गुरुवार, 27 जनवरी 2022

पैसा की विवाद को लेकर दादा की हत्या करने वाले पोते को बसदेई पुलिस ने किया गिरफ्तार


सूरजपुर। दिनांक 26.01.2022 को ग्राम बसदेई (भण्डारपारा) निवासी लाली सिंह ने चौकी बसदेई में रिपोर्ट दर्ज कराया कि गांव का भैयालाल 25 जनवरी को इसके घर आया और बोला कि घर वाले पैसा मांग कर झगड़ा करते है मैं तुम्हारे घर में रहूंगा। 26 जनवरी के शाम करीब 8.30 बजे भैयालाल का नाती सुनील इसके घर आया और भैयालाल को बोला कि मुझे उधारी पैसा वापस देना है बैंक से पैसा निकालकर दो कहते हुए गाली-गलौज कर डण्डा से सिर में प्राणघातक प्रहार कर उसकी हत्या कर दिया। रिपोर्ट पर चौकी बसदेई पुलिस के द्वारा मर्ग कायम कर अपराध क्रमांक 43/22 धारा 302, 460 भादवि का अपराध पंजीबद्ध किया। मामले की सूचना पर प्रभारी पुलिस अधीक्षक श्री राजेश अग्रवाल ने घटना स्थल का बारीकी से मुआयना करते हुए आरोपी की जल्द गिरफ्तारी के निर्देश दिए। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी सूरजपुर गीता वाधवानी के मार्गदर्शन में चौकी बसदेई की पुलिस ने आरोपी सुनील सिंह को उसके गांव से पकड़ा। पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि पिता की मृत्यु बीमारी के कारण वर्ष 2021 हुआ जिनके उपचार के लिए 1 लाख रूपये उधार लिया था, इस वर्ष यह और इसके भाई ने मिलकर खेती किए थे और धान का पैसा बाबा के खाता में आया था उधार का पैसा पटाने के लिए कई बार पैसा मांगा तो बाबा देने से इंकार कर दिया जिस कारण आवेश में आकर बाबा भैयालाल को डण्डा से सिर में मारकर हत्या कर दिया। आरोपी के निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त डण्डा जप्त कर आरोपी सुनील सिंह पिता स्व. राजेश सिंह उम्र 21 वर्ष को विधिवत् गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी बसदेई संजय सिंह, प्रधान आरक्षक राहुल गुप्ता, महेन्द्र यादव, थॉमस मिंज, आरक्षक देवदत्त दुबे, सुरेश साहू, गोरेश्वर, महेन्द्र प्रताप सिंह व अमरेश दुबे सक्रिय रहे। 

सूरजपुर जिले के 1 एसआई पदोन्नत होकर बने टीआई


सूरजपुर। बीते दिन पुलिस मुख्यालय रायपुर के द्वारा एसआई को टीआई के पद पर पदोन्नति का आदेश जारी किया है जिसमें सूरजपुर जिले के 01 एसआई एन.के.त्रिपाठी को वरिष्ठता क्रम के आधार पर टीआई के पद पर पदोन्नति सूची में सम्मिलित किया गया है। गुरूवार, 27 जनवरी 2022 को प्रभारी पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश अग्रवाल ने पदोन्नत हुए एसआई एन.के.त्रिपाठी के कंधों पर स्टार लगाकर टीआई पद पर पदोन्नति दी। उन्होंने पदोन्नत हुए टीआई के उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी और उन्हें कहा कि सेवा के अगले पड़ाव में जिम्मेदारीपूर्वक, पूर्ण निष्ठा, ईमानदारी से कर्तव्यों का निर्वहन करें। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एएसपी मुख्यालय पी.एस.महिलाने, डीएसपी नंदनी ठाकुर, कार्यालय अधीक्षक संतोष वर्मा व स्थापना प्रभारी अखिलेश सिंह मौजूद रहे।

सोमवार, 24 जनवरी 2022

नशीली टेबलेट के साथ 1 गिरफ्तार, थाना रामानुजनगर पुलिस की कार्यवाही


सूरजपुर। अवैध कार्यों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही को लेकर प्रभारी पुलिस अधीक्षक श्री राजेश अग्रवाल के निर्देश पर नशे के कारोबार से जुड़े लोगों पर कार्यवाही जारी है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में रविवार को थाना रामानुजनगर की पुलिस ने मुखबीर की सूचना पर ग्राम भुवनेश्वरपुर में घेराबंदी कर वहीं के रोहित राजवाड़े पिता रामबाबू को पकड़ा जिनके कब्जे से 650 नग नशीली टेबलेट कीमत 1463 रूपये का जप्त कर धारा 21(ए) एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही कर गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी रामानुजनगर विकेश तिवारी, एएसआई बिसुनदेव पैंकरा, आरक्षक गणेश सिंह, मनीष साहू, संतोष ठाकुर, वेदप्रकाश राजवाड़े, व महेन्द्र सिंह सक्रिय रहे।

ट्रेनी आईपीएस ने अग्रसर कार्यक्रम में छात्रों को दिए सफलता के टिप्स, आईपीएस बनने का अनुभव किया साझा


सूरजपुर। जिले में पुलिस परिवार के अध्ययनरत् बच्चों सहित विभिन्न स्कूलों के 500 छात्र-छात्राओं को अग्रसर कार्यक्रम के तहत विशेषज्ञ शिक्षकों एवं शिक्षाविदों से शिक्षा के क्षेत्र में सफल होने तथा कैरियर उन्मुखी ऑनलाईन क्लासेस की सुविधा उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रभारी पुलिस अधीक्षक श्री राजेश अग्रवाल के मार्गदर्शन में सोमवार, 24 जनवरी को जिले में प्रशिक्षण हेतु आए ट्रेनी आईपीएस श्री संदीप कुमार पटेल (भारतीय पुलिस सेवा) ने छात्र-छात्रों को वर्चुअल माध्यम से बेहतर शिक्षा एवं सिविल सर्विस परीक्षा सहित अन्य प्रतियोगी परीक्षा में सफल होने के महत्वपूर्ण जानकारियां दी और आईपीएस बनने तक के सफर के अनुभवों को साझा किया। इस दौरान ट्रेनी आईपीएस श्री पटेल ने छात्रों को कहा कि कड़ी मेहनत और लगन से सफलता हासिल की जा सकती है, इसके लिए आप जिस भी कक्षा की पढ़ाई कर रहे है उन कक्षाओं के सभी विषयों में रूचि लेकर पढ़ाई करें, लगातार अखबार पढ़े और लिखने का अभ्यास करें ताकि उनके उत्तर बेहतर हों। साथ ही उन्होंने कहा कि नियमित अध्ययन करने से व्यवस्थित तैयारी होगी और नकारात्मक विचार नहीं आयेंगे, आत्मविश्वास भी एक वांछनीय गुण है, जिसका मन और मस्तिष्क पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। परीक्षा के समय नोट्स के मुख्य बिंदुओं पर फोकस कर उनका लगातार रिवीजन करें। परीक्षा के लिए अधिक से अधिक मॉक टेस्ट दें और उनका विश्लेषण करके अपनी कमजोरियों को दूर करें। उन्होंने अग्रसर कार्यक्रम में करीब डेढ घंटे तक वर्चुअल जुड़े रहकर शिक्षा के क्षेत्र में सफलता अर्जित करने एवं प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल होने कई अहम जानकारियां दी और छात्र-छात्राओं के सवालों का बढ़े आत्मीयता से जवाब दिए और कहा कि जीवन में कुछ भी बनने के लिए उसके बारे में सोचना जरूरी है, लेकिन उसके लिए कड़ी मेहनत के साथ आपको सही दिशा में प्रयास करना होगा, किसी भी क्षेत्र में सफलता के लिए रुचि और समर्पण जरूरी है।


रविवार, 23 जनवरी 2022

पुलिस के जवानों ने स्वच्छता के लिए किया श्रमदान


सूरजपुर।     प्रभारी पुलिस अधीक्षक श्री राजेश अग्रवाल ने जिले के सभी थाना चौकी प्रभारियों को कोरोना संक्रमण से बचाव, कार्य स्थल पर वातावरण को स्वच्छ एवं सुन्दर बनाए रखने तथा फरियादियों के थाना आने पर उन्हें स्वच्छ अनुभूति मिले जिसके लिए थाना एवं चौकी भवन एवं परिसर की साफ-सफाई करने के निर्देश दिए थे। निर्देश के परिपालन में रविवार को जिले के सभी थाना चौकी एवं पुलिस लाइन में अधिकारी व जवानों ने साफ सफाई के लिए श्रमदान किया। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव एवं थाना चौकी परिसर में स्वच्छता रहने से मन मस्तिष्क में अच्छा प्रभाव पड़ता है जिसे लेकर रविवार को जिले के सभी थाना, चौकियों तथा पुलिस लाइन परिसर में स्वच्छता के लिए श्रमदान अभियान चलाकर पुलिस कर्मचारियों द्वारा व्यापक रूप से साफ सफाई का कार्य किया।

शनिवार, 22 जनवरी 2022

प्रभारी पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने ली थाना-चौकी प्रभारियों की वर्चुअल क्राईम मीटिंग


सूरजपुर।     थानों में पंजीबद्ध अपराधों खासकर महिलाओं व बच्चों से संबंधित मामलों में त्वरित कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए पंजीबद्ध मामलों की गंभीरता व संवेदनशीलता के आधार पर निराकरण करने एवं पीड़ितों को जल्द न्याय मिले इस हेतु प्रकरण की सही तरीके से विवेचना पूर्ण कर चालान न्यायालय में पेश हो, लंबित शिकायत, मर्ग जांच का निराकरण जल्द हो इसी उद्देश्य से प्रभारी पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश अग्रवाल ने शनिवार 22 जनवरी 2022 को वर्चुअल माध्यम से जिले के सभी पुलिस राजपत्रित अधिकारी व थाना-चौकी प्रभारियों की क्राईम मीटिंग ली। उन्होंने थाना-चौकी प्रभारियों से उनके यहां लंबित महिलाओं व बच्चों से संबंधित अपराधों, शिकायत, गुम इंसान तथा मर्ग के लंबित रहने के बारे में विस्तृत जानकारी ली और उन्हें जल्द निराकरण करने, टीम वर्क से काम करने एवं कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए नागरिकों को जागरूक करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पीड़ित व्यक्ति को न्याय दिलाने की दिशा में उचित कार्यवाही करें, समस्या लेकर फरियादी के थाना-चौकी आने पर उसे घुमाए नहीं बल्कि उसके समस्या को गंभीरतापूर्वक सुने और त्वरित कार्यवाही करने व कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सभी को बूस्टर डोज लगवाने के निर्देश दिए। वर्ष 2021 में थाना-चौकी में पंजीबद्ध कुल अपराध सहित अन्य जानकारियों का डाटा पूछे जाने पर चौकी प्रभारी लटोरी सुनील सिंह ने वर्ष 2021 के पंजीबद्ध सभी अपराधों का शत् प्रतिशत निकाल किया जाना बताया जिस पर प्रभारी पुलिस अधीक्षक ने चौकी प्रभारी को 500 रूपये नगद पुरस्कार देने की घोषणा की। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एएसपी पी.एस.महिलाने, डीएसपी सुश्री नंदनी पैंकरा, कार्यालय अधीक्षक संतोष वर्मा, स्थापना प्रभारी अखिलेश सिंह मौजूद रहे तथा सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह एसडीओपी ओड़गी राजेश जोशी सहित सभी थाना-चौकी प्रभारी इस वर्चुअल मीटिंग से जुड़े रहे।

मंगलवार, 18 जनवरी 2022

प्रभारी पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश अग्रवाल ने पदभार किया ग्रहण

सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता का दिनांक 17.01.2022 से दिनांक 29.04.2022 तक स्पेशल फाउन्डेशन कोर्स में जाने पर सूरजपुर जिले का प्रभारी पुलिस अधीक्षक श्री राजेश अग्रवाल को बनाया गया है। मंगलवार 18 जनवरी को श्री राजेश अग्रवाल जिला पुलिस कार्यालय पहुंचे जहां उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया तत्पश्चात् उन्होंने विधिवत प्रभारी पुलिस अधीक्षक का पदभार ग्रहण किया। श्री राजेश अग्रवाल 1998 बैच के राज्य पुलिस सेवा के अधिकारी है और वर्ष 2018 में आईपीएस अवार्ड हुए। वर्तमान में पुलिस मुख्यालय में एआईजी है तथा इसके पूर्व पुलिस अधीक्षक रायगढ़, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दुर्ग, धमतरी, कवर्धा, राजनांदगांव व सीएसपी रायपुर में पदस्थ रहे है। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एएसपी मुख्यालय पी.एस.महिलाने, परिवीक्षाधीन आईपीएस संदीप कुमार पटेल, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, मुख्य लिपिक संतोष वर्मा व स्थापना प्रभारी अखिलेश सिंह मौजूद रहे।

गुरुवार, 13 जनवरी 2022

सूरजपुर पुलिस ने ऑपरेशन मुस्कान के तहत गुजरात से अपहृत बालिका को किया दस्तयाब, आरोपी गिरफ्तार



सूरजपुर। पुलिस महानिदेशक छत्तीसगढ़ द्वारा सभी जिलों में गुमशुदा नाबालिग बच्चों के प्रकरणों को गंभीरता से लेते हुए इनकी खोजबीन हेतु विशेष अभियान ‘‘ऑपरेशन मुस्कान’’ चलाए जाने हेतु निर्देश जारी किए थे। इसी परिपेक्ष्य में सूरजपुर पुलिस ने एक अपहृत बालिका को गुजरात में आरोपी के कब्जे से दस्तयाब करने में सफलता हासिल की है।
दिनांक 13.11.2021 को चौकी उमेश्वरपुर निवासी एक व्यक्ति ने चौकी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसकी नाबालिक पुत्री 30 अक्टूबर 2021 को सुबह घर से बिना बताए कहीं चली गई है किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा बालिका को बहला फुसलाकर भगाकर ले गया है, प्रार्थी कि रिपोर्ट पर धारा 363 भादवि का मामला पंजीबद्ध किया गया। ऑपरेशन मुस्कान के तहत गुमशुदा एवं नाबालिक बालिका को भगाकर ले जाने के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने जिले के थाना-चौकी प्रभारियों को गुमशुदा एवं अपहरण के मामले में हर संभव प्रयास कर नई तकनीक की मदद एवं छोटी-बड़ी सुराग हासिल कर अपहृता को दस्तयाब तथा आरोपी की गिरफ्तार करने के निर्देश दिए थे।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में प्रकरण की विवेचना की गई जो पुलिस टीम को नई तकनीकी व सूत्र के जरिये जानकारी मिली की नाबालिक लड़की गुजरात में है, जिसकी जानकारी से उच्च अधिकारियों को अवगत कराया गया जो उन्होंने पुलिस टीम को गुजरात विधिवत् रवाना किया। पुलिस टीम गुजरात के दमन से आरोपी मनोज सिंह निवासी चौराही, थाना केल्हारी, जिला कोरिया के कब्जे से नाबालिक लड़की को बरामद किया। पीड़िता से पूछताछ के उपरान्त प्रकरण में पृथक से धारा 366, भादवि व पोक्सो एक्ट की धारा 12 जोड़ी जाकर आरोपी को गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी उमेश्वरपुर महेश्वर सिंह, एसआई हरिराम टण्डन, आरक्षक युवराज यादव, रौशन सिंह, राकेश पोर्ते व विक्रम सिंह सक्रिय रहे।

सोमवार, 10 जनवरी 2022

सूरजपुर पुलिस ने फाईन इण्डिसेल्स (फाईन इंडिया) चिटफण्ड कंपनी के 2 डायरेक्टरों को किया गिरफ्तार, 5 लाख 20 हजार रूपये कीमत के 1 स्कोडा कार, 2 नग क्रेडिट कार्ड, 1 मोबाईल, 3 नग चेक जप्त


सूरजपुर। दिनांक 27.03.2016 को ग्राम डुमरिया सूरजपुर निवासी रनसाय राजवाड़े ने थाना सूरजपुर में लिखित शिकायत दिया कि इसके पास बेनी माधव निवासी नमदगिरी व नारायण राजवाड़े निवासी महगवां आए और फाईन इंडिया कंपनी के बारे में बताए कि कंपनी के अभिकर्ता है और कंपनी का बहुत अच्छा प्लान है जो 1 लाख रूपये जमा करने पर जमाकर्ता को 9 हजार रूपये प्रतिमाह जीवनभर मिलेगा, जिससे प्रभावित होकर आवेदक और अन्य गवाहों से कुल 3 लाख 50 हजार रूपये आरोपियों द्वारा षड़यंत्र पूर्वक फाईन इंडिया कंपनी में जमा कराकर ऑनलाईन पर्ची दिए, जब प्रतिमाह पैसा नहीं मिला तो दोनों से सम्पर्क करने पर पैसा मिलेगा कहकर टालमटोल करते रहे और पैसा मांगने पर गाली-गलौज किया गया और धोखाधड़ी कर कंपनी बंद कर दिए। शिकायत जांच पर अपराध का घटित होना पाए जाने पर थाना सूरजपुर में अपराध क्र. 162/16 धारा 420, 120बी, 294, 506, भादवि, इनामी चिट और धन परिचालन स्कीम पाबंदी अधिनियम 1978 की धारा 4, 5, 6, छत्तीसगढ़ निक्षेपकों का संरक्षण अधिनियम की धारा 10 के तहत का मामला पंजीबद्ध किया। प्रकरण में आरोपी बेनी माधव, नारायण राजवाड़े कंपनी के अभिकर्ता होने के कारण माननीय सर्वोच्च न्यायालय के गाईड लाईन के आधार पर आरोपीगण से गवाह बनाया गया और मुख्य आरोपी फाईन इंडिया के डायरेक्टर दिवाकर सिन्हा, भूपेन्द्र चतुर्वेदी व अन्य को आरोपी बनाते हुए विवेचना प्रारंभ की गई। मामले की विवेचना के दौरान पाया गया कि फाईन इण्डिसेल्स प्रा.लि. कंपनी के डायरेक्टर भूपेन्द्र चतुर्वेदी, दिवाकर सिन्हा और सईद अहमद है जिसके बाद थाना सूरजपुर की पुलिस ने दुर्ग से कंपनी के डायरेक्टर भूपेन्द्र चतुर्वेदी पिता स्व. नंदकुमार निवासी भिलाई नेहरूनगर, थाना सुपेला जिला दुर्ग को दिनांक 02.01.2022 को गिरफ्तार किया गया जिसके कब्जे से 1 नग लेपटाप, 1 नग मोबाईल कीमत 1 लाख रूपये का जप्त किया गया और 2 अन्य डायरेक्टरों की पतासाजी में लगी रही। राज्य शासन ने चिटफण्ड कंपनी के विरूद्ध लंबित मामलों में तेजी लाने एवं आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए थे जिसके परिपेक्ष्य में पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने चिटफण्ड के प्रकरणों में फरार आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने पुलिस टीम को लगाया था। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी गीता वाधवानी के मार्गदर्शन में थाना सूरजपुर पुलिस की 2 टीमों को पुख्ता जानकारी के आधार आरोपियों को विधिवत् पकड़ने रवाना किया गया, पुलिस की एक टीम ने रायपुर से कंपनी के डायरेक्टर दिवाकर सिन्हा पिता स्व. दिनेश्वर प्रसाद सिन्हा उम्र 52 वर्ष निवासी मुगेर, थाना व जिला मुगेर बिहार को पकड़ा जिसके कब्जे से 1 स्कोडा कार क्रमांक सीजी 07 एएस 0501, 2 नग क्रेडिट कार्ड, 1 नग मोबाईल व 3 नग चेक कुल कीमत 5 लाख 20 हजार रूपये का जप्त किया गया।
पुलिस की दूसरी टीम ने कानपुर से कंपनी के डायरेक्टर सईद अहमद पिता रफिक अहमद उम्र 44 वर्ष निवासी जार्ज मऊ, थाना चचेरी, जिला कानपुर उत्तरप्रदेश का पकड़ा गया। मामले में दोनों आरोपियों के विरूद्ध अपराध सबूत पाए जाने पर विधिवत् गिरफ्तार किया गया। पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि प्रारंभ में फाईन इण्डिसेल्स (फाईन इंडिया) प्रा.लि. कंपनी बनाकर नेटवर्किग सिस्टम से जोड़ा गया, कंपनी से जुड़ने के लिए 2 हजार रूपये सदस्या शुल्क लेकर उन्हें सामग्री की पैकेट दी जाती थी बाद में उसे बढ़ाकर 10 हजार रूपये कर दिया गया और उसकी भी सामग्री दी जानी लगी। नेटवर्किंग सिस्टम में जो एजेंट जितने ज्यादा सदस्य बनाता था उसे प्रत्येक सदस्य से 1 हजार रूपये कमीशन दी जाती थी इस प्रकार करोड़ो-अरबो की धोखाधड़ी की गई। प्रचार-प्रसार के अभाव एवं एजेंट बढ़ाने के उद्देश्य कंपनी का ऑफिस कानपुर उत्तरप्रदेश से बढ़ाते हुए मुम्बई में प्रारंभ किया गया। इन जगहों से पूरे भारतवर्ष के धोखाधड़ी को अंजाम दिया गया। सूरजपुर जिले से 132 इन्वेस्टरों से करीब के 98 लाख रूपये की राशि की धोखाधड़ी की गई है।
                कलकत्ता सीबीआई के द्वारा प्रकरण की विवेचना की जा रही है एवं कटक उड़ीसा सीबीआई न्यायालय में प्रकरण विचारण में है। प्रर्वतन निदेशालय (ईडी) के द्वारा फाईन इंडिसेल्स (फाईन इंडिया) प्रा.लि. कंपनी के पूरे एकाउण्ड से 150 करोड़ रूपये फ्रीज किया है जिसके संबंध में अग्रिम कार्यवाही उनके द्वारा की जा रही है। 
फाईन इण्डिसेल्स कंपनी के विरूद्ध हमारे जिले में थाना सूरजपुर के अलावा जिला जांजगीर-चाम्पा में 3 प्रकरण, जिला कांकेर में 1 प्रकरण, जिला बालौद में 2 प्रकरण एवं जिला राजनांदगांव 01 प्रकरण कुल 08 पंजीबद्ध है। जिन जिलों में कंपनी के विरूद्व मामला पंजीबद्ध है वहां की पुलिस को आरोपियों की गिरफ्तारी के बारे में सूचना दे दी गई है। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर दीपक पासवान, एसआई संतोष सिंह, एएसआई देवनाथ चौधरी, प्रधान आरक्षक ऐसन पाल, तालीब शेख, रजनीश त्रिपाठी, आरक्षक लक्ष्मी नारायण मिर्रे, कैलाश यादव, युवराज यादव, रौशन सिंह, अकरम मोहम्मद व सत्यम सिंह सक्रिय रहे।

शनिवार, 8 जनवरी 2022

नशीली कफ सिरप के साथ अपचारी बालक पकड़ाया, थाना जयनगर पुलिस की कार्यवाही

सूरजपुर। अवैध कारोबार के विरूद्व पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर लगातार कार्यवाही जारी है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु के मार्गदर्शन में शुक्रवार, 07 जनवरी को मुखबीर की सूचना पर थाना जयनगर की पुलिस ने संजयनगर में घेराबंदी कर बभनी सोनभद्र उत्तरप्रदेश निवासी एक नाबालिक बालक को पकड़ा जिसके कब्जे से 120 नग ई-स्कूफ कफ सिरप कीमत 21 हजार रूपये का जप्त किया गया। मामले में अपचारी बालक के विरूद्व धारा 21(सी) एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही की गई। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर सुभाष कुजूर, एसआई दिनेश राजवाड़े, प्रवीण राठौर, एन.के.त्रिपाठी, प्रधान आरक्षक शिव राजवाड़े, आरक्षक रमेश कसेरा, दीपक दुबे, मितेश मिश्रा, विकास मिश्रा, कृष्णा सिंह व अभय पाण्डेय सक्रिय रहे।