शुक्रवार, 2 दिसंबर 2022

यातायात पुलिस सूरजपुर द्वारा सड़क किनारे किए गए अतिक्रमण को हटवाया

सूरजपुर। अतिक्रमण के कारण सड़क पर आने-जाने वालों को हो रही परेशानी व लगने वाले जाम की समस्या से लोगों को छुटकारा दिलाने के प्रयास में यातायात पुलिस जुट गई है। पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू के निर्देशन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह के मार्गदर्शन में शुक्रवार को यातायात प्रभारी बृजकिशोर पाण्डेय अपनी टीम के साथ अभियान चलाकर एनएच-43 सूरजपुर के मेन मार्केट एक्सीस बैंक से लेकर जिला चिकित्सालय तक दोनों किनारे से दुकानदारों के द्वारा फुटपाथ पर किए गए अतिक्रमण को हटवाया गया और दुकानदारों को दुकान के सामान को बाहर ना रखने की सख्त हिदायत दी गई। सड़क पर अव्यवस्थित वाहन खड़ा करने वाले लोगों को चेताया कि सड़क किनारे बने सफेद पट्टी के बाहर वाहन खड़ा किया तो मोटर व्हीकल एक्ट के तहत कार्यवाही की जायगी। इस अभियान के दौरान एएसआई ब्यासदेव राय, प्रधान आरक्षक अनिल भगत, आरक्षक राकेश सिंह, अरविन्द एक्का सक्रिय रहे।

गुरुवार, 1 दिसंबर 2022

हार्डवेयर गोदाम से चोरी मामले में 1 गिरफ्तार, थाना सूरजपुर पुलिस की कार्यवाही

सूरजपुर। दिनांक 28.08.22 को सूरजपुर के प्रेम हार्डवेयर संचालक सुभाष जिन्दिया ने थाना सूरजपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसके मानपुर बाईपास रोड़ स्थित गोदाम से प्लाई चोरी कर किया गया है। रिपोर्ट पर धारा 379 भादसं के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया। एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में थाना सूरजपुर पुलिस के द्वारा आरोपी की पतासाजी की गई। विवेचना के दौरान संदेही संजय साहू उम्र 22 वर्ष निवासी मानपुर को दबिश देकर पकड़ा गया। पूछताछ पर उसने बताया कि सुभाष जिन्दिया के बाईपास स्थित गोदाम से प्लाई चोरी किया है। आरोपी के निशानदेही पर चोरी का 10 नग प्लाईन कीमत 24 हजार रूपये का जप्त कर आरोपी को गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर प्रकाश राठौर, प्रधान आरक्षक अदीप प्रताप सिंह, सैनिक चंदन सिंह व इजराईल सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस सियान डेस्क में वरिष्ठ नागरिकों की समस्या को सुनकर कर रहा है त्वरित निराकरण

सूरजपुर। पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज, सरगुजा श्री राम गोपाल गर्ग के निर्देश पर जिले के सभी थाना-चौकी में सियान डेस्क बनाया गया है जहां बुजुर्गो की समस्याओं को सुना जा रहा है। इस डेस्क के माध्यम से बुजुर्ग अपनी समस्याओं को बताकर उसका त्वरित निराकरण का लाभ ले रहे है। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री रामकृष्ण साहू ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा पुलिस का दायित्व है, सियान डेस्क में आने वाले वरिष्ठ नागरिकों के शिकायतों को गंभीरता से सुने, उनके समस्या का निराकरण करते हुए उनकी मदद करें तथा सियान डेस्क के प्रचार-प्रसार किए जाए। गुरूवार को थाना ओड़गी के सियान डेस्क में एक वरिष्ठ नागरिक अपनी शिकायत लेकर पहुंचे। थाना में बनाए गए सियान डेस्क के स्वच्छ वातावरण में पुलिस अधिकारी के द्वारा बुजुर्ग के शिकायत को गंभीरतापूर्वक सुनते हुए शिकायत का निराकरण किया गया।

सेवा निवृत्त हुए एसआई लालसाय पैंकरा को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने किया सम्मानित। एसआई ने 41 वर्ष 6 माह तक दी विभाग में अपनी सेवाएं

सूरजपुर। पुलिस विभाग में लगातार 41 वर्ष 6 माह तक सेवा देकर बुधवार 30 नवम्बर 2022 को सेवानिवृत्त हुये सूरजपुर जिले के एसआई लालसाय पैंकरा जो वर्तमान में आईजी कार्यालय सरगुजा रेंज में कार्यरत् थे। सेवानिवृत्ति पर पुलिस कार्यालय में एक सादे समारोह में पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री रामकृष्ण साहू सहित पुलिस अधिकारियों ने साल-श्रीफल एवं उपहार भेंट कर एसआई को सम्मानित किया। इस दौरान सेवानिवृत्त हो रहे एसआई के परिजन भी मौजूद रहे। इस दौरान पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री रामकृष्ण साहू ने कहा कि एसआई लालसाय पैंकरा लंबे समय से विभाग में सेवाएं देते हुए आज विभाग से सेवानिवृत्त हो रहे है। इन्होंने रेंज के थाना-चौकी के साथ-साथ वरिष्ठ कार्यालय में कार्य करते हुए वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशों का पालन निष्ठा से किया। सदैव मार्गदर्शी रहे और अपने अधिनस्थों को बेहतर कार्य के प्रति प्रोत्साहित करते रहे। सेवा के अंतिम पडाव में भी ऊर्जा के साथ सौंपे गए कार्यो को पूरा किया। पुलिस विभाग की सेवा से सेवानिवृत्त हो रहे एसआई को पुलिस अधीक्षक ने साल, श्रीफल एवं उपहार भेंट कर सम्मानित किया और बेहतर स्वास्थ्य एवं उज्जवल भविष्य की कामना की। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह ने कहा कि एसआई श्री पैंकरा का व्यवहार काफी उत्तम है, स्वभाव से सरल है, लम्बे समय तक पुलिस विभाग में सेवाएं दी है। उन्होंने एसआई के स्वस्थ, सुखमय पारिवारिक जीवन जीने और दीर्घायु होने की कामना की। इस अवसर पर सेवानिवृत्त हो रहे एसआई लालसाय पैंकरा ने भी विभाग में रहकर किए गए कार्यो का अनुभव साझा किया। इस दौरान डीएसपी मुख्यालय नंदिनी ठाकुर, रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे, कार्यालय अधीक्षक संतोष वर्मा, स्टेनो अखिलेश सिंह, रीडर धर्मानंद शुक्ला, निरीक्षक जावेद मियांदाद, स्थापना प्रभारी पंकज नेमा, आनंद पैंकरा, अमिताभ, सुलेमान लकड़ा, एसआई नीलाम्बर मिश्रा, एएसआई विराट विशी सहित कार्यालय के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर कोर्ट मोहर्रिरों की ली बैठक, प्राथमिकता से समंस-वारंट शत् प्रतिशत तामील कराने दिए निर्देश

सूरजपुर। फरियादी, पीड़ित व्यक्ति को सुलभ न्याय शीघ्र मिले इसके लिए आवश्यक है कि माननीय न्यायालय द्वारा जारी समंस वारंट की तामीली समय पर शत-प्रतिशत थाना-चौकी के माध्यम से सुनिश्चित करने आईजी सरगुजा रेंज श्री राम गोपाल गर्ग ने सूरजपुर जिले के दौरे पर थाना-चौकी प्रभारियों को कही थी, जिसके परिप्रेक्ष्य में पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री रामकृष्ण साहू ने बुधवार, 30 नवम्बर को कोर्ट मोहर्रिर एवं थाना-चौकी से न्यायालयीन कार्य से जुड़े कर्मचारी के बीच आपसी सामान्जस्य बनाकर कार्य कराने को लेकर जिला पुलिस कार्यालय के सभाकक्ष में कोर्ट मोहरिर्राे की बैठक ली। इस दौरान पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू ने कोर्ट मोहर्रिरों को सख्त निर्देश दिया कि माननीय न्यायालय के द्वारा जिस तिथि को समंस/वारंट जारी किए जाते है उसी दिन थाना-चौकी प्रभारियों को वारंट तामीली के लिए भेजे ताकि माननीय न्यायालय में नियत तिथि के पूर्व शत् प्रतिशत वारंटों को तामील कराकर न्यायालय को अवगत कराई जा सके। समंस-वारंट की तामीली में किसी प्रकार की लापरवाही बर्शास्त नहीं होगी, थाना-चौकी प्रभारियों को समंस-वारंट तामीली को विशेष प्राथमिकता में लेते हुए तामील कराने के निर्देश दिए गए है। उन्होंने कोर्ट मोहर्रिरों को कहा कि आपके सजग रहकर कार्य करने से समंस-वारंट की तामीली सही समय होगा और फरियादियों को न्यायालय से जल्द न्याय मिलेगा। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह, डीएसपी मुख्यालाय नंदिनी ठाकुर, कार्यालय अधीक्षक संतोष वर्मा, रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे, स्टेनो अखिलेश सिंह, रीडर धर्मानंद शुक्ला सहित सभी कोर्ट मोहर्रिर मौजूद रहे।

बुधवार, 30 नवंबर 2022

एसडीओपी प्रकाश सोनी ने थाना प्रेमनगर का किया अर्द्धवार्षिक निरीक्षण

सूरजपुर। बुधवार, 30 नवम्बर को एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी ने थाना प्रेमनगर का द्धितीय अर्द्धवार्षिक निरीक्षण किया। इस मौके पर उन्होंने पुलिस कर्मियों की समस्याओं को जाना तथा उन्हें कर्तव्यों का बेहतर ढंग से निर्वहन करने के निर्देश दिए। पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू के निर्देशन में किए गए अर्द्धवार्षिक निरीक्षण में एसडीओपी प्रेमनगर आज सुबह प्रेमनगर थाना पहुंचे। उन्होंने पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों के वेश-भूषा का निरीक्षण किया तथा अच्छे वेश-भूषा धारण करने वाले जवानों को पुरस्कृत करने प्रतिवेदन भेजा। थाना भवन, प्रधान आरक्षक कक्ष, विवेचक कक्ष व मालखाना का निरीक्षण किया। इसके पश्चात उन्होंने थाने में अभिलेखों एवं उपकरणों का निरीक्षण कर थाने के सीसीटीवी कैमरों के सुचारु रूप से संचालन हेतु थाना प्रभारी को निर्देशित किया। थाना-चौकी प्रभारियों से बीट क्षेत्र में बनाए गए वाटसए्प ग्रुप के बारे में जानकारी ली और सामुदायिक पुलिसिंग के तहत आयोजन करने के निर्देश दिए। थाना के सभी महत्वपूर्ण अभिलेखों का जायजा लेने पर रिकार्ड दुरूस्त पाए जाने पर संतोष व्यक्त किया। इस दौरान थाना प्रभारी प्रेमनगर रूपेश कुंतल, चौकी प्रभारी तारा उमेश सिंह, चौकी प्रभारी उमेश्वरपुर देवनाथ चौधरी सहित थाना व चौकी के अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

थाना सूरजपुर पुलिस ने 15 माह पूर्व हुए अंधे कत्ल का किया खुलासा, 1 आरोपी गिरफ्तार। आईजी सरगुजा रेंज ने पुराने लंबित मामलों का जल्द निराकरण करने दिए थे निर्देश

सूरजपुर। ग्राम नरेशपुर, थाना सूरजपुर निवासी देवमन उर्फ गुडा ठाकुर पिता मनमूरत ठाकुर उम्र 35 वर्ष दिनांक 25.08.2021 को गुम हुआ था, गुम इंसान पतासाजी के दौरान उसका शव ग्राम सरमा पुलिया के नीचे मिलने पर मर्ग क्रमांक 121/21 कायम कर शव पंचनामा के बाद पीएम कराया गया। पीएम रिपोर्ट में डॉक्टर के द्वारा मृतक की मृत्यु का कारण हत्यात्मक लेख किए जाने पर मामले में अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अपराध क्रमांक 415/21 धारा 302, 201 भादसं. के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया।
            पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री रामकृष्ण साहू ने मामले जुड़े सभी बिन्दुओं पर गंभीरतापूर्वक बारीकी से जांच करने के निर्देश थाना सूरजपुर पुलिस को दिए। आईजी सरगुजा रेंज श्री राम गोपाल गर्ग ने भी पुराने लंबित मामलों का विधि के अनुसार जल्द निराकरण करने के निर्देश थाना-चौकी प्रभारियों को दिए थे। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह व एसडीओपी सूरजपुर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में थाना सूरजपुर की पुलिस टीम के द्वारा मामले की विवेचना की गई। विवेचना के दौरान जानकारी मिली कि प्रियांशु श्रीवास्तव अपने दादी के मृत्यु के बाद क्रियाकर्म हेतु देवमन को साथ लेकर नदी किनारे गया था जिसके बाद से वह नहीं दिख रहा था, जिसके उपरान्त संदेही प्रियांशु को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई जो उसने मृतक को अपने दादी के क्रियाकर्म के काम हेतु रेड नदी किनारे ले जाना बताया किन्तु हत्या करने की बात पूछे जाने पर गोलमोल जवाब देते रहा। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के निर्देश पर थाना सूरजपुर पुलिस ने माननीय न्यायालय से विधिवत् अनुमति प्राप्त कर संदेही प्रियांश श्रीवास्तव का पोलिग्राफी टेस्ट कराया गया जिसके उपरान्त इसका नार्को टेस्ट व ब्रेन मेपिंग टेस्ट कराने हेतु ले जाने पर सत्यतता उजागर होने के भय से दोनों टेस्ट कराने से मना कर दिया।
            मामले की विवेचना में पाया गया कि दिनांक 25.08.21 को मृतक देवमन ठाकुर को अंतिम बार प्रियांशु श्रीवास्तव के साथ रेड़ नदी के पास देखा गया था, जहां देवमन के द्वारा उसके दादी के क्रियाकर्म के काम के दौरान नशा में होने के कारण काम में देरी कर रहा था इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद होने पर प्रियांशु आवेश में आकर गला घोटकर देवमन की हत्या कर दिया और शव को नदी में बहा दिया। प्रकरण में आरोपी प्रियांशु श्रीवास्तव पिता संतोष श्रीवास्तव उम्र 20 वर्ष निवासी ग्राम नरेशपुर, थाना सूरजपुर के विरूद्ध अपराध सबूत पाए जाने पर गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर प्रकाश राठौर, एएसआई हीरालाल साहू, बृजकिशोर पाण्डेय, प्रधान आरक्षक संजय राजपूत, आरक्षक सत्यम सिंह, रामकुमार नायक, प्रेमसागर साहू, बृजभुवन, प्रदीप साहू, संत कुमार सिंह सक्रिय रहे।

तेज रफ्तार से बाईक चलाने, स्टंट करने तथा यातायात नियमों का उल्लघंन करने वालों की सूचना देने व कार्यवाही के लिए सूरजपुर पुलिस ने जारी किया यातायात हेल्पलाईन नंबर

सूरजपुर। स्पोर्ट्स बाइक लेकर तेज रफ्तार से चलाने और स्टंट करने वालों तथा यातायात नियमों का उल्लघंन करने वाले अब बच नहीं पाएंगे। ऐसे चालकों के घर पुलिस दस्तक देगी। अगर आपको यह लगता है कि सड़क पर पुलिस नहीं है और आप स्टंट करके अथवा यातायात नियमों की अनदेखी करके बच जाएंगे तो यह आपकी भूल है। ऐसे बाईकर्स की फोटो-विडियों सहित जरूरी जरूरी जानकारी हासिल कर उनके विरूद्ध कार्यवाही करने तथा यातायात से जुड़े किसी भी प्रकार की शिकायत के लिए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री रामकृष्ण साहू ने यातायात हेल्पलाईन नंबर 94792-85849 जारी किया है।
इस संबंध में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह ने बताया कि तेज रफ्तार से बाईक चलाने, स्टंट करने, तेज ध्वनि वाले सायलेंसर का प्रयोग तथा यातायात नियमों का उल्लघंन करने वालों के विरूद्ध कार्यवाही के लिए यातायात हेल्पलाईन नंबर जारी किया गया है। ऐसे लोग जो यातायात नियमों की अनदेखी करते है उनकी फोटो खींचकर अथवा विडियों बनाकर जरूरी जानकारी हेल्पलाईन नंबर पर उपलब्ध कराये ताकि पुलिस ऐसे लोगों के विरूद्ध सख्ती से कार्यवाही कर सके। साथ ही नागरिकगण कहीं भी जाम की समस्या होने अथवा यातायात से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायत को सुबह 7 बजे से रात्रि 9 बजे के बीच यातायात हेल्पलाइन नंबर पर फोन करके अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगे। यातायात प्रभारी बृजकिशोर पाण्डेय अपनी टीम के साथ इस हेल्पलाईन नंबर पर प्राप्त शिकायत पर जरूरी कदम उठाते हुए सक्रियता से कार्य करेंगे।

सोमवार, 28 नवंबर 2022

चोरी की 2 मोटर सायकल सहित विधि विरूद्ध संघर्षरत बालक सहित 2 गिरफ्तार, चौकी उमेश्वरपुर पुलिस की कार्यवाही

सूरजपुर। दिनांक 27.11.22 को ग्राम अंधला, थाना लखनपुर निवासी मुनेश्वर प्रसाद राजवाड़े ने चौकी उमेश्वरपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 24 नवम्बर को तारकेश्वरपुर बाजार में मनिहारी सामान बेचने एचएफ डिल्क्स मोटर सायकल से आया था, मोटर सायकल को बाजार में खड़ी कर सामान बिक्री करने चला गया, वापस आया तो देखा कि मोटर सायकल वहां नहीं था किसी अज्ञात चोर के द्वारा चोरी कर लिया गया। मामले की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 140/22 धारा 379 भादसं के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया।
        मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू ने अज्ञात मोटर सायकल चोर की पतासाजी कर जल्द पकड़ने के निर्देश चौकी प्रभारी को दिए थे। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह व एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में मोटर सायकल चोर की पतासाजी की जा रही थी। इसी बीच चौकी प्रभारी उमेश्वरपुर को मुखबीर से सूचना मिला कि ग्राम सलका निवासी एक व्यक्ति चोरी की दो मोटर सायकल रखा है। सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुए पुलिस ने एक विधि विरूद्ध संघर्षरत बालक को पकड़ा। पूछताछ पर उसने बताया कि तारकेश्वरपुर साप्ताहिक बाजार से 1 नग एचएफ डिलक्स मोटर सायकल तथा 1 नग बजाज पल्सर मोटर सायकल को अम्बिकापुर स्थित मैरिन ड्राईव के पास से चोरी किया है। मामले में संलिप्त आरोपी महेन्द्र चौहान पिता अमरनाथ उम्र 22 वर्ष निवासी अंधला, थाना लखनपुर को पकड़ा गया, दोनों की निशानदेही पर चोरी की 2 मोटर सायकल कीमत 1 लाख रूपये का बरामद किया गया। मामले में विधि विरूद्ध संषर्घरत बालक को किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष विधि अनुसार पेश किया गया तो वहीं आरोपी महेन्द्र चौहान को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया। इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी उमेश्वरपुर देवनाथ चौधरी, प्रधान आरक्षक कपिल सिंह, आरक्षक विक्रम सिंह, राकेश सिंह, शिवशंकर सिंह, मनोज जायसवाल, सुरेन्द्र सिंह व सैनिक रविन्द्र सिंह सक्रिय रहे।

थाना जयनगर पुलिस ने 16 गिरफ्तारी-स्थाई वारंट किए तामील। पुरस्कृत होगें वारंट तामील करने वाले पुलिस अधिकारी-कर्मचारी

सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू ने अपराधों की रोकथाम एवं अवैध गतिविधियों पर अंकुश लगाने हेतु लगातार स्थाई/गिरफ्तारी वारंट तामिल करने के निर्देश सभी थाना-चौकी प्रभारियों को दिए थे। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह के मार्गदर्शन में थाना जयनगर पुलिस के द्वारा 3 स्थाई वारंटी तथा 13 गिरफ्तारी वारंट तामील किया है तो वहीं थाना भटगांव पुलिस ने 1 स्थाई वारंट तामील कर वारंटी को माननीय न्यायालय में पेश किया है। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने तत्परतापूर्वक स्थाई/गिरफ्तारी वारंट तामील करने वाले पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।
थाना जयनगर पुलिस ने अभियान चलाकर एक ही दिन में धारा 409 भादसं., 3, 7 ईसी एक्ट के मामले में स्थाई वारंटी शोधन कुंवर, धारा 294, 506, 323, 325, 34 के प्रकरण के स्थाई वारंटी खरू चेरवा व बंसीलाल चेरवा को पकड़ स्थाई वारंट तामील किया है। इसी प्रकार बलवा, मारपीट सहित अलग-अलग धाराओं के तहत दर्ज मामलों में 13 गिरफ्तारी वारंट तामील किया है। इसी तारतम्य में थाना भटगांव पुलिस ने मारपीट व छेड़छाड़ के मामले में स्थाई वारंटी बबलू पिता हीरू को पकड़ स्थाई वारंट तामील किया है। वारंटियों की तामिली हेतु पुलिस टीम लगी हुई थी, लम्बे समय से फरार वारंटियों के लुकछिप कर रहने की जानकारी मिली थी। इन सभी वारंटियों को माननीय न्यायालय में पेश किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर सुभाष कुजूर, एएसआई राकेश यादव, प्रवीण राठौर, वरूण तिवारी, प्रधान आरक्षक अशोक साहू, बृजकिशोर ध्रुवा, आरक्षक विवेक विश्वकर्मा, विकास मिश्रा, नीरज झा, सैनिक अली अनवर व नोहर सक्रिय रहे।

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3
सायबर की पाठशाला में आज तीसरे पाठ में हम समझने की कोशिश कर रहे हैं कि एक सुरक्षित लिंक कैसा दिखता या होता है। धोखेबाज/अपराधी आम लोगों को ठगने के लिए बैंको के नाम से मिलते जुलते नाम या अक्षरों का प्रयोग करके एक यूआरएल/URL बनाता है और उसे मोबाइल पर सीधे मैसेज के रूप में भेजता है इन लिंकनुमा URL पर क्लिक करते ही आप ठगी के शिकार हो जाते हैं। यदि लिंक में anydesk, mingle, teamviewer जैसे शब्द हैं तो आपके फोन को हैक करने का प्रयास हो रहा है, तुरंत मैसेज डिलिट करें। लिंक पर क्लिक बिलकुल न करें। अनजान से व्यक्तियों से फोन पर ज्यादा बात न करें और न ही उन्हें किसी भी तरह की जानकारी दें चाहे कुछ भी हो जाए। तभी आप ठगी से बच पाएंगे। इस तरह के फर्जीवाड़ों पर और विस्तार से जानकारी के लिए इस श्रृंखला पर नजर बनाए रखें। पिछले पाठों को फिर से जानने के लिए/ पुनरावलोकन के लिए तस्वीर पर क्लिक करें या ऊपर के संबंधित टैब (सायबर की पाठशाला) पर क्लिक करें।