा सक्रिय रहे।