बुधवार, 3 अगस्त 2022

सड़क पर आवारा घूम रहे 29 मवेशियों को पकड़कर भेजा गया गौशाला


सूरजपुर। शहर से गुजरने वाली एन-43 के मुख्य चौराहों से लेकर बाजारों, सार्वजनिक स्थानों पर डेरा जमाए आवारा पशुओं को पुलिस की मौजूदगी में नगर पालिका कर्मचारियों के द्वारा काउ कैचर में भरकर गौशाला पहुंचाया जा रहा है। दो दिन में 29 आवारा मवेशियों को पकड़कर गौशाला भेजा जा चुका है। मवेशियों के कारण लगने वाले जाम, सड़क दुर्घटना को रोकने तथा सुगम यातायात को लेकर यह कार्रवाई पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू के निर्देशन में नपा अध्यक्ष श्री के.के.अग्रवाल व सीएमओ बसंत बुनकर के मार्गदर्शन में नियमित जारी है। यातायात प्रभारी बृजकिशोर पाण्डेय की मौजूदगी में नगर पालिका की टीम ने सड़कों पर आवारा घुम रहे मवेशियों को काउ कैचर में भरकर मानी गौशाला पहुंचाया। शहरवासियों ने कहा कि इस अभियान से राहत मिली है। यातायात प्रभारी ने बताया कि सड़क पर मवेशियों का झुंड रहने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता था, मवेशियों के कारण आवागमन बाधित होने के साथ ही सड़क दुर्घटनाएं भी हो रहे थे। उन्होंने कहा कि सुगम यातायात एवं आमजनता की सुरक्षा के लिए मवेशी मालिकों की नैतिक जिम्मेदारी है कि वे अपने मवेशियों को घर में बांधकर रखे समझाईश के बाद भी सड़क पर मवेशी घुमते पाए जाने पर मवेशी मालिकों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान नगर पालिका के सफाई जमादार संतोष महोदिया, सफाई कमाण्डो अजित सिंह व अन्य मौजूद रहे।

मंगलवार, 2 अगस्त 2022

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने जनदर्शन में आमजनता की सुनी समस्या

सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू ने सोमवार को पुलिस जनदर्शन का आयोजन कर आमजनता की समस्याओं को बड़े आत्मीयता के साथ सुना और उसके त्वरित निराकरण के लिए थाना प्रभारियों को निर्देशित किया। जनदर्शन में प्रेमनगर निवासी एक व्यक्ति ने झूठे मामले में फंसाने, ग्राम फुलकोना निवासी व्यक्ति ने गांव के कुछ व्यक्तियों के द्वारा जातिगत गाली-गलौज व जान से मारने की धमकी देने, रामानुजनगर निवासी एक महिला ने जिला कोरिया निवासी एक व्यक्ति के द्वारा विधि विरूद्ध तरीके से भूमि हड़पने एवं ग्राम कर्री चलगली बलरामपुर निवासी एक महिला ने अपने पति व परिजनों पर दहेज की मांग को लेकर प्रताड़ित कर मूल्यवान वस्तु को जबरन अपने कब्जे में लेते हुए घर में नहीं रखने तथा जान से मारने की धमकी देते हुए प्रताड़ित करने संबंधी शिकायतें प्राप्त हुई। पुलिस अधीक्षक ने संबंधित थाना प्रभारियों का शिकायतों का जल्द से जल्द कार्यवाही करने के सख्त निर्देश दिए।

थाना भटगांव पुलिस ने 3 क्विंटल चोरी का कबाड़ सहित 4 लोगों को किया गिरफ्तार। सीएचपी खदान भटगांव से कबाड़ की गई थी चोरी।

सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू ने अवैध कारोबार पर पूर्णतः अंकुश लगाने के निर्देश थाना-चौकी प्रभारियों को दिए थे जिसके बाद से ही थाना-चौकी की पुलिस के द्वारा अवैध धंधे पर लगातार कार्यवाही जारी है। इसी क्रम में दिनांक 02.08.2022 को थाना भटगांव पुलिस को सूचना मिला कि पिकअप वाहन क्रमांक यूपी 64 एटी 6063 एवं 2 पेंथर मोटर सायकल में सीएचपी खदान भटगांव से लोहे का कबाड़ चोरी कर अम्बिकापुर ले जा रहे है।
            एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह के मार्गदर्शन में थाना भटगांव पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए घेराबंदी कर पिकअप एवं 2 पेंथर मोटर सायकल को रोककर पूछताछ किया गया। पिकअप वाहन के पप्पू निशाद पिता श्याम सुन्दर उम्र 35 वर्ष, रवि राजवाड़े पिता बेचूराम उम्र 24 वर्ष निवासी बाजारपारा भटगांव व पेंथर मोटर सायकल चालक मुनचुन उर्फ मुन्ना पिता श्याम सुन्दर निशांत उम्र 22 वर्ष व बिना नंबर पेंथर चालक सागर विश्वकर्मा पिता जगरनाथ उम्र 19 वर्ष निवासी बाजारपारा भटगांव ने बताया कि सीएचपी खदान भटगांव से लोहे का कबाड़ चोरी कर बिक्री करने ले जा रहे थे जो चोरी का होने के पूर्ण संभावना पर धारा 41(1-4)/379 भादसं के तहत कार्यवाही कर पिकअप वाहन व पेंथर मोटर सायकलों से कुल 3 क्विंटल लोहे का कबाड़ कीमत 30 हजार रूपये एवं परिवहन में प्रयुक्त तीनों वाहनों को जप्त कर चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी भटगांव शरद चन्द्रा, एसआई बृजमोहन गुप्ता, एएसआई गुरू प्रसाद यादव, आरक्षक मनोज जायसवाल, रजनीश पटेल, भोला राजवाड़े, जगत पैंकरा, ताराचंद यादव, हेमन्त सिंह व कैलाश यादव सक्रिय रहे।

सोमवार, 1 अगस्त 2022

अवैध कोयला के कारोबार के विरूद्ध थाना प्रतापपुर पुलिस की बड़ी कार्यवाही। 11 लाख 60 हजार रूपये कीमत के 28 टन कोयला तथा 1 ट्रेलर वाहन जप्त।


सूरजपुर। अवैध कोयला के कारोबार पर रोक लगाने को लेकर थाना प्रतापपुर की पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए 28 टन अवैध कोयला लोड़ ट्रेलर वाहन सहित 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। दिनांक 31.07.2022 को थाना प्रतापपुर पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली कि महान-3 दुप्पी चौरा क्षेत्र से चोरी का कोयला लोड़ कर बरबसपुर के रास्ते से राजपुर की तरफ जाने वाला है। सूचना से पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू को अवगत कराने पर उन्होंने थाना प्रभारी को तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिए। एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह के मार्गदर्शन में थाना प्रतापपुर की पुलिस ने बरबसपुर में नाकाबंदी कर वाहनों की जांच की गई इसी दौरान देर रात्रि में एक ट्रेलर क्रमांक सीजी 29 ए 4845 को रोका गया जिसकी तलाशी लेने पर उसमें कोयला लोड़ पाया। वाहन चालक दिनेश यादव पिता चैतराम यादव उम्र 23 वर्ष ग्राम धुरवासिन, थाना भालूमाड़ा, जिला अनुपपुर तथा परिचालक नीरज केंवट पिता भुनेश्वर उम्र 24 वर्ष निवासी बरौल, थाना मरवाही से कोयला खरीदी एवं परिवहन का दस्तावेज की मांग किए जाने पर कोई दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किए जो चोरी का होने की पूर्ण संभावना पर ट्रेलर में लोड़ 28 टन कोयला कीमत 168000 रूपये एवं ट्रेलर कीमत करीब 10 लाख रूपये को जप्त कर धारा 41(1-4)/379 भादसं. के तहत कार्यवाही कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि कोयला को दुप्पी चौरा ईंट भट्टा से कोयला डिपो रनहत ले जा रहे थे। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रतापपुर नीलिमा तिर्की, एसआई नवलकिशोर दुबे, एएसआई अशोक तिर्की, मंत्रीराम मिंज, प्रधान आरक्षक रामाधीन श्यामले, अनिल कुजूर, आरक्षक इन्द्रजीत सिंह, अरविन्द पाण्डेय, जयप्रकाश पन्ना व सत्य नारायण सक्रिय रहे।

मवेशी और सब्जी विक्रेताओं के कारण बिगड़ रही है यातायात व्यवस्था - नपा और पुलिस मिलकर करेगी कार्यवाही। पुलिस अधीक्षक और नपा अध्यक्ष ने जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर बनाई रणनीति।

सूरजपुर। नगर के प्रमुख मार्गों एवं चौक-चौराहों में विचरण करती आवारा मवेशियों, बेतरतीब आटो की आवाजाही तथा सड़क किनारे लगने वाले फल व सब्जी व्यवसायियों के कारण बिगड़ती यातायात व्यवस्था को लेकर जिले के पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू ने नगरपालिका अध्यक्ष श्री के. के. अग्रवाल के मौजूदगी में नगरपालिका के समस्त जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारी/कर्मचारियों की बैठक ली। जनप्रतिनिधियों के सुझाव पर यातायात को व्यवस्थित करने हेतु सार्थक पहल करने का निर्णय लिया गया। नगरीय जनप्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू ने कहा कि नगरीय जनप्रतिनिधि और पुलिस प्रशासन एक सिक्का पर दो पहलू हैं। मिलकर सारी व्यवस्थाओं को सुदृण करने की जरूरत है। जिन स्थानों पर सब्जी व फल विक्रेताओं के कारण यातायात बाधित होता है उन स्थानांे को नो-वेण्डर जोन और जिन स्थानों पर ऑटो चालकों द्वारा बेतरतीब ऑटो खड़ी की जाती है। उन स्थानों को नो-पार्किंग जोन घोषित करते हुए सूचना बोर्ड लगाने की जरूरत है। बाजार परिसर में सभी सब्जी विक्रेताओं को भेजने और टैक्सी व ऑटो के लिए स्थल निधारण करने की दिशा में पहल करनी होगी। उन्होंने शहर को सुन्दर और सुगम बनाने के लिए समस्त जनप्रतिनिधियों से सहयोग की अपील की। पुलिस आमजनता के हित एवं उनकी सुरक्षा को लेकर दृढ़ संकलित है।
                नगरपालिका प्रेसीडेन्ट कक्ष में आयोजित बैठक में अध्यक्ष श्री के.के. अग्रवाल ने कहा कि नगरपालिका को निकाय क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाये रखने की पूरी चिन्ता है और पुलिस, प्रशासन एवं नगरीय जनप्रतिनिधि आपस में समन्वय बनाकर बेहतर से बेहतर व्यवस्था बनाने के लिए कृत संकल्पित हैं। उन्होंने सड़कों पर स्वछन्द विचरण कर रहे आवारा मवेशियों के कारण बिगड़ रही यातायात व्यवस्था और हो रही दुर्घटनाओं के लिए पूरी तरह से मवेशी मालिकों को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि मवेशियो को गौशाला भेजने और मवेशी मालिकों की पहचान कर उनके विरूद्ध कानूनी कार्यवाही करने की आवश्यकता है। 
                   इस दौरान सीएमओ बसंत बुनकर, एसडीओपी सूरजपुर गीता वाघवानी, डीएसपी रामश्रृंगार यादव, टीआई प्रकाश राठौर, यातायात प्रभारी बृजकिशोर पाण्डेय, उपयंत्री बसंत जायसवाल के अलावा विधायक प्रतिनिधि सुनील अग्रवाल, अध्यक्ष प्रतिनिधि प्रवेश गोयल, एल्डरमेन राहुल अग्रवाल, पार्षद संजय डोसी, बिरेन्द्र बंसल, रामसिंह, जियाजुल हक, कुसुमलता राजवाड़े, अजय सिंह, पुष्पलता गिरधारी साहू, गैबीनाथ साहू, तनवीर राधामूनी सिंह, संतोष सोनी, मंजू गोयल, पुष्पलता पवन साहू, सुरेन्द्र देवांगन, संजू आनंद सोनी, अजय सोनवानी, एल्डरमेन देवदत्त साहू, मधुसूदन साहू, त्रिलोक मेहरा, मोहम्मद इदरीश व अन्य उपस्थित रहे।

मवेशी मालिकों पर होगी कार्यवाही और मवेशियों को भेजा जाएगा गौशाला

जिला मुख्यालय सूरजपुर के प्रमुख सड़कों पर इन दिनों आवारा मवेशियों का जमावड़ा लगा रहता है। जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और नगरीय प्रशासन इन मवेशियों को लेकर हमेशा परेशान रहते हैं। पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू और नगपालिका अध्यक्ष श्री के.के. अग्रवाल ने इस समस्या से निजात पाने के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए हैं प्रारंभिक चरण में पशुपालन विभाग, पुलिस प्रशासन और नगरपालिका की टीम साथ मिलकर संयुक्त कार्यवाही करते हुए मवेशियों को गौशाला भेजा जाएगा और वहां पर मवेशी मालिको की पहचान कर इनके विरूद्ध वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। 

पुलिस जन चौपाल में शासन के कल्याणकारी योजनाओं की दी गई जानकारी

*बरसाती मौसम को लेकर ग्रामीणों को सावधानी बरतने दी गई हिदायत 

*साईबर अपराध, ठगों के झांसे में न आने दी गई समझाईश

सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री रामकृष्ण साहू के द्वारा सामुदायिक पुलिसिंग को बढ़ावा देने, नागरिकों की समस्या-शिकायतों का मौके पर ही निराकरण करने तथा छत्तीसगढ़ शासन के कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारियों से ग्रामीणों को अवगत कराने ग्रामों तथा साप्ताहिक बाजार में जन चौपाल लगाने के निर्देश जिले के थाना-चौकी प्रभारियों को दिए है। 
            एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में सोमवार, 01 अगस्त को चौकी उमेश्वरपुर पुलिस के द्वारा ग्राम उमेश्वरपुर में पुलिस जन चौपाल का आयोजन किया गया। इस दौरान चौकी प्रभारी देवनाथ चौधरी ने छत्तीसगढ़ शासन के द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से ग्रामीणों को अवगत कराते हुए योजनाओं का लाभ लेने हेतु प्रोत्साहित किया गया। गोधन न्याय योजना, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना, पौनी पसारी योजना, छत्तीसगढ़ सार्वभौम पीडीएस, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, प्राकृतिक आपदा क्षतिपूर्ति योजना के बारे में जानकारी देते हुए ग्रामीणों से योजना से जुडे़ लाभ के बारे में चर्चा किया। नशे के विरूद्ध सूरजपुर पुलिस के द्वारा चलाए जा रहे अभियान में नशे के धंधे में लिप्त लोगों की सूचना देने की अपील किया। इसी क्रम में नशा न करने की समझाईश देते हुए नशे से होने वाली आर्थिक, सामाजिक एवं शारीरिक हानियों के बारे में अवगत कराया। ग्राम चौपाल में ग्रामीणों को बरसाती मौसम में जहरीले सर्प-बिच्छु से बचाव के बारे में जागरूक किया गया।
            चौकी प्रभारी ने ग्रामीणों को जमीन संबंधी विवाद न करते हुए विधि अनुसार निराकरण कराने, कानून के बारे में की जानकारी देते हुए अपराध से बचने की समझाईश दी। वर्तमान दौर में किए जा रहे फ्राड जिनमें बैंक एटीएम कार्ड बदलकर धोखाधड़ी करने, चिटफंड के झांसे में न आने, किसी प्रकार लालच या प्रलोभन में न फंसने की समझाईश दिया। ग्रामीणों को यातायात नियमों की जानकारी देते हुए उसका पालन करने की अपील की। गांव की गतिविधियों के बारे में जानकारी देने तथा सूचना तंत्र को और मजबूत करने को लेकर चर्चा कर सुझाव लिए गए। अवैध गतिविधियों की सूचना अथवा परेशानी में पुलिस अधीक्षक कार्यालय के संवाद नंबर 7999161672 पर देने ग्रामीणों से अपील किया।

शनिवार, 30 जुलाई 2022

मोटर सायकल चोर एवं खरीददार को कोतवाली पुलिस ने किया गिरफ्तार, 6 मोटर सायकल किया बरामद

सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू के निर्देश पर कोतवाली पुलिस मोटर सायकल चोरों की धरपकड़ एवं चोरी की मोटर सायकल बरामदगी में लगी हुई है। इसी क्रम में दिनांक 14 जुलाई को मोटर सायकल चोरी मामले में थाना सूरजपुर पुलिस ने आरोपी आशीष गुप्ता को पकड़ा था जिससे 2 चोरी की मोटर सायकल बरामद करते हुए न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया था। आरोपी के द्वारा कई और मोटर सायकल चोरी करने के संदेह पर माननीय न्यायालय से पुलिस रिमाण्ड लेकर आशीष गुप्ता से बारीकी से पूछताछ किया जिसके बाद कड़ी दर कड़ी मोटर सायकल चोरी एवं उसकी बिक्री का खुलासा हुआ।
            एसडीओपी सूरजपुर गीता वाघवानी के मार्गदर्शन में हुए पूछताछ पर आरोपी आशीष गुप्ता ने बताया कि डेढ़ वर्ष पूर्व 1 मोटर सायकल को पीजी कालेज अम्बिकापुर तथा करीब दो वर्ष पूर्व 2 मोटर सायकल को जिला अस्पताल अम्बिकापुर से चोरी किया और ग्राम कोटेया निवासी देवेन्द्र ठाकुर को 1 मोटर सायकल, ग्राम चउरा राजपुर निवासी गिरजा सोनवानी को 1 मोटर सायकल को बिक्री किया था एवं 1 मोटर सायकल को छिपाकर रखना बताया। कड़ी पूछताछ में यह भी बताया कि दो वर्ष पूर्व उसका साथी अमरजीत राजवाड़े अम्बिकापुर से 3 मोटर सायकल चोरी कर इसे बिक्री करने के लिए दिया था उनमें से 1 मोटर सायकल को ग्राम द्धारिकापुर निवासी देवप्रसाद राजवाड़े को बिक्री किया था शेष 2 मोटर सायकल के लिए ग्राहक न मिलने पर अमरजीत राजवाड़े को वापस कर दिया। मामले में पुलिस ने आरोपी अमरजीत राजवाड़े पिता राम गुलाब उम्र 25 वर्ष सा. कोटेया, देवेन्द्र ठाकुर पिता आगेश्वर प्रसाद उम्र 27 वर्ष सा. कोटेया, गिरजा सोनवानी पिता बिसुन उम्र 46 वर्ष सा. चउरा, थाना राजपुर एवं देव प्रसाद राजवाड़े निवासी द्वारिकापुर, थाना जयनगर को दबिश देकर पकड़ा और आरोपियों के निशानदेही पर चोरी के 6 नग मोटर सायकल कीमती करीब 1 लाख 50 हजार रूपये का जप्त कर धारा 41(1-4)/379, 411 भादसं. के तहत कार्यवाही करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर प्रकाश राठौर, प्रधान आरक्षक ऐसन पाल, आरक्षक राजकुमार पासवान, सैनिक जहांगीर आलम सक्रिय रहे।

मंगलवार, 5 जुलाई 2022

कोतवाली पुलिस ने चोरी की मोटर सायकल सहित 2 को किया गिरफ्तार


सूरजपुर। दिनांक 07.12.2021 को विश्रामपुर निवासी अर्जुन सोनी ने थाना सूरजपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 6 दिसम्बर को दोपहर में अपने हीरो एचएफ डिलक्स मोटर सायकल को सूरजपुर कोर्ट के बाहर में खड़ा किया था कुछ देर बाद वापस आया तो मोटर सायकल वहां नहीं था, किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा चोरी कर लिया गया। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अज्ञात चोर के विरूद्ध धारा 379 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया।
            पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने मोटर सायकल चोर की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश थाना प्रभारी को दिए। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी सूरजपुर गीता वाघवानी के मार्गदर्शन में थाना सूरजपुर की पुलिस ने मंगलवार को मुखबीर की सूचना पर संदेही सवि लाल जायसवाल उर्फ होण्डा पिता स्व. चित्र प्रसाद 30 वर्ष ग्राम गजाधरपुर को पकड़ा। पूछताछ पर उसने बताया ने अपने साथी मोईनउद्दीन उर्फ चरकू के साथ मिलकर मोटर सायकल को चोरी करना स्वीकार किया जिसके बाद आरोपी मोईनउद्दीन उर्फ चरकू पिता नजीमउद्दीन उम्र 26 वर्ष निवासी ग्राम करवां, चौकी लटोरी को पकड़ा गया। आरोपियों के निशानदेही पर चोरी की मोटर सायकल कीमत 30 हजार रूपये को बरामद कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर प्रकाश राठौर, प्रधान आरक्षक ऐसन पाल, आरक्षक राजकुमार पासवान व सैनिक जहांगीर आलम सक्रिय रहे।

अवैध कोयला के कारोबार पर सूरजपुर पुलिस की कार्यवाही, 60 हजार रूपये कीमत के 6 टन कोयला, 2 पिकअप वाहन जप्त

सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू के निर्देश पर अवैध कारोबार पर पुलिस की निरंतर कार्यवाही जारी है। इसी क्रम में 4 जुलाई को थाना प्रतापपुर पुलिस को मुखबीर से सूचना मिला कि ग्राम सिलौटा चटटीपारा रास्ते में 2 पिकअप वाहन संदिग्ध हालत में खड़ा है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह के मार्गदर्शन में थाना प्रतापपुर की पुलिस फौरन मौके पर पहुंची जहां पिकअप वाहन क्रमांक जेएच 03 एबी 5983 एवं पिकअप वाहन क्रमांक सीजी 15 एसी 3752 संदिग्ध हालत में खड़ा मिला जिसकी तलाशी लेने पर दोनों पिकअप में 3-3 टन कोयला लोड़ पाया जिसकी कीमत 60 हजार रूपये है। मामले में धारा 102 के तहत कार्यवाही करते हुए दोनों पिकअप वाहन एवं कोयला जप्त कर माल-मालिक की पतासाजी की जा रही है।

अंगूठे का निशान लेकर 2 लाख 51 हजार रूपये की धोखाधड़ी करने वाला 1 आरोपी गिरफ्तार। 1 थम्ब मशीन, 1 मोबाईल, नगदी 2000 रूपये व 1 मोटर सायकल जप्त, थाना प्रतापपुर पुलिस की कार्यवाही।

सूरजपुर। दिनांक 03.02.2022 ग्राम पेण्डारी निवासी नान्हू राम पोया ने थाना प्रतापपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसके पिता शिवा राम की हाथी के हमले से मृत्यु हो जाने के कारण वन विभाग से मुआवजा का पैसा 575000 रूपये मॉ महती बाई के खाते में जमा हुआ था इसके बाद किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा इसकी मॉ को हाथी के हमले से हुए मृत्यु पर और मुआवजा निकलना है कहकर आधार नंबर एवं अंगूठे का निशान धोखे से लेकर दिनांक 09.10.21 से 22.11.21 तक कुल 26 बार में 251000 रूपये का आहरण कर लिया। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्ध धारा 420 भादसं. के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया।
        पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री रामकृष्ण साहू ने थाना-चौकी प्रभारियों को पुराने लंबित मामले के आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने के निर्देश दिए थे। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह के मार्गदर्शन में थाना प्रतापपुर की पुलिस ने बैंक से जानकारी लिया तो एसबीआई कुसमी शाखा का खाता नंबर में पैसा ट्रान्सफर होना पाया, कुसमी बैंक से जानकारी लेने पर पता चला कि अशोक तिर्की के द्वारा आधार केवाईसी के माध्यम से तथा थम्ब अंगूठा मशीन का उपयोग कर बार-बार पैसा निकालने की जानकारी प्राप्त हुआ। विवेचना के दौरान मुखबीर की सूचना पर आरोपी अशोक तिर्की पिता स्व. मोहन तिर्की उम्र 32 वर्ष निवासी कुसमी, जिला बलरामपुर को उसके गांव में घेराबंदी कर पकड़ा गया। पूछताछ पर आरोपी ने धोखाधड़ी करना स्वीकार किया। आरोपी के निशानदेही पर नगदी 2000 रूपये, 1 मोटर सायकल, घटना में प्रयुक्त 1 थम्ब मशीन एवं 1 नग मोबाईल जप्त कर विधिवत् गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रतापपुर निलिमा तिर्की, एसआई नवलकिशोर दुबे, राजेश तिवारी, एएसआई बजरंगी लाल चौहान, प्रधान आरक्षक राजेश यादव, आरक्षक इन्द्रजीत सिंह व अवधेश कुशवाहा सक्रिय रहे।

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3
सायबर की पाठशाला में आज तीसरे पाठ में हम समझने की कोशिश कर रहे हैं कि एक सुरक्षित लिंक कैसा दिखता या होता है। धोखेबाज/अपराधी आम लोगों को ठगने के लिए बैंको के नाम से मिलते जुलते नाम या अक्षरों का प्रयोग करके एक यूआरएल/URL बनाता है और उसे मोबाइल पर सीधे मैसेज के रूप में भेजता है इन लिंकनुमा URL पर क्लिक करते ही आप ठगी के शिकार हो जाते हैं। यदि लिंक में anydesk, mingle, teamviewer जैसे शब्द हैं तो आपके फोन को हैक करने का प्रयास हो रहा है, तुरंत मैसेज डिलिट करें। लिंक पर क्लिक बिलकुल न करें। अनजान से व्यक्तियों से फोन पर ज्यादा बात न करें और न ही उन्हें किसी भी तरह की जानकारी दें चाहे कुछ भी हो जाए। तभी आप ठगी से बच पाएंगे। इस तरह के फर्जीवाड़ों पर और विस्तार से जानकारी के लिए इस श्रृंखला पर नजर बनाए रखें। पिछले पाठों को फिर से जानने के लिए/ पुनरावलोकन के लिए तस्वीर पर क्लिक करें या ऊपर के संबंधित टैब (सायबर की पाठशाला) पर क्लिक करें।