मंगलवार, 29 जून 2021

सूरजपुर पुलिस ने सोशल मीडिया पर अशोभनीय पोस्ट करने वाले शख्स को किया गिरफ्तार.......

युवती ने थाना प्रतापपुर में दर्ज कराया था रिपोर्ट।

सूरजपुर: दिनांक 29.04.21 को थाना प्रतापपुर क्षेत्र की एक युवती ने थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वाराणसी निवासी कृष्णा गुप्ता नाम के व्यक्ति से फेसबुक के माध्यम से जान पहचान हुई और मोबाईल के जरिए आपस में बातचीत होने लगी। इसी दौरान कृष्णा गुप्ता युवती से मिलने प्रतापपुर आया और पैसों की मांग किया जो इसने 60,000/- रूपये दिया। बातचीत के दौरान दोनों के बीच मन मुटाव होने पर कृष्णा गुप्ता इसका फर्जी फेसबुक एकाउण्ट बनाकर उस पर अशोभनीय शब्दों को प्रयोग करते हुए प्रार्थिया का नंबर एवं फोटो अपलोड़ कर दिया एवं टेक्स मैसेज एवं व्हाटसएप पर भी मैसेज किया, मना करने पर और अपलोड़ करने की धमकी देते हुए और 50000/- रूपये की मांग किया। प्रार्थियां की रिपोर्ट पर थाना प्रतापपुर में अपराध क्रमांक 90/2021 धारा 419, 384, 509ख भादवि व आईटी एक्ट की धारा 66 सीडी व 67 के तहत मामला दर्ज करते हुए जांच शुरू की गई।

          महिलाओं के विरूद्व हो रहे आपराधिक मामले तथा सोशल मीडिया पर अश्लील और आपत्तिजनक टिप्पणी पोस्ट करने के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने मामले की जांच एवं आरोपी की गिरफ्तारी की जिम्मेदारी थाना प्रभारी प्रतापपुर को सौंपी और आरोपी के दिगर प्रान्त में होने से विधिवत् अनुमति के साथ पुलिस टीम को वाराणसी रवाना किया।

          एसडीओपी प्रतापपुर प्रशांत खाण्डे के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी पुलिस टीम के साथ वाराणसी-उत्तरप्रदेश पहुंचे जहां नई तकनीक की मदद से ग्राम लालपुर में घेराबंदी कर आरोपी कृष्णा गुप्ता पिता त्रिवेणी गुप्ता उम्र 21 वर्ष निवासी लालपुर, वाराणसी उत्तरप्रदेश को पकड़कर थाना प्रतापपुर लाया गया। आरोपी ने पूछताछ में अपना गुनाह कबूल लिया, जिसके कब्जे से घटना में प्रयुक्त मोबाईल बरामद कर विधिवत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, प्रधान आरक्षक राजेश यादव व आरक्षक अभय तिवारी सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने गांजा के साथ 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार.......

सूरजपुर: मादक पदार्थों के व्यापार पर अंकुश लगाने के लिए जिले की पुलिस ने अभियान चलाया हुआ है, पुलिस द्वारा अवैध मादक पदार्थों के खिलाफ की जा रही ताबड़तोड़ कार्यवाही बदस्तुर जारी है जिसके तहत सोमवार को 2 किलो गांजा के साथ 2 आरोपियों को पकड़ा है।

सोमवार 28 जून 2021 को थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी को मुखबीर से सूचना मिला कि दो व्यक्ति ग्राम केंवरा हाईस्कूल के सामने जमतीपारा में होण्डा साईन मोटर सायकल से मादक पदार्थ गांजा बिक्री करने के लिए ग्राहक की तलाश कर रहे है जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने तत्काल रेड़ कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

एसडीओपी प्रतापपुर प्रशांत खाण्डे के मार्गदर्शन में प्रतापपुर की पुलिस टीम ने केवरा हाईस्कूल के पास पहुंची तभी 2 व्यक्ति पुलिस को देखकर भागने लगे जिन्हें घेराबंदी कर पकड़ा गया। तलाशी लेने पर आरोपी सुबोध साव पिता मनोज साव उम्र 28 वर्ष निवासी झारसुगड़ा, थाना सदर झारसुगड़ा उड़ीसा एवं पारसनाथ पिता सतन प्रसाद ठठेर उम्र 39 वर्ष निवासी ग्राम केंवरा, जमतीपारा, थाना प्रतापपुर के कब्जे से 2 झोले में 2 किलोग्राम गांजा पाया गया, जप्त गांजे की बाजारू कीमत करीब 24000/- रूपये है। मामले में गांजा एवं परिवहन में प्रयुक्त होण्डा साईन मोटर सायकल क्रमांक ओडी 23 एच 7931 जप्त कर दोनों के विरूद्व अपराध क्रमांक 122/21 धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुए गिरफ्तार किया गया।

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, एसआई नवल किशोर दुबे, एएसआई नील कुसुम बेक, प्रधान आरक्षक संतोष सिंह, लखेश साहू, आरक्षक मिथलेश गुप्ता, हरीशचंद दास, प्रेम प्रकाश साहू, कौशलेन्द्र सिंह व विनोद पैंकरा सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने 3 चोरों से 65000/- रूपये के चोरी का माल किया बरामद........


सूरजपुर: ग्राम करवां निवासी मृत्युजंय कुशवाहा ने चौकी लटोरी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसका माॅ काली इंजीनियरिंग वैल्डिंग वर्कशाप के नाम से दुकान है जहां लोहे का दरवाजा, गेट, ग्रील, पलंग बनाने का काम होता है। 21 जून के शाम करीब 6 बजे दुकान बंद कर लोहे का पलंग 03 नग, दरवाजा 05 नग कीमत 65 हजार रूपये को दुकान के बाहर लोहे के चैन से बांधकर ताला लगाकर लोहे खम्बा में बांधा था, 22 जून की सुबह दुकान खोलने आया तो दुकान के बाहर रखा 03 नग लोहे का पलंग व 05 नग लोहे का दरवाजा नहीं था जिसे कोई अज्ञात चोर द्वारा चोरी कर लिया गया है। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अज्ञात के विरूद्व अपराध क्रमांक 124/21 धारा 379 भादवि के तहत मामला पंजीबद्व किया गया। चोरी की मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश चौकी प्रभारी को दिए।
          एएसपी पी.एस.महिलाने के मार्गदर्शन में चौकी लटोरी की पुलिस टीम ने घटना स्थल का बारीकी से मुआयना करते हुए आसपास के सीसीटीव्ही फुटेज खंगाला और सक्रिय मुखबीर तैनात किया। जांच के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि फुलेश्वर राजवाड़े अपने गांव में पलंग और दरवाजा बेचने के लिए ग्राहक की तलाश कर रहा है जिसके आधार पर पुलिस ने फुलेश्वर को उसके गांव से पकड़ा गया। पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि अपने साथी घरभरन पण्डो व विनोद अगरिया के साथ मिलकर करवां स्थित दुकान से लोहे का पलंग व दरवाजा को चोरी कर आपस में बाट लिये थे। आरोपियों की निशानदेही पर चोरी गए लोहे का पलंग 3 नग व 5 नग दरवाजा कीमत 65000/- रूपये को बरामद कर ग्राम कसलगिरी, थाना जयनगर निवासी आरोपी फुलेश्वर राजवाड़े पिता स्व. शहद राम राजवाड़े उम्र 21 वर्ष, विनोद अगरिया पिता हितबल राम अगरिया उम्र 40 वर्ष व घरभरन पण्डो पिता बैजनाथ पण्डो उम्र 35 वर्ष को विधिवत गिरफ्तार किया गया।

           इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी लटोरी सुनील सिंह, प्रधान आरक्षक हरिशंकर तिवारी, ऐसन पाल, मनोन पोर्ते आरक्षक ललन सिंह, नंदकिशोर राजवाड़े, अशोक कनौजिया, राजकुमार पासवान, शोभनाथ कुशवाहा व अम्बिका मराबी सक्रिय रहे।

हत्या के प्रयास मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार, थाना चांदनी पुलिस की कार्यवाही........

सूरजपुर: दिनांक 23.04.21 को ग्राम मोहली निवासी विद्यासागर जायसवाल ने थाना चांदनी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 21 अप्रैल को मेरी पत्नी पूनम जायसवाल एवं मुझे गांव के सुबेचंद जायसवाल, सुखदेव जायसवाल व बिहारीलाल जायसवाल ने घर में घुसकर गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी देते हुए हाथ लाठी और लोहे का कटार से प्राण घातक हमला कर गंभीर चोट पहुंचाया साथ ही सुखदेव जायसवाल ने पत्थर उठाकर 9 माह की गर्भवती पूनम जायसवाल के सिर में जान से मारने के इरादे से फेककर मारा जिससे वह बेहोश होकर गिर गई। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 16/21 धारा 323, 294, 506, 452, 34 भादवि का पंजीबद्व किया गया एवं डाॅक्टर की रिपोर्ट के आधार पर पृथक से धारा 307 भादवि जोड़ी गई। मामले में फरार आरोपियों की गिरफ्तार जल्द करने के निर्देश पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने थाना प्रभारी चांदनी को दिए थे।

         एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के मार्गदर्शन में थाना चांदनी की पुलिस टीम ने प्रकरण में फरार आरोपियों को ग्राम मोहली में घेराबंदी कर आरोपी सुबेचंद जायसवाल पिता स्व. त्रिवेणी जायसवाल उम्र 50 वर्ष, सुखदेव जायसवाल पिता सुबेचंद उम्र 25 वर्ष व बिहारीलाल जायसवाल पिता स्व. सीताराम जायसवाल उम्र 58 वर्ष को पकड़ा गया जिनके निशानदेही पर घटना प्रयुक्त डण्डा, लोहे का कटार जप्त कर तीनों को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।

          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी चांदनी शिवकुमार खूंटे, एएसआई रामदास सिंह, प्रधान आरक्षक मानसिंह मरकाम, रामलगन सिंह, आरक्षक विजय केरकेट्टा व मुरलीधरन नायक सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस की कार्रवाई, अपहरण के मामले में मध्यप्रदेश, बिलासपुर, सरगुजा सहित जिले से 5 बालिकाओं को किया दस्तयाब, 7 आरोपी गिरफ्तार.........




सूरजपुर: महिलाओं से संबंधित अपराधिक मामले में फरार आरोपियों को पकड़ने पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा के निर्देशन में जिले की पुलिस ने कमर कस ली है। उन्होंने महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों पर थाना प्रभारियों को संवेदनशील रूख अपनाते हुए जल्द कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे साथ ही सभी थाना प्रभारियों को महिला संबंधी अपराधों तथा अपहरण के मामले में अपहृता की बरामदगी एवं अपराधियों की धरपकड़ के लिए विशेष अभियान चलाने हेतु निर्देशित किया है।
          पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में जिले की विभिन्न पुलिस टीमों के द्वारा 5 अपहृत बालिकाओं को दस्तयाब करने में सफलता हासिल की है पुलिस की टीमों ने दिगर राज्य सागर-मध्यप्रदेश, दिगर जिला बिलासपुर, सरगुजा सहित जिले से आरोपियों के कब्जे से अपहृत बालिकाओं को बरामद किया है। पुलिस टीम ने पांच अपहरण के मामले में 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेज दिया है। पूरे मामले में पुलिस महानिरीक्षक, सरगुजा रेंज श्री आर.पी.साय से भी मार्गदर्शन मिलते रहा जिनसे विधिवत अनुमति प्राप्त कर पुलिस की टीमें दिगर राज्य जाकर आरोपियों को गिरफ्तार की है।

12 घंटे के भीतर अपहृता को दस्तयाब कर आरोपी को किया गया गिरफ्तार।

          दिनांक 24.06.2021 को थाना झिलमिली क्षेत्र निवासी एक महिला ने थाना झिलमिली में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 4 बजे भोर में इसकी नाबालिक लड़की बिना बताए घर से चली गई है खोजबीन के बाद भी नहीं मिली, किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा बहला फुसलाकर भगा ले गया है। प्रार्थियां की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 62/21 धारा 363 भादवि पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।
          एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के मार्गदर्शन में झिलमिली की पुलिस टीम ने प्रार्थियां एवं आसपास के लोगों से पूछताछ की गई। इसी बीच मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम मरहट्टा प्रतापपुर निवासी आफताब उर्फ अलताफ नाम के व्यक्ति ने अपहृता को भगाकर कल्याणपुर की ओर ले गया है इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस टीम ने वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुए अपहृता एवं आरोपी की पतासाजी के लिए रवाना होकर कल्याणपुर पहुंची। पुलिस टीम ने कल्याणपुर मेन रोड़ से अपहृता को लेकर कहीं और भागने की फिराक में लगे आरोपी अफताब उर्फ अलताफ को पकड़ा जिसके कब्जे से अपहृता को बरामद किया और थाना झिलमिली लेकर वापस आई। पूछताछ पर अपहृता ने बताया कि अफताब शादी करने का झांसा देकर उसे मोटर सायकल में बैठाकर भगाकर ले गया था। पूछताछ के बाद अपहृता को उसके परिजनों को सौंप दिया गया। घटना में प्रयुक्त होण्डा साईन मोटर सायकल क्रमांक सीजी 15 सीबी 8024 को जप्त कर आरोपी अफताब उर्फ अलताफ पिता सहाबुद्दीन उम्र 25 वर्ष निवासी मरहट्टा, थाना प्रतापपुर को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी झिलमिली चित्ररेखा साहू, प्रधान आरक्षक अभिषेक पाण्डेय, सुशील तिवारी, हितेश्वर राजवाड़े, आरक्षक निलेश जायसवाल, विश्वजीत सिंह, कमलेश मानिकपुरी, महिला आरक्षक प्रफुल्ला मिंज व सैनिक नरेंद्र मरावी सक्रिय रहे।

24 घंटे के भीतर अपहृता को दस्तयाब कर आरोपी को किया गया गिरफ्तार।

          दिनांक 26.06.2021 को रामानुजनगर क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति ने थाना रामानुजनगर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 25 जून को इसकी नाबालिक लड़की घर से बिना बताये कहीं चली गई है काफी खोजबीन करने के बाद भी नहीं मिली किसी अज्ञात व्यक्ति ने बहला फुसलाकर भगा ले गया है। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अपराध क्र. 107/2021 धारा 363 भादवि का मामला पंजीबद्व किया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में रामानुजनगर की पुलिस टीम ने अपहृता के परिजनों एवं पड़ोसियों से पूछताछ कर सक्रिय मुखबीर तैनात किया। इसी बीच नई तकनीक एवं मुखबीर से सूचना प्राप्त हुई कि अपहृता खुटरापारा बैकुण्ठपुर जिला कोरिया में है जो पुलिस की टीम वहां पहुंची और आरोपी करन कुमार पिता भगवत उम्र 21 वर्ष के कब्जे से अपहृता को दस्तयाब कर थाना रामानुजनगर लाई और अपहृता से पूछताछ के बाद उसके परिजनों को सौंप दिया। मामले में पृथक से धारा 366, 376(2-ढ) भादवि एवं पास्को एक्ट की धारा 6 जोड़ी जाकर आरोपी को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी रामानुजनगर विपिन लकडा, एसआई सुनीता भारद्वाज, एएसआई माधव सिंह, प्रधान आरक्षक हेमन्त शर्मा, रविन्द्र कौल, आरक्षक रामसागर साहू, दीपक यादव, वेदप्रकाश राजवाडे, संतोष ठाकुर, रविशंकर साहू, देवान सिंह, अनुज यादव व महिला आरक्षक तेरेशा तिग्गा सक्रिय रहे।

अपहृता को सोनवाही जंगल से किया गया दस्तयाब, 1 आरोपी गिरफ्तार।

          चौकी लटोरी क्षेत्र निवासी एक महिला ने चौकी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनांक 10.06.2021 के रात्रि 1.30 बजे इसकी नाबालिक पुत्री घर से बिना बताए कहीं चली गई खोजबीन करने के बाद भी नहीं मिली किसी अज्ञात व्यक्ति ने बहला फुसलाकर भगा ले गया है। प्रार्थियां की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 109/21 धारा 363 भादवि का मामला पंजीबद्व कर विवेचना में लिया।
          एएसपी पी.एस.महिलाने के मार्गदर्शन में चौकी लटोरी की पुलिस टीम ने प्रार्थियां सहित परिजनों से पूछताछ करते हुए मुखबीर तैनात किया गया। इसी बीच बीते दिन पुलिस को जानकारी मिली की आरोपी अपहृता को सोनवाही जंगल में छोड़कर भाग गया है जिसे पुलिस ने सोनवाही जंगल से दस्तयाब किया। पूछताछ पर अपहृता ने बताया कि आरोपी कृष्णा नागवंशी ने शादी का झांसा देकर भगाकर अपने घर ले गया और जबरन अनाचार किया और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देता था। पीड़िता का सीडब्ल्यूसी एवं माननीय न्यायालय में कथन उपरान्त उसके परिजनों को सौंप दिया गया। मामले में आरोपी कृष्णा नागवंशी पिता मोहन राम उम्र 26 वर्ष निवासी रजपुरी, थाना सीतापुर, जिला सरगुजा को मुखबीर की सूचना पर सीतापुर बस स्टैण्ड से घेराबंदी कर पकड़ा गया। प्रकरण में पृथक से धारा 366 क, 376(2-ढ) भादवि एवं पास्को एक्ट की धारा 4, 6 जोड़ी जाकर आरोपी को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।

बिलासपुर से अपहृता दस्तयाब, 1 आरोपी गिरफ्तार।

         दिनांक 20.06.21 को चौकी लटोरी क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति ने चौकी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसकी नाबालिक लड़की घर से बिना बताए कहीं चली गई, किसी अज्ञात व्यक्ति ने बहला फुसलाकर भगा ले गया है कि रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 118/21 धारा 363 भादवि का मामला पंजीबद्व कर विवेचना में लिया।
          मामले में चौकी लटोरी की पुलिस टीम ने अपहृता के परिजनों एवं सहेलियों से पूछताछ करते हुए मुखबीर तैनात किया गया। इसी बीच मुखबीर से सूचना मिला कि बीते दिन अपहृता को बिलासपुर के हिर्री क्षेत्र में एक व्यक्ति के साथ देखा गया है जिसके आधार पर पुलिस की टीम ने नई तकनीक की मदद से जानकारी हासिल करते हुए ग्राम फुटेनापाली, थाना हिर्री जिला बिलासपुर से आरोपी एश्वर्य गढ़ेवाल पिता पिताम्बर उम्र 21 वर्ष को पकड़ा जिसके कब्जे से नाबालिक बालिका को दस्तयाब कर वापस चौकी लाया गया। पीड़िता का सीडब्ल्यूसी एवं माननीय न्यायालय में कथन उपरान्त उसके परिजनों को सुपुर्द किया गया। प्रकरण में पृथक से धारा 366 क, 376(2-ढ), 506 भादवि एवं पास्को एक्ट की धारा 4, 6 जोड़ी जाकर आरोपी को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी लटोरी सुनील सिंह सहित उनके स्टाफ सक्रिय रहे।
सागर-मध्यप्रदेश से अपहृत बालिका को किया गया दस्तयाब, 3 आरोपी गिरफ्तार।
          दिनांक 23.06.2019 को ओड़गी क्षेत्र अन्तर्गत रहने वाले एक व्यक्ति ने थाना ओड़गी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसकी नाबालिक लड़की दिनांक 20.06.2019 को रात्रि में घर से बिना बताये कहीं चली गई है, काफी खोजबीन करने के बाद भी नहीं मिली, किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा बहला फुसलाकर भगा ले गया है। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अज्ञात के विरूद्व अपराध क्रमांक 49/19 धारा 363 भादवि के तहत मामला पंजीबद्व किया गया।
          एसडीओपी ओड़गी मंजुलता बाज के मार्गदर्शन में थाना ओड़गी की पुलिस टीम ने प्रार्थी व उसके रिश्तेदारों से पूछताछ कर सूचना हेतु मुखबीर तैनात किया। विवेचना करने के दौरान मुखबीर की सूचना व नई तकनीक की मदद से अपहृत बालिका को चकराघाट, थाना सिटी कोतवाली सागर मध्यप्रदेश निवासी आरोपी नरेश उर्फ कुन्नू केंवट पिता हरिदास उम्र 20 वर्ष के कब्जे से बरामद किया तथा मामले में आरोपी पायल उर्फ अनारकली बादी पति स्व. रामचरण उम्र 35 वर्ष ग्राम छतौली, थाना माड़ा, जिला सिंगरौली एवं संतोष देवांगन पिता रामा उम्र 30 वर्ष निवासी कोल्हुआ, थाना चांदनी की संलिप्तता पाए जाने पर दोनों को पकड़ा गया और विधिवत् तीनों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी ओड़गी रामसाय पैंकरा, थाना प्रभारी चांदनी शिवकुमार खुटे, प्रधान आरक्षक मानसिंह, आरक्षक कामेश्वर टोप्पो, प्रवीण एक्का व महिला आरक्षक उर्मिला राजवाड़े सक्रिय रहे।

सोमवार, 7 जून 2021

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने पुलिस लाईन में किया वृक्षारोपण..............

पर्यावरण संरक्षण आज की जरूरत, हर कोई लगाए एक पौधा।

सूरजपुर- विश्व पर्यावरण दिवस के तहत रविवार को पुलिस लाइन पर्री में पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने नीम का पौधा लगाकर वृक्षारोपण किया। पुलिस अधीक्षक ने पुलिस के अधिकारी-कर्मचारियों को पौधरोपण में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पर्यावरण संरक्षण आज की जरूरत है। यह किसी एक व्यक्ति के वश की बात नहीं है। पर्यावरण संरक्षण सामूहिक जिम्मेदारी है। उन्होंने जिले को स्वच्छ, हरा-भरा तथा खुशहाल बनाने के लिए अधिक से अधिक पौधरोपण करने एवं उसके नियमित देखरेख की अपील की।
          पुलिस अधीक्षक ने पर्यावरण को शुद्ध रखने व प्रकृति के संतुलन को बनाए रखने पर विस्तार से चर्चा की। पुलिसकर्मियों से कहा कि वह जिस भी थाना-चौकी में रहें उस थाने में एक अपने नाम का एक वृक्ष लगाएं। कारण कि वहां से स्थानांतरण के पश्चात भी एक सामाजिकता का कार्य हमेशा जीवित दिखाई देता रहे, इसमें सभी पुलिसकर्मी बढ़-चढ़कर अपनी भागीदारी निभाएं। सभी थाना प्रभारी अपने-अपने थाना परिसर व आसपास पौधरोपण करें। वृक्षारोपण से से पर्यावरण स्वच्छ रहेगा तथा भूमिगत जल भी सुरक्षित रहेगा। यह हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए अति आवश्यक है।
          इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, पी.एस.महिलाने, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी व रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे ने भी फलदार वृक्ष लगाकरण वृक्षारोपण किया।

सूरजपुर जिले के 3 एएसआई पदोन्नत होकर बने एसआई........



पुलिस अधीक्षक ने स्टार लगाकर दी पदोन्नति।

सूरजपुर: शनिवार को पुलिस मुख्यालय रायपुर के द्वारा एएसआई को एसआई के पद पर पदोन्नति का आदेश जारी किया है जिसमें सूरजपुर जिले के 03 एएसआई विमलेश सिंह, कमलदास बनर्जी व डी.एन.पैंकरा को वरिष्ठता क्रम के आधार पर एसआई के पद पर पदोन्नति सूची में सम्मिलित किया गया है।
          रविवार 06 जून 2021 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने पदोन्नत हुए एएसआई विमलेश सिंह, कमलदास बनर्जी व डी.एन.पैंकरा के कंधों पर स्टार लगाकर एसआई पद पर पदोन्नति दी। पुलिस अधीक्षक ने पदोन्नत तीनों एसआई के उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी और उन्हें कहा कि सेवा के अगले पड़ाव में पूर्ण निष्ठा, ईमानदारी से कर्तव्यों का निर्वहन करें।
          इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, पी.एस.महिलाने, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे व स्थापना प्रभारी अखिलेश सिंह मौजूद रहे।

शनिवार, 5 जून 2021

हत्या का आरोपी अपचारी बालक गिरफ्तार..........

सूरजपुर- दिनांक 31.05.2021 को प्रतापपुर थाना क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति ने थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसकी नाबालिक पुत्री 21 मई के रात्रि में 10 बजे घर से बिना बताए कहीं चली गई है। प्रार्थी की सूचना पर गुम इंसान कायम करते हुए अपराध क्रमांक 104/2021 धारा 363 भादस. पंजीबद्व किया गया। इसी बीच सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम दरहोरा थाना चदौरा में एक अज्ञात लड़की का शव मिला है, चंदौरा थाना में मर्ग कायम कर जांच की जा रही है। मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने थाना प्रभारी प्रतापपुर को प्रकरण की गंभीरतापूर्वक विवेचना करने एवं चंदौरा में मिले लड़की के शव की तस्दीक करने के निर्देश दिए।
          एसडीओपी प्रतापपुर प्रशांत खाण्डे के नेतृत्व में प्रतापपुर व चंदौरा की संयुक्त पुलिस टीम के द्वारा जांच की गई। जांच के दौरान प्रार्थी के द्वारा अज्ञात लड़की के कपड़ा चप्पल मोबाईल से अपनी पुत्री के रूप में उसकी पहचान किया। प्रार्थी के द्वारा बताया गया कि उसकी पुत्री से एक नाबालिक लड़का बातचीत करता था जिसके आधार पर संदेही बालक से पूछताछ की गई जिसने बताया कि वह अपने गांव से नाबालिक लड़की से मिलने ग्राम सरहरी मोटर सायकल में आया था, मिलने पर लड़की उसे अपने घर अपने साथ ले जाने की जिद करने लगी, समझाने के बावजूद नहीं मानी एवं मरने की धमकी देने लगी तब अपचारी बालक चाकू से लड़की के गले में वार कर उसके दुपट्टा का फंदा बनाकर गले में फंसा कर हत्या करना स्वीकार किया। अपचारी बालक के निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त चाकू, मोटर सायकल जप्त करते हुए प्रकरण में पृथक से धारा 302 भादस. जोड़ी जाकर अपचारी बालक को विधिवत गिरफ्तार किया गया।
         इस कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, थाना प्रभारी चंदौरा एन.के.त्रिपाठी, आरक्षक परमेश्वर पैंकरा, अभय तिवारी, शेखर मानिकपुरी, मिथलेश गुप्ता, अविनाश कुजूर, इन्द्रजीत सिंह व कौशल सक्रिय रहे।

बैंक से पैसा निकाल घर जा रहे व्यक्ति से 49 हजार रूपये की चोरी के मामले में 1 गिरफ्तार...............

आरोपी को पकड़ने पुलिस वेशभूषा बदलकर पहुंची जंगल।

आरोपी पहले भी इस प्रकार के वारदात को दे चुका है अंजाम।

बैंक के बाहर आसानी से झांसे में आने वाले व्यक्ति की करते थे तलाश।

सूरजपुर- दिनांक 03.06.2021 को ग्राम सुन्दरपुर निवासी 60 वर्षीय रघुवीर राजवाड़े ने चौकी बसदेई में आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि 3 जून को सुबह 11.00 बजे गांव के रामलाल मिश्रा के साथ सहकारी बैंक भैयाथान पैसा निकालने गया था, बैंक से करीब 3 बजे 49000/- रूपये निकाला जिसे लेकर रामलाल मिश्रा के साथ वापस मोटर सायकल से अपने घर सुन्दरपुर आ रहा था, 4 बजे के आसपास जैसे ही गोबरी नाला के ऊपर सिरसी पहुँचे तो पीछे से काले रंग के पल्सर मोटर सायकल में एक अज्ञात व्यक्ति आया साथ चलने के दौरान अपनी बातों में उलझाया और रूकवाकर बात करने लगे तो डिक्की में रखा 49000/- रूपये को निकाल लिया और वहां से फरार हो गया। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 256/21 धारा 379 भा.दं.सं. के तहत मामला पंजीबद्व किया गया।
          मामले की सूचना से चौकी प्रभारी बसदेई सुनील सिंह ने पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराया जो उन्होंने फौरन घटना स्थल के चारों दिशाओं में नाकाबंदी करवाई और आने-जाने वालों की जांच करने के निर्देश दिए। उन्होंने पुलिस की 3 टीमों को बैंक, घटना स्थल एवं उसके आसपास के सीसीटीव्ही फुटेज निकालने व पूर्व में इस प्रकार के वारदात को अंजाम देने वालों का रिकार्ड खंगालने के निर्देश दिए। जांच कर रही पुलिस टीम को सीसीटीव्ही फुटेज एवं पूर्व के अपराधिक रिकार्ड के आधार पर अहम जानकारियां हाथ लगी।
          पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने बताया कि घटना के बाद कड़ी नाकाबंदी लगाई गई, जांच के दौरान सरहर्दी जिलों की पुलिस को इस वारदात के बारे में अवगत कराया गया और ऐसे मामलों को अंजाम देने वालों की जानकारी एकत्र की गई। सीसीटीव्ही फुटेज की मदद व मुखबीर की सूचना पर जिला कोरिया के पटना बाईपास के जंगल में छिपे आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस टीम ने अपने वेशभूषा को परिवर्तित कर वहां पहुंची और आरोपी सहजोर अली पिता अयूब अली उम्र 32 वर्ष निवासी ईरानी मोहल्ला अम्बिकापुर को घेराबंदी कर पकड़ा गया जिसके कब्जे से 35000/- रूपये बरामद किया गया। उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपी के विरूद्व अम्बिकापुर के मणीपुर चौकी में इसी प्रकार वारदात को अंजाम देने का मामले में गिरफ्तार हुआ था।
          पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपी वारदात को अंजाम देने के पहले प्लानिंग के तहत 1-2 बैकों पर जाकर ऐसे व्यक्ति की तलाश में लगा था जिन्हें आसानी से झांसे में लिया जा सके पर वहां कोई नहीं मिला। तब वह सहकारी बैंक पहुंचा था और पैसा निकालने आए प्रार्थी पर निगाह रखने लगा। बैंक से पैसा निकालकर प्रार्थी को वापस जाने के दौरान उसे अपने झांसे में लेकर रकम चुराना आरोपी ने स्वीकार किया और 14 हजार रूपये को खर्च कर देना बताया। मामले में 35 हजार रूपये एवं घटना में प्रयुक्त काले रंग के पल्सर मोटर सायकल जप्त कर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर, चौकी प्रभारी बसदेई सुनील सिंह, एएसआई बी.एम.गुप्ता, प्रधान आरक्षक मनोज पोर्ते, राहुल गुप्ता, वरूण तिवारी, आरक्षक देवदत्त दुबे, महेन्द्र सिंह, अमित सिंह, युवराज यादव, रौषन सिंह, विनोद सारथी व अमरेन्द्र दुबे सक्रिय रहे।

शुक्रवार, 4 जून 2021

पुलिस महानिदेशक छत्तीसगढ़ ने वर्चुवल सम्मान समारोह में कोरोना वारियर्स पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों का किया सम्मान........


प्रदेश की पुलिस ने कठिनाईयों व चुनौतियों को स्वीकार कर लोगों को संक्रमण से बचाया।

जवानों ने निष्ठा व साहस का परिचय व मानवीय स्वरूप दिखाते हुए जिम्मेदारी के साथ कार्य में डटे रहे।


सूरजपुर: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के दूसरे फेज में छत्तीसगढ़ पुलिस के द्वारा लाकडाउन का पालन कराने, नागरिकों को संक्रमण से सुरक्षा हेतु नैतिकतापूर्वक किए गए कार्यो, कोविड संक्रमण को रोकने रिस्पांश टाईम में एहतियात कदम उठाने पर *पुलिस महानिदेशक छत्तीसगढ़ श्री डी.एम.अवस्थी* ने गुरूवार, 03 जून 2021 को *पुलिस महानिरीक्षक रायपुर रेंज व आईजी गुप्तवार्ता श्री आनंद छाबड़ा, पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज श्री विवेकानंद, एडीजी श्री संजीव शुक्ला व एआईजी श्री राजेश अग्रवाल* की मौजूदगी में वर्चुवल सम्मान समारोह के जरिए प्रदेश के ऐसे पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों की प्रशंसा करते हुए उन्हें कोरोना वारियर्स का प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया है।
          इस दौरान पुलिस महानिदेशक श्री डी.एम.अवस्थी ने कहा कि कोरोना के द्वितीय फेज में प्रदेश के सभी पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस अधीक्षक व कमाण्डेंड सहित सभी अधिकारी-कर्मचारियों ने कठिनाईयों व चुनौतियों को स्वीकार करते हुए अच्छे कार्य किये, उत्कृष्ठ कार्य करने वाले सभी पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को सम्मानित करने उन्हें एक साथ एकत्र करना संभव नहीं होने के कारण यह वर्चुवल सम्मान समारोह आयोजित किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश की पुलिस संक्रमण के दौर में निष्ठा व साहस का परिचय तथा मानवीय स्वरूप दिखाते हुए जिम्मेदारियों के साथ कार्य में डटी रही। संक्रमण के बावजूद भी पुलिस लगातार फिल्ड में अपनी जान की परवाह न करते हुए लोगों को सुरक्षित रखने में अहम भूमिका निभाई।
          पुलिस महानिदेशक श्री अवस्थी ने प्रदेश के पुलिस अधिकारी-कर्मचारी जिनकी कोरोना संक्रमण से मृत्यु हुई है उन्हें श्रद्धांजली देते हुए सभी पुलिस अधीक्षकों को ऐसे मामलों में त्वरित अनुकम्पा नियुक्ति देने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अखबारों व इलेक्ट्रानिक मीडिया ने हमारे कार्यो सहित जनता के द्वारा लाकडाउन के दौरान पुलिस जवानों को राहत पहुंचाने के बारे में लोगों को अवगत कराया। उन्होंने कहा कि किसी जवान के द्वारा किए गए अच्छे कार्य से उस जिले की पुलिस अधीक्षक की अच्छी छवि प्रदर्शित होती हैै। पुलिस अधीक्षकों को कहा कि बेहतर कार्य हेतु जवानों को लगातार प्रोत्साहित करें, अच्छे थाना संचालन करने वाले थाना प्रभारियों की सूची उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन अधिकारी व जवानों को कोरोना वारियर्स से सम्मानित किया गया है उनके प्रशस्ति पत्र जल्द ही जिले में पहुंच जायेगी। इस वर्चुअल मीटिंग में उन्होंने कहा कि प्रदेश की पुलिस किस प्रकार संक्रमण को रोकने के साथ ही बेहतर कार्य की उसकी पुस्तिका प्रकाशित करवाई जायेगी।
          पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने बताया कि पुलिस मुख्यालय के द्वारा कोरोना संक्रमण के दौर में अच्छा कार्य करने वाले अधिकारी व जवानों का नाम नामांकित करने के निर्देश प्राप्त होने पर जिले से कोरोना वारियर्स सम्मान के लिए थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, थाना प्रभारी चंदौरा एन.के.त्रिपाठी, चौकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह, प्रधान आरक्षक मान सिंह, आरक्षक बिहारी पाण्डेय व गणेश सिंह को नामिनेट किया था जिन्हें माननीय पुलिस महानिदेशक छत्तीसगढ़ ने प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया है।
          पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने बताया कि जिले के सभी अधिकारी व जवानों ने वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के दौरान अच्छा कार्य किया है। उन्होंने बताया कि संक्रमण के पहले व द्वितीय फेज के दौर में लगातार जिले के थाना-चौकी, अंतरराज्जीय, अंतर जिलों के चेकपोस्ट का भ्रमण/निरीक्षण कर पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों का मनोबल ऊंचा बनाए रखा। जवानों को कोरोना से स्वयं को सुरक्षित रखते हुए कर्तव्य का निष्पादन करने सहित अन्य आवश्यक दिशा-निर्देश लगातार देते रहे और पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को अच्छे कार्यो हेतु प्रोत्साहित किया। जिले के थाना-चौकी प्रभारियों ने सामाजिक सरोकार का कार्य करते हुए जरूरत मंद लोगों को कोरोना से बचाव के लिए मास्क, सेनेटाईजर का वितरण किया साथ ही आवश्यतानुसार लोगों को जरूरी मदद मुव्हैया कराई।
इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, स्थापना प्रभारी अखिलेश सिंह, दशरथ पैंकरा, एएसआई संजय सिंह, आरक्षक युवराज यादव, रौशन सिंह व एनआईसी से चलमा रेड्डी उपस्थित रहे।