सोमवार, 28 सितंबर 2020

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने 1 निरीक्षक, 1 एसआई व 1 आरक्षक को चुना काॅप आफ द मंथ........

सूरजपुर: जिले में अपराधों की रोकथाम, बरामदगी एवं अनसुलझे मामलों का खुलासा करने में लगन एवं निष्ठा से कार्य करते हुए कर्तव्य निर्वहन पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने प्रति माह पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को काॅप आफ द मंथ से सम्मानित कर रहे है। इसी तारतम्य में पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री कुकरेजा ने इस माह के काॅप आफ द मंथ के लिए 1 थाना प्रभारी, 1 एसआई व 1 आरक्षक को इसके लिए चुना है।
          पुलिस अधीक्षक ने जिन 3 पुलिस अधिकारी-कर्मचारी को चुना है उनमें थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी का नाम शामिल है जिनके द्वारा प्रतापपुर के खोरमा में हुए अंधे कत्ल के खुलासे को लेकर कोविड-19 संक्रमण के बीच लगातार आरोपियों की धरपकड़ के लिए दिगर जिला व राज्य में जाकर लगातार डटे रहकर आरोपियों को पकड़ा और मामले का खुलासा किया। इसी प्रकार थाना भटगांव में पदस्थ एसआई सी.पी.तिवारी के द्वारा कुछ दिनों पूर्व लगातार हो रहे उठाईगिरी की वारदात को अंजाम देने वाले नट गिरोह को पकड़ा जिससे कई मामलों का खुलासा हो सका। इसके बाद बारी आती है थाना जयनगर में पदस्थ आरक्षक बंधुराम सारथी की जिन्होंने विगत दिनों सरगुजा रेंज में घुम-घुम कर मोटर सायकल चोरी करने वाले चोर गिरोह को अपने चुस्ती-फुर्ती व सूझबूझ के बदौलत धर दबोचा और एक बड़े बाईक चोर गिरोह का पर्दाफाश कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। पुलिस अधीक्षक ने इन तीनों पुलिस अधिकारी-कर्मचारी को काॅप आफ द मंथ के लिए चुना है।
          पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इन पुलिस अधिकारी-कर्मचारी से प्रेरणा लेकर अन्य पुलिस अधिकारी-कर्मचारी अपने-अपने क्षेत्रों में उत्कृष्ठ कार्य का प्रदर्शन करेंगे।

रविवार, 27 सितंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने प्रतापपुर में हुए अंधे कत्ल का खुलासा कर 03 आरोपियों को किया गिरफ्तार............


आरोपियों ने रायपुर से वाहन बुकिंग कर प्रतापपुर में ड्राईवर की थी हत्या।

1 नग कट्टा, 8 नग कारतूस, 2 चोरी के बाईक व 4 नग मोबाईल बरामद।

सूरजपुर: दिनांक 31.08.2020 को सूचक कदमपारा प्रतापपुर निवासी शैलेन्द्र कुमार सिंह ने थाना प्रतापपुर में सूचना दिया कि वह अमरकंटक से वापस प्रतापपुर आ रहा था कि रात्रि करीब 12.40 बजे ग्राम खोरमा मेन रोड पर एक अज्ञात व्यक्ति मरा पड़ा हुआ है सिर पर चोट लग कर खून निकल रहा है कि सूचना पर मर्ग क्रमांक 87/2020 धारा 174 जा0फौ0 कायम करते हुये तत्काल मौके पर थाना प्रभारी पुलिस टीम के साथ पहुंचे। शव पंचनामा व घटना स्थल निरीक्षण के बाद शव को पीएम हेतु भेजा। शार्ट पीएम रिपोर्ट में डाॅक्टर के द्वारा मृतक की मृत्यु न्यूरोजेनिक साॅक व हत्यात्मक प्रकृति का होना लेख करने पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व अपराध 142/2020 धारा 302 भादसं. के तहत् अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

          मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने इस मामले से जुडे़ सभी बिन्दुओं पर गंभीरतापूर्वक जांच कर अज्ञात आरोपी की पतासाजी करने एवं अज्ञात मृतक की शिनाख्तगी आसपास क्षेत्र में करने तथा सोशल मीडिया की सहायता लेने के निर्देश थाना प्रभारी विकेश तिवारी को दिए।

         एसडीओपी प्रतापपुर राकेश पाटनवार के नेतृव में थाना प्रतापपुर की पुलिस टीम के द्वारा अज्ञात मृतक व्यक्ति की पतासाजी आसपास क्षेत्र में करते हुए मृतक का फोटो सोशल मिडिया प्रसारित किया गया इसी बीच 02.09.2020 को उक्त मृतक की पहचान चितरेन साहू पिता राम सुहागी साहू उम्र 40 वर्ष ग्राम मनियारी थाना साजा जिला बेमेतरा छत्तीसगढ़ का हुआ। जिसका शव उत्खनन कराकर शव को परिजन दुष्यन्त साहू को सुपुर्दनामा पर दिया गया।

          पुलिस अधीक्षक ने मामले की जानकारी से प्रतिदिन पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज श्री रतनलाल डांगी से अवगत कराते रहे। आईजी सरगुजा ने भी लगातार पुलिस टीम को मार्गदशन देते रहें। 

          मृतक के परिजन दुष्यन्त साहू, हेमलाल साहू निवासी रायपुर से पूछताछ पर ज्ञात हुआ कि मृतक चितरेंग साहू अपने वाहन क्रमांक सीजी 04 एचए 0216 को बुकिंग में लेकर दो अज्ञात व्यक्तियों को रायपुर बस स्टैण्ड पण्डरी से लेकर प्रतापपुर आया था।

          पुलिस टीम ने आरोपियों के पतासाजी एवं साक्ष्य संकलन हेतु थाना प्रभारी विकेश तिवारी पुलिस टीम के साथ रायपुर गये। रायपुर पण्डरी बस स्टैण्ड के एजेण्टों एवं आसपास के लोगों से बारीकी से पूछताछ करते हुए रायपुर शहर में लगे सीसीटीव्ही कैमरा को देखा गया तथा होटलों को भी चेक किया किया जा रहा था, जो दिनांक 11.09.2020 को थाना आजाद चैक के पास सिटी प्लस होटल का रजिस्ट्रर चेक करने पर तीन व्यक्ति फैजान, अलीशान एवं फुरखान के नाम से रूके थे जो हौटल के मैनेजर से पूछने पर बताया कि उन लोगों पास लगेज नहीं था, फोटो एवं सीसीटीव्ही कैमरा से प्राप्त फोटो को दिखाने पर उन तीनों व्यक्तियों से हुलिया मिलना बताया जिस पर होटल से उनका आधार कार्ड एवं ड्राईवरी लायसेंस को प्राप्त किया गया। दस्तावेजों के आधार पर अज्ञात आरोपियों की पता तलाश किया जा रहा था।

          इसी दौरान दिनांक 26.09.2020 को मुखबीर से जानकारी मिली कि रामानुजगंज में तीन व्यक्ति एक रूम में रूके है उक्त सूचना से पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा को अवगत कराया गया जिस पर उन्होंने थाना प्रतापुपर की पुलिस टीम को रेड कार्यवाही कर धरपकड़ के निर्देश दिए। रामानुजगंह पहुंचकर पुलिस टीम ने एक कमरे में रूके तीन व्यक्तियों को पकड़ा जहहां उनके कमरे से लूट किये गये स्कार्पियों वाहन का नंबर प्लेट सीजी 04 एचए 0216 मिला तब उक्त तीनों व्यक्तियों से बारीकी से पूछने पर अपना नाम 1. शाहिद खान पिता मोहम्मद असलम उम्र 22 वर्ष ग्राम सरकोनी, थना मझयांव, जिला गढ़वा झारखण्ड, 2. फैजान पिता अफसार खान जाति मुसलमान उम्र 19 वर्ष सा0 शक्क्र कोनी थाना मझयांव जिला गढ़वा झारखंड व 3. सरवर पिता अनवर जाति मुसलमान उम्र 23 वर्ष सा0 ग्राम सुकबाना थाना गढ़वा जिला गढ़वा झारखंड का होना बताये साथ ही लूट कर हत्या करना स्वीकार किये।

          तीनों से घटना के संबंध में बारीकी से पूछताछ करने पर बताये कि दिनांक 27.08.2020 को झारखंण्ड से चोरी के मोटर सायकल में रामानुजगंज किराये के मकान में आये थे। रामानुजगंज में योजना बनाये कि रायपुर जाकर स्कार्पियों वाहन को बुकिंग करके लायेंगे और उसे लूट कर भागने का प्लान बनाए और दिनांक 28.08.2020 को मोटर सायकल से तीनों रायपुर के लिये निकले थे जो रात होने से चोटिया में रूके। दिनांक 29.08.2020 के सुबह वहां से निकल कर रायपुर पंडरी बस स्टैण्ड गये वहां जाकर स्कार्पियों बुकिंग के लिए खोजे जो नहीं मिला तो सिटी प्लस होटल में रूके, दिनांक 30.08.2020 को बस स्टैण्ड जाकर स्कार्पियों वाहन बुकिंग किये, बस स्टैण्ड से स्कार्पियों में फैजान एवं सरवर बैठकर आये और मोटर सायकल से शाहिद पीछे-पीछे आया भनपुरी चैक के आगे रोड किनारे मोटर सायकल छोड़ कर स्कार्पियों वाहन में बैठ गया। अम्बिकापुर से खड़गवां सोनगरा होते हुए पोड़ी मोड़ से प्रतापपुर के लिये मुड़े, सरहरी जंगल के पास स्कार्पियों रोक कर पुनः तीनों हत्या-लूट करने का योजना बनाते समय सरवर ने फैजान को गाड़ी चलाने के लिये तथा शाहिद खान को देशी कट्टा से ड्राईवर को मारने के लिये बोला एवं सरवर खुद अपने हाथ में हथौड़ी रख कर गाड़ी में बैठे। गाड़ी जैसे ही खोरमा के पास पहुंचा तो आरोपियों ने वाहन रोकने को बोला और डाईवर वाहन से नीचे उतरा उसी दौरान शाहीद कट्टा फायर नहीं किया तो सरवर खान ने हाथ में रखे हथौड़ी से ड्राईवर चितरेन साहू के सिर में तेज प्रहार कर हत्या कर दिया इसके बाद ड्राईवर की सीट पर फैजान बैठकर गाड़ी चलाते हुए रामानुजगंज चले गये। वहां पर बिहार का नंबर प्लेट गाड़ी में लगाये और रामानुजगंज में ही एक दिन रूके दूसरे दिन गढ़वा में सरवर खान के घर के पास गाड़ी खड़ा कर अपने अपने घर चले गये। मामले के आरोपियों ने झारखण्ड में 15-20 मोटर सायकल चोरी कर उपयोग करने पश्चात छोड़ दिया गया है एवं पुनः इकट्ठा होकर लूट करने की योजना बनाये थे।

          आरोपी फैजान, शाहीद खान एवं सरवर खान के पास से मृतक चितरेंग साहू का एक स्कार्पियो वाहन, 01 नग मोबाईल, डाईविंग लायसेंस, एटीएम, आरोपियों से 01 नग देशी कट्टा, 08 नग का कारतूस, 04 नग मोबाईल, घटना समय को पहने कपड़े, होटल में रूकने हेतु इस्तेमाल किए गए 01 नग डाईविंग लायसेंस, गढ़वा-डालटेनगंज से चोरी किए गए 02 नग मोटर सायकल जप्त कर मामले में पृथक से धारा 394, 34 भादसं. व 25, 27 आर्म्स एक्ट के तहत् विधिवत् गिरफ्तार किया गया।

          आईजी सरगुजा श्री रतनलाल डांगी ने कड़ी मेहनत से मामले का खुलासा करने पर पूरी पुलिस टीम को ईनाम देने की घोषणा की है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वाहन को बुकिंग में देने से पहले वाहन बुकिंग पर ले जाने वाले व्यक्ति का नाम, पता, मोबाईल नंबर और उनका आईडी की जानकारी लें। उन्होंने बताया कि आरोपीगण इतने शातीर थे कि कहीं भी अपने आईडी का इस्तेमाल नहीं किया। इन्हें पकड़ने में सीसीटीव्ही फुटेज व मुखबीर की सूचना ने अहम भूमिका निभाई और पुलिस टीम की कड़ी मेहनत से आरोपियों को पकड़ने में सफलता मिली। 

         इस कार्यवाही में एसडीओपी प्रतापपुर राकेश पाटनवार, एसडीओपी ओडगी मंजूलता बाज, थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, एसआई नवल किशोर दुबे, चैकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह, प्रधान आरक्षक संतोष सिंह, विशाल मिश्रा, विवेकानन्द सिंह, आरक्षक अविनाश कुजूर, विकास सोनी, शेखर मानिकपुरी, मिथलेश गुप्ता, इन्द्रजीत सिंह, युवराज यादव, रौशन सिंह, श्याम सिंह, विकास सिंह, प्रवीण सिंह, कृष्ण कांत पाण्डेय, रायपुर जिला से आरक्षक प्रमोद बट्टी व विनय पाण्डेय सक्रिय रहे।  

गुरुवार, 24 सितंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने एसईसीएल में नौकरी लगाने के नाम पर पैसा लेकर धोखाधड़ी करने वाले आरोपी को किया गिरफ्तार......


 सूरजपुर: दिनांक 08.09.2020 को ग्राम करतमा निवासी विनोद दास ने थाना जयनगर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 20.05.2018 को राजापुर लकड़ापारा निवासी शिवरतन प्रजापति ने एसईसीएल में नौकरी दिलाने के नाम पर 35 हजार रूपये एवं सुरेन्द्र सोनवानी से करीब 70 हजार रूपये लेकर धोखाधड़ी किया है रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 202/20 धारा 420 भादसं. का अपराध पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।धोखाधड़ी के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने जयनगर पुलिस को मामले की सूक्ष्मता से जांच करने तथा इस मामले में फरार आरोपी की पतासाजी कर जल्द पकड़ने के निर्देश दिए।
          मामले की जांच के दौरान फरार शिवरतन प्रजापति जो जगद बदल-बदल कर लुकछिप कर रहता था जिसके बारे में मुखबीर से प्राप्त सूचना के आधार पर उसे उदयपुर में घेराबंदी कर हिरासत में लिया गया। पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि विनोद दास के साथ वर्ष 2013 से 2015 तक कमलपुर अदानी कोल साईडिंग में गार्ड की नौकरी के दौरान जान-पहचान हुई थी, गार्ड की नौकरी छोड़ने के बाद एसईसीएल के एक कंपनी में गार्ड का काम करने के दौरान 2018 में विनोद दास मिला जिसे एसईसीएल में नौकरी लगाने हेतु 4 लाख रूपये लगेगा कहा इसके बाद विनोद से 30 रूपये, विनोद के दोस्त सुरेन्द्र से 60 हजार रूपये, सतीश रजक से 30 हजार रूपये तथा सतेन्द्र राजवाड़े से 30 हजार रूपये लिया जाना स्वीकार किया।
          आरोपी इनता शातीर था कि उसने सांवरटिकरा के एक व्यक्ति जिसकी जमीन एसईसीएल में फंसा था उसी जमीन के कागजात को दिखाकर नौकरी लगाने के नाम पर पैसा लेता और अपने हिस्से का रकम रखकर अपने एक सहयोगी मित्र के खाते में जमा करता। यहीं नहीं आरोपी अपने दामाद के नौकरी के लिए भी पैसा लेकर अपने सहयोगी के साथ बंटवारा किया। धोखाधड़ी से हासिल किए रकम को अपने जिस सहयोगी के खाते में जमा किया था उसकी माह अगस्त 2020 में मृत्यु होना एवं अपने हिस्से में प्राप्त किए रकम को खर्च कर देना बताया। मामले में आरोपी शिवरतन प्रजापति पिता स्व. ललका राम उम्र 50 वर्ष निवासी राजापुर, लकरापारा, थाना जयनगर हाल मुकाम पउआपारा विश्रामपुर के विरूद्व अपराध सबूत पाए जाने पर उसे विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, एएसआई विराट विशी, आरक्षक अनिल, सुरेश तिवारी व शिव राजवाड़े सक्रिय रहे।

आईजी सरगुजा ने सूरजपुर जिले का दौरा कर जवानों का बढ़ाया हौसला..........


पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने लाॅकडाउन हेतु लगाए गए व्यवस्थां की दी जानकारी।धोंधा, चपोता बैरियर का लिया जायजा, कई थाना-चैकी का किया आकस्मिक निरीक्षण।

कर्तव्य निष्ठा के साथ पुलिस जवानों को ड्यूटी करते देख नगद ईनाम देने की घोषणा।

सूरजपुर: कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिलेवासियों को सुरक्षित रखने के लिए सम्पूर्ण जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित कर लाॅकडाउन लगाया गया है। पुलिस अधीक्षक ने जिले की सम्पूर्ण सीमाओं को पूर्णतः सील कराकर पुलिस का सख्त पहरा लगा दिया है। लाॅकडाउन में पुलिस जवानों का हौसला बढ़ाने एवं व्यवस्थाओं का जायजा लेने बुधवार की सुबह आईजी सरगुजा श्री रतनलाल डांगी सूरजपुर जिले के दौरे पर निकले थे जिन्हें पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने लाॅकडाउन हेतु लगाए गए व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी दी।
          आईजी सरगुजा श्री डांगी, एसपी सूरजपुर के साथ सर्वप्रथम लटोरी चैकी के धोंधा चेकपोस्ट पहुंचे और ड्यूटी में लगे पुलिस जवानों, राजस्व व स्वास्थ्य कर्मियों से चर्चा कर उनका हौसला अफजाई की। इसके बाद वे जिला बलरामपुर के रघुनाथनगर थाने पहुंचकर थाना का आकस्मिक निरीक्षण कर सूरजपुर-बलरामपुर के बार्डर पर स्थित चपोता बैरियर पहुंचे जहां उन्होंने जवानों का मनोबल बढ़ाया और उन्हें सजगता के साथ कर्तव्य निर्वहन करने, कोविड-19 के संक्रमण से बचाव को लेकर आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने कहा कि ई-पास व उपचार हेतु जाने वाले लोगों को न रोका जाए, किसी के साथ दुव्यवहार नहीं होनी चाहिए। उन्होंने आसपास के ग्रामीणों से चर्चा कर लाॅकडाउन का पालन करने को लेकर समझाईश दी। इसके बाद आईजी ने थाना चांदनी व चैकी मोहरसोप का आकस्मिक निरीक्षण कर वहां के व्हीसीएनबी, रोजनामचा सहित अन्य रिकार्ड को देखा और अपना टीप दर्ज किया, थाना प्रभारी को अपराधों के जल्द निकाल को लेकर निर्देश दिए, पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों की समस्याओं को सुना, थाना का अच्छा कार्य देखकर थाना प्रभारी व अधिनस्थ जवानों को नगद पुरस्कार देने की घोषणा की। थाना में चल रहे निर्माण कार्यो का जायजा लिया और गुणवत्ता के साथ निर्माण कार्य जल्द पूरा कराने के निर्देश दिए। रात्रि में ही थाना ओड़गी, झिलमिली, चैकी बसदेई में पहुंच कर क्षेत्र एवं अपराधों के बारे में विस्तृत जानकारी ली, यहां की सभी व्यवस्थाओं से संतुष्ट दिखे और पुलिस जवानों के उत्साहवर्धन के लिए नगद ईनाम देने की घोषणा की।
          इस दौरान एसडीओपी ओडगी मंजूलता बाज सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।

बुधवार, 23 सितंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने मानसिक रूप से अस्वस्थ्य महिला का कराया उपचार.........

महिला को न्यायालय के आदेश पर बेहतर उपचार हेतु भेजा सेन्दरी बिलासपुर।

कोविड-19 संक्रमण व लाॅकडाउन के बीच पुलिस की सराहनीय पहल।

सूरजपुर: गत् 22 सितम्बर को थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर को कुम्दा कालोनी के ग्रामीणों ने सूचना दी कि बाबा मस्तनाथ मंदिर में कुछ समय से निवासरत एक मानसिक रूप से विक्षिप्त महिला के द्वारा रास्ते में आने-जाने वाले आम लोगों को गाली-गलौज एवं पत्थर फेंककर परेशान कर रही है जिस पर थाना प्रभारी ने इसकी तस्दीकी हेतु एएसआई उमेश सिंह व महिला आरक्षक कमला सिंह व अंजली कश्यप को मौके पर भेजा, पुलिस ने उस महिला से यह जानने का प्रयास किया कि वह कौन है और कहां की रहने वाली है, काफी प्रयास के बाद महिला ने अपना नाम माधुरी अग्रहरी निवासी चिरमिरी, जिला कोरिया का होना बताई। महिला की मनोदशा को देखते हुए उसे नये कपड़े उपलब्ध कराया एवं उसे उपचार हेतु विश्रामपुर चिकित्सालय लाया गया जहां उसका उपचार कराया गया किन्तु उसके रवैया में कोई परिवर्तन नहीं आ रहा था।
          थाना प्रभारी विश्रामपुर के द्वारा पूरे मामले की जानकारी से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराये जाने पर उन्होंने माननीय न्यायालय से आदेश प्राप्त कर महिला को राज्य मानसिक स्वास्थ्य चिकित्सालय भेजवाने हेतु अग्रिम कार्यवाही करने के निर्देश दिए। विश्रामपुर पुलिस ने डाॅक्टरों के मशवरे एवं महिला के रवैया में कोई परिवर्तन न आने पर उसे माननीय न्यायालय सूरजपुर के आदेश पर कोविड-19 व लाॅकडाउन के बीच राज्य मानसिक स्वास्थ्य चिकित्सालय सेंदरी बिलासपुर ले जाकर दाखिल करवाया। पुलिस के इस सार्थक पहल की लोगों ने जमकर प्रशंसा की है।

मंगलवार, 22 सितंबर 2020

हत्या के प्रयास के मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार......


सूरजपुर: दिनांक 20.09.2020 को अधिना सलका निवासी तुलेश्वर राजवाड़े ने थाना भटगांव में रिपोर्ट दर्ज कराया कि रामकुमार राजवाड़े का उसके पड़ोसी बसंत राजवाड़े, समयलाल राजवाड़े एवं दिनेश राजवाड़े से पूर्व से जमीन संबंधी विवाद चला आ रहा था जिसके संबंध में 20 सितम्बर को गांव में पंचायत बैठाए थे पर मामला नहीं सुलझा, इसी बीच रविवार को दोपहर में अधिना तालाब के पास बसंत, समयलाल व दिनेश ने मिलकर रास्ता रोककर अश्लील गाली-गलौज करते हुए जान से मार देने की धमकी देकर प्राणघातक हमला करते हुए टांगी से सिर व शरीर में कई जगह प्रहार कर किए, रामकुमार को मौके से उठाकर एसईसीएल अस्पताल लाए जहां से प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर उपचार के लिए अम्बिकापुर रेफर कर दिया गया कि रिपोर्ट पर तीनों के विरूद्व अपराध क्रमांक 85/20 धारा 341, 294, 506, 307, 34 भादसं. के तहत् अपराध पंजीबद्व किया गया।
           पुलिस अधीक्षक ने निर्देशन में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट व पुलिस टीम के द्वारा फरार आरोपियों की पतासाजी कर आरोपी बसंत राजवाड़े पिता स्व. गेंदाराम उम्र 60 वर्ष, दिनेश राजवाड़े पिता बसंत उम्र 32 वर्ष एवं समयलाल राजवाड़े पिता बसंत राजवाड़े उम्र 40 वर्ष को हिरासत में लिया एवं उनके निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त टांगी जप्त कर विधिवत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, सी.पी.तिवारी, एएसआई ललित तिर्की, प्रधान आरक्षक राजेश यादव, आरक्षक मनोज जायसवाल, अवधेश कुशवाहा, भोला शंकर राजवाड़े, महिपाल सिंह, रजनीश पटेल व अशोक कनौजिया सक्रिय रहे।


अनाचार का आरोपी गिरफ्तार........

सूरजपुर: थाना भटगांव क्षेत्र अन्तर्गत एक बालिका के साथ आरोपी शिवकुमार ने करीब 10-11 महिने पूर्व घर में घुसकर जान से मारने की धमकी देकर जबरन अनाचार किया और घटना के बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दिया। पीड़िता की रिपोर्ट पर गत् दिवस आरोपी के विरूद्व धारा 376, 452, 506 भादसं. के तहत् अपराध पंजीबद्व किया गया था। एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के निर्देशन में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट व पुलिस टीम के द्वारा त्वरित पतासाजी कर आरोपी शिवकुमार को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
             इस कार्यवाही में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, एसआई आराधना बनोदे, सी.पी.तिवारी, प्रधान आरक्षक संजय कुमार, आरक्षक प्रकाश साहू, मोहम्मद नौशाद, अवधेश कुशवाहा, रजनीश पटेल, अशोक कनौजिया, महिला आरक्षक रजनी सिंह व सरिता कुजूर सक्रिय रहे।

सोमवार, 21 सितंबर 2020

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर को मिली थी जंगल में जुआ खेलने की सूचना.........


मानी-गेतरा में जुआ खेल रहे 10 जुआड़ियों को पुलिस टीम ने पकड़ा।

जुआड़ियों व जुआ फड़ से 60 हजार 8 सौ रूपये बरामद।


सूरजपुर: सूरजपुर पुलिस ने मानी गेतरा जंगल में जुआ खेल रहे 10 जुआड़ियों को जुआ खेलते रंगे हाथ पकड़ा है जिनके पास व जुआ फड से 60 हजार 8 सौ रूपये जप्त कर इन लोगों के विरूद्व जुआ एक्ट, भारतीय दण्ड संहिता, महामारी अधिनियम के साथ ही प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की गई है। रविवार 20 सितम्बर 2020 की देर शाम पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को मुखबीर ने सूचना दी कि ग्राम मानी-गेतरा स्थित एक क्रेशर के पीछे जंगल में कुछ लोग रूपये पैसों का दाव लगाकर जुआ खेल रहे है। पुलिस अधीक्षक ने इन जुआड़ियों को घेराबंदी कर सावधानी बरतते हुए पकड़ने के निर्देश थाना प्रभारी सूरजपुर को दिए।
          थाना प्रभारी पुलिस टीम के साथ सतर्कता बरतते हुए मानी-गेतरा स्थित क्रेशर के पीछे जंगल में पहुंचकर रणनीति तैयार कर घेराबंदी करते हुए हारजीत का दाव लगाकर जुआ खेल रहे 10 लोगों को पकड़ा। जिनके कब्जे व जुआ फड से पुलिस टीम ने 60 हजार 8 सौ रूपये जप्त किया है, इसके अलावा इन जुआड़ियों से 6 नग मोबाईल फोन कीमत 35 हजार, 05 नग मोटर सायकल व 01 नग कार कीमत 8 लाख 65 हजार रूपये को भी जप्त किया है। पकड़े गए सभी जुआड़ियों के द्वारा कोरोना संक्रमण के दौरान बिना मास्क पहने एक स्थान पर एकत्रित होकर जुआ खेलते पाए जाने पर इनके विरूद्व धारा 13 जुआ एक्ट, भारतीय दण्ड संहिता की धारा 269, 270 एवं महामारी अधिनियम की धारा 3 के तहत् अपराध पंजीबद्व कर कार्यवाही किया है। पकड़े गए इन जुआड़ियों के विरूद्व पृथक से प्रतिबंधात्मक कार्यवाही भी की जा रही है। कार्यवाही के दौरान मानी-गेतरा जंगल में 5 नग मोटर सायकल लावारिश हालत में पाए जाने पर धारा 102 जा.फौ. के तहत कार्यवाही कर जप्त किया गया।

*पकड़े गए जुआड़ी:-*

1. मिलन राजवाड़े पिता कूलन राजवाड़े निवासी ग्राम डेडरी, थाना सूरजपुर
2. धर्मजीत राजवाड़े पिता स्व. फोकल साय राजवाड़े, निवासी ग्राम पचिरा, थाना सूरजपुर
3. सुरेन्द्र राजवाड़े पिता जानकी राम राजवाड़े, निवासी ग्राम सलका, थाना सूरजपुर
4. अजय बिंझिया पिता रामप्यारे राजवाड़े, निवासी ग्राम कुरूवां, थाना विश्रामपुर
5. अनिल राजवाड़े पिता जागर साय, निवासी ग्राम कुरूवां, थाना विश्रामपुर
6. मनोज राजवाड़े पिता शीतल प्रसाद राजवाड़े, निवासी ग्राम डेडरी, थाना सूरजपुर
7. साधूराम देवांगन पिता बुधियार देवांगन, निवासी ग्राम हर्राटिकरा, थाना जयनगर
8. हरिलाल यादव पिता पंचवटी यादव निवासी ग्राम कंदरई, थाना जयनगर
9. श्यामलाल बरगाह पिता केवला बरगाह, निवासी ग्राम भगवानपुर, थाना गांधीनगर
10. संजीत देवांगन पिता बद्री देवांगन निवासी ग्राम डेडरी, थाना सूरजपुर
इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एसआई हिम्मत सिंह शेखावत, प्रधान आरक्षक बिसुनदेव पैंकरा, अदीप प्रताप सिंह, विनोद सिंह, आरक्षक रावेन्द्र पाल, सुरेश साहू, रामकुमार नायक, कैलाश यादव, राजीव गवेल, अजीत प्रताप सिंह, प्रेमसागर साहू व संदीप शर्मा सक्रिय रहे।

गुरुवार, 17 सितंबर 2020

चोरी के टूल्लू पम्प के साथ 2 गिरफ्तार.......


सूरजपुर: बीते 16 सितम्बर को बतरा निवासी विजय सिंह व संजय सिंह दोनों ने चौकी करंजी में पृथक-पृथक रिपोर्ट दर्ज कराया कि 15-16 सितम्बर के दरम्यान इनके कुआं में 1-1 नग टूल्लू पम्प लगा था जिसे किसी अज्ञात व्यक्ति ने चोरी कर लिया। रिपोर्ट पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व धारा 379 भारतीय दण्ड संहिता के तहत् अपराध पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।
          जांच के दौरान चौकी प्रभारी करंजी को मुखबीर से जानकारी मिली कि गांव के रामचंद सिंह व निरंजन सिंह को कुआं के पास देखा गया था जिस पर पुलिस ने दोनों को तलब कर हिकमत अमली से पूछताछ करने पर दोनों ने चोरी करना स्वीकार किया। आरोपियों के निशानदेही पर चोरी हुए 2 नग टूल्लू पम्प कीमत 5 हजार रूपये को जप्त कर आरोपी ग्राम बतरा निवासी 31 वर्षीय रामचंद्र सिंह पिता स्व. अमान सिंह व 35 वर्षीय निरंजन सिंह पिता रामशरण को गिरफ्तार किया गया।
          इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी चित्रलेखा साहू, एएसआई संजय गोस्वामी, प्रधान आरक्षक विकास सिंह, पिंगल मिंज, रघुवंश सिंह, आरक्षक ताराचंद यादव, विश्वजीत सिंह, वाहिद हुसैन, रामचंद्र, नीरज सिंह, भोजराज व भोला केरकेट्टा सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने 2 लाख 50 हजार रूपये कीमत के नशीली दवाई के साथ 1 को किया गिरफ्तार......


सूरजपुर: नशीली दवाओं के कारोबार के खिलाफ सूरजपुर जिले में चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। सूरजपुर पुलिस ने नशे का कारोबार करने वाले एक व्यक्ति से 2 लाख 50 हजार रूपये कीमत के नशीली दवाईयों के साथ धरदबोचा है। बीते बुधवार 16 सितम्बर को पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा को मुखबीर से सूचना मिली थी कि एक व्यक्ति नशीली दवाई बिक्री करने हेतु दतिमा चौक में ग्राहक की तलाश कर रहा है। सूचना पर पुलिस अधीक्षक ने चौकी प्रभारी करंजी चित्रलेखा साहू को नशीली दवा के कारोबार करने वाले को सर्तकता बरतते हुए घेराबंदी कर पकड़ने के निर्देश दिए। 
          चौकी प्रभारी करंजी पुलिस टीम के साथ दतिमा चौक पहुंची तभी एक व्यक्ति पुलिस टीम को देखकर भागने लगा जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया। पूछताछ पर उस व्यक्ति ने अपना नाम राजेन्द्र कुमार साहू पिता सुपाड़ी लाल साहू उम्र 24 वर्ष ग्राम भुनेश्वरपुर, थाना रामानुजनगर का रहने वाला बताया जिसकी तलाशी लिए जाने पर एक काले रंग के बैग व भूरे रंग के पुटठे के कार्टून में 80 डिब्बे में 480 पत्ता प्रत्येक में 24 नग स्पास्मो प्रोक्सीविन प्लस नशीली दवाई कैप्सूल कुल 11 हजार 5 सौ 20 नग कीमत 2 लाख 50 हजार रूपये का जप्त कर आरोपी के विरूद्व धारा 21बी एनडीपीएस एक्ट के तहत् कार्यवाही कर विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
          पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि नशीली दवाईयों को गया बिहार से कम कीमत में लाकर सूरजपुर, विश्रामपुर, रामानुजनगर, जिला कोरिया के पटना क्षेत्र में नशेड़ी प्रवृत्ति के लोगों को वास्तविक कीमत से कई गुना अधिक दर पर बिक्री कर लाभ अर्जित करता था।
         इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी चित्रलेखा साहू, एएसआई संजय गोस्वामी, प्रधान आरक्षक विकास सिंह, पिंगल मिंज, रघुवंश सिंह, आरक्षक ताराचंद यादव, विश्वजीत सिंह, वाहिद हुसैन, विक्रम मिंज, रामचंद्र, नीरज सिंह, भोजराज व भोला केरकेट्टा सक्रिय रहे।

दुर्घटना की सूचना पर हाईवे पेट्रोलिंग के जरिए घायलों को मिलेगी जल्द मदद- पुलिस अधीक्षक.......


जयनगर थाने के पास तैनात रहेगी हाईवे पेट्रोलिंग वाहन।


सूरजपुर: गत् दिवस माननीय मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ ने हाईवे पेट्रोलिंग के लिए 15 वाहनों को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया था इस अवसर पर पुलिस महानिदेशक श्री डी.एम. अवस्थी, विशेष पुलिस महानिदेशक श्री आर.के.विज सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद थे। इन 15 वाहनों में से 01 वाहन सूरजपुर जिले के लिए आबंटित था। मंगलवार 15 सितम्बर को हाईवे वाहन के सूरजपुर में पहुंचने पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने हाईवे वाहन, वाहन में रखे गए एक्यूपमेंट का जायजा लिया एवं इसके संचालन की जिम्मेदारी यातायात प्रभारी को सौंपी है।
          पुलिस अधीक्षक ने बताया कि यह हाईवे वाहन जयनगर थाने के पास तैनात रहेगा, वाहन जीपीएस सिस्टम से कनेक्टर है। हाईवे पेट्रोलिंग टीम सड़क दुर्घटना होने पर तत्काल घटना स्थल पर पहुंचेगी और दुर्घटना पीड़ित को 108 वाहन या हाईवे पेट्रोलिंग वाहन से तत्काल नजदीकी शासकीय अस्पताल हेतु रवाना करेगी। इसके साथ ही दुर्घटना पीड़ित व्यक्तियों के परिजनों को फौरन सूचना देगी। हाईवे वाहन में 01 एएसआई, 02 प्रधान आरक्षक, 04 आरक्षक एवं 02 आरक्षक चालक की ड्यूटी लगाई गई है जो 24 घंटे सातों दिन 1-4 का पुलिस बल सदैव इसमें मुस्तैदी से तैनात रहेंगे।
          इस दौरान रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे, यातायात प्रभारी आर.सी.राय, एमटीओ अतारूराम मानिकपुरी, अखिलेश सिंह व थाना प्रभारी जयनगर सुनीता भारद्धाज मौजूद रहे।

हाईवे वाहन इन संसाधनों से है लैस।

हाइवे पेट्रोलिंग वाहन सभी अति आधुनिक एवं तकनीकी संसाधनों से लैस हैं। इनमें जीपीएस सिस्टम, ब्रीथ एनालाईजर (एल्कोमीटर), स्मार्ट फोन, रिफ्लेक्टर जैकेट, रेनकोट, एलईडी बेटन, एलईडी लाईट, पी.ए. सिस्टम एवं सायरन, वायरलेस सेट, डिजिटल कैमरा, फर्स्ट एड बॉक्स, अग्नि शमन यंत्र, सर्ट लाईट, टूल किट (टोइंग हेतु), स्ट्रैचर की सुविधा उपलब्ध है।

7 लीटर महुआ शराब जप्त, 01 गिरफ्तार.......


सूरजपुर: रामानुजनगर पुलिस ने मुखबीर की सूचना पर महुआ शराब बिक्री करने हेतु रखने पर ग्राम भुनेश्वरपुर चिखलापारा निवासी रामचन्द्र साहू पिता स्व. बिहारी राम साहू के कब्जे से 07 लीटर महुआ शराब कीमत 1050 रूपये का जप्त कर उसके विरूद्व धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत् कार्यवाही किया।
 

सूरजपुर पुलिस ने जरूरत मंद को किया ब्लड डोनेट...........


सूरजपुर: पुलिस कन्ट्रोल रूम सूरजपुर को जिला चिकित्सालय से सूचना दी गई कि एक महिला को बी पाॅजिटिव ब्लड की जरूरत है। सूचना पर रक्षित केन्द्र से एक आरक्षक ने चिकित्सालय में जाकर एक यूनिट ब्लड महिला को डोनेट कर उसकी उपचार में मदद की है।

ये है पूरा मामला

        केनापारा निवासी लक्ष्मी गुप्ता को उसके परिजन उपचार के लिए जिला चिकित्सालय सूरजपुर लाए थे जहां डाॅक्टर ने उन्हें ब्लड की कमी बताया। ब्लड बैंक में बी पाॅजिटीव रक्त समूह का ब्लड नहीं होने पर ब्लड की जरूरत को लेकर इसकी सूचना पुलिस कन्ट्रोल रूम को दी गई। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर रक्षित निरीक्षक के माध्यम से आरक्षक सुरेन्द्र सिंह ने चिकित्सालय में जाकर 01 यूनिट ब्लड महिला को डोनेट किया।
          कोविड-19 संक्रमण के बीच बीते मंगलवार को लक्ष्मी गुप्ता को खून देकर उनके उपचार में मदद कर सराहनीय कार्य पर पुलिस के अधिकारियों ने आरक्षक की प्रशंसा की है। साथ ही लक्ष्मी गुप्ता एवं उनके पुत्र आकाश ने ब्लड मिलने पर सूरजपुर पुलिस के प्रति आभार व्यक्त किया।

गुरुवार, 10 सितंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने 9 चोरों से 3 लाख 50 हजार रूपये के 7 नग मोटर सायकल किया बरामद...........

चोरी के आरोपी एवं वाहन खरीददार को पुलिस ने किया गिरफ्तार।

आरोपी ने मोटर सायकलों को सूरजपुर व सरगुजा जिले से किया था चोरी।

सूरजपुर: दिनांक 09 सितम्बर 2020 की शाम पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को मुखबीर ने सूचना दिया कि बरगीडीह का शातिर चोर जावेद चोरी की मोटर सायकल लेकर बेचने की फिराक में सिलफिली बस स्टैण्ड आया हुआ है जिस उन्होंने थाना प्रभारी जयनगर को पर्याप्त सावधानी बरतते हुए पुलिस की टीम के साथ घेराबंदी कर पकड़ने के निर्देश दिए।

          थाना प्रभारी जयनगर सुनीता भारद्वाज के नेतृत्व में पुलिस टीम सिलफिली बस स्टैण्ड पहुंची तभी बिना नंबर के मोटर सायकल से एक व्यक्ति अम्बिकापुर की ओर भागने लगा जिसे पुलिस टीम ने पीछा करते हुए घेराबंदी कर अजबनगर के पास बिना नंबर हीरो सीडी डिलक्स लाल-काला रंग के साथ पकड़ा। पूछताछ पर उसने अपना नाम जावेद उर्फ तुरवा पिता स्व. इलियास उम्र 23 वर्ष निवासी बरगीडीह (खाराकोना), थाना लुण्डा, जिला सरगुजा का रहने वाला बताया जिससे वाहन के संबंध में दस्तावेज की मांग किए जाने पर कोई दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किया। पूछताछ में बताया कि हाल ही में संयुक्त कार्यालय सूरजपुर से इस मोटर सायकल को चोरी किया था।

          जावेद को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर बताया कि पूर्व में विश्रामपुर में मोटर सायकल रिपेयरिंग का काम करता था वर्तमान में अम्बिकापुर में मछली बेचने का काम करता है। लगभग एक वर्ष के भीतर सूरजपुर मार्केट से 01 नग मोटर सायकल, अम्बिकापुर पुराना बस स्टैण्ड से 01 नग मोटर सायकल, नया बस स्टैण्ड अम्बिकापुर से 03 मोटर सायकल, कम्पनी बाजार अम्बिकापुर से 01 मोटर सायकल, विश्रामपुर मार्केट से 01 मोटर सायकल, जयनगर से 01 मोटर सायकल चोरी किया था। 

          जिसे बड़वार निवासी असगर अली को 03 नग मोटर सायकल दिया था, असगर अली ने 01 नग मोटर सायकल को मजगवा निवासी तुलसी यादव, भवरखोह निवासी अशोक यादव तथा राजू यादव को 1-1 नग मोटर सायकल बिक्री किया था। आरोपी जावेद ने चोरी की मोटर सायकल को डाडकरवां निवासी रज्जी मोहम्मद व अंसार आलम को 1-1 नग मोटर सायकल तथा बड़वार निवासी आस मोहम्मद को 01 मोटर सायकल बेचा था। इसके अलावा 01 नग मोटर सायकल को बड़वार के एक व्यक्ति के माध्यम से आरोपी आनंद सिंह के पास बेचा था जिसे आनंद के द्वारा उस व्यक्ति को वापस कर दिया गया है जिसे बरामद किया जाना शेष है।

          जयनगर पुलिस ने आरोपियों के निशानदेही पर चोरी के 7 मोटर सायकल कीमत करीब 3 लाख 50 हजार रूपये को बरामद कर 1. मुख्य आरोपी जावेद उर्फ तुरवा पिता स्व. इलियास उम्र 23 वर्ष निवासी बरगीडीह, खाराकोना, थाना लुण्ड्रा, जिला सरगुजा 2. आरोपी अंसार आलम पिता नशीरूद्दीन अंसारी उम्र 25 वर्ष निवासी डांडकरवां, थाना चंदौरा 3. आस मोहम्मद पिता फैज मोहम्मद उम्र 30 वर्ष निवासी बड़वार, थाना रमकोला 4. रज्जी मोहम्मद पिता मोहम्मद युसुफ उम्र 20 वर्ष निवासी डांडकरवा, थाना चंदौरा 5. तुलसी यादव पिता जगदीश यादव उम्र 24 वर्ष निवासी मजगवां, थाना प्रतापपुर 6. अशोक यादव पिता भगवान यादव उम्र 20 वर्ष निवासी भवरखोंह, चैकी कुदरगढ़, थाना ओड़गी 7. राजू यादव पिता धरमपाल यादव उम्र 20 वर्ष निवासी भवरखोंह, चैकी कुदरगढ़, थाना ओड़गी 8. असगर अली पिता अब्दुल मजीद, उम्र 22 वर्ष निवासी बड़वार, थाना रमकोला 9. आनंद उर्फ सोनू पिता बिरझू सिंह उम्र 23 वर्ष सा. बड़वार, थाना रमकोला के विरूद्व इस्तगाशा क्रमांक 05/2020 धारा 41(1-4) जा.फौ./379, 411 भादवि के तहत् कार्यवाही कर गिरफ्तार किया है। 

         पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री कुकरेजा ने बताया कि आरोपी जावेद उर्फ तुरवा से पूछताछ पर अहम जानकारी मिली है जिसके आधार पर आगे कार्यवाही के लिए पुलिस टीम लगी हुई। 

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर सुनीता भारद्वाज, एसआई दिनेश राजवाड़े, एएसआई देवनाथ चैधरी, विराट विशी, राजाराम राठिया, प्रधान आरक्षक ऐसन पाल, आरक्षक राजकुमार पासवान, बंधुराम सारथी, मदन पैंकरा, ललन सिंह, दीपक दुबे, शिव राजवाड़े, कामेश्वर नेताम, दिलेश्वर सिंह, भुनेश्वर प्रसाद सक्रिय रहे।

बुधवार, 9 सितंबर 2020

घर में घुसकर बालिका से अनाचार के प्रयास के मामले में सूरजपुर पुलिस ने महज 5 दिन में पेश किया चालान........

सूरजपुर: महिलाओं के विरूद्व घटित होने वाले अपराध पर सूरजपुर पुलिस के द्वारा त्वरित कार्यवाही कर नजीर पेश किया है। पुलिस महानिदेशक छत्तीसगढ़  के द्वारा पुलिस अधिकारियों को बालिका एवं महिलाओं के विरूद्व घटित होने वाले अपराधों में तत्काल कार्यवाही करने तथा आरोपियों को गिरफ्तार कर जल्द चालान माननीय न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे।
          पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा के द्वारा जिले के थाना-चौकी प्रभारियों को बालिका एवं महिलाओं पर घटित हुए अपराधों को गंभीरता से लेते हुए त्वरित कार्यवाही एवं मामले की विवेचना शीघ्रता से पूर्ण कर चालान न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे ताकि पीड़ित को जल्द न्याय मिल सके। इस संबंध में आईजी सरगुजा रेंज के भी निर्देश प्राप्त हुए थे।
          सूरजपुर जिले के चौकी रेवटी का यह मामला है, जहां 02 सितम्बर 2020 की रात्रि में एक नाबालिक बालिका के घर में घुसकर आरोपी लखन देवांगन के द्वारा जबरन अनाचार का प्रयास किया गया जिसकी रिपोर्ट चौकी रेवटी में 04 सितम्बर को पीड़िता के द्वारा की गई। मामले में रेवटी पुलिस ने आरोपी लखन देवांगन के विरूद्व अपराध क्रमांक 66/20 धारा 457, 376, 511 भादवि., पोक्सो एक्ट की धारा 8 के तहत् मामला दर्ज किया गया।
          मामले की विवेचना चौकी प्रभारी रेवटी एसआई के.पी.चौहान के द्वारा करते हुए एफआईआर के 12 घंटे के भीतर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। जांच में पीड़िता का कथन महिला पुलिस अधिकारी से कराया गया, पीड़िता का माननीय न्यायालय में धारा 164 सीआरपीसी का बयान एवं सीडब्ल्यूसी सूरजपुर के समक्ष काउन्सलिंग कराया गया और मामले में महज 05 दिन के भीतर साक्ष्य संकलित करते हुए विवेचना पूर्ण कर 08 सितम्बर को अभियोग पत्र तैयार कर माननीय न्यायालय सूरजपुर में पेश कर दिया गया।

शनिवार, 5 सितंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने किया अन्तर्राज्जीय नट गिरोह का पर्दाफाश, 2 आरोपी गिरफ्तार.........

सूरजपुर: जिले की पुलिस ने क्षेत्र में लगातार उठाईगिरी करने वाले 2 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने विश्रामपुर में घेराबंदी कर वारदात में शामील दोनों आरोपी को दबोचा। उठाईगिरी करने वाले इन आरोपियों से पुलिस ने 21 हजार 5 सौ रूपये एवं बिना नंबर के अपाचे मोटर सायकल को बरामद किया है।


          थाना विश्रामपुर में माह अगस्त में 02 के अलावा सूरजपुर, भैयाथान, भटगांव थानों में उठाईगीरी का मामला प्रकाश में आने पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को थाना प्रभारियों द्वारा हालात से अवगत कराने पर पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारियों को उठाईगिरी के आरोपी की पतासाजी कर गिरफ्तार करने एवं क्षेत्र में लगातार गश्त-पेट्रोलिंग कर प्रभावी उपस्थित सुनिश्चित कराने एवं ऐसे अपराधों पर रोक लगाने के निर्देश अपराध सभा में दिए थे साथ ही पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज श्री रतनलाल डांगी ने भी इस संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दी थी।

         निर्देश के परिपालन में जिले की पुलिस ने बैंकों में सादे ड्रेस में पुलिस जवानों की ड्यूटी लगाई गई एवं संदेहियों पर सतत् निगाह रखी जा रही थी इसी दौरान दिनांक 04.09.2020 को थाना विश्रामपुर क्षेत्र के स्टेट बैंक मेें कुछ संदिग्ध व्यक्तियों के आने की जानकारी मुखबीर के द्वारा पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा को दी गई जिस पर उन्होंने तत्काल थाना विश्रामपुर, सूरजपुर, लटोरी के प्रभारियों को बल के साथ विश्रामपुर में नाकाबंदी करने के निर्देश दिए साथ ही इन थानों के पेट्रोलिंग पार्टी को स्टेट बैंक के आसपास एवं चैराहों में आने जाने वाले पर सतत् निगरानी रखने कहा जिसके परिणाम स्वरूप स्टेट बैंक विश्रामपुर में होने वाली उठाईगिरी को रोकने में सफलता मिली तथा 01 संदेहियों को धर दबोचा गया, 01 संदेही पुलिस पेट्रोलिंग पार्टी को देख कर भागने लगा जिसे पुलिस टीमों के द्वारा घेराबंदी कर पकडा गया।

          संदेहियों से पूछताछ करने पर नट जाति के झक्कडपुर पत्थलगांव के निवासी होना बताने पर अपराध करने के लिये ही आना प्रतीत होने पर इसकी सूचना पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा को दी गई जो उन्होंने संदेहियों से बारिकी से पूछताछ करने के साथ ही पूर्व में घटित उठाईगिरी के अपराधों के सिलसिले में पूछताछ करने एवं सरगुजा रेंज के सभी थाना-चैकी में नट गिरोह पकड़े जाने की सूचना भेजने के निर्देश दिए।

          आरोपियों से पूछताछ पर खुलासा हुआ कि नट गिरोह के सरगना बासुदेव नट उर्फ गुड्डू पिता मोहनलाल जाति नट उम्र 40 वर्ष निवासी झक्कड़पुर, थाना पत्थलगांव, जिला जशपुर एवं रवि कुमार करवल पिता राधेश्याम जाति नट उम्र 48 वर्ष निवासी बड़गाव, थाना बड़गाव, जिला वाराणसी उत्तरप्रदेश, हालमुकाम झक्कड़पुर, थाना पत्थलगांव दोनों झक्कड़पुर, थाना पत्थलगांव में रिश्तेदारी है और वहां रहने लगे थे।* पिछले माह विश्रामपुर में 2 बार अपराध करना बताए जिसमें पहला 45 हजार रूपये एक आदमी स्टेट बैंक से पैसा निकालकर बाहर गिन रहा था जिसमें कुछ पैसा अपने पाकिट में रखा और ज्यादा पैसा को झोला में डालकर मेन रोड में आकर छड़ सीमेन्ट दुकान में घुसा तब उसकी मोटर सायकल से रखे पैसा के झोला को चोरी करना, इससे पहले विश्रामपुर में मेन रोड से मोटर सायकल के डिक्की में रखे 20 हजार रूपये को चोरी किया जाना बताया। वारदात के बाद झोला में पैसा के साथ में पासबुक एवं अन्य कागज मिले जिन्हें जाते वक्त पैसा रखकर अन्य सामग्री फेंक दिया जाना स्वीकार किया।

          पुलिस ने बताया कि पत्थलगांव-रायगढ में लाॅकडाउन होने के दोनों आरोपी सूरजपुर सहित आसपास के जिले में चोरी करने के लिये आना स्वीकार किया। पिछले माह में ही भैयाथान में 19 हजार 5 सौ रूपये, सूरजपुर में 02 बार चोरी (उठाईगिरी) किये थे जिसमें पहली बार 19 हजार रूपये एवं दूसरी बार 22 हजार रूपये की चारी किये थ,े उसी माह भटगांव से 50 हजार रूपये की चोरी किये थे, इसके पूर्व वाड्रफनगर जिला बलरामपुर से 40 हजार रूपये एवं खड़गवा, जिला कोरिया से 50 हजार रूपये के साथ और कई जगह से नगदी रकम रखे व्यक्तियों के वाहन का बैंक से पीछा करके रास्ते अथवा बाजार में मौका देखकर मोटर सायकल के डिक्की मेें रखे नगदी रकम चोरी करना कबूल किया है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने चोरी एवं उठाईगिरी की रकम से अपाचे मोटर सायकल खरीदना एवं मकान बनवाने में खर्च कर देना एवं कुछ पैसा बचा होना बताया है। साथ ही आरोपियों ने यह भी बताया कि कुछ माह से गंगापुर-अम्बिकापुर में किराये का मकान लेकर रहते थे। पकड़े गए आरोपियों के विरूद्व वाड्रफनगर, बलरामपुर, खड़गवां जिला कोरिया में अपराध करने की जानकारी प्रकाश में आने पर संबंधित थाना प्रभारियों को इसकी सूचना दे दी गई है। पकड़े गए आरोपियों से 21 हजार 5 सौ रूपये एवं बिना नंबर अपाचे मोटर सायकल को जप्त कर विधिवत् गिरफ्तार किया गया एवं माननीय न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।
          अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु व एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के नेतृत्व में थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर, एसआई सी.पी.तिवारी, एएसआई सुनील सिंह, के.डी.बनर्जी, उमेश सिंह, प्रधान आरक्षक वरूण तिवारी, अदीप प्रताप सिंह, आनंद सिंह, रामनिवास तिवारी, मुकेश्वर वर्मा, मनोज पोर्ते, आरक्षक अखिलेश पाण्डेय, युवराज यादव, रौशन सिंह, अजय प्रताप सिंह, सोमनाथ कुशवाहा, विकास मिश्रा, देवदत्त दुबे, अकरम, नागेश नाहक, राजकुमार, सोनू सिंह, रविशंकर पाण्डेय, विजय साहू, नंदकिशोर राजवाड़े सक्रिय रहे।

बुधवार, 2 सितंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने नाला के तेज बहाव में फंसे 6 लोगों को बचाया..........

मछली मारने के दौरान अचानक पानी बढ़ने से फंस गए थे ग्रामीण।


सूरजपुर: चांदनी थाना क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम खालबहरा के कीरो नाला में बुधवार की सुबह 5 बजे गांव के 6 व्यक्ति क्रमशः रामचंद पण्डो, ज्वाला प्रसाद पण्डो, बिहारी लाल पण्डो, विकास पण्डो, रामजन्म पण्डो एवं रामसजीवन पण्डे मछली पकड़ने गए थे जहां नाला के बीच में स्थित टापू से मछली पकड़ रहे थे तभी अचानक नाला में पानी बढ़ गया और मछली पकड़ने वाले सभी लोग पानी के तेज बहाव में घिर गए। जिसकी सूचना थाना प्रभारी चांदनी को मिलने पर हालात से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराया जिस पर उन्होंने तत्काल उपलब्ध बल व संसाधन के साथ मौके पर पहुंचकर बचाव हेतु समुचित उपाय करते सभी को सुरक्षित निकालने के निर्देश दिए। थाना प्रभारी चांदनी शिव खुटे अपने जवानों के साथ तत्काल कीरो नाला पहुंचे और बचाव कार्य में लग गए। करीब 3 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद तेज बहाव के बीच फंसे सभी व्यक्तियों को रस्सी के सहारे सुरक्षित निकाल लिया गया। पुलिस की इस तत्परतापूर्वक राहत व बचाव कार्य की सभी ने प्रशंसा की है। ज्ञात हो कि क्षेत्र में लगातार बारिश होने से नदी-नाले उफान पर है।
इस दौरान थाना प्रभारी चांदनी शिव खुटे, प्रधान आरक्षक मानसिंह, आरक्षक रामप्रसाद, अशोक सोनवानी, हरीप्रसाद पैंकरा, सैनिक मुन्नीलाल सक्रिय रहे साथ ही गांव के हंसेलाल यादव, रामलाल पण्डो का भी सराहनीय योगदान रहा।

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने थाना प्रभारियों की ली बैठक.....

लंबित मामलों का जल्द निराकरण करने दिए निर्देश।

सूरजपुर: जिला पुलिस कार्यालय में जिले भर के थाना प्रभारियों व एसडीओपी की बैठक पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने मंगलवार को ली है। इस बैठक में उन्होंने लंबित अपराधों की विस्तृत समीक्षा की। बैठक में पुलिस अधीक्षक ने थानों में मामले पेंडिंग होने पर सख्त हिदायत देते हुए लंबित मामलों की जल्द विवेचना पूर्ण करने के निर्देश दिए।
          पुलिस अधीक्षक ने महिला संबंधी अपराधों एवं एसटीएससी एक्ट के मामलों की जांच प्राथमिकता से करते हुए जल्द निराकरण करने, किसी भी मामले की विवेचना अनावश्यक लंबित न रहे इस बात का विशेष ध्यान देने, अपराध पर अंकुश लगाने हेतु प्रभावी पेट्रोलिंग, रात्रि गश्त मुस्तैदी से करने एवं निगरानी, गुण्डा बदमाश व आदतन अपराधियों को नियमित रूप से लगातार चेक करने के निर्देश दिए। उन्होंने राजपत्रित अधिकारियों को कहा कि प्रतिदिन लंबित मामलों की समीक्षा करें और थाना प्रभारियों को निर्देशित कर उनका निराकरण कराए। बैंक, एटीएम पर पुलिस बल नियमित पेट्रोलिंग करते हुए अपनी उपस्थिति बनाए रखें, दुर्घटना से मृत्यु के मामले में थाना प्रभारियों को यथासंभव मौके पर पहुंचने एवं ऐसे मामलों में लापरवाह वाहन चालकों के ड्राईविंग लायसेंस निलंबन की कार्यवाही कराने के निर्देश दिए।
          पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सभी कार्य के प्रति जिम्मेदार रहते हुए अपने-अपने दायित्वों को निर्वहन लगन से करें, लापरवाही न बरते। उन्होंने थाना प्रभारियों को कहा कि गुमशुदगी की घटनाओं को गंभीरता लेते हुए जैसे ही सूचना आती है, वैसे ही गुमशुदगी दर्ज कर बरामदगी के लिए टीम गठित लगाई जाए। उन्होंने कहा कि पीड़ितों से निरंतर संवाद करते हुए जरूरी जानकारी हासिल करें ताकि दस्तयाबी जल्द की जा सके। फरार आरोपियों की धरपकड़ हेतु टीम गठित कर लगाने के निर्देश दिए।
          इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एएसपी मुख्यालय पी.एस.महिलाने, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज, एसडीओपी प्रतापपुर राकेश पाटनवार सहित थाना-चैकी प्रभारीगण उपस्थित रहे।