सोमवार, 26 फ़रवरी 2024

अंधे कत्ल का खुलासा करने में सूरजपुर पुलिस को मिली सफलता। लूट की मोबाईल से आरोपी ने फिरौती की रकम मांगी थी। बालक का अपहरण कर हत्या करने के मामले में पुलिस ने 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार।

सूरजपुर। थाना प्रतापपुर में वार्ड क्रमांक 04 प्रतापपुर निवासी प्रार्थी अशोक कुमार कष्यप पिता स्व. श्री विश्वनाथ कश्यप द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनांक 29.01.2024 के शाम करीब 4.00 बजे इसका 10 वर्षीय नाबालिक बालक खेलने के लिये जा रहा हूं कहकर घर से निकला था जो शाम करीब 5.00 बजे तक घर वापस नहीं आया तो बालक की पतासाजी आस-पडोस एंव रिश्तेदारी में किये पता नहीं चला है, शंका है कि बालक को कोई अज्ञात व्यक्ति बहला फुसलाकर भगाकर अपने साथ ले गया है। प्रार्थी की रिपोर्ट गुम इंसान क्रमांक 06/24 एवं अपराध क्रमांक 48/24 धारा 363 भादसं0 का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना पतासाजी में लिया गया। मामले की सूचना पर पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज श्री अंकित गर्ग (भा.पु.से.) ने प्रकरण की लगातार मॉनिटरिंग कर जरूरी मार्गदर्शन कर निर्देश दिए।
            मामले की गंभीरता को देखते हुए उप पुलिस महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री एम.आर.आहिरे (भा.पु.से.) ने अपहृत नाबालिक बालक एवं अज्ञात आरोपी के पतासाजी हेतु एएसपी शोभराज अग्रवाल के नेतृत्व में पुलिस टीम गठित कर गंभीरतापूर्वक विवेचना करते हुए बालक एवं आरोपी की पतासाजी के लिए लगाया। गठित टीम द्वारा हर संभव प्रयास किया जा रहा था जो पतासाजी दौरान प्रार्थी के मोबाईल नम्बर पर अज्ञात व्यक्ति द्वारा फोन कर बालक को अपने कब्जे में होना बताते हुए फिरौती की मांग किया। जिसके कॉल का वाईस रिकार्डिंग प्रार्थी के पेश करने पर जप्त किया गया है। बाद अज्ञात व्यक्ति द्वारा प्रार्थी के घर में फिरौती के संबंध में धमकी भरा एक चिट्ठी दिनांक 14-15 फरवरी 2024 के दरमियानी रात एवं एक चिट्ठी व फिरौती के कॉल करने में इस्तेमाल किया गया आई टेल कम्पनी का की-पैड मोबाईल छोड़ने से प्रार्थी के पेश करने पर दोनों चिट्ठी एवं मोबाईल को जप्त किया गया। प्रकरण में अपहृत बालक व अज्ञात आरोपी के पतासाजी हेतु हर संभव प्रयास किये जाने के दौरान मुखबीर से सूचना मिला कि अपहृत बालक के पड़ोसी शुभम सोनी उर्फ गोलू एवं विशाल ताम्रकर की गतिविधि घटना दिनांक से ही संदिग्ध है, दोनों के मोबाईल नम्बरों के सीडीआर का अवलोकन किया जाकर दोनों संदेहियों को तलब कर कड़ाई से पूछताछ किया गया, जो दोनों के द्वारा बताया गया उनके द्वारा फिरौती के लिए दिनांक 29.01.2024 को नाबालिक बालक का प्रतापपुर कॉलेज रोड पुल के पास से अपहरण कर मोटर सायकल से ग्राम करसी प्रेममारा जंगल ले गये जहां रात होने पर अपहृत बालक के द्वारा घर ले जाने का जिद करने से विशाल ताम्रकर डण्डा से बालक के सिर में मारा जिससे बालक की मौके पर मृत्यु हो गई, फंसने के डर से दोनों बालक के शव को प्रेममारा जंगल करसी में पत्थर खोह पर अपने मोटर सायकल से पेट्रोल निकाल कर जलाकर घर वापस आ गये। शव को जलाने के दो दिन बाद विशाल ताम्रकर बुलेट मोटर सायकल से पुनः प्रेममारा जंगल जाकर मृतक बालक के जले हुए हड्डियों के टुकड़ों को जंगल घटना स्थल के पास ही अलग-अलग जगह फेंक दिया। दिनांक 08.02.2024 को शुभम सोनी उर्फ गोलू अम्बिकापुर जाकर लटोरी रोड से एक व्यक्ति का मोबाईल लूटकर ले गया और उसी लूट के मोबाईल से प्रार्थी अशोक कश्यप के मोबाईल नम्बर पर फिरौती के लिए कॉल करने लगा तथा शुभम सोनी फिरौती के लिए धमकी भरा चिट्ठी लिखकर प्रार्थी के घर फेंकने लगा, दोनों संदेहियों का गवाहों के समक्ष पृथक-पृथक मेमोरण्डम कथन लेख कर दोनों आरोपियों को पुलिस टीम, गवाहों एवं परिजनों के साथ ग्राम करसी प्रेममारा जंगल पत्थल खोह पहूंचकर आरोपियों के निशानदेही पर जंगल का बारीकी से सर्च कराया गया जो मृतक के कपड़ों का जला अवशेष, प्लास्टिक बोतल का अवशेष, 1 जोड़ी चप्पल, मृतक के खोपड़ी एवं शरीर के अन्य भागों के हड्डियों के जले अवशेष बरामद हुआ। मौके पर सर्च पंचनामा तैयार कर चप्पल को मृतक के परिजन पिता अशोक कश्यप को दिखाकर चप्पल को पहचान करने से विधिवत् पहचान पंचनामा बाद बरामदगी पंचनामा तैयार किया गया। मौके पर देहाती मर्ग इन्टीमेशन चाक कर शव पंचनामा कार्यवाही उपरांत शव का पी.एम. कराया गया।
                 आरोपी विशाल ताम्रकर के निशानदेही पर मृतक का एक जोड़ी चप्पल, घटना में प्रयुक्त डण्डा, जले हुए कपड़े के अवशेष, प्लास्टिक का पानी बोतल के अवशेष, राख, बजाज सीटी 100 मोटर सायकल क्रमांक सीजी 15 डीजे 5130 एवं विवो कम्पनी का मोबाईल जप्त किया गया है एवं आरोपी शुभम सोनी उर्फ गोलू से उसका स्वभाविक लेख, वाईस सैम्पल एवं उसका रियल-मी कम्पनी का मोबाईल जप्त किया गया है, प्रकरण में धारा 364(क), 302, 201, 120(बी) भादसं. जोड़ी गई है। आरोपी (1) शुभम सोनी उर्फ गोलू पिता कमलेश सोनी उम्र 26 वर्ष (2) विशाल ताम्रकार पिता राजेन्द्र ताम्रकार उम्र 28 वर्ष दोनों निवासी वार्ड क्र. 04 प्रतापपुर, थाना प्रतापपुर को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा जा रहा है।
            आईजी सरगुजा रेंज के द्वारा साईबर थाना अम्बिकापुर सरगुजा के साइबर टीम से एसआई प्रसाद सिन्हा, विवेक खलखो, आरक्षक कुन्दन शर्मा, अंशुल शर्मा को मामले में जल्द तकनीकी सहयोग के लिए भेजा था साथ ही जिले के साईबर टीम के एएसआई राकेश यादव, आरक्षक रोशन सिंह व युवराज यादव का भी विशेष सहयोग रहा।
              उपरोक्त सम्पूर्ण कार्यवाही में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शोभराज अग्रवाल, एसडीओपी प्रतापपुर अरूण नेताम स्वयं मौके पर उपस्थित रहकर पूरी कार्यवाही में मार्गदर्शन दिया गया साथ ही कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रतापपुर लक्ष्मण सिंह धुर्वे, थाना प्रभारी चंदौरा प्रमोद पाण्डेय, चौकी प्रभारी लटोरी सुनील सिंह, चौकी प्रभारी खड़गवां योगेन्द्र जायसवाल, चौकी प्रभारी चेन्द्रा संतोष सिंह, एएसआई हरिशंकर तिवारी, प्रधान आरक्षक रजनीश त्रिपाठी, मनोज केरकेट्टा, रामाधीन श्यामले, भुपेन्द्र पोर्ते, विनोद परीडा, आनंद प्रकाश एक्का, विशाल मिश्रा, संजय यादव, महिला प्रधान आरक्षक सरिता टोप्पो, आरक्षक अखिलेश पाण्डेय, इन्द्रजीत सिंह, राजेश तिवारी, अवधेश कुशवाहा, अरविन्द पाण्डेय, पुष्पेन्द्र राजवाड़े, नन्दकिशोर राजवाड़े, शोभनाथ कुशवाहा, भीमेश आर्मो, निशांत टोप्पो, विरेन्द्र कुजूर, अपील चौधरी, निरंजन एक्का, अभिमन्यू पैकरा, विनोद प्रताप सिंह व मनोज राय सक्रिय रहे।

जुआ खेलाने वाले व्यक्ति को थाना रामानुजनगर पुलिस ने किया गिरफ्तार।

सूरजपुर। उप पुलिस महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री एम.आर.आहिरे (भा.पु.से.) के कड़े निर्देश के बाद से ही जिले की पुलिस लगातार अवैध कार्यो में लिप्त लोगों के विरूद्ध कार्यवाही करने में लगी हुई है। दिनांक 24.02.24 को थाना रामानुजनगर पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम मंहगई के साप्ताहिक बाजार में एक व्यक्ति खड़खड़िया नामक जुआ 6 प्रकार के चिन्ह का उपयोग करके लोगों को इकट्ठा कर रूपये पैसे का दाव लगवाकर हारजीत नामक खुआ खेलवा रहा है।
             सूचना पाकर थाना रामानुजनगर पुलिस फौरन मंहगई बाजार पहुंचकर रेड कार्यवाही किया जिसमें खडखडिया नामक जुआ खेलाते हुए एक व्यक्ति मिला तथा हारजीत का जुआ खेलने वाले व्यक्ति पुलिस को देखकर भाग गए। जुआ खेलाने वाला व्यक्ति रमेश कुमार साहू उर्फ गुड्डा पिता स्व. रामलाल साहू उम्र 46 वर्ष निवासी मानपुर, थाना सूरजपुर को पकड़कर उसके कब्जे से एक बैनर में छपे हुए 6 प्रकार के चिन्ह, 6 नग गोटी, बाल्टी, 1510 रूपये नगद जप्त कर छत्तीसगढ़ जुआ प्रतिषेध अधिनियम 2022 की धारा 6 के तहत कार्यवाही कर गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी रामानुजनगर प्रकाश राठौर, एएसआई बिसुनदेव पैंकरा, प्रधान आरक्षक सुशील तिवारी, आरक्षक महेन्द्र प्रताप सिंह, दीपक यादव, अमलेश्वर सिंह व कौशलेन्द्र सिंह सक्रिय रहे।

शुक्रवार, 23 फ़रवरी 2024

उमनि/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने ली जनरल परेड की सलामी, अधिकारी व जवानों को उत्कृष्ट कार्य के लिए किया प्रेरित

सूरजपुर पुलिस बल में अनुशासन बनाये रखने रक्षित केंद्र में शुक्रवार को जनरल परेड कराई गई। उप पुलिस महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री एम.आर.आहिरे द्वारा जनरल परेड की सलामी ली गई। इसके बाद परेड में सम्मिलित अधिकारी, कर्मचारी के वेशभूषा का निरीक्षण किया गया। उत्तम वेशभूषा धारण करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को पुरस्कृत किया गया तत्पश्चात् थाना प्रभारियों से टोलीवार स्कवार्ड ड्रिल करवाया। शासकीय वाहनों का जायजा लेकर कमियों को तत्काल सुधार कराने एवं डाग स्क्वार्ड को बेहतर प्रशिक्षण देने डाग हेंडलर को निर्देशित किया।

कर्मचारियों की सुनी समस्या, किया निराकरण। 

        उमनि/एसएसपी श्री आहिरे ने पुलिस जवानों की समस्याओं को सुना और उसका निराकरण किया। उन्होंने जवानों को कहा कि जब आप फिट रहेंगे तभी अपने कर्तव्यों का निर्वहन कर सकेंगे इसके लिए चुस्त-दुरूस्त रहना बेहद जरूरी है, इस हेतु पुलिस के जवानों को अपने फिटनेश पर विशेष ध्यान देने को कहा। उन्होंने कहा कि ड्यूटी के दौरान सभी बावर्दी दुरूस्त रहकर ड्यूटी करें, सौंपे गए कार्या को पूरी ईनामदारी एवं लगन करें तथा आमजन से शालीनतापूर्वक व्यवहार करें ताकि आमजन के मन में पुलिस के कार्य व उनकी प्रकृति के प्रति विश्वास और बढ़े, थाना-चौकी में तैनात अधिकारी व जवानों को रिकार्ड संधारण सहित उत्कृष्ट कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया 

        इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शोभराज अग्रवाल, सीएसपी सूरजपुर एस.एस.पैंकरा, एसडीओपी सूरजपुर नंदिनी ठाकुर, डीएसपी मुख्यालय महालक्ष्मी कुलदीप, रक्षित निरीक्षक अशोक गिरी, थाना-चौकी प्रभारी सहित विभिन्न थाना-चौकी के अधिकारी-कर्मचारीगण मौजूद रहे।

मंदिर से चोरी करने वाले 2 आरोपियों को थाना भटगांव पुलिस ने किया गिरफ्तार।

सूरजपुर जरही निवासी आचार्य देवकी नंदन पाण्डेय ने दिनांक 20.02.24 को थाना भटगांव में रिपोर्ट दर्ज कराया कि जरही स्थित शिव मंदिर परिसर में 19.02.2024 को रात्रि में कोई अज्ञात चोर के द्वारा मंदिर परिसर का ताला तोड़कर मंदिर में रखा 3 नग दान पेटी, अन्य सामग्री, चढ़ावा का पैसा को चोरी कर ले गए तथा दान पेटी व अन्य सामग्री को मंदिर के पीछे स्थित ताला के पास फेंक दिए। प्रार्थी की रिपोर्ट पर धारा 457, 380 भादसं. के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया।
             उप पुलिस महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री एम.आर.आहिरे (भा.पु.से.) ने मामले को गंभीरता से लेते हुए चोरी का खुलासा करने डीएसपी रितेश चौधरी के नेतृत्व में थाना भटगांव की पुलिस टीम गठित कर लगाया। पुलिस टीम ने पूरी संवेदनशीलता के साथ अज्ञात चोर की पतासाजी में लगी रही और संदेहियों से बारीकी से पूछताछ की गई। पुलिस की कड़ी पूछताछ पर संदेही राजकुमार पासवान पिता ओमप्रकाश पासरवान उम्र 20 वर्ष निवासी कोरंधा भटगांव एवं छोटू केंवट पिता सदानंद केंवट उम्र 20 वर्ष निवासी हाटमेंट जरही के द्वारा मंदिर में चोरी करना स्वीकार किया। पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि नशे के आदि है, नशा की जरूरत को पूरा करने के लिए पैसे नहीं होने पर मंदिर से चोरी की घटना को अंजाम दिए। आरोपियों के निशानदेही पर चोरी का रकम 2910 रूपये बरामद कर दोनों को गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी भटगांव राजेन्द्र साहू, प्रधान आरक्षक करन सिंह नेताम, पूरनचंद राजवाड़े, आरक्षक मनोज जायसवाल, संतोष जायसवाल व महिला आरक्षक प्रीति भगत सक्रिय रहे।

समर्सिबल पम्प चोरी करने एवं खरीदने वाले 5 आरोपी पकड़ाए, थाना जयनगर पुलिस की कार्यवाही।

सूरजपुर। उप पुलिस महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री एम.आर.आहिरे (भा.पु.से.) के कड़े निर्देश के बाद से ही जिले की पुलिस क्षेत्र में लगातार कड़ी नजर बनाए हुए है। इसी बीच दिनांक 19.02.24 को थाना जयनगर पुलिस को मुखबीर से सूचना मिला कि ग्राम गोपालपुर में कुछ लोग चोरी का समर्सिबल पम्प बिक्री करने हेतु लेकर जाने वाले है। सूचना पर फौरन कार्यवाही करते हुए पुलिस ने घेराबंदी कर अनिल यादव पिता जगसाय यादव उम्र 34 वर्ष व रूप राजवाड़े पिता सीताराम राजवाड़े उम्र 32 वर्ष व सैनाथ सिंह पिता हरिनाथ सिंह उम्र 35 वर्ष तीनों निवासी ग्राम गोपालपुर को पकड़ा। पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि गोपालपुर स्थित फार्म हाउस, स्वास्थ्य केन्द्र परिसर व फ्लाईऐश ईट भट्ठा से माह अक्टूबर-नवम्बर 2023 के दरम्यान 3 नग समर्सिबल पम्प मिलकर चोरी करना जिसमें से 1 पम्प को बिक्री कर देना जिसके आधार पर समर्सिबल पम्प क्रेता नर्मदा विश्वकर्मा उम्र 38 वर्ष व बचन राम बरगाह उम्र 65 वर्ष दोनों निवासी कमलपुर के कब्जे से 1 नग समर्सिबल पम्प बरामद किया गया। मामले में धारा 41(1-4)/379, 411 भादसं. के तहत कार्यवाही करते हुए 3 नग समर्सिबल पम्प कीमत 1 लाख रूपये का जप्त कर पांचों आरोपियों को पकड़ा गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर सरफराज फिरदौसी, एएसआई वरूण तिवारी, प्रवीण राठौर, प्रधान आरक्षक राजेन्दर एक्का, महेन्द्र सिंह, बृजकिशोर धु्रवा, आरक्षक विकास मिश्रा, दिनेश ठाकुर, श्याम सिंह, विवेक विश्वकर्मा, भुनेश्वर सिंह, सोनू सिंह व नीरज झा सक्रिय रहे।

1 लाख 50 हजार रूपये कीमत के चोरी का 22 टन कोयला व ट्रक जप्त सहित 2 गिरफ्तार, दूसरे मामले में चोरी का 11 बंडल जीआई तार सहित 2 गिरफ्तार, थाना रामानुजनगर पुलिस की कार्यवाही।


सूरजपुर  उप पुलिस महानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री एम.आर.आहिरे (भा.पु.से.) ने चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने, आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों पर कड़ी नजर रखते हुए क्षेत्र में सक्रिय मुखबीर का जाल बिछाने के निर्देश दिए थे। इसी परिप्रेक्ष्य में दिनांक 19.02.24 को थाना रामानुजनगर पुलिस को मुखबीर से सूचना मिला कि ग्राम मांजा में ट्रक क्रमांक सीजी 15 एसी 5387 में अवैध रूप से कोयला लोड़ वाहन मांजा में कहीं कोयला खपाने को खड़ा है।
सूचना पर पुलिस त्वरित कार्यवाही करते हुए ग्राम मांजा में ट्रक को घेराबंदी कर रोकवाया, ट्रक की तलाशी लेने पर उसमें कोयला लोड़ पाया, चालक संदीप प्रताप सिंह पिता स्व. जानकी सिंह उम्र 24 वर्ष ग्राम बड़सरा थाना झिलमिली और हेलफर किशन कुमार पिता राम कुमार उम्र 26 वर्ष ग्राम गिधौरी खपरडीह, थाना गिधौरी, जिला बलौदाबाजार, हालमुकाम पण्डोपारा सोरगा थाना पटना से ट्रक में लोड कोयला के संबंध में वैध दस्तावेज की मांग किए जाने पर कोई दस्तावेज नहीं किए जो कोयला चोरी का होने के पूर्ण अंदेशा पर धारा    41(1-4)/379 भादसं. के तहत कार्यवाही करते हुए 22 टन कोयला कीमत 1 लाख 50 हजार रूपये एवं परिवहन में प्रयुक्त ट्रक जप्त कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार गया।
वहीं दूसरे मामले में दिनांक 19.02.24 को थाना रामानुजनगर पुलिस को मुखबीर से सूचना मिला कि एक सफेद रंग के बिना नंबर महिन्द्र पिकअप वाहन में चोरी का जीआई फिनिशिंग तार को चोरी कर मदनेश्वरपुर तरफ ले जा रहे है। सूचना पर कार्यवाही करते हुए ग्राम भुवनेश्वरपुर में पिकअप वाहन को घेराबंदी कर रोकवाया गया और कमलेश सिंह राजपूत पिता स्व. शिवकुमार सिंह उम्र 28 वर्ष व सतवन सिंह पिता भुनसाय उम्र 19 वर्ष दोनों निवासी तिवरागुड़ी, थाना रामानुजनगर से जीआई तार के खरीद बिक्री संबंधी दस्तावेज की मांग किए जाने पर कोई दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किए जो चोरी का होने के अंदेशा पर धारा 41(1-4)/379 भादसं. के तहत कार्यवाही करते हुए 11 बंडल जीआई तार कीमत करीब 75 हजार रूपये एवं परिवहन में प्रयुक्त पिकअप वाहन जप्त कर दोनों को गिरफ्तार गया। कार्यवाही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शोभराज अग्रवाल व एसडीओपी प्रेमनगर नरेन्द्र सिंह पुजारी के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी रामानुजनगर प्रशिक्षु डीएसपी स्निग्धा सलामे, निरीक्षक प्रकाश राठौर, एएसआई मनोज पोर्ते, माधव सिंह, बिसुनदेव पैंकरा, प्रधान आरक्षक सुशील तिवारी व आरक्षक महेन्द्र प्रताप सिंह सक्रिय रहे।

ढ़ाबा संचालक से चोरी का 30 लीटर डीजल जप्त, चौकी तारा पुलिस की कार्यवाही।

सूरजपुर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री एम.आर.आहिरे (भा.पु.से.) ने थाना-चौकी प्रभारियों को चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने, आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों पर पैनी नजर रखने एवं सूचना तंत्र को मजबूत करने के निर्देश दिए थे। इसी तारतम्य में दिनांक 18.02.2024 को चौकी तारा पुलिस को मुखबीर से सूचना मिला कि तारा मेन रोड़ स्थित बबलू ढ़ाबा संचालक के द्वारा अवैध चोरी का डीजल रखा है। सूचना पर पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए ढ़ाबा में दबिश दिया। संचालक बबलू उर्फ श्याम बहादूर साहू पिता कन्हैया लाल उम्र 35 वर्ष के कब्जे से 30 लीटर डीजल बरामद किया गया जिसके संबंध में वैध दस्तावेज की मांग किए जाने पर संचालक के द्वारा कोई दस्तावेज पेश नहीं किया जो चोरी का होने के पूर्ण अंदेशा पर धारा 41(1-4)/379 भादसं के तहत कार्यवाही कर 30 लीटर जप्त किया गया। इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी तारा बृजकिशोर पाण्डेय, आरक्षक देवनीश मिंज, छत्रपाल सिंह व रामचन्द्र साहू सक्रिय रहे।

सोमवार, 19 फ़रवरी 2024

सूरजपुर में हुआ 34वां राष्ट्रीय यातायात सड़क सुरक्षा माह का हुआ समापन। गुड सेमेरिटन व यातायात जागरूकता में सहयोग करने वाले अधिकारी किए गए सम्मानित।


सूरजपुर  राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह के समापन अवसर पर गुरूवार को ऑडिटोरियम भवन में भव्य आयोजन हुआ। इस मौके पर मुख्य अतिथियों ने गुड सेमेरिटन को सम्मानित कर यातायात व्यवस्था में उत्कृष्ट कार्य करने वाले पुलिस जवानों की हौसला अफजाई कर स्मृति चिन्ह प्रदान किया। पूरे देश में 1 माह से चल रहे यातायात सड़क सुरक्षा माह का आज समापन किया गया। आपको बता दे कि कलेक्टर सूरजपुर श्री रोहित ब्यास, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री एम.आर.आहिरे, डीएफओ श्री पंकज कमल, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री बाबुलाल अग्रवाल व सीएचएमओ डॉ. आर.एस.सिंह के मुख्य आतिथ्य में जिले में आयोजित 34वां राष्ट्रीय यातायात सड़क सुरक्षा माह 2024 का समापन हुआ।
             जिला सूरजपुर पुलिस द्वारा जिले में दिनांक 15.01.2024 से 14.02.2024 तक राष्ट्रीय यातायात सड़क सुरक्षा माह कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान यातायात प्रभारी सहित थाना-चौकी प्रभारियों के द्वारा लगातार भीड़-भाड़ वाले चौक चौराहों, स्थानों में पम्पलेट, लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों को यातायात नियमों का पालन करने, मालवाहक वाहनों में कभी भी सवारी के रूप में ना बैठने आदि के संबंध में समझाईश दिया गया। यातायात नियमों का पालन करने वाले, हेलमेट धारण करने वाले वाहन चालकों को फूल देकर सम्मानित किया गया और वाहन चालकों के नेत्र परीक्षण शिविर का आयोजन कराया।
           समापन अवसर पर कलेक्टर श्री रोहित ब्यास ने कहा कि हमारी टीम के द्वारा ब्लैक स्पोर्ट पर जाकर वहां के हालात देखे और संबंधितों को सुरक्षात्मक उपाए करने के निर्देश दिए है। कुछ दिनों पहले दुखद सड़क घटनाए हुई जिसका कारण हेलमेट नहीं लगाना था, उन्होंने सभी से अपील किया किया कि यातायात नियमों का पालन खुद की सुरक्षा के लिए जरूर करें। किसी व्यक्ति की दुर्घटना होने पर उसके परिवार पर दुख टूट पड़ता है सावधानी जरूरी है इसलिए यातायात नियमों की अनदेखी नहीं करनी चाहिए। जिले में आने पर मैं खुद अपने वाहन में चलने से पहले चालक को सीट बेल्ट लगवाते हुए खुद भी यातायात नियम का पालन करने के साथ ही जिला प्रशासन के अधिकारियों को भी इसके निर्देश दिए है।
          वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री एम.आर.आहिरे ने यातायात नियम के 4-ई एजुकेशन यातायात नियमों की जानकारी, इनफोर्समेंट, इमरजेंसी सर्विस और इंजीनियरिंग के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि पहले सड़क सुरक्षा सप्ताह भर मनाया जाता था किन्तु अब 1 माह मनाया जा रहा है इसके पीछे बड़ी वजह सड़क दुर्घटना है, सड़क दुर्घटनाओं को रोकने की दिशा में लगातार स्कूल-कालेजों व अन्य जगहों में यातायात नियमों की जानकारी दी जा रही है। सड़क दुर्घटना में घायलों की मदद करने हेतु प्रोत्साहित करते हुए कहा कि सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति की मदद करें, कोई भी आपको परेशान नहीं करेगा, शासन की मंशा के अनुरूप सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए हम सभी को मिलकर काम करने की जरूरत है, सडक हादसे रोकने में सभी की भूमिका अहम साबित होगी। उन्होंने कहा कि युवा ओवर स्पीड में वाहन न चलाए। दो पहिया वाहन पर तीन सवारी न बैठे। यातायात नियमों का पूरी तरह से पालन करें।
        डीएफओ श्री पंकज कमल ने कहा कि किसी की सड़क दुर्घटना होने पर उसका असर पूरे परिवार पर पड़ता है, यातायात नियमों का पालन कर खुद भी सुरक्षित रहे और दूसरे की भी यातायात नियमों की जानकारी दें।
         भाजपा जिलाध्यक्ष श्री बाबुलाल अग्रवाल ने कहा कि सड़क पर सफर के दौरान एक सेकेण्ड की भी लापरवाही दुर्घटना का कारण बन जाती है। सुरक्षित सफर के लिए यातायात नियमों का सदैव पालन करें। सभी को अनुशासित होकर वाहन चलाने एवं ट्रैफिक रूल को अपने जीवन में आत्मसात करने की बात कही। कार्यक्रम को सीएचएमओ डॉ. आर.एस.सिंह ने भी संबोधित करते हुए कहा कि सड़क दुर्घटना में घायलों की मदद जरूर करें क्योंकि दुर्घटना के बाद घायल को 1 घंटे के भीतर उपचार दिलाकर उसकी जान बचाई जा सकती है वह एक घंटा गोल्डन हॉवर होता है।

गुड सेमेरिटन किए गए सम्मानित। समापन अवसर पर अतिथियों के द्वारा गुड सेमेरिटन कुपार देव सिंह, छनुआ, कमलेश राजवाड़े, मुकेश बंगाली, संदीप को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इसी प्रकार यातायात के नियमों की जानकारी देकर लोगों में जागरूकता लाने वाले उमेश गुर्जर, चित्रकांत जायसवाल, अशोक दुबे, कन्हैयालाल सोनी, समाजसेवी रामबिलास मित्तल, यातायात के आरक्षक कामेश्वर टोप्पो, अनिल लकड़ा, शशिकांत मिश्रा को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। यातायात जागरूकता कार्यक्रम में सहयोग के लिए रेवती रमण मिश्र महाविद्यालय सहायक प्राध्यापक सी.बी.मिश्रा, गल्स स्कूल के प्राचार्य, बालक स्कूल के प्राचार्य एवं एनसीसी सेकेण्ड ऑफिसर सुनील दत्त तिवारी तथा उत्कृष्ट मंच संचालन के लिए अशोक उपाध्याय को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

यातायात नियमों की अनदेखी पर होगी कार्यवाही। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने कहा कि सड़क सुरक्षा माह के दौरान लोगों को यातायात नियमों का पालन करने की अपील की गई किन्तु आगामी दिनों से पुलिस के द्वारा बिना नंबर, बिना लायसेंस सहित यातायात नियमों की अनदेखी करने वालों पर चालानी कार्यवाही की जायेगी।
                इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शोभराज अग्रवाल, एसडीओपी सूरजपुर नंदिनी ठाकुर, डीएसपी रामश्रृंगार यादव, एसडीओपी ओड़गी राजेश जोशी, एसडीओपी प्रेमनगर नरेन्द्र सिंह पुजारी, डीएसपी मुख्यालय महालक्ष्मी कुलदीप, एसडीओपी रितेश चौधरी, रक्षित निरीक्षक रामप्रसाद पैंकरा, थाना प्रभारी सूरजपुर विमलेश दुबे, यातायात प्रभारी राजाराम राठिया, नगर के गणमान्य नागरिकगण, पुलिस के अधिकारी-कर्मचारी सहित स्कूली छात्र-छात्राए मौजूद रहे।

एसएसपी सूरजपुर श्री एम.आर.आहिरे ने थानों का किया आकस्मिक निरीक्षण, जवानों की समस्याओं को जान किया त्वरित निराकरण, अवैध कार्यो पर सख्ती बरतने व सूचना मिलते ही कार्यवाही करने के कड़े निर्देश दिए।

सूरजपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री एम.आर.आहिरे ने दिनांक 12-13 फरवरी 2024 को जिले के थाना-चौकी क्षेत्र के दौरे पर रहे। एसएसपी ने झिलमिली, ओड़गी, चांदनी, प्रतापपुर, रमकोला, चंदौरा, रामानुजनगर, प्रेमनगर, भटगांव थाने तथा रेवटी, मोहरसोप, बसदेई व चेन्द्रा चौकी का आकस्मिक निरीक्षण कर प्रभारियों से क्षेत्र के भौगोलिक स्थिति और अपराधों के बारे में जानकारी लेते हुए अवैध कार्यो पर सख्ती के साथ पूर्णतः अंकुश लगाने के निर्देश दिए। इस दौरान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा कि पुलिस की कार्यवाही निष्पक्ष होनी चाहिए इससे नागरिकों में पुलिस के प्रति विश्वास बढेगा। उन्होंने सूचनातंत्र को मजबूत बनाए रखने और असामाजिक तत्वों के खिलाफ नियमित कार्यवाही करने, लंबित प्रकरणों को प्राथमिकता से निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने थाना-चौकी के रिकार्ड को बारीकी से देखा और खामियों को जल्द दुरूस्त करने के निर्देश दिए। सामुदायिक पुलिसिंग के आयोजन प्रत्येक ग्रामों में किए जाने एवं बीट क्षेत्र को मजबूत करने, आपराधिक घटनाओं को रोकने के लिए अधिकारी व जवानों को सजगता के साथ पेट्रोलिंग व रात्रि गश्त करने के निर्देश दिए। रोजनामचा और रिकार्ड संधारण की स्थिति बेहतर देख संतोष व्यक्त किया।
जवानों की समस्या से हुए रू-ब-रू, किया त्वरित निराकरण।
          आकस्मिक निरीक्षण में थाना पहुंचे एसएसपी श्री एम.आर.आहिरे ने पुलिस कर्मियों की समस्या को जाना और उनका त्वरित निराकरण किया। थानों के निरीक्षण पर व्यवस्था पर उन्होंने संतोष जताया। उन्होंने थाना प्रभारियों को निर्देश देते हुए कहा कि आपराधिक घटनाओं पर रोकथाम के लिए सघन छापेमारी अभियान चलाया जाए।
अवैध कार्यो पर बरते सख्ती, सूचना मिलते ही कार्यवाही करने दिए निर्देश।
        वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने प्रभारियों को नियमित प्रभावी गश्त, आरोपितों की गिरफ्तारी, लंबित मामलों का जल्द निकाल, अवैध कार्यो पर सख्ती बरतने, मादक पदार्थ, नशीले इंजेक्शन तस्करों के संबंध में सूचना मिलते ही त्वरित कार्रवाई करने समेत कई बिन्दुओं पर थाना प्रभारियों को चुस्ती दिखाने का निर्देश दिया। वहीं लंबित संवेदनशील मामलों पर तेज गति से कार्रवाई करते हुए गिरफ्तारी का निर्देश दिया। उन्होंने थाना-चौकी एवं आवासीय भवनों में निर्माण कार्यो की आवश्यकता जानी और निर्माण-सुधार कार्यो का जल्द प्राक्कलन भेजने के निर्देश दिए।

आत्महत्या के लिए उत्प्रेरित करने के मामले में थाना भटगांव पुलिस ने 4 आरोपियों को किया गिरफ्तार।

सूरजपुर  दिनांक 12.02.24 को जरही निवासी शुभम गुप्ता पिता तुलसीदास गुप्ता ने थाना भटगांव में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसका छोटा भाई विट्टु गुप्ता के मोबाईल फेसबुक में गलत आरोप लगाकर परेशान करने का पोस्ट किया गया था जिसे देखने के बाद तथा तलाश करने पर बिट्टु गुप्ता का शव डुमरिया बांध पानी में पाए जाने के आशय की सूचना पर थाना भटगांव में मर्ग कायम किया गया।
           थाना भटगांव पुलिस मौके पर पहुंचकर घटना स्थल व शव निरीक्षण, उपरान्त मृतक का पीएम कराया। मर्ग जांच में गवाहों के कथनों व मृतक के मृत्यु के पूर्व का मोबाईल फोन में लेख किया गया सुसाईडल नोट का स्क्रीन शार्ट के अवलोकन पर दिनांक 09.02.24 के रात्रि में हिमांशु क्लाथ स्टोर जरही में लगे आग से छति के संबंध में उमेश गुप्ता, राजु गुप्ता, रेखा गुप्ता एवं चंदकी गुप्ता मॉ दुर्गा वस्त्रालय के द्वारा मृतक बिट्टु उसके पिता तुलसी दास गुप्ता तथा उनके दुकान के कर्मचारी पर आग लगाने का आरोप लगाया जा रहा था जिससे उपरोक्त आरोपी उमेश गुप्ता, राजू गुप्ता, रेखा गुप्ता, चंदकी गुप्ता मॉ दुर्गा वस्त्रालय जरही द्वारा आग लगाने का झूठा आरोप लगाकर समाज में मानसिक रूप से अपमानित कर आत्महत्या करने हेतु दुष्प्रेरित किया गया जिससे मृतक दिनांक 12.02.24 को मोबाईल फोन पर सुसाईड नोट लेख कर डुमरिया बांध के पानी में डुबकर आत्महत्या करना पाया गया। आरोपी उमेश, राजू, रेखा व चंदकी का कृत्य धारा 306, 34 भादसं का पाए जाने पर अपराध पंजीबद्ध किया गया।
               मामले की सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री एम.आर.आहिरे ने प्रकरण की बारीकी से विवेचना करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। थाना भटगांव पुलिस ने विवेचना करते हुए प्रकरण के आरोपी उमेश गुप्ता पिता रामनरेश गुप्ता उम्र 35 वर्ष ग्राम कोरंधा, राजू गुप्ता पिता रामनरेश गुप्ता उम्र 38 वर्ष ग्राम कोरंधा, रेखा गुप्ता पति राजु गुप्ता उम्र 29 वर्ष, चंदकी गुप्ता पिता भवसागर गुप्ता उम्र 42 वर्ष निवासी कोरंधा, थाना भटगांव को पकड़ा गया और विधिवत् गिरफ्तार किया गया।
           कार्यवाही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शोभराज अग्रवाल व डीएसपी रितेश चौधरी के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी भटगांव राजेन्द्र साहू, एसआई अश्विनी पाण्डेय, एएसआई बजरंगी लाल चौहान, जी.पी.यादव, प्रधान आरक्षक पूरनचंद राजवाड़े, करन सिंह नेताम, शत्रुधन पोर्ते, आरक्षक मनोज जायसवाल, संतोष जायसवाल, भोला राजवाड़े, रजनीश पटेल, ताराचंद यादव, राजकुमार पासवान, विजय गुप्ता, प्रभाकर सिंह, वाहिद हुसैन व प्रहलाद पैंकरा सक्रिय रहे।

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3
सायबर की पाठशाला में आज तीसरे पाठ में हम समझने की कोशिश कर रहे हैं कि एक सुरक्षित लिंक कैसा दिखता या होता है। धोखेबाज/अपराधी आम लोगों को ठगने के लिए बैंको के नाम से मिलते जुलते नाम या अक्षरों का प्रयोग करके एक यूआरएल/URL बनाता है और उसे मोबाइल पर सीधे मैसेज के रूप में भेजता है इन लिंकनुमा URL पर क्लिक करते ही आप ठगी के शिकार हो जाते हैं। यदि लिंक में anydesk, mingle, teamviewer जैसे शब्द हैं तो आपके फोन को हैक करने का प्रयास हो रहा है, तुरंत मैसेज डिलिट करें। लिंक पर क्लिक बिलकुल न करें। अनजान व्यक्तियों से फोन पर ज्यादा बात न करें और न ही उन्हें किसी भी तरह की जानकारी दें चाहे कुछ भी हो जाए। तभी आप ठगी से बच पाएंगे। इस तरह के फर्जीवाड़ों पर और विस्तार से जानकारी के लिए इस श्रृंखला पर नजर बनाए रखें। पिछले पाठों को फिर से जानने के लिए/ पुनरावलोकन के लिए तस्वीर पर क्लिक करें या ऊपर के संबंधित टैब (सायबर की पाठशाला) पर क्लिक करें।