शनिवार, 23 जनवरी 2021

सूरजपुर पुलिस ने नशीली दवा के साथ 1 को किया गिरफ्तार.......

सूरजपुर: दिनांक 23 जनवरी को थाना प्रभारी रामानुजनगर को मुखबीर सूचना मिली कि ग्राम भुवनेश्वरपुर का बिरेन्द्र सिंह एक काले रंग का बैग में नशीली दवाई बिक्री करने हेतु देवनगर तरफ से भुवनेश्वरपुर की ओर आ रहा है जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने थाना प्रभारी को सतर्कता बरतते हुए घेराबंदी लगाकर पकड़ने के निर्देश दिए।
          एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में थाना रामानुजनगर की पुलिस टीम नारायणपुर ओव्हर ब्रिज के पास घेराबंदी लगाकर विरेन्द्र सिंह पिता लखन सिंह उम्र 22 वर्ष निवासी ग्राम भुवनेश्वर, थाना रामानुजनगर को पकड़ा जिसके कब्जे से काले रंग के बैग से स्पास्मो प्रोक्सीवोन प्लस कैप्सुल 2 हजार 16 नग कीमत 15 हजार 372 रूपये का पाए जाने पर जप्त कर अपराध क्रमांक 19/21 धारा 21सी एनडीपीएस एक्ट के तहत् कार्यवाही करते हुए विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी रामानुजनगर गोपाल धुर्वे, एएसआई माधव सिंह, प्रधान आरक्षक फिरोज खान, आरक्षक रामसागर साहू, संतोष ठाकुर, रविशंकर साहू, वेदप्रकाश राजवाड़े, देवान सिंह, महेन्द्र सिंह व गणेश सिंह सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस शराब पीकर वाहन चलाने वालों पर लगातार कर रही कार्यवाही..........

सूरजपुर: सड़क सुरक्षा को बढ़ावा देने एवं दुर्घटनाओं की रोकथाम के उद्देश्य से सूरजपुर पुलिस के द्वारा विशेष अभियान चलाया जा रहा है। पुलिस के इस अभियान के तहत शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ शिकंजा कसना शुरू किया जा चुका है। सूरजपुर पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा के निर्देशन में सूरजपुर यातायात व थानों की पुलिस ने शराब पीकर वाहन चलाने वाले व्यक्तियों पर लगातार मोटर व्हीकल एक्ट की कार्यवाही कर रही है।
          शराब का सेवन कर वाहन चलाने वाले अपनी जान को जोखिम में तो डालते ही है साथ ही उनकी लापरवाही से दूसरों को खामियाजा भुगतना पड़ता है। ऐसी दुर्घटनाओं को रोकने की दिशा में राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह के दौरान जिले की यातायात व थानों की पुलिस ने शराब सेवन कर वाहन चलाने वाले 21 वाहन चालकों के विरुद्ध 185 एमव्ही एक्ट के तहत् कार्यवाही करते हुए प्रकरण तैयार कर माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किये गए। ज्ञात हो कि शराब पीकर वाहन चलाते पाए जाने पर माननीय न्यायालय में 10 हजार रूपये का चालान पटाना पढ़ता है।
          यदि वाहन चालक सावधानी के साथ यातायात नियमों का पालन करते हुए सड़कों में यात्रा करें तो अपने साथ कई लोगों का जीवन सुगम बना सकते हैं। पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा के प्रभावी निर्देशन में जिले की पुलिस ने शराब पीकर वाहन चलाने वाले तथा यातायात नियमों की अनदेखी करने वाले चालकों के विरुद्ध कार्यवाही कर रही है।

शराबी वाहन चालकों के हो रहे लाईसेंस निलंबित।

माननीय उच्चतम न्यायालय के निर्देशानुसार जिले की पुलिस ने लाईसेंस निलंबन हेतु नशे में चलाने वाले वाहन चालकों के ड्राईविंग लाईसेंस जप्त अथवा उसकी प्रतियां ली जा रही है ताकि उनके लायसेंस को निलंबित करने हेतु आरटीओ को भेजी जा सके, पूर्व में भेजे गए प्रकरणों में कईयों के लायसेंस भी निलंबित हो चुका है। आए दिन होने वाले हादसों का मुख्य कारण शराब पीकर वाहन चलाना माना जाता है अधिकतर हुई दुर्घटनाओं में जो बात निकल कर सामने आती है उसमें प्रमुख कारक शराब पीकर वाहन चलाना ही होता है। चूंकि नशे की हालत में वाहन और वाहन की गति दोनों पर नियन्त्रण करना कठिन हो जाता है जो सड़क दुर्घटनाओं का एक प्रमुख वजह बन जाती है सूरजपुर पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में जिले की पुलिस द्वारा की गई लगातार जारी है।
          वर्तमान में भी शराब पीकर गाड़ी चलाने वाले चालकों के विरुद्ध यह अभियान चलाया जा रहा है, ट्रेफिक प्रभारी सहित थाना-चौकी प्रभारी व उनकी टीम दिन के साथ-साथ रात्रि में बस, ऑटोरिक्शा, प्राइवेट कार, लोडिंग वाहन, मालवाहक ट्रकों-ट्रेलर्स के ड्राईवरों को ब्रेथ एनालाईजर्स से चेक कर पॉजिटिव पाए जाने पर कार्यवाही कर रही है।
          इसी तरह पुलिस अधीक्षक के आदेशानुसार पिछले पांच दिनों में जिले में यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले दोपहिया में तीन सवारी, बिना हेलमेट के वाहन चलाने व यातायात अवरुद्ध करने वाले 38 वाहन चालकों के विरुद्ध एमव्ही एक्ट की कार्यवाही कर 13300 रूपये का समन शुल्क लिया गया।

मंगलवार, 19 जनवरी 2021

चोरी की मोटर सायकल बेचने की फिराक में 1 आरोपी गिरफ्तार, चोरी की बाईक बरामद...........

सूरजपुर: दिनांक 17.01.2021 को ग्राम केतका निवासी रमेश सिंह पिता देवसाय ने थाना रामानुजनगर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 11 जनवरी को अपने मोटर सायकल बजाज प्लेटिना सीजी 29 एसी 1668 को लेकर साप्ताहिक बाजार ग्राम पटना आया था, किसी अज्ञात चोर के द्वारा मोटर सायकल को चोरी कर ले गया है रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 18/21 धारा 379 भादवि के तहत् मामला पंजीबद्व कर विवेचना की गई। मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने थाना प्रभारी रामानुजनगर को अज्ञात चोर की पतासाजी जल्द करते गिरफ्तार करने के निर्देश दिए।
          एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में मामले की जांच की जा रही थी इसी बीच रामानुजनगर पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम गंगोटी में एक व्यक्ति चोरी हुए बजाज प्लेटिना मोटर सायकल से घुम रहा है और बेचने की फिराक में ग्राहक की तलाश कर रहा है। सूचना पर पुलिस टीम गंगोटी पहुंची और घेराबंदी कर उस व्यक्ति को मोटर सायकल सहित पकड़ा, पूछताछ पर उस व्यक्ति ने अपना नाम विनोद सिंह पिता सुरेश सिंह उम्र 35 वर्ष निवासी बहालपुर, थाना रामानुजनगर का होना बताया जिसके कब्जे से चोरी हुए बजाज प्लेटिना सीजी 29 एसी 1668 कीमत 30 हजार रूपये को बरामद कर आरोपी विनोद सिंह को विधिवित् गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी रामानुजनगर गोपाल धुर्वे, एएसआई रंजीत सोनवानी, आरक्षक रामसागर साहू, आरक्षक गणेश सिंह, देवान सिंह, रविशंकर साहू, संतोष ठाकुर व वेदप्रकाश राजवाड़े सक्रिय रहे।

सोमवार, 18 जनवरी 2021

सूरजपुर में 32वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह का विधायक भटगांव व संसदीय सचिव ने किया शुभारंभ..........

हरी डण्डी दिखाकर जागरूकता रथ किया रवाना।

लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने पूरे 1 माह होंगे विविध आयोजन।

सूरजपुर: 32वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह के तहत् आमजनों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने, दो पहिया वाहन चालकों को अनिवार्य रूप से हेलमेट पहनने हेतु प्रेरित करने, दुर्घटना से बचाव के उपाय से लोगों को अवगत कराने, यातायात नियमों की जानकारी सहित यातायात संबंधी विविध आयोजन सड़क सुरक्षा माह के दौरान सूरजपुर पुलिस के द्वारा दी जाएगी। सूरजपुर में 32वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह का शुभारंभ सोमवार, 18 जनवरी 2021 को भटगांव विधायक व संसदीय सचिव छ.ग. शासन श्री पारसनाथ राजवाड़े के द्वारा किया गया।
          इस अवसर पर भटगांव विधायक व संसदीय सचिव छ.ग. शासन श्री पारसनाथ राजवाडे़ ने कहा कि आमजन यातायात नियमों का पालन करें ताकि दुर्घटना से बचा जा सके, बाईक चलाते समय हेलमेट का उपयोग अवश्य करें, हेलमेट का उपयोग नहीं करने से दुर्घटना के समय सिर में चोट लगने से व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है इससे बचाव के लिए हेलमेट धारण किया जाना आवश्यक है क्योंकि हमारी सुरक्षा से पूरे परिवार की सुरक्षा भी जुड़ी होती है। सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को प्राथमिक उपचार नहीं मिलने के कारण उसकी मृत्यु हो जाती है इस हेतु आमजनों को घायल व्यक्ति को तुरंत निकटतम अस्पताल ले हेतु आग्रह किया।
          शुभारंभ अवसर पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने कहा कि 32वां राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह 18 जनवरी से 17 फरवरी 2021 तक मनाया जाएगा। जिसका मुख्य उद्देश्य लोगों को सावधानी के साथ सड़क नियमों का पालन करने के लिए जागृत करना और उनके जीवन को सुरक्षित करना है, जिले की पुलिस पूरे माह सड़क सुरक्षा से संबंधित कई कार्यक्रम आयोजित करके, लोगों को सड़क पर सावधानीपूर्वक वाहन चलाने के लिए प्रोत्साहित करेगी। भारत में प्रत्येक वर्ष जनवरी माह में सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया जाता था किन्तु इस वर्ष सड़क सुरक्षा पूरे 1 माह तक मनाया जायेगी। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि छत्तीसगढ़ में वर्ष 2020 में सड़क दुर्घटनाओं में 4546 लोगों की मृत्यु हुई है, जो वर्ष 2019 से 9.13 फीसदी कम है। सूरजपुर जिले में वर्ष 2019 में 381 दुर्घटनाओं के मामलों में 211 लोगों की मृत्यु हुई और 312 व्यक्ति घायल हुए। वर्ष 2020 में 307 दुर्घटनाओं में 178 लोगों की मृत्यु हुई और 263 व्यक्ति घायल हुए है जो वर्ष 2019 की तुलना में वर्ष 2020 में दुर्घटना में कमी आई है।
          पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सुरक्षित सफर के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है लोगों का नियमों के प्रति जागरूक होना और उनका महत्व समझकर उन्हें अपने जीवन में अपनाना। जिले में सड़क दुर्घटनाओं में घायलों को तत्काल सहायता पहुंचाने के लिए हाईवे पेट्रोलिंग की टीम 24 घंटे मुस्तैदी से कार्य कर रही है। दुर्घटनाओं को रोकने की दिशा में शराब पीकर वाहन चलाने वालों के विरूद्व लगातार धारा 185 की कार्यवाही जारी है और लापरवाही पूर्वक वाहन चलाकर एक्सीडेंट करने वालों के लायसेंस भी निलंबित कराई जा रही
          कलेक्टर श्री रणबीर शर्मा ने 32वां सड़क सुरक्षा माह के शुभारंभ के अवसर पर नागरिकों को यातायात नियमों की जानकारी देते हुए कहा कि दो पहिया वाहन चालक वाहन में तीन सवारी न बैठाए, वाहन चलाते समय मोबाइल से बात न करें, तीव्र गति व नशे की हालत में वाहन न चलाये, दोपहिया वाहन हेलमेट धारण कर ही चलाये। उन्होंने कहा कि सफर के दौरान जल्दबाजी न करें, सफर के लिए अतिरिक्त समय लेकर चले और सुरक्षित पहुंचे।
          कार्यक्रम को सीईओ जिला पंचायत श्री आकाश छिकारा, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री नरेश राजवाड़े, सीएचएमओ डाॅ. आर.एस.सिंह, जीएम एसईसीएल विश्रामपुर श्री बी.एन.झा ने भी संबोधित किया। मंच का संचालन श्री सीमांचल त्रिपाठी एवं आभार प्रदर्शन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री हरीश राठौर ने किया।

जागरूकता रथ को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना।

लोगों को सावधानी के साथ सड़क नियमों का पालन करने के लिए जागरूक करने व सड़क पर सावधानीपूर्वक वाहन चलाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए यातायात जागरूकता रथ को विधायक व संसदीय सचिव छ.ग. शासन श्री पारसनाथ राजवाडे़, सूरजपुर कलेक्टर श्री रणबीर शर्मा, पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा, सीईओ जिपं श्री आकाश छिकारा, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री नरेश राजवाड़े, सीएचएमओ डाॅ. आर.एस.सिंह, जीएम एसईसीएल विश्रामपुर श्री बी.एन.झा, आरटीओ श्री अतुल असैय्या सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।
          इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, जिपअ. अतुल असैय्या, रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे, थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, यातायात प्रभारी आर.सी.राय, एसआई हिम्मत सिंह शेखावत, पार्षद संतोष सोनी, श्रीमती कुसुमलता राजवाड़े, विरेन्द्र बसंल, रामसिंह, तनवीर आलम, अजय सिंह, पत्रकारगण सहित नगर के गणमान्य नागरिकगण उपस्थित रहे।

शनिवार, 16 जनवरी 2021

आईजी सरगुजा श्री आर.पी.साय ने सूरजपुर जिले का किया दौरा.............

हाईवे पेट्रोलिंग को पूरी क्षमता से कार्य करने दिए निर्देश।

नागरिकों को ठगी से बचाने चलाए जागरूकता अभियान।

पुलिस कार्यालय के शाखाओं का लिया जायजा।

सूरजपुर: आईजी सरगुजा रेंज, सरगुजा श्री आर.पी.साय ने शुक्रवार 15 जनवरी को सूरजपुर जिले का दौरा किया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा मौजूद रहे। आईजी सरगुजा सर्वप्रथम पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे जहां उन्हें पुलिस जवानों ने गार्ड आफ आनर दिया। आईजी ने पुलिस अधिकारियों को निगरानी व गुण्डा बदमाशों की नियमित जांच करने, नशे के विरूद्व प्रभावी कार्यवाही करने एवं नागरिकों को ठगी से बचाने हेतु जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए।
          जिला पुलिस कार्यालय के सभाकक्ष में आईजी सरगुजा श्री आर.पी.साय ने जिले के पुलिस अधिकारियों एवं थाना-चौकी प्रभारियों की बैठक ली और उनका परिचय प्राप्त किया और यहां पदस्थापना के अनुभव को साझा किया। पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने आईजी सरगुजा को जिले की कार्यवाही, निर्माण कार्य, अपराधों के निकाल सहित अन्य गतिविधियों के बारे में अवगत कराया। आईजी ने थाना प्रभारियों को कहा कि वर्ष के समाप्ति पर लंबित अपराधों की संख्या ज्यादा हो जाती है इसके निराकरण के लिए अभी से पंजीबद्व होने वाले अपराधों के निकाल पर विशेष ध्यान दी जाए, जब कोई व्यक्ति किसी परेशानी में होता है तभी वह थाना आता है, फरियादी के थाना में आने पर उसे शालीनता से बैठाकर उसकी समस्या को सुने और उचित निराकरण करें और की गई कार्यवाही से फरियादी को अवगत कराए। उन्होंने कहा कि आम नागरिकों से अच्छे तालमेल बनाकर क्षेत्र की गतिविधियों की जानकारी ले। उन्होंने कहा कि नशे के कारोबार करने वालों के विरूद्व सख्त कार्यवाही की जाए।
          उन्होंने कहा कि सूरजपुर में अपराधों के नियंत्रण हेतु प्रभावी कार्य किए जा रहे है, घटना दुर्घटना पर पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच रही है, जिले में अपराधों का निकाल अच्छा है, कोविड-19 संक्रमण से लोगों को सुरक्षित रखने बेहतर कार्य की गई जिस हेतु पुलिस अधीक्षक की प्रशंसा की।

हाईवे पेट्रोलिंग पूरी क्षमता से कर रही है कार्य।

जिले में हाईवे में सड़क दुर्घटना होने पर घायलों को तत्काल सहायता पहुंचाने के लिए जिले में 01 हाईवे पेट्रोलिंग वाहन उपलब्ध कराई गई जो निरंतर कार्य कर रही है। आईजी सरगुजा ने कहा कि हाईवे पेट्रोलिंग 24 घंटे कार्य कर रही है किन्तु सुबह के वक्त ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता है ताकि किसी आपात स्थिति में यह पेट्रोलिंग टीम दुर्घटना की सूचना पर मौके पर पहुंचकर घायलों को जल्द रेस्क्यू कर सके।

कार्यालय के शाखाओं का लिया जायजा।

बैठक के बाद आईजी सरगुजा ने जिला पुलिस कार्यालय के सभी शाखाओं का जायजा लिया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने कार्यालयीन अधिकारियों के द्वारा किए जाने वाले कार्यो की जानकारी से उन्हें अवगत कराया।
          इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज, जिले के थाना-चौकी प्रभारी सहित पुलिस कार्यालय के अधिकारीगण उपस्थित रहे।


बुधवार, 13 जनवरी 2021

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने न्यू हाईटेक बस स्टैण्ड पर बनाए गए पुलिस सहायता केंद्र का किया उद्घाटन।

सूरजपुर: आम जनता सहित यात्रियों की समस्या के तत्काल निराकरण एवं सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता बनाए रखने के लिए न्यू हाईटेक बस स्टैण्ड सूरजपुर में पुलिस सहायता केंद्र बनाया गया है। मंगलवार 05 जनवरी 2021 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने इस पुलिस सहायता केन्द्र का उद्घाटन नगर पालिका अध्यक्ष श्री के.के.अग्रवाल, उपाध्यक्ष रितेश गुप्ता, सीएमओ दीपक एक्का की मौजूदगी में किया।
          पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने बताया कि न्यू हाईटेक बस स्टैण्ड पुलिस सहायता केन्द्र का प्रभारी प्रधान आरक्षक अखिलेश यादव को बनाया गया साथ ही थाना व पुलिस लाईन से आरक्षकों की भी यहां तैनाती की गई है। इस सहायता केन्द्र के प्रारंभ होने से यात्रियों एवं आसपास के निवासियों को तत्काल रिपोर्ट लिखाने में सहूलियत होगी तथा जनसामान्य की शिकायतों का तत्काल निराकरण होगा साथ ही तत्काल पुलिस सहायता उपलब्ध् हो सकेगी। उन्होंने कहा कि पुलिस सहायता केंद्र के प्रभारी एवं तैनात पुलिस आरक्षकों का सहायता केन्द्र में मोबाईल नंबर भी अंकित कराया जाएगा ताकि जरूरत पड़ने पर यात्री अपनी सुविधा अनुसार इसका उपयोग कर सके।
           इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे, एसआई हिम्मत सिंह शेखावत, पार्षद विरेन्द्र बसंल (बंटी), प्रधान आरक्षक अखिलेश यादव, अदीप प्रताप सिंह, मोहम्मद तालीब शेख, बिसुनदेव पैंकरा सहित काफी संख्या में गणमान्य नागरिकगण उपस्थित रहे।

सोमवार, 28 दिसंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने केरता गन्ना खेत में हुए हत्या के मामले का किया खुलासा। आरोपी प्रेमी ने वारदात को दिया था अंजाम.............

सूरजपुर : थाना प्रतापपुर चौकी खडगवा के ग्राम मानपुर की रहने वाली पविता तिग्गा पति स्व . गोपाल उम्र 40 वर्ष दिनांक 24 12 2020 को अपने घर से बदोलिहा के यहां ग्राम केरता गन्ना काटने जा रही हूं कहकर सुबह 9.00 बजे घर से निकली थी जो रात तक घर वापस नहीं आई दूसरे दिन पविता तिग्गा का शव सुबह 9.00 बजे ग्राम केरता निवासी ज्वाला प्रसाद सिंह के खेत में मिला । पविता की पुत्री ललिता तिग्गा की रिपोर्ट पर मर्ग कायम किया गया । मामले की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा मौके पर पहुंचे और घटना स्थल का सूक्ष्म जायजा लिया साथ ही डॉग स्क्वार्ड , एफएसएल व पुलिस टीम की मौजूदगी में बारीकी से मौके का मुआयना कराया । मृतिका का शव पंचनामा के बाद पीएम के लिए भेजा गया , शॉर्ट पीएम रिपोर्ट में डॉक्टर के द्वारा मृतिका की मृत्यु का कारण होमोसाईडल लेख करने पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व थाना प्रतापपुर में अपराध क्रमांक 214/20 धारा 302 भादस का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया । 
          मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने प्रकरण की जांच एवं आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एसडीओपी प्रतापपुर पी.एस महिलाने , एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन कर जांच में लगाया । पुलिस टीम को विवेचना के दौरान जानकारी मिली कि मृतिका का प्रेम संबध करीब 10 वर्षों से देव सिंह पिता कानगो जाति गोड़ उम्र 40 वर्ष निवासी ग्राम पंपापुर , चौकी खड़गवां से था । जिस पर पुलिस टीम ने प्रेमी देव सिंह को उसके गांव से हिरासत में लेकर पूछताछ किया गया जो उसने बताया कि दिनांक 24.12.2020 को मृतिका पविता तिग्गा को अपने घर फोन करके बुलाया था एवं उसके साथ अपने घर में ही शराब का सेवन किया । दिन में करीब 3.00 बजे मृतिका के साथ देवसिंह उसे लेकर ग्राम केरता निवासी दशरू पनिका के यहां गया था , दोनों वहां भी शराब सेवन किए उसी समय मृतिका पविता की लड़की का फोन आ गया जिसे देवसिंह ने उठा कर हलो हलो बोल दिया और फोन काट दिया फिर दोनों साथ में घर जाने के लिए निकले तो रास्ते में पविता खेत में गिर गई और खेत के पानी से गिला हो गई तो देवसिंह वहां से बनिया गोड के घर से पैरा व अपने घर से आम की लकड़ी , मिट्टी तेल व माचिस लेकर आया और आग जलाकर दोनों आग तापने लगे इसी बीच पविता तिग्गा ने देव सिंह को बोली कि तुम मेरे घर का फोन क्यों उठा लिए थे मेरे घर वाले जान जाएंगे कि मैं गन्ना काटने नहीं गई हूं तुम्हारे साथ हूं बोलकर देवी सिंह को एक झापड़ मार दी तो देव सिंह गुस्सा में उसको वहीं जमीन पर पटक कर मारने लगा एक लात जोर से उसके सीना पर और सिर पर भी मारा तो पविता बेहोश हो गई और उसका श्वास बंद हो गया। देव सिंह उसका पपीता वाला झोला को गन्ना के खेत में एवं हसिया, चप्पल, स्कार्फ को कुछ दूर पर फेंक दिया एवं करता गांव वाले पर शंका हो इसलिए एक पपीता व सॉल को कुछ दूर रास्ते के खेत में फेंक कर अपने घर भाग गया। आरोपी देव सिंह उर्फ देवा के मेमोरेण्डम के आधार पर आरोपी के घर से लकड़ी, चप्पल एवं गमछा जप्त कर अपराध सबूत पाए जाने पर उसे विधिवत् गिरफ्तार किया गया है । 

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, चौकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह , एएसआई बृजकिशोर पाण्डेय , तिवारी, धनंजय पाठक, प्रधान आरक्षक विशाल मिश्रा , इन्द्रजीत सिंह, संतोष सिंह, विवेक पाण्डेय , संजय सिंह, आरक्षक कृष्णकांत पाण्डेय , युवराज यादव, रौशन सिंह, रजनीश पटेल, मोहम्मद नौशाद, अभय तिवारी व प्रमोद गुप्ता सक्रिय रहे ।

बुधवार, 23 दिसंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने हत्या के मामले में 3 आरोपियों को किया गिरफ्तार........

आरोपीगण प्रार्थियां को करते थे दहेज के लिए प्रताड़ित।

एक माह के मासूम बच्ची को जमीन में पटक कर की हत्या।

सूरजपुर: बुधवार 23 दिसम्बर 2020 की सुबह ग्राम बड़सरा, थाना भैयाथान निवासी सुशीला साहू पति संतोष साहू ने थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 22 दिसम्बर की रात्रि 9.30 बजे इसका पति संतोष साहु, ससुर कमलेश साहु एवं सास सुनीता साहु के द्वारा 01 लाख रूपये एवं मोटर सायकल दहेज में मांग कर शारीरिक एवं मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगे तब प्रार्थीया के द्वारा बोला गया कि मैं कहां से लाऊंगी मेरे पिताजी गरीब है जिस पर तीनों ने मिलकर प्रार्थियां को गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी देते हुए मारपीट किये, मारपीट का हल्ला सुन कर पास पड़ोस एवं प्रार्थियां के माता-पिता एवं भाई भी बीच बचाव करने के लिए पहुंचे जिनके साथ ही गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी देकर हाथ मुक्का से मारपीट किए। प्रार्थियां की 01 माह की बच्ची कुमारी परी साहू को प्रार्थियां का पति संतोष साहू एवं ससुर कमलेश साहू जमीन में पटक दिये जिससे उसकी मृत्यु हो गई। रिपोर्ट पर मर्ग क्रमांक 56/20 कायम कर अपराध क्रमांक 135/20 धारा 302, 498(ए), 294, 506, 323, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध करते हुए थाना प्रभारी झिलमिली ने पूरे मामले की जानकारी से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने पुलिस की टीम को तत्काल मौके पर रवाना करते हुए आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी के निर्देश दिए।
          अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी झिलमिली व पुलिस टीम के द्वारा मौके पर पहुंचकर शव पंचनामा कार्यवाही कर आरोपी पति संतोष साहू पिता कमलेश साहू उम्र 25 वर्ष, ससुर कमलेश साहू पिता रामदुलार साहू उम्र 45 वर्ष, सास - सुनीता साहू पति कमलेश उम्र 40 वर्ष निवासी पतेरापारा-बड़सरा, थाना झिलमिली को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी झिलमिली चित्ररेखा साहू, एएसआई लवकुश राजवाड़े, प्रधान आरक्षक हेमंत सोनवानी, महेन्द्र यादव, आरक्षक निलेश जायसवाल, विश्वजीत सिंह, हेमन्त सिंह, कमलेश मानिकपुरी, रामकुमार सिंह, भीमेश आर्मो, ओम प्रकाश, राजू उईके, शौकी लाल चैहान, रामा कुमार, नोबिन लकड़ा, राकेश सिंह, चंद्रदेव मरावी, महिला प्रफुल्ला मिंज व अंजिता तिर्की सक्रिय रहे।

गुरुवार, 3 दिसंबर 2020

सूरजपुर जिले के झिलमिली थाने को देश के सर्वश्रेष्ठ थानों में मिला चौथा स्थान.....




केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा देशभर के थानों में झिलमिली थाना चौथे नंबर पर।

गृह मंत्रालय भारत सरकार ने जारी की सर्वश्रेष्ठ थाना की रैकिंग।

डीजी छत्तीसगढ़ ने जिले के पुलिस अधीक्षक व कर्मचारियों को दी बधाई।

पूरे देश में सूरजपुर जिले का थाना झिलमिली चौथे स्थान पर।

सूरजपुर। उत्कृष्ट पुलिस थाने 2020 भारत सरकार ने घोषित किया है। देश के 10 शीर्ष थानों में छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले का झिलमिली थानें को चौथा स्थान हासिल हुआ है। भारत सरकार के गृह मंत्रालय के द्वारा उत्कृष्ट थाना को लेकर पूरे भारतवर्ष में सर्वे कराया था और इनमें से 10 शीर्ष पुलिस थानों की रैंकिंग की गई है। इसके लिए पहले थानों में डाटा विश्लेषण, सीधी परख और मिले फीडबैक के आधार पर रैंकिंग प्रक्रिया के तहत सर्वश्रेष्ठ कार्य प्रदर्शन करने वाले थानों की संक्षिप्त सूची तैयार की गई। जिसमें थाना की साफ-सफाई, रंग-रोगन, कैम्प सुरक्षा प्रबंध, पब्लिक बिहेवियर, क्वीक रिस्पांस, रिकार्ड संधारण, सीसीटीएनएस व अपराधों के समाधान के आधार पर बनाई गई।
          गृह मंत्रालय ने उत्कृष्ट थाना को लेकर कराए गए सर्वे में वर्ष 2019-20 नेशनल क्राइम ब्यूरो के तय मानकों पर जिले के थाना झिलमिली ने देश के सर्वश्रेष्ठ थाना केटेगरी में चौथा स्थान हासिल किया है। इस उपलब्धि पर छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिदेशक श्री डी.एम.अवस्थी ने आईजी सरगुजा श्री रतनलाल डांगीपुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा तथा जिले के पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को बधाई दी है।
          पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा ने कहा कि यह गौरव का क्षण है कि छत्तीसगढ़ पुलिस के सूरजपुर जिले के थाना झिलमिली को देशभर के सर्वश्रेष्ठ थानों में चौथा स्थान हासिल हुआ है। उन्होंने इसके लिए एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज, थाना प्रभारी झिलमिली चित्ररेखा साहू सहित थाने के कर्मचारियों को बधाई दी है।

मंगलवार, 24 नवंबर 2020

संदिग्धों की निगरानी के लिए प्रतिष्ठानों में लगाए तीसरी आंख-पुलिस अधीक्षक सूरजपुर.......

तीसरी आंख लगाने में व्यापारीगण करेंगे सहयोग।

प्रतिष्ठानों में कार्यरत् व्यक्तियों का पुलिस वेरिफिकेशन कराने को कहा।

सूरजपुर: बीते रविवार को छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू व डीजीपी श्री डी.एम.अवस्थी ने वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिए सभी पुलिस अधीक्षकों से कानून व्यवस्था एवं अपराधों की रोकथाम तथा व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में सीसीटीव्ही कैमरा लगाने के लिए उन्हें प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए थे।
          इसी परिपेक्ष्य में सोमवार 23 नवम्बर 2020 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने नगर के व्यवसायिक संस्थानों के संचालकों की मीटिंग पुलिस कन्ट्रोल रूम में आयोजित किया और उनसे सीसीटीव्ही की उपलब्धता, औचित्य तथा सुरक्षा विषयों को लेकर उनसे चर्चा की। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि आज अपराधों की रोकथाम और अपराध अन्वेषण एवं खोज-बीन के लिए नवीन तकनीक का उपयोग सबसे कारगर साबित हो रहा है। शहर के मुख्य चौक-चौराहों पर सीसीटीव्ही कैमरा के अलावा हम सभी की जिम्मेदारी है कि अपनी सुरक्षा के लिए खुद जागरूक रहें और इसके उपाए करें। उन्होंने कहा कि आप सभी के साथ मीटिंग करने का उद्देश्य संयुक्त रूप से सुरक्षा को प्राथमिकता देना है जिससे अपराध पर अंकुश लगे और असामाजिक तत्वों पर इसका खौफ बना रहेगा। अपराध को रोकने के लिए आप सभी सतर्क रहे और सीसीटीव्ही कैमरा लगाकर हमें सहयोग प्रदान करें। उन्होंने प्रतिष्ठानों में काम करने वाले व्यक्तियों का पुलिस वेरिफिकेशन अनिवार्य रूप से कराने की समझाईश दी।

बैठक की प्रमुख बाते।

          बैठक में पुलिस अधीक्षक ने कहा कि अक्सर देखा गया है कि व्यापारीगण दुकान के आंतरिक सुरक्षा को प्रथम तथा बाहरी सुरक्षा को दूसरे स्थान पर प्राथमिकता देते है जिसका अपराधियों को लाभ मिलता है। अपराधी वारदात को अंजाम देने के बाद सीसीटीव्ही कैमरे के हार्डडिस्क की तोड़फोड़ कर या उसे लेकर फरार हो जाते है जिसके कारण पुलिस को घटना की जांच व अपराधियों तक पहुंचने में दिक्कत होती है। सभी व्यापारीगण अपने-अपने प्रतिष्ठानों में सीसीटीव्ही कैमरा अवश्य लगवाए व कम से कम 2 कैमरा दुकान के बाहर इस तरह से लगवाए जिससे रोड़ पर होने वाली गतिविधियों एवं संदिग्धों पर नजर रखी जा सके, यथासंभव सीसीटीव्ही कैमरा अच्छी क्वालिटी के लगवाए, कई बार यह देखने को मिला है कि संदेही तो दिख रहे है किन्तु पिक्चर क्वालिटी अच्छी नहीं होने के कारण उन्हें पहचानने में काफी मशक्कत करनी पड़ती है।

तीसरी आंख लगाने में व्यापारीगण करेंगे सहयोग।

         बैठक में पुलिस अधीक्षक ने नगर में लगे सीसीटीव्ही कैमरा के अद्यतन स्थिति की जानकारी ली और व्यापारीगण से प्रमुख चौक-चौराहों सहित अन्य संवेदनशील स्थानों पर सीसीटीव्ही लगाने हेतु सहयोग करने की अपील की जिसमें व्यापारीगण ने पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया। बैठक में गोलू टाईल्स के संदीप गुप्ता, सांवारिया फ्लैक्स के संस्कार अग्रवाल, बनवारी लाल बिसेसर लाल के अंकुर गर्ग, सहित कई अन्य व्यापारीगण ने तीसरी आंख लगवाने में सहयोग करने की सैद्धांतिक सहमति दी।
          इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, थाना प्रभारी दीपक पासवान, सीएमओ नपा दीपक एक्का सहित काफी संख्या में नगर के व्यापारीगण मौजूद रहे।