शनिवार, 18 जनवरी 2020

सूरजपुर में 31वां सड़क सुरक्षा सप्ताह का हुआ समापन........

*कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने गुड सेमेटिरन व डायल 108 के कर्मचारियों को किया सम्मानित।*

*सुरक्षा सप्ताह के दौरान पुलिस ने कई आयोजनों के माध्यम से लोगों को किया जागरूक।*

*यातायात नियमों का पालन कर अपने साथ-साथ दूसरों की सुरक्षा में भी दे योगदान।*

सूरजपुर। 31वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह जो 11 जनवरी से प्रारंभ हुआ था जिसका शुक्रवार 17 जनवरी 2020 को समापन हुआ। सूरजपुर पुलिस के द्वारा समापन कार्यक्रम नगर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित किया जिसमें सड़क दुर्घटना में घायलों को तत्काल अस्पतालों में पहुंचने वाले *देवदुत डायल 108 के कर्मचारियों एवं गुड सेमेटिरन* को सम्मानित करते हुए *कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक* ने इन्हें स्मृति चिन्ह प्रदाय किया गया।
             इस दौरान *कलेक्टर सूरजपुर श्री दीपक सोनी* ने कहा कि हमें सड़क पर अपनी सुरक्षा के लिए जागरूक रहना चाहिए, जब कम्यूनिटी मूव्हमेंट बनता है तो अपने आप लोग जागरूक होकर सड़क सुरक्षा के नियमों से जुड़ने लगते है, केवल एक सप्ताह में ही हम अपने लक्ष्यों को प्राप्त नहीं कर सकते इसके लिए हमें निरंतर प्रयास करने होंगे। पुलिस अधीक्षक के जिले में पदस्थापना के बाद से अवैध कार्यो पर रोक लगी है, इनके नेतृत्व में सड़क सुरक्षा सप्ताह का क्रियान्वयन बेहतर रूप से किए जाने पर पुलिस अधीक्षक व उनकी टीम को बधाई देते हुए कहा कि पहली बार देखने को मिला कि इन सातों दिनों में कोई न कोई नई गतिविधि देखने को मिली जिसमें हेलमेट रैली, स्कूलों में बच्चों को यातायात नियमों की जानकारी देना, यातायात नियमों के पालन पर लोगों को फूल देकर सम्मानित करना, चालकों के नेत्र व स्वास्थ्य परीक्षण का आयोजन किया गया इस प्रकार के आयोजनों से लोगों में जागरूकता आई है। *कलेक्टर श्री सोनी* ने कहा कि हमारे बीच काफी संख्या में गुड सेमेटिरन मौजूद है जो दुर्घटना में घायलों को उपचार हेतु चिकित्सालय पहुंचाते है। उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान पुलिस के द्वारा किए कार्य को नागरिकगण न्यूज एवं समाचार पत्रों के माध्यम से पढ़कर अवगत होकर भी यातायात नियमों को पालन कर रहे है।
           इस अवसर पर *पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा* ने कहा कि 31वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह जिले में 11 जनवरी से 17 जनवरी 2020 तक मनाया गया जिसका आज समापन है परन्तु ऐसा नहीं है कि केवल सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान ही पुलिस के द्वारा यातायात जागरूकता को लेकर कार्य करेगी बल्कि यह अभियान लगातार जारी रहेगा। सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान जिले की पुलिस ने लगभग 1500 लोगों का स्वास्थ्य व नेत्र परीक्षण कराया, वाहनों के प्रदूषण चेकअप शिविर लगाई गई, सैकड़ों स्कूलों में जाकर बच्चों को यातायात नियमों से वाकिफ कराया एवं उन्हें यातायात नियमों के पालन करने हेतु शपथ दिलाया। इस कार्य में जिले के थाना-चौकी प्रभारियों के अलावा जिले के राजपत्रित अधिकारीगण भी सक्रिय रहे। पुलिस के इस सार्थक प्रयास से जिले के लोगों में यातायात नियमों के प्रति काफी जागरूकता देखी गई और लोग अब बाईक चलाने के दौरान हेलमेट का इस्तेमाल करते दिख रहे है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सड़क सुरक्षा सप्ताह एक ऐसा अवसर है जब हम जीवन और इसके सुरक्षा का महत्व समझ सकते है और इस बात पर विचार कर सकते हैं कि यातायात नियमों का पालन करके हम ना सिर्फ अपनी जान बचा पायेंगे बल्कि की दूसरों की भी रक्षा कर पायेंगे। अगर आप प्रत्यक्ष रुप से इन अभियानों में शामिल नही हो पाते है तो भी आप इन नियमों को मानकर इसमें काफी सहयोग दे सकते है। चाहे कितने भी नियम बना दिये जाये पर आपको यह बात याद रखनी चाहिए की आपके जीवन की सुरक्षा आपके खुदके हाथों में होती है और यातायात नियमों का पालन करके आप अपने साथ-साथ दूसरों की सुरक्षा में भी योगदान दे सकते है।

*31वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान हुए कार्यक्रम:-*

*पुलिस अधीक्षक* ने बताया कि सड़क सुरक्षा सप्ताह के प्रथम दिवस हेलमेट विथ बाईक रैली, स्कूल/कालेजों में सड़क सुरक्षा का प्रचार-प्रसार, सड़क सुरक्षा से संबंधित पम्पलेट का वितरण, महत्वपूर्ण चौक-चौराहों में बैनर/पोस्टर लगाई गई। दूसरे दिन वाहन चालकों का स्वास्थ्य व नेत्र परीक्षण, तीसरे दिन सड़क सुरक्षा सप्ताह का उद्घाटन, सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के संबंध में जागरूकता, डाईविंग लायसेंस वितरण, चौथे दिन वाहनों का प्रदुषण चेकअप, पांचवे दिन चौक-चौराहों में वाहन चालकों को यातायात नियमों का पालन करने पर उन्हें गुलाब देकर सम्मानित व प्रोत्साहित किया गया, छठवें व सातवें दिन स्कूल, कालेजों में यातायात नियमों की जानकारी दिया गया। इस अभियान का आयोजन करने का लक्ष्य सड़क सुरक्षा के लिए सिर्फ साधारण नियमों का पालन करना नहीं बल्कि सुरक्षित सड़क यात्रा पर जोर देना भी था।


*गुड सेमेटिरन व डायल 108 को किया गया सम्मानित।*सड़क सुरक्षा सप्ताह के समापन अवसर पर *कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक* ने गुड सेमेटिरन जरही निवासी जे.पी.गुप्ता व देवेन्द्र सिंह तथा डायल 108 के कर्मचारी निजाम अंसारी, अब्दुल हक खान, अजय साहू, भरतलाल साहू, सुरेन्द्र जायसवाल, गंगा प्रसाद साहू को सड़क दुर्घटना में घायलों को तत्काल चिकित्सालय पहुंचाने पर उनके अमूल्य सहयोग, सेवा व समर्पण तथा लोगों की मदद के जज्बे के लिए सम्मानित करते हुए स्मृति चिन्ह प्रदाय किया।


परिवहन विभाग के जिला सड़क सुरक्षा समिति सूरजपुर की ओर से जिला परिवहन अधिकारी अतुल असैय्या ने कलेक्टर श्री दीपक सोनी, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. आर.एस.सिंह व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री हरीश राठौर को स्मृति चिन्ह भेंट किया। आभार प्रदर्शन सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु ने किया तथा मंच का सफल संचालन डीएसपी रामश्रृंगार यादव के द्वारा किया गया। इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. आर.एस.सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एसडीएम शिव बनर्जी, जिला परिवहन अधिकारी अतुल असैय्या, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, डीएसपी रामश्रृंगार यादव, थाना प्रभारी धर्मानंद शुक्ला, किशोर केंवट, कपिलदेव पाण्डेय, दीपक पासवान, जमाल फिरदौसी, केश्वर नारायण आदित्य, यातायात प्रभारी आर.सी.राय, रेडियों प्रभारी व्ही.एस.जादौन, नगर पालिका के कर्मचारी,पुलिस के कई अधिकारी-कर्मचारी, स्कूली छात्र-छात्राएं, पत्रकारगण सहित काफी संख्या में गणमान्य नागरिकगण मौजूद रहे।

बुधवार, 15 जनवरी 2020

नशीली दवाओं के साथ 1 आरोपी गिरफ्तार, भटगांव पुलिस की कार्यवाही.......





सूरजपुर: भटगांव पुलिस ने एक व्यक्ति से 4 हजार 7 सौ रूपये कीमत के नशीली कफ सिरप व टेबलेट के साथ गिरफ्तार किया है। बुधवार 15 जनवरी को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को मुखबीर से सूचना मिली कि हरिकेश जायसवाल नशीली दवाओं को खरीद-बिक्री करने हेतु छाबड़ा बस से जरही की ओर जा रहा है। सूचना पर पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट को नशीली दवा के कारोबार करने वाले को सर्तकता बरतते हुए घेराबंदी कर पकड़ने के निर्देश दिए।

            अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी भटगांव पुलिस टीम के साथ जरही बस स्टैण्ड पहुंचे उसी दौरान छाबड़ा बस आकर रूकी, बस में पुलिस टीम को चढ़ते देखकर हरिकेश जायसवाल खिड़की से भागने का प्रयास किया जिसे पुलिस टीम ने धरदबोचा। पुलिस ने हरिकेश जायसवाल के कब्जे से 210 नग अल्ट्रासेफ टेबलेट, 60 नग प्रोक्सीवेन प्लस, 446 नग स्पास्मो प्रोक्सीविन, 10 नग रेक्सकोप कफ सिरप एवं 05 नग कफरेक्स सिरप कीमत 4 हजार 7 सौ रूपये का जप्त कर धारा 21बी एनडीपीएस एक्ट के तहत् कार्यवाही कर आरोपी ग्राम तुलसी, चैकी लटोरी 37 वर्षीय हरिकेश जायसवाल पिता जगमोहन जायसवाल को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

         पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि वर्ष 2014 नशीली दवा बेचने के मामले में जेल जा चुका है। पकड़े गए इन नशीली दवाओं को रेनुकोट से लाकर ग्राम तुलसी, लटोरी व करंजी क्षेत्र के नशेड़ी प्रवृत्ति के लोगों को अधिक दर पर बेचकर लाभ अर्जित करता था। 

          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, प्रधान आरक्षक संजय चैहान, राजेश यादव, आरक्षक विनोद प्रताप सिंह व नौशाद अहमद सक्रिय रहे।

सीएसपी ने हेलमेट पहनकर बाईक चलाने वालों को फूल देकर किया सम्मानित........


यातायात नियमों, संकेतकों को ध्यान में रखकर सुरक्षित तरीके से वाहन चलाने दी समझाईश...

सूरजपुर: 31वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के पांचवे दिन जिले की पुलिस ने हेलमेट पहनकर बाईक चलाने वालों को फूल देकर प्रोत्साहित किया। सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत् आमजनों को यातायात नियमों की जानकारी देने एवं हेलमेट पहनने हेतु प्रोत्साहित करने के निर्देश पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने दिए थे जिसके तारतम्य में पुलिस अधिकारियों ने आमजनों तक यातायात नियमों की जानकारी पहुंचाने हेतु कई सार्थक प्रयास कर रही है। 
           बुधवार 15 जनवरी को सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु ने नेशनल हाईवे 43 सूरजपुर के माताकर्ता चैक एवं विश्रामपुर के अम्बेडकर चैक पर हेलमेट पहनकर बाईक चलाने वालों को फूल देकर सम्मानित एवं प्रोत्साहित किया। सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने और यातायात नियमों के प्रति आमजन में जन जागरूकता पैदा करने के मकसद से पुलिस ने यह कदम उठाया है। सीएसपी ने बाईक चालकों को कहा कि हेलमेट पहनकर ही वाहन चलाए, नशे में गाड़ी न चलाने और ओवर स्पीड के नफा-नुकसान से अवगत कराया। वाहन चलाते समय किसी भी हालात में मोबाइल फोन का प्रयोग न करने हेतु कहा। उन्होंने कहा कि वाहन चालकों को लाइसेंस बनवाने के पश्चात ही वाहन चलानी चाहिए, ओवर स्पीड व किसी प्रकार का स्टंट न करें, यातायात नियमों, मार्गों पर स्थापित संकेतकों को ध्यान में रखकर सुरक्षित तरीके से वाहन चलाने की समझाईश दी।
              इस दौरान यातायात प्रभारी आर.सी.राय, एएसआई बृजेश यादव सहित यातायात अमला सक्रिय रहा।

सोमवार, 13 जनवरी 2020

प्रेमनगर विधायक ने राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह का किया शुभारंभ....

*जीवन सुरक्षित बनाने के लिए सड़क सुरक्षा का पालन करना हमारी नैतिक जिम्मेदारी।*

*पुलिस अधीक्षक ने छत्तीसगढ़ राज्य व जिले में सड़क हादसे के आंकड़े की दी जानकारी।*

*जरूरतमंदों को हेलमेट वितरण करने हेतु करें हेलमेट का दान।*

*सॉरी कहने से ज्यादा अच्छा सुरक्षित रहना है।*

सूरजपुर। 31वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के प्रथम दिवस प्रेमनगर विधायक श्री खेलसाय सिंह ने हेलमेट विथ बाईक रैली को हरी झण्डी दिखाई। इस रैली में यातायात जागरूकता को लेकर कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, नपा अध्यक्ष सहित जनप्रतिनिधि, प्रशासन व पुलिस विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों ले हिस्सा लिया। इसी तारतम्य में दूसरे दिन जिले के थाना-चौकी में पुलिस ने वाहन चालकों का नेत्र एवं स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन कराया। सड़क सुरक्षा सप्ताह के तीसरे दिन 13 जनवरी को *प्रेमनगर विधायक श्री खेलसाय सिंह* के मुख्य आतिथ्य में इसका विधिवत् शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के द्वारा रेवती रमण मिश्र महाविद्यालय के 35 छात्र-छात्राओं को लरनिंग लायसेंस प्रदाय किया।
          *मुख्य अतिथि प्रेमनगर विधायक श्री खेलसाय सिंह* ने कहा कि हम सभी को यातायात नियमों का पालन करना चाहिए। दुर्घटना से बचाव तभी संभव है जब हम यातायात नियम का पालन करेंगे। नशे की हालत में वाहन न चलाए, वाहन चलाने के दौरान यदि सबसे आगे चलने की प्रतिस्पर्धा होगी तो निश्चित तौर पर दुर्घटनाएं होगी हमें इससे बचना चाहिए और सुरक्षित गति में वाहन चलानी चाहिए। दुर्घटना की सबसे बड़ी समस्या नशा है जिसके कारण दुर्घटनाएं बढ़ती जा रही है। सभी को अपने जीवन के मूल्यों को समझना बेहद आवश्यक है। यातायात नियमों की जानकारी से सभी अवगत होंगे तो निश्चित तौर पर सड़क हादसे कम होंगे। वाहन चलाने वाले व्यक्ति के पास वैध लायसेंस, वाहन का बीमा हो यह सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि कभी-कभी वाहन की चेकिंग पुलिस करती है इसका उद्देश्य लोगों को परेशान करना नहीं होता बल्कि यह सुनिश्चित करना होता है कि लोग यातायात नियमों का पालन करें।
         इस अवसर पर *पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा* ने कहा कि सड़क सुरक्षा सप्ताह के सातों दिन पुलिस के द्वारा यातायात नियमों को लेकर कई आयोजन करेगी। हेलमेट विथ बाईक रैली एवं वाहन चालकों को नेत्र व स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन कराया गया, इन आयोजनों से लोगों में यातायात नियमों के प्रति जागरूकता का निश्चित तौर पर संचार हुआ होगा और वे यातायात नियमों का पालन करेंगे तथा मोटर सायकल चलाते समय हेलमेट का उपयोग को अपने दिनचर्या में शामिल करेंगे। वाहन चालक यातायात नियमों की पालन किए बिना तेजी से सड़कों पर वाहन दौड़ाते हैं और दुर्घटना का शिकार होते हैं। इसलिए यातायात नियमों की पालना किया जाना आवश्यक है, जिससे जीवन सुरक्षित रहे। उन्होंने कहा कि यातायात व्यवस्था को आने वाले दिनों में पूरी तरह से सुदृढ करने का प्रयास आप सभी के सहयोग से पुलिस के द्वारा किया जाएगा। सॉरी कहने से ज्यादा अच्छा सुरक्षित रहना है। वाहन दुर्घटनाएं हमारे देश में मृत्यु दर में वृद्धि के पीछे एक बड़ा कारण बन गई हैं। हम सभी को इस बात का ध्यान रखना होगा कि जीवन में रीसेट बटन नहीं होता इसलिए कभी भी लापरवाह न रहे, यातायात नियमों का पालन करें और दूसरों को भी सड़क सुरक्षा नियमों के महत्व के बारे में बताए।
        कार्यक्रम में *मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सूरजपुर श्री अश्वनी देवांगन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री हरीश राठौर, जिला परिवहन अधिकारी अतुल असैय्या, नगर पालिका अध्यक्ष श्री के.के.अग्रवाल, नपा उपाध्यक्ष श्री रितेश गुप्ता* ने संबोधित कर यातायात नियमों का पालन करने की बात कही।
         रेवती रमण मिश्रा महाविद्यालय के शिक्षक सी.बी. मिश्रा ने महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं के लायसेंस बनवाने हेतु महाविद्यालय में लायसेंस बनाने हेतु विशेष कैम्प लगवाने पर *पुलिस अधीक्षक* का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि *प्रेमनगर विधायक श्री खेलसाय सिंह* ने 35 छात्र-छात्राओं को लरनिंग लायसेंस प्रदाय किया। मंच का संचालन सेवा निवृत्त शिक्षक गुलाम अहमद के द्वारा किया गया।


*हेलमेट वितरण में करें सहयोग।*

*पुलिस अधीक्षक* ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि मोटर सायकल चलाने के दौरान किसी प्रकार की दुर्घटना से जान बचाने में उपयोगी *‘‘हेलमेट’’* का वितरण सड़क सुरक्षा सप्ताह के समापन पर की जाएगी। हेलमेट वितरण के इस कार्य में सभी संगठनों, व्यवसायिक प्रतिष्ठानों व समाज के गणमान्य लोगों से अपील किया कि वे हेलमेट दान के कार्य में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले ताकि जरूरत मंद लोगों को हेलमेट उपलब्ध कराया जा सके।


*छत्तीसगढ़ राज्य व जिले में सड़क हादसे के आंकड़े।*

*पुलिस अधीक्षक* ने बताया कि छत्तीसगढ़ में वर्ष 2018 में कुल 13 हजार 8 सौ 64 सड़क दुर्घटनाएं घटित हुई जिसमें 4 हजार 5 सौ 92 लोगों की मृत्यु हुई है और 12 हजार 5 सौ 15 व्यक्ति घायल हुए। वर्ष 2019 में कुल 13 हजार 9 सौ 78 सड़क दुर्घटनाएं घटित हुई है जिसमें 4 हजार 9 सौ 34 लोगों की मृत्यु हुई है (जो वर्ष 2018 की तुलना में 7 प्रतिशत अधिक मृत्यु हुई) 12 हजार 5 सौ 15 व्यक्ति घायल हुए।
            सूरजपुर जिले में वर्ष 2018 में कुल 356 सड़क दुर्घटना घटित हुए जिनमें 1 सौ 72 लोगों की मृत्यु हुई और 3 सौ लोग घायल हुए। वर्ष 2019 में 381 सड़क दुर्घटनाएं घटित हुई, इन घटनाओं में 211 लोगों की मृत्यु हुई (जो वर्ष 2018 की तुलना में 18 प्रतिशत अधिक है) इन घटनाओं में 312 लोग घायल हुए।
            इस दौरान सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, डीएसपी रामश्रृंगार यादव, थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, रक्षित निरीक्षक भुपेन्द्र कुर्रे, यातायात प्रभारी आर.सी.राय, चौकी प्रभारी बसदेई सुनील सिंह, चौकी प्रभारी करंजी संजय गोस्वामी, रेडिया प्रभारी व्ही.एस.जादौन, विधायक प्रतिनिधि सुनील अग्रवाल, पार्षद अश्वनी सिंह, संजय डोसी, संतोष सोनी, राधामुनी सिंह, कुसुमलता राजवाड़े, पुष्पलता साहू, जियाजुल हक, रामसिंह, मनोज डालमिया, जफर हैदर, अधिवक्ता निलेश साहू, ज्वाला गुप्ता, पप्पू गुप्ता, एएसआई बृजेश यादव, संजय सिंह, तनवीर खान, आनंद सोनी, सूरज अवस्थी, पत्रकारगण, नगर के गणमान्य नागरिकगण सहित काफी संख्या में स्कूली छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

थाना प्रभारी विश्रामपुर ने महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं को दी यातयात नियमों की जानकारी......

दुर्घटना में घायल व्यक्ति को पहुंचाए चिकित्सालय....

सूरजपुर। सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत् विश्रामपुर पुलिस ने महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं को यातायात नियमों का पालन करने एवं नियमों की अनदेखी से होने वाले हानियों के बारे में अवगत कराया गया। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने जिले की समस्त थाना-चौकी प्रभारियों को 31वां सड़क सुरक्षा सप्ताह के सातों दिन यातायात नियमों के प्रति लोगों व स्कूली बच्चों में अवेयरनेस को लेकर विभिन्न कार्य करने के निर्देश दिए थे।
           इसी तारतम्य में थाना प्रभारी विश्रामपुर कपिलदेव पाण्डेय के द्वारा सड़क सुरक्षा सप्ताह के तीसरे दिन विश्रामपुर स्थित शासकीय महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं को प्रोफेसर डा. राजेश सिंह एवं सहायक प्रोफेसर द्वारका प्रसाद कोरी की उपस्थिति में सड़क सुरक्षा सप्ताह के बारे में अवगत कराकर छात्र-छात्राओं को यातायात नियमों का पालन करने की समझाइश दी गई।
           थाना प्रभारी विश्रामपुर ने महाविद्यालय में अध्यननरत् छात्र-छात्राओं को यातायात नियम के उपाय बताए। उन्होंने छात्र-छात्राओं से कहा कि बाइक, स्कूटी, कार चलाते समय हेलमेट और सीट बेल्ट का प्रयोग करें। बाइक चलाते समय फोन पर बात न करें और न ही सेल्फी लेने की कोशिश करें। अक्सर देखा गया है कि दुर्घटनाएं मोबाइल पर बात करते हुए या मोबाइल से लाइव वीडियो सेल्फी लेते हुए होती हैं। इन सब से बचने के लिए यातायात नियमों का पालन करें क्योंकि आपकी जरा सी चूक से परिवार में गमों का पहाड़ टूट सकता है। उन्होंने कहा कि हाईवे व सड़कों पर दुर्घटनाएं होती हैं और घायल अवस्था में लोग पड़े हैं तो उनकी मदद के लिए तुरंत आगे आएं और पुलिस या डायल 108 को फोन कर चिकित्सालय में पहुंचाकर उनकी जान बचाएं।
          उन्होंने कहा कि दोपहिया या चार पहिया वाहन को 18 वर्ष से कम आयु के व्यक्ति को नहीं चलाना चाहिए, 18 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति के द्वारा यदि वाहन चलाया जाता है तो उसका वैध लाइसेंस होना आवश्यक है, वाहन में दो व्यक्ति बैठे हैं तो दोनों व्यक्तियों को हेलमेट लगाना आवश्यक है इसी प्रकार चार पहिया वाहन चलाते समय सीट बेल्ट अवश्य बांधे, वाहन तेज गति से न चलाएं, वाहन को उचित स्थान पर पार्क करें, अव्यवस्थित कहीं भी पार्क न करने की समझाईश दी। थाना प्रभारी कपिलदेव पाण्डेय ने कहा कि वाहन चेकिंग के दौरान वाहन चालक को रूकने के संकेत देने पर कभी भी तेज गति से भागे नहीं, घबराकर भागने पर कोई गंभीर दुर्घटना घटित होने की संभावना बनी रहती है।
          इस अवसर पर कई छात्र-छात्राओं ने थाना प्रभारी से यातायात नियमों के बारे में सवाल भी पूछे जिसका उत्तर थाना प्रभारी के द्वारा दिया गया। महाविद्यालय प्रबंधन द्वारा पुलिस के इस कार्यक्रम की सराहना करते हुऐ ऐसे आयोजनों पर जोर दिया।
          इस दौरान महाविद्यालय के शिक्षक व काफी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

रविवार, 12 जनवरी 2020

सूरजपुर पुलिस ने वाहन चालकों का कराया नेत्र व स्वास्थ्य परीक्षण....

परीक्षण में चालकों को मोतियाबिंद व दूर-पास देखने की समस्या आई सामने...

सूरजपुर। कई सड़क दुर्घटनाओं में यह देखा गया है कि वाहन चालक का नेत्र कमजोर होने के कारण सामने की ओर से आ रहे वाहन अथवा व्यक्ति को स्पष्ट नहीं देखने की वजह से दुर्घटनाएं हुई। वाहन चालक सही तरीके से देख सकेगा तभी सुरक्षित वाहन चलाएगा। जिले में 31वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के दूसरे दिन रविवार 12 जनवरी 2020 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा के मार्गदर्शन में जिले की यातायात पुलिस व थाना-चैकी प्रभारियों ने ट्रक, बस, टैक्सी व आटो चालकों का नेत्र एवं स्वास्थ्य परीक्षण कराया। खास बात यह रही कि नेत्र परीक्षण में कई वाहन चालकों के देखने की शक्ति अत्यन्त कम पाई गई, कईयों को मोतियाबिंद की शिकायत व दूर-पास देखने की समस्या सामने आई।
         अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री हरीश राठौर की उपस्थिति में कोतवाली परिसर में थाना सूरजपुर व यातायात पुलिस के द्वारा संयुक्त रूप से नेत्र परीक्षण शिविर का आयोजन किया। शिविर में सीएचसी रामानुजनगर के नेत्र सहायक अधिकारी एसपी मिश्रा व पीएचसी कमलपुर के श्री चौधरी के द्वारा 57 ट्रक, बस, टैक्सी व आटो चालकों का नेत्र परीक्षण किया। नेत्र परीक्षण में 32 चालकों की आंखे सही होना, 02 चालकों को मोतियाबिंद की शिकायत होने पर उन्हें आपरेशन कराने की हिदायत एवं 23 चालकों को दूर-पास देखने की समस्या पाई गई। जिन चालकों के आंखों में समस्या पाई गई उन्हें यातायात प्रभारी ने जल्द आपरेशन कराने एवं डाॅक्टर के द्वारा बताए अनुसार चश्मा लगाने की हिदायत दी तथा समस्त वाहन चालकों को यातायात नियमों का पालन करते हुए ही वाहन चलाने अपील की गई।
          इस दौरान जिला परिवहन अधिकारी अतुल असैय्या, थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, यातायात प्रभारी आर.सी.राय, एएसआई बृजेश यादव, प्रधान आरक्षक बालमुकुन्द पाण्डेय, आरक्षक मोरिस खाखा, शिव प्रताप सिंह, लक्षन सिंह, 

कई स्थानों पर पुलिस ने शिविर लगवाकर कराया चालकों का नेत्र व स्वास्थ्य परीक्षण।

पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में जिले की पुलिस के द्वारा अलग-अलग स्थानों पर वाहन चालकों का नेत्र व स्वास्थ्य परीक्षण करवाया। थाना प्रभारी विश्रामपुर के द्वारा नेत्र परीक्षण शिविर, थाना प्रभारी झिलमिली जमाल फिरदौसी, चौकी प्रभारी खड़गवां सरफराज फिरदौसी, चौकी प्रभारी उमेश्वरपुर गणेश राम चौहान, चौकी प्रभारी रेवटी लवकुमार पाण्डेय, चौकी प्रभारी लटोरी सुभाष कुजूर के द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन कर वाहन चालकों का नेत्र व स्वास्थ्य परीक्षण कराया। शिविर में कई वाहन चालकों की आंखों की देखने की क्षमता कम पाई गई, कईयों को पावर के चश्मे की सख्त आवश्यकता होना, कई चालकों को बीपी. शुगर व शारीरिक कमजोरी की समस्या पाई गई।

सूरजपुर में 31वां सड़क सुरक्षा सप्ताह का विधायक प्रेमनगर ने किया शुभारंभ........

विधायक प्रेमनगर ने हरी डण्डी दिखाकर बाईक विथ हेलमेट रैली किया रवाना..

रैली की अगुवाई सूरजपुर कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, नपा अध्यक्ष ने किया...

कोतवाली सूरजपुर से रैली प्रारंभ हुई जिसका जयनगर थाना में हुआ समापन...

लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने सातों दिन होंगे विविध आयोजन....

सूरजपुर: 31वां यातायात सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत् आमजनों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने, दो पहिया वाहन चालकों को अनिवार्य रूप से हेलमेट पहनने हेतु प्रेरित करने, दुर्घटना से बचाव के उपाय से लोगों को अवगत कराने, स्कूली छात्र/छात्राओं को यातायात नियमों की जानकारी सहित यातायात संबंधी विविध आयोजन सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान सूरजपुर पुलिस के द्वारा दी जाएगी। सूरजपुर में 31वां यातायात सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारंभ शनिवार 11 जनवरी 2020 को प्रेमनगर विधायक श्री खेलसाय सिंह के द्वारा किया गया।
            इस अवसर पर प्रेमनगर विधायक श्री खेलसाय सिंह, कलेक्टर सूरजपुर श्री दीपक सोनी, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा, नपा अध्यक्ष श्री के.के.अग्रवाल ने यातायात नियमों की जानकारी से संबंधित सड़क सुरक्षा जागरूकता पम्पलेट का विमोचन किया। 31वां सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारंभ व बाईक रैली को प्रेमनगर विधायक श्री खेलसाय सिंह ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। 


बाईक विथ हेलमेट रैली का हुआ आयोजन।

सड़क यातायात सुरक्षा के प्रति लोगों को जागृत करने व हेलमेट की उपयोगिता बताने शनिवार 11 जनवरी 2020 को कोतवाली से सूरजपुर कलेक्टर श्री दीपक सोनी, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा, नपा अध्यक्ष श्री के.के.अग्रवाल, जनप्रतिनिधिगण, आरटीओ, प्रशासन व पुलिस के अधिकारी-कर्मचारियों सहित नगर वासियों ने बाईक विथ हेलमेट रैली निकाली जो कोतवाली से प्रारंभ होकर थाना जयनगर में समाप्त हुई।


पूरे सप्ताह पुलिस यातायात जागरूकता हेतु करेगी विविध आयोजन।

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने बताया कि 31वां सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान सातों दिन आमजनों, स्कूली छात्र/छात्राओं को यातायात नियमों की जानकारी दी जाएगी, चौक-चौहारों पर यातायात नियमों की जानकारी देते हुये आमजन को हेलमेट का उपयोग करने, वाहन चालकों की निःशुल्क स्वास्थ्य एवं नेत्र परीक्षण कराया जाएगा, बैनर, पोस्टर, पंपलेट के माध्यम से वाहन चालकों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक किया जाएगा साथ ही बिना नंबर के वाहनों में नंबर लिखवाई जायेगी। 
            इस अवसर पर प्रेमनगर विधायक श्री खेलसाय सिंह ने कहा कि आमजन यातायात नियमों का पालन करें ताकि दुर्घटना से बचा जा सके, बाईक चलाते समय हेलमेट का उपयोग अवश्य करें, हेलमेट का उपयोग नहीं करने से दुर्घटना के समय सिर में चोट लगने से व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है इससे बचाव के लिए हेलमेट धारण किया जाना आवश्यक है क्योंकि हमारी सुरक्षा से पूरे परिवार की सुरक्षा भी जुड़ी होती है। सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को प्राथमिक उपचार नहीं मिलने के कारण उसकी मृत्यु हो जाती है इस हेतु आमजनों को घायल व्यक्ति को तुरंत निकटतम अस्पताल ले हेतु आग्रह किया। 
           कलेक्टर श्री दीपक सोनी ने 31वां सड़क सुरक्षा सप्ताह के शुभारंभ के अवसर पर लोगों व स्कूली बच्चों के बीच पहुंचकर उन्हें यातायात नियमों की जानकारी देते हुए कहा कि दो पहिया वाहन चालक वाहन में तीन सवारी न बैठाए, वाहन चलाते समय मोबाइल से बात न करें, तीव्र गति व नशे की हालत में वाहन न चलाये, दोपहिया वाहन हेलमेट धारण कर ही चलाये। लोगों को यातायात के प्रति जागरूक करने कलेक्टर श्री सोनी खुद मोटर सायकल चलाकर बाईक विथ हेलमेट रैली में सम्मिलित हुए।
          पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने कहा कि हेलमेट आपकी सुरक्षा के लिये है इसका उपयोग स्वेच्छा से करें, अधिकतर् सड़क दुघर्टनाएं यातायात नियमों का पालन नहीं करने से होते है, हेलमेट पहनने के फायदों तथा हेलमेट नहीं पहनने से पूर्व में हुये दुर्घटना के बारे में की जानकारी देते हुए आमजनों से यातायात नियमों का पालन करने की अपील की। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि वाहन चलाते समय क्या-क्या सावधानी रखनी चाहिए, इसकी जानकारी देने आज से एक सप्ताह तक जागरूकता सप्ताह मनाया जा रहा है, जिसमें पोस्टर, चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। 


थाना-चैकी प्रभारियों ने भी निकाली बाईक विथ हेलमेट रैली।

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर के निर्देश पर जिले के थाना-चौकी प्रभारियों के द्वारा लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने व हेलमेट पहनने हेतु प्रोत्साहित करने हेतु बाईक विथ हेलमेट रैली निकाली।


इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एसडीएम शिव बनर्जी, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, डीएसपी अजाक बालसाय केरकेट्टा, जिपअ. अतुल असैय्या, तहसीलदार नंदजी पाण्डेय, प्रदेश सचिव नरेश राजवाड़े, नपा उपाध्यक्ष रितेश गुप्ता, थाना प्रभारी धर्मानंद शुक्ला, कपिलदेव पाण्डेय, दीपक पासवान, निरीक्षक नरेन्द्र सिंह, यातायात प्रभारी आर.सी.राय, चौकी प्रभारी सुनील सिंह, संजय गोस्वामी, पार्षद गैबीनाथ साहू, जियाजुल हक, संतोष सोनी, पीआरए ग्रुप के राहुल अग्रवाल (टिंकू), आनंद सोनी, तनवीर खान, नगर के गणमान्य नागरिक, पत्रकारगण व काफी संख्या में स्कूली छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

शुक्रवार, 10 जनवरी 2020

कोतवाली पुलिस ने चोरी के 6 मोटर सायकलों को किया बरामद.......

चोरी के आरोपी एवं वाहन खरीददार को पुलिस ने किया गिरफ्तार

आरोपी ने मोटर सायकलों को सूरजपुर व सरगुजा जिले से किया था चोरी

सूरजपुर। गत् दिवस थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम लांची निवासी बंधन सिंह चोरी के प्लेटिना मोटर सायकल को बिक्री करने की फिराक में गांव में घुम रहा है। जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने पुलिस टीम को घेराबंदी कर आरोपी को पकड़ने के निर्देश दिए।
             थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला पुलिस टीम के साथ ग्राम लांची पहुंचे जहां गांव में बंधन सिंह को बिना नंबर के सिल्वर कलर के प्लेटिना मोटर सायकल चलाते देखा जिसे पुलिस टीम ने घेराबंदी कर पकड़ा। पुलिस ने बंधन सिंह सेे मोटर सायकल के दस्तावेज की मांग किए जाने पर उसने कोई दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किया। पुलिस के पूछताछ पर बंधन सिंह ने बताया कि 02 माह पूर्व मानपुर सूरजपुर से बिना नंबर प्लेटिना मोटर सायकल को चोरी कर स्वयं उपयोग कर रहा था और मोटर सायकल को बेचने के लिए ग्राहक की तलाश कर रहा था। 
             पुलिस टीम के सख्ती से पूछताछ करने पर आरोपी बंधन सिंह ने बताया कि 01 माह पूर्व एक बिना नंबर हीरा होण्डा स्पेन्डर मोटर सायकल को खड़गवां से चोरी कर ग्राम कोसगा (परसापारा) थाना लखनपुर के संतोष राम भूमिमा के पास बिक्री करना, 04 माह पूर्व एक बिना नंबर फैशन प्रो मोटर सायकल को ग्राम मांजा रामानुजनगर से चोरी कर ग्राम जजावल, थाना चंदौरा के प्रीतम सिंह के पास गिरवी रखना, 01 वर्ष पूर्व बिना नंबर सुपर स्पेलेन्डर मोटर सायकल को ग्राम फुलकोना प्रेमनगर से चोरी कर वाहन खराब होने पर ग्राम जजावल निवासी रिश्तेदार आगरसाय सिंह के यहां रखना, 01 वर्ष पूर्व बिना नंबर बजाज डिस्क्वर मोटर सायकल को प्रतापपुर से चोरी कर ग्राम सिंगरी, थाना चंदौरा के उत्तम दास पनिका के पास 4 हजार रूपये में गिरवी रखना तथा 08 माह पूर्व बजाज डिस्क्वर मोटर सायकल क्रमांक सीजी 15 सीक्यू 1475 को ग्राम डांडगांव, थाना उदयपुर से चोरी कर ग्राम जटासेमर, थाना बैकुण्ठपुर जाने पर वहां किसी बात को लेकर विवाद होने पर मोटर सायकल को छोड़कर भाग जाना बताया है। 
            कोतवाली पुलिस ने आरोपी के निशानदेही पर चोरी के 6 मोटर सायकल कीमत करीब 2 लाख 10 हजार रूपये को बरामद कर आरोपी ग्राम लांची, थाना सूरजपुर निवासी 28 वर्षीय बंधन सिंह पिता चन्द्रभान सिंह एवं वाहन खरीददार ग्राम कोसगा (परसापारा), थाना लखनपुर निवासी 28 वर्षीय संतोष राम भूमिमा पिता भलेराम के विरूद्व धारा 41(1-4) जा.फौ./379, 411, 34 भादवि के तहत् कार्यवाही कर विधिवत् गिरफ्तार किया है। 
           पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने बताया कि पूछताछ पर आरोपी बंधन सिंह ने 02 और मोटर सायकलों को चोरी करने की बात बताई है जिसकी बरामदगी हेतु पुलिस टीम लगी हुई है।
इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एसआई हिम्मत सिंह शेखावत, एएसआई गजपति मिर्रे, प्रधान आरक्षक बिसुनदेव पैंकरा, सुरेन्द्र सिंह, आरक्षक प्रेमसागर साहू, रामकुमार नायक, रावेन्द्र पाल व कमलेश मानिकपुरी सक्रिय रहे।

शनिवार, 4 जनवरी 2020

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर को मिली थी जंगल में जुआ खेलने की सूचना........

लटोरी जंगल में जुआ खेल रहे 7 जुआड़ियों को ज्वाइंट पुलिस टीम ने पकड़ा

जुआड़ियों व जुआ फड़ से 1 लाख 25 हजार 8 सौ 20 रूपये बरामद

सूरजपुर: लटोरी पुलिस ने लटोरी जंगल में जुआ खेल रहे 7 जुआड़ियों को जुआ खेलते पकड़ा जिनके पास व जुआ फड से 1 लाख 25 हजार 8 सौ 20 रूपये जप्त कर इन लोगों के विरूद्व जुआ एक्ट के तहत् कार्यवाही किया है। शुक्रवार 03 जनवरी 2020 की देर शाम पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को मुखबीर से सूचना मिली की लटोरी जंगल में कुछ लोग रूपये पैसों का दाव लगाकर जुआ खेल रहे है। पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा ने इन जुआड़ियों को घेराबंदी कर सावधानी बरतते हुए पकड़ने के निर्देश चौकी लटोरी व थाना जयनगर की ज्वाइंट पुलिस टीम को दिए।
                चौकी प्रभारी लटोरी सुभाष कुजूर के नेतृत्व में पुलिस टीम लटोरी जंगल पहुंचे जहां काफी खोजबीन के बाद घने जंगल के बीच कुछ लोगों की आवाज सुनाई दी। पुलिस टीम सावधानीपूर्वक उस स्थान पर पहुंची जहां जुआड़ियान हारजीत का दाव लगाकर जुआ खेल रहे थे। पुलिस टीम ने घेराबंदी कर जंगल में जुआ खेल रहे ग्राम अनरोखा, थाना भटगांव निवासी मिथलेश सोनपाकर, ग्राम बुंदिया भटगांव निवासी नंदु गुप्ता, विश्रामपुर निवासी प्रेम सिंह, ग्राम करवां लटोरी निवासी गया प्रसाद राजवाड़े, जियाउल हक, खुर्शीद आलम व ताहिर को पकड़ा जिनके कब्जे व जुआ फड से पुलिस टीम ने 1 लाख 25 हजार 8 सौ 20 रूपये जप्त कर सभी के विरूद्व धारा 13 जुआ एक्ट के तहत कार्यवाही किया है।
                 इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, चौकी प्रभारी लटोरी सुभाष कुजूर, प्रधान आरक्षक विशाल मिश्रा, विवेकानंद सिंह, संजय सिंह यादव, रजनीश त्रिपाठी, आरक्षक विकास मिश्रा, शोभनाथ कुशवाहा, मनेश्वर सिंह, देवनंदन राजवाड़े, अजय शुक्ला, चंदर साय राजवाड़े, प्रेम सिंह, प्रेम राजवाड़े, भूपेन्द्र सिंह, नंदकिशोर राजवाड़े, ललन सिंह व दीपक दुबे सक्रिय रहे।

शुक्रवार, 3 जनवरी 2020

रेवटी पुलिस ने पत्नी के हत्यारे पति को किया गिरफ्तार...

टीव्ही खरीदने की विवाद को लेकर की हुई थी हत्या

सूरजपुर। 31 दिसम्बर 2019 को ग्राम सोनडीहा, चौकी रेवटी निवासी अशोक पटेल ने रेवटी चौकी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि गत् 29 दिसम्बर की दरम्यिानी रात्रि में अनुज पटेल एवं उसकी पत्नी शीला पटेल के मध्य कूपन में टीव्ही खरीदने की बात लेकर आपस में विवाद हुआ, टीव्ही खरीदने एवं अन्य पुराने बातों को लेकर अनुज पटेल ने अपनी पत्नी शीला पटेल को टांगी से सिर में मारकर हत्या कर फरार हो गया है रिपोर्ट पर रेवटी पुलिस ने अनुज पटेल के विरूद्व अपराध क्रमांक 79/19 धारा 302 भादवि का अपराध पंजीबद्व किया और तत्काल मौके पर पहुंचकर शव पंचनामा बाद मृतिका के शव को पीएम हेतु अस्पताल भेजवाया। मामले की सूचना पर *पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा* ने हत्या के मामले में फरार आरोपी की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश देते हुए खुद मामले की लगातार मानिटरिंग करते रहे।
             मामले की जांच एसडीओपी प्रतापपुर राकेश पाटनवार के नेतृत्व में रेवटी पुलिस के द्वारा किया गया। हत्या की वादरात को अंजाम देने के बाद से ही आरोपी अनुज पटेल फरार था जिसकी पतासाजी पुलिस टीम द्वारा की जा रही थी इसी दौरान चौकी प्रभारी रेवटी को मुखबीर से सूचना मिली कि आरोपी अनुज पटेल एकनरा गांव, थाना बसंतपुर में भैंस खोजने के नाम पर घुम रहा है। जिसकी जानकारी से चौकी प्रभारी रेवटी लवकुमार पाण्डेय ने *पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा* को अवगत कराया जिस पर उन्होंने आरोपी की गिरफ्तारी हेतु रेवटी पुलिस टीम को निर्देशित किया।
            रेवटी पुलिस टीम ग्राम एकनरा बसंतपुर में रात्रि में पहुंची जहां आरोपी गांव के एक सुनसान मकान में छिपा था पुलिस टीम जैसे वहां पहुंची आरोपी पुलिस को देखकर भागने लगा जिसे पुलिस टीम ने घेराबंदी कर पकड़ा। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसका अपनी पत्नी के साथ टी.व्ही. खरीदने की बात को लेकर विवाद हुआ इस दौरान पत्नी ने अनावश्यक पैसा बर्बाद कर दिये हो कहकर झगड़ा-विवाद कर रही थी जिस कारण आवेश में आकर घर में रखे टांगी से सिर में प्रहार कर हत्या कर दिया। पुलिस ने आरोपी के निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त टांगी को जप्त कर आरोपी अनुज पटेल पिता मानकधारी उम्र 53 वर्ष निवासी ग्राम सोनडीहा, चौकी रेवटी को विधिवत् गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया।
             इस कार्यवाही में एसडीओपी प्रतापपुर राकेश पाटनवार, थाना प्रभारी चंदौरा एन.के.त्रिपाठी, चौकी प्रभारी रेवटी लवकुमार पाण्डेय, प्रधान आरक्षक लिनुस लकड़ा, अनुरूद पैंकरा, रामनिवास तिवारी, आरक्षक ज्योतिष पटेल, नगर सैनिक प्रेमलाल सिंह, रितेश मिश्रा सक्रिय रहे।