शुक्रवार, 16 अप्रैल 2021

लाकडाउन के तीसरे दिन सूरजपुर पुलिस का कड़ा पहरा.....

सूरजपुर: कोरोना को मात देने, संक्रमण से बचाव के लिए जिले में लाकडाउन लगाया गया है। पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा के निर्देश पर जिले की पुलिस 24 घंटे चेक पोस्ट व चौक-चौराहों पर नागरिकों को संक्रमण से बचाने व लाॅकडाउन का पालन सुनिश्चिक कराने मुस्तैदी से डटी हुई है। जिला मुख्यालय में भी पुलिस व प्रशासन की टीम लगातार डटी हुई है।
          गुरूवार को थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान एनएच 43 पर आने-जाने वाले व्यक्तियों से कड़ाई से पूछताछ की और बेवजह सड़कों पर निकले वाहन चालकों के विरूद्व मोटर व्हीकल एक्ट की कार्यवाही कर उन्हें अनावश्यक बाहर न घुमने की सख्त हिदायत दी। थाना प्रभारी ने कहा कि यदि कोई नियम का पालन नहीं करता है तो उनसे विरूद्व सख्ती के साथ कार्यवाही की जाएगी।


घाट पेंडारी पर पलटी बिस्कीट से भरी ट्रक, मौके पर फौरन पहुंची सूरजपुर पुलिस.............


सूरजपुर: अम्बिकापुर-बनारस मार्ग पर स्थित घाट पेंडारी में गुरूवार की दोपहर बिस्कीट से भरी हुई ट्रक पलट गई, इस घटना में चालक को किसी प्रकार की चोट नहीं लगी है वह सुरक्षित है। घटना की सूचना मिलने पर थाना प्रभारी चंदौरा ने पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराया जो उन्होंने तत्काल थाना प्रभारी को मौके पर पहुंचने के निर्देश दिए। जिसके फौरन बाद थाना प्रभारी चंदौरा एन.के.त्रिपाठी दल-बल के साथ घटना स्थल घाट पेंडारी पहुंचे और वाहन चालक को एहतियात के तौर पर पास के अस्पताल भिजवाया।
          पुलिस अधीक्षक ने बताया कि वाहन चालक जशवरन सिंह हरियाणा का रहने वाला है जो ट्रक क्रमांक एचआर 58 बी 3352 में बिस्कीट लोड कर देवरिया उत्तरप्रदेश जा रहा था और घाट से उतरने के दौरान चालक ने वाहन पर से नियंत्रण खो दिया जिस कारण ट्रक पलट गई। ट्रक में खादय सामग्री लोड थी जो वहां पर फैला हुआ है, मौके पर पुलिस के जवान मौजूद है।


पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने चेकपोस्ट का भ्रमण कर लिया जायजा, बढ़ाया जवानों का हौसला..........

पुलिस जवानों के परिजनों से चर्चा कर सुनी समस्या, किया निराकरण।

संक्रमण से सुरक्षित रहने दी समझाईश।

सूरजपुर: कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए जिले लॉकडाउन लगाया है जिसके मद्देनजर जिले की सभी सीमाएं सील कर दी गई है। बुधवार, 14 अप्रैल को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने थाना सूरजपुर, रामानुजनगर, तारा व विश्रामपुर के बनाए गए चेक पोस्ट का भ्रमण कर जायजा लिया। उन्होंने चेक पोस्ट में तैनात जवानों को संक्रमण से सुरक्षित रहते हुए मुस्तैदी से ड्यूटी करने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने जवानों का कुशलक्षेम जाना और उनका मनोबल बढ़ाया। पुलिस अधीक्षक ने कोतवाली परिसर एवं थाना रामानुजनगर में आवासीय क्वार्टर में रहे पुलिस जवानों के परिजन से चर्चा कर संक्रमण से बचाव के लिए एहतियात बरतने के निर्देश दिए। पुलिस अधीक्षक ने जवानों के परिजनों से समस्याओं को जानी और उसका निराकरण किया। भ्रमण के दौरान रामानुजनगर थाना में आए फरियादियों की शिकायत पर जल्द कार्यवाही करने के निर्देश थाना प्रभारी को दिए।

पुलिस ने बॉर्डर किया सील।

          पुलिस प्रशासन की ओर से जिले के चारों ओर की सीमाओं को सील कर दिया गया है, चेक पोस्ट स्थापित कर पुलिस प्रशासन की टीम मुस्तैदी से ड्यूटी कर रही है लगातार निगरानी बनी हुई है। यहां तैनात पुलिस जवानों ने उच्चाधिकारियों के निर्देश पर मेडिकल इमरजेंसी एवं जरूरी सेवा से जुड़े वाहनों को ही जाने दिया।
         इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, थाना प्रभारी रामानुजनगर गोपाल धुर्वे, थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर, एएसआई संजय सिंह सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।

गुरुवार, 1 अप्रैल 2021

सेवा निवृत्त हुए टीआई को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने किया सम्मानित...........


निरीक्षक ने 36 वर्षो तक दी विभाग में अपनी सेवाएं।

सूरजपुर: पुलिस विभाग में लगातार 36 वर्षो तक सेवा देकर बुधवार 31 मार्च 2021 को सेवा निवृत्त हुये सूरजपुर जिले में पदस्थ थाना प्रभारी अजाक रामचरण राम को पुलिस कार्यालय में एक सादे समारोह में पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा सहित पुलिस अधिकारियों ने साल-श्रीफल एवं उपहार भेंट कर सम्मानित किया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने कहा कि निरीक्षक रामचरण राम आज सेवानिवृत्त हो रहे है, इन्होंने पुलिस विभाग में 36 वर्ष अपनी सेवाएं दी है इस दौरान सरगुजा, जशपुर, सुकमा, बिलासपुर, कोरिया, सूरजपुर जिलें में बेहतर कार्य सम्पादित किए। उन्होंने कहा कि निरीक्षक सदैव अपने कार्यो के प्रति जवाबदेह रहे, अधिनस्थों को सहयोग व मार्गदर्शन देते हुए कर्तव्य निष्ठ रहते हुए अनुशासन को बनाए रखा। पुलिस विभाग की सेवा से सेवानिवृत्त हो रहे निरीक्षक रामचरण राम को पुलिस अधीक्षक ने साल, श्रीफल एवं उपहार भेंट कर सम्मानित किया और बेहतर स्वास्थ्य एवं उज्जवल भविष्य की कामना की।
          इस अवसर पर अधिवक्ता आन रिकार्ड्स सुप्रीम कोर्ट श्री अश्वनी राठौर ने कहा कि मुझे जानकारी मिली है सेवानिवृत्त हो रहे टीआई रामचरण राम का व्यवहार काफी उत्तम है, स्वभाव से सरल व मृदभाषी है, 36 वर्षो तक अपनी सेवा पुलिस विभाग में दी है जो काफी लम्बा समय रहा। उन्होंने निरीक्षक को स्वस्थ्य सुखमय पारिवारिक जीवन जीने और दीर्घायु होने की कामना की।
           इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री हरीश राठौर, कार्यालय अधीक्षक संतोष वर्मा, अखिलेश सिंह, पंकज नेमा, दशरथ पैंकरा, संजय सिंह, जे.एन.साहू, प्रधान आरक्षक गंगाराम, सुरेश सूर्यवंशी, आरक्षक हरेन्द्र सिंह व मनोज ठाकुर उपस्थित रहे।


शनिवार, 27 मार्च 2021

सूरजपुर पुलिस ने 10 लाख कीमत के गुम हुए 42 मोबाईल बरामद कर संबंधित को सौंपा................

लगातार जारी रहेगा अभियान- पुलिस अधीक्षक सूरजपुर।

सूरजपुर: जिले से गुम हुए मोबाइलों को खोजने के लिए सूरजपुर पुलिस की ओर से विशेष अभियान चलाया गया। शनिवार 27 मार्च 2021 को बरामद हुए 42 मोबाइलों को संबंधित व्यक्तियों को सौंपे गए। यह मोबाइल सर्विलांस में लगाकर ट्रेस किए गए थे। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा के निर्देशन में गुम हुए मोबाइल को खोजने के लिए विशेष अभियान चलाया गया। जिसमें साइबर सेल को आवश्यक निर्देश दिए गए कि जो मोबाइल गुम होने संबंधी आवेदन प्राप्त हुए उनका तुरंत ही निराकरण किया जाए। जिस पर सर्विलांस में लगाकर गुम मोबाईल को ट्रेस किए गए। मोबाइल बरामद होने पर आवेदकों को उनके मोबाईल सुपुर्द किए गए।
करीब 10 लाख रुपए की कीमत के 42 मोबाइल सुपुर्द किए।
          जिनमें आवेदक ए.आर.मानिकपुरी, ऋषि देवांगन, रमन सिंह, जीवधन प्रजापति, जर्नादन प्रसाद, राजेन्द्र केरकेट्टा, अंजली रवि, जितेन्द्र राजवाड़े, विवेक, संजय, दिलीप देशमुख, संधारी राम देवांगन, ओ.पी.तिवारी, ओमप्रकाश राजवाड़े, अंचल साहू, शशि कुमार सिन्हा, आदित्य सिंह, विलोन बड़ा, राकेश यादव, जयकरन सिंह, सुरेश कुमार को उनके गुम हुए मोबाईल दी गई। इसके अलावा 22 अन्य लोग जो जिले के विभिन्न क्षेत्र के निवासी है उन्हें संबंधित थाना-चौकी के माध्यम से मोबाईल को सौंपा जाएगा। मोबाइल खोजने में साइबर सेल से आरक्षक युवराज यादव, रौशन सिंह, विनोद सारथी की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।
लगातार जारी रहेगा अभियान।
          पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा ने बताया कि जिले की पुलिस के द्वारा गुम हुए मोबाईल खोजने का यह अभियान लगातार जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि जिन नागरिकों के मोबाईल गुमे थे उनके मोबाईल को खोजकर उन्हें वापस की गई है, मोबाईल पाकर नागरिकों में संतोष का भाव दिखा। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष भी गुम मोबाईलों को खोज जिले की पुलिस ने संबंधित व्यक्तियों को सौंपा था। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, कार्यालय अधीक्षक संतोष वर्मा, अखिलेश सिंह, एएसआई संजय सिंह, जे.एन.साहू सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

बुधवार, 24 मार्च 2021

टावर से एंगल चोरी करने वाले 2 व्यक्ति गिरफ्तार..............

सूरजपुर: बुधवार को एस्सार प्राईवेट कंपनी के मैनेजर संदीप गुप्ता ने चौकी बसदेई में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 22 मार्च 2021 को किसी अज्ञात चोर के द्वारा ग्राम बंजा में लगे एस्सार कंपनी के टाॅवर लोकेशन क्रमांक 111/1, 111/3, 111/4 में लगे 74 नग एंगल को चोरी कर लिया गया है रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 137/21 धारा 379 भादवि का पंजीबद्व विवेचना में लिया गया। मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने चौकी प्रभारी बसदेई को चोरी में संलिप्त व्यक्ति की पतासाजी कर जल्द पकड़ने के निर्देश दिए।
          सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु के मार्गदर्शन में चौकी बसदेई की पुलिस टीम जिन स्थानों से एंगल की चोरी की गई वहां आसपास रहने वालों से पूछताछ करने के दौरान मुखबीर से जानकारी मिली कि ग्राम बंजा निवासी सिद्धनाथ सिंह व विष्णुकांत गुप्ता की गतिविधियां संदिग्ध है जिसके बाद पुलिस ने दोनों संदिग्धों को तलब कर घटना के बारे में बारीकी से पूछताछ की जो दोनों चोरी करना स्वीकार किया। आरोपियों की निशानदेही पर उनके घरों के पैरावट में छुपाकर रखे गए टावर का एंगल कीमत 26 हजार रूपये का जप्त कर आरोपी सिद्धनाथ सिंह पिता बालम उम्र 45 वर्ष एवं विष्णुकांत गुप्ता उर्फ लड्डु पिता स्व. श्यामबिहारी उम्र 28 वर्ष निवासी ग्राम बंजा को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी बसदेई सुनीता भारद्धाज, एएसआई बी.एम.गुप्ता, प्रधान आरक्षक वरूण तिवारी, राहुल गुप्ता, हंसराम कनेडिया, आरक्षक जितेन्द्र पटेल, प्रदीप साहू, अमरेन्द्र सिंह, महेन्द्र प्रताप सिंह, हरिकिशन राजवाड़े, बृजकिशोर ध्रुवा, इसित बेहरा व प्रदीप जायसवाल सक्रिय रहे।

गुरुवार, 18 मार्च 2021

सूरजपुर पुलिस ने अस्पताल कालोनी में हुए चोरी के मामले का किया खुलासा.........

कुख्यात शटर चोर पकड़ा गया।

24 घंटे में 20 लाख की चोरी का खुलासा।

पल्लेदार (हमाल) निकला आरोपी, 19 लाख 54 हजार रूपये नगदी व अन्य सामग्री किया गया जप्त।

05 मार्च 2021 को हुई 4 चोरियां भी स्वीकार की।

सूरजपुर: दिनांक 17.03.2021 को सूरजपुर के अस्पताल कालोनी निवासी संजय जिन्दिया पिता स्व. विजय जिन्दिया ने थाना सूरजपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसके दुकान गोदाम में दिनांक 16 मार्च के दरम्यिानी रात करीब 2-3 बजे के मध्य अज्ञात चोर के द्वारा दुकान का ताला तोड़कर नगद रकम और अन्य कीमती सामान को चोरी किया गया है। प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना सूरजपुर में अपराध क्रमांक 133/21 धारा 457, 380 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

          नगर के बीच हुए चोरी के मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा स्वयं घटना स्थल पहुंचकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, थाना सूरजपुर, विश्रामपुर, जयनगर व जयनगर की पुलिस, डाग स्क्वार्ड व एफएसएल की टीम के साथ मौके का बारीकी से मुआयना कर घटना स्थल पर लगे सीसीटीवी फुटेज निकलवाया इसके अलावा साइबर टीम को काम में लगाया गया। विवेचना के दौरान प्रार्थी का विस्तृत रूप से कथन लिया गया जिसमें उसने बताया कि काउन्टर में कितने रूपये रखे थे उस दौरान मुझे तत्काल याद नहीं था बाद में पुत्र से पूछने पर जानकारी हुई कि करीब 19 लाख रूपये के करीब रकम रहा होगा।

          प्रकरण की संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर के द्वारा स्वयं मामले की मानिटरिंग करते हुए 8 पुलिस टीमों का गठन कर चोरी का खुलासा करने के लिए सभी पहलुओं व दिशाओं में कार्य करने निर्देशित किया। टीम में थाना कोतवाली, विश्रामपुर, जयनगर एवं एफएसएल फिंगर प्रिन्ट, डाॅग स्क्वार्ड एवं साईबर की टीम को लगाया गया और सभी को पृथक-पृथक बिन्दुओं पर कार्य करने हेतु निर्देशित किया। इसी क्रम में सीसीटीव्ही फुटेज से मदद मिली और सूरजपुर सहित आसपास के संदिग्धों व पूर्व में इस प्रकार की वारदात में संलिप्त व्यक्तियों से कड़ी पूछताछ के दौरान ग्राम चंदरपुर गोड़पारा निवासी रामनाथ गोड़ उम्र 43 वर्ष से पूछताछ के दौरान उसकी गतिविधियां संदिग्ध मिली, जिसने प्रारंभ में गोलमोल जवाब देते रहा और कड़ाई से पूछताछ पर बताया कि उक्त चोरी की घटना को अंजाम दिया है जो हमाली (पल्लेदारी) का काम करता है।

          पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि दिनांक 16 मार्च की दरम्यिानी रात को आरोपी रामनाथ गोड़ के द्वारा अस्पताल कालोनी स्थित संजय ट्रेडर्स का पिछले 4-5 दिनों से रेकी कर आने-जाने वाले रास्तों को पहचान करते रहा और घटना दिनांक को रात्रि करीब 2-3 बजे के बीच दुकान के शटर का ताला को राड़ से तोड़कर दुकान में प्रवेश कर काउन्टर में रखे 19 लाख 54 हजार रूपये नगदी एवं सामान कुल करीब 20 लाख रूपये की चोरी किया था जिसे जप्त कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि आरोपी ने दुकान से सिगरेट, साबुन, क्रीम व नगदी रकम अपने साथ ले गया था। आरोपी के मेमोरण्डम कथन के अनुसार चोरी किए गए रकम व सामग्री व घटना में प्रयुक्त आलाजरब जप्त किया गया है।

          पुलिस अधीक्षक ने बताया कि थाना सूरजपुर के अपराध क्रमांक 115/21 धारा 457, 380 भादवि का भी खुलासा हुआ है। इसी आरोपी ने अपना शौक को पूरा करने के लिए पूर्व में भी छोटी-मोटी चोरियां की थी जिसके मामले में जेल भी जा चुका है। हाल ही में मनेन्द्रगढ़ रोड़ के शारदा गैरेज के सामने स्थित दुकान का ताला तोड़कर किराना सामाग्री की भी चोरी किया था साथ ही 1-2 अन्य दुकानों में भी चोरी का प्रयास किया था। मामले में आरोपी रामनाथ गोड़ पिता जलसाय गोड़ उम्र 43 वर्ष निवासी ग्राम चंदरपुर गोड़पारा, थाना सूरजपुर से इस मामले में किराना सामाग्री जप्त किया गया। दोनों मामलों में इस आरोपी को विधिवत् गिरफ्तार किया गया है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मामले की स्वयं माॅनिटरिंग करते रहे और सभी टीमों का मनोबल बनाए रखा।

          इस कार्यवाही में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, फिंगर प्रिन्ट एक्सपर्ट लिनोस किस्पोट्टा, थाना प्रभारी सूरजपुर बसंत खलखो, थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर,, एएसआई बृजकिशोर पाण्डेय, प्रधान आरक्षक तालीब शेख, अदीप प्रताप सिंह, आलोक सोनी, वरूण तिवारी, आनंद सिंह, अमरेश सिंह, आरक्षक विकास पटेल, रामकुमार नायक, जे.पी.तिवारी, रावेन्द्र पाल, सुरेश साहू, युवराज यादव, रौशन सिंह, विनोद सारथी, अशोक एक्का, कौशल कुमार सिंह, दरश देवांगन, अजीत सिंह, लक्ष्मी नारायण मिर्रे, राजकुमार पासवान, रजिन्दर एक्का, अखिलेश पाण्डेय, महेन्द्र सिंह, अरूण बड़ा व ललन सिंह सक्रिय रहे।

मामले की त्वरित खुलासा पर पुलिस महानिरीक्षक, सरगुजा रेंज सरगुजा श्री आर.पी.साय ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए पूरे पुलिस टीम को नगद पुरस्कार देने की घोषणा की है।

सोमवार, 15 मार्च 2021

सूरजपुर पुलिस ने 2 नाबालिग बच्चियों को किया सकुशल बरामद.............

सूरजपुर: दिनांक 12.03.2021 को प्रतापपुर थाना क्षेत्र निवासी एक व्यक्ति ने थाना प्रतापपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसकी 12 वर्षीय नाबालिग पुत्री अपनी 13 वर्षीय चचेरी बहन के साथ घर से बिना बताए कहीं चली गई है जिसका आसपास व रिश्तेदारों में पता करने पर कोई जानकारी नहीं मिली। रिपोर्ट पर थाना प्रतापपुर में गुम इंसान व अपराध क्रमांक 62/21 धारा 363 भादवि का मामला पंजीबद्व करते हुए थाना प्रभारी ने हालात से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराया जो मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए उन्होंने थाना प्रतापपुर की पुलिस टीम को बच्चियों की तत्परतापूर्वक खोजबीन कर सकुशल बरामदगी करने निर्देश दिए।
          एसडीओपी प्रतापपुर पी.एस.महिलाने के मार्गदर्शन में थाना प्रतापपुर की पुलिस टीम ने लगातार गुम बच्चियों की खोजबीन व दस्तयाबी के लिए ग्रामीणों से पूछताछ कर क्षेत्र में सक्रिय मुखबीर लगाया और उन्हें आखरी बार कब व कहां देखा गया था उसकी जानकारी हासिल करते हुए दोनों नाबालिक बच्चियों को थाना चंदौरा क्षेत्र से सकुशल बरामद किया। पूछताछ पर दोनों बच्ची अपने मर्जी से घर से निकली थी जिन्हें सकुशल बरामद कर लिया गया है और उन्हें उनके परिजनों को विधिवत सुपुर्द कर दिया गया है।
          इस कार्यवाही में एसआई नवल किशोर दुबे, प्रधान आरक्षक संतोष सिंह, आरक्षक इंद्रजीत सिंह, अभय तिवारी व जयप्रकाश पन्ना सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने अभिव्यक्ति नारी के सम्मान की कार्यक्रम का किया आयोजन...........

महिलाओं के प्रति अपराधों से संबंधित कानून, साइबर अपराधों से सुरक्षित रहने दी गई जानकारी।

सूरजपुर: पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा के निर्देश पर अभिव्यक्ति नारी के सम्मान की कार्यक्रम का आयोजन रविवार 14 मार्च 2021 को थाना परिसर झिलमिली में किया गया जिसमें भारी संख्या में आसपास क्षेत्र की ग्रामीण महिलाएं तथा स्व सहायता समूह से जुड़े महिलाएं मौजूद रही। इस अवसर पर एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज ने कहा कि सतर्कता में ही सुरक्षा है। आगे उन्होंने कहा कि महिलाएं अपने ऊपर घटित अपराध की रिपोर्ट पुलिस में तत्काल करें, अपराधों को सहन करने के बजाय अपराधियों को दंडित करने के लिए जागरूक रहें। उन्होंने महिलाओं के प्रति अपराधों से संबंधित कानून, महिलाओं को साइबर अपराधों से सुरक्षित रहने के उपाए, डिजिटल दुनिया में किस प्रकार आनलाइन खतरों से बचा जा सके एवं महिलाओं को उनके कानूनी अधिकारों के बारे में विस्तृत जानकारी दी।
          एसडीओपी सुश्री बाज ने ग्रामीण क्षेत्र से आए महिलाओं से चर्चा कर उनका कुशलक्षेम जाना और कहा कि महिलाएं आज किसी से कम नहीं है, उनकी सुरक्षा के लिए कानूनी प्रावधान बने हुए है, महिलाओं के विधिक अधिकारों तथा बच्चों से संबंधित अधिकारों की सुरक्षा हेतु कानून में क्या क्या प्रावधान किये गये है इस संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आप सभी इस कार्यक्रम से प्राप्त जानकारियों को अपने आस पड़ोस की महिलाओं से जरूर शेयर करें ताकि उनमें भी जागरूकता आ सके। एसडीओपी ने महिलाओं को अपना मोबाइल नंबर भी उपलब्ध कराया ताकि वे अपनी समस्या बता सकें।
          चौकी प्रभारी चेन्द्रा आराधना बनोदे व चौकी प्रभारी बसदेई सुनीता भारद्धाज ने आनलाइन खतरे, आनलाइन सीखने के दौरान खतरे, गेम खेलते समय खतरे, मुफ्त डाउनलोड्स से खतरे, सोशल मीडिया से खतरे व आनलाइन चैटिंग के जरिए खतरे, सायबर ठगी, एटीएम फ्राड, मोबाईल ठगी की जानकारी दी साथ ही महिला संबंधी अपराध से बचाव महिलाओं तथा बच्चों की सुरक्षा में गुड टच बैड टच के बारे में बताया।
          इस दौरान थाना प्रभारी झिलमिली रामसाय पैंकरा, थाना के अधिकारी-कर्मचारी सहित काफी संख्या में आसपास क्षेत्र की ग्रामीण महिलाएं व स्व सहायता समूह से जुड़े महिलाएं उपस्थित रहे।

बुधवार, 10 मार्च 2021

सूरजपुर पुलिस की बड़ी कार्यवाही, नशीली इंजेक्शन, सिक्सर व कारतूस के साथ 1 को किया गिरफ्तार..........

सूरजपुर: जिले की पुलिस ने केनापारा-तेलईकछार से एक व्यक्ति को नशीली इंजेक्शन, सिक्सर व जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार किया है। संवेदनशील पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने जिले के पुलिस अधिकारियों को नशे के कारोबार से जुड़े लोगों के विरूद्व सख्त कार्यवाही करते हुए नशे के कारोबार को जड़ से समाप्त करने के कडे़ निर्देश दिए थे। जिले के थाना-चौकी प्रभारी नशीली पदार्थ के गोरख धंधे पर सतत् निगाह रखे हुए थे।
          इसी बीच बुधवार 10 मार्च 2021 को थाना प्रभारी जयनगर को मुखबीर से सूचना मिली कि एक व्यक्ति काले रंग के एक्टिवा से अम्बिकापुर की ओर से नशीली दवाई लेकर सूरजपुर की ओर जा रहा है। जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराया गया जिस पर उन्होंने थाना प्रभारी दीपक पासवान को पूर्ण सतर्कता बरतते हुए घेराबंदी लगाकर पकड़ने के निर्देश दिए।
         अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर के मार्गदर्शन में थाना जयनगर की पुलिस टीम केनापारा-तेलईकछार के पास घेराबंदी लगाया जो एक काले रंग के एक्टिवा में एक व्यक्ति आते दिखा जिसे घेराबंदी कर रोकवाया गया। पूछताछ पर एक्टिवा चालक ने अपना नाम दीपक दीक्षित पिता सच्चिदानंद दीक्षित उम्र 23 वर्ष निवासी सिधेकला, पोस्ट बेलचंपा, थाना गढ़वा, जिला गढ़वा, झारखण्ड, हाल मुकाम साहू गली सूरजपुर का होना बताया जिसके कब्जे से एक्टिवा के पावदान के पास बोरे में 500 नग रेक्सोजेसिक इंजेक्शन एवं 500 नग एविल इंजेक्शन कीमत 24 हजार 3 सौ 50 रूपये एवं एक्टिवा की तलाशी लेने पर झोले से 1 नग सिक्सर व 6 नग जिंदा कारतूस पाया गया साथ ही परिवहन में प्रयुक्त एक्टीवा वाहन क्रमांक सीजी 15 डीएफ 8193 जप्त कर अपराध क्रमांक 64/21 धारा 21सी एनडीपीएस एक्ट व 25, 27 आम्र्स एक्ट के तहत् कार्यवाही करते हुए आरोपी दीपक दीक्षित को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि गढ़वा झारखण्ड से कम कीमत पर नशीली दवा लाकर आसपास क्षेत्र में नशेड़ी प्रवृत्ति के लोगों को 5 से 10 गुना अधिक दर बिक्री कर लाभ अर्जित करता था और सिक्सर को गढ़वा झारखण्ड के बाजार से खरीदकर अपने पास रखना बताया।
        इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, एएसआई विराट विशी, देवनाथ चौधरी, आरक्षक रमेश कसेरा, दीपक दुबे, शिव राजवाड़े, जितेन्द्र सिंह, परदेशी चन्द्रा व राजकुमार पासवान सक्रिय रहे।