शनिवार, 31 दिसंबर 2016

एसपी सूरजपुर ने रक्षित केन्द्र सूरजपुर का वार्षिक निरीक्षण किया
















आज पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय ने रक्षित केन्द्र सूरजपुर का वार्षिक निरीक्षण किया। जिसमें रक्षित केन्द्र एवं थाना में पदस्थ अधिकारी कर्मचारियों के परेड़ की सलामी ली एवं उनका टर्नआउट का निरीक्षण कर, किट परेड तथा सभी पुलिस के सभी शासकीय वाहनों का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण पर अच्छे परेड एवं किट हेतु कर्मचारियों के उत्साहवर्धन हेतु ईनाम भी दिये। इसके उपरान्त दरबार के आयोजन के दौरान एसपी श्री साय ने कहा कि आईजी सरगुजा हिमांशु गुप्ता के द्वारा सूरजपुर जिले की पुलिसिंग को बेहतर बताया जाना गौरव की बात है उनके इस विश्वास को सदैव बनाये रखने हेतु कहा, उपस्थित थाना चौकी प्रभारियों को निर्देशित किया कि थाने में आने वाले पीड़ित व फरियादियों को सर्वप्रथम पानी पिलाने की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुये उनके साथ घटित घटना की विस्तृत जानकारी लेकर तत्काल कार्यवाही करें, कोई भी ऐसा कार्य न करें जिससे पुलिस के अधिकारी कर्मचारियों को सजा मिले या उनके विरूद्ध जांच हो, जिले में घटित गंभीर घटनाओं को त्वरित गति से कार्यवाही करते हुये पतासाजी कर मामले के निराकरण करने पर उन्हें बधाई दी, स्वयं तथा अपनी पत्नी व बच्चों के स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहने ताकि जब कर्मचारी स्वयं स्वस्थ्य रहेंगे तभी वह सौंपे गये कार्यो का निर्वहन अच्छे से कर सकेंगे, आम जनता पुलिस से आशा करती है कि उनके समस्याओं का निराकरण समय पर हो इसलिये सभी को आवश्यक  कार्य करने, पुलिस कार्यालय, सीएसपी व एसडीओपी कार्यालय के साथ थाना/चौकी प्रभारियों के द्वारा अच्छी कार्यवाही किये जाने पर प्रशन्नता व्यक्त करते हुये नववर्ष 2017 की शुभकामनाएं दी। दरबार में कर्मचारियों की समस्याओं को सुना एवं उसका निराकरण किया। इसके पश्चात रक्षित केन्द्र सूरजपुर के रिकार्ड, दस्तावेज, शस्त्रागार, स्टोर, परिवहन शाखा एवं एलार्म सिस्टम का मुआयना किया एवं सुधार के निर्देश दिये। पुलिस लाईन में वार्षिक निरीक्षण हेतु बेहतर तैयारी करने पर रक्षित निरीक्षक रामप्रसाद पैकरा एवं सूबेदार सनत ठाकुर की तारीफ की। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत, सीएसपी डी.के.सिंह, एसडीओपी प्रेमनगर चंचल तिवारी, डीएसपी अजाक बी.एल.केहरी, प्रशिक्षु डीएसपी नवनीत कौर छाबड़ा, स्टेनो पुष्पेन्द्र शर्मा, रक्षित निरीक्षक रामप्रसाद पैकरा, सूबेदार सनत ठाकुर, थाना प्रभारी अनूप एक्का, सुनील तिवारी, तेजनाथ सिंह, प्रदुम्मन तिवारी, रामेन्द्र सिंह, निरीक्षक जयराम मण्डावी, डीएसबी प्रभारी षिवराम कुंजाम, एसआई सी.पी.तिवारी, सी.आर.राजवाड़े, यातायात प्रभारी सूरजन राम राजवाड़े, साईबर प्रभारी नीलाम्बर मिश्रा, एमटीओ गंगाधर जोशी, चौकी प्रभारी बृजनाथ साय पैकरा, राजेश तिवारी तथा थाना व रक्षित केन्द्र के अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।

शनिवार, 24 दिसंबर 2016

कैशलेश लेन देन पर हुई कार्यशाला

सूरजपु‌र । जिला मुख्यालय में 21 दिसंबर 16 को अायोजित एक दिवसीय कार्यशाला में सभी थानों के कर्मचारियों को लेनदेन के इलेक्ट्रानिक लेन देन का प्रशिक्षण प्रदान किया गया। अगले चरन में यहाँ प्रशिक्षित अधिकारी अपने थानों के अन्य कर्मचारियों को प्रशिक्षण देंगे। इस कार्यशाला में कैशलेश प्रशिक्षण की जिला पुलिस नोडल अधिकारी श्रीमती चंचल तिवारी उपस्थित थीं। मास्टर ट्रेनर उप निरीक्षक नीलाम्बर मिश्रा द्वारा सहयोगी उप निरीक्षक रवि सिंह, आरक्षक विनय दान के सहयोग से कार्यशाला में प्रशिक्षण दिया गया। 

लूट मामले के दो आरोपी गिरफ्तार




सूरजपुर । ग्राम पचिरा निवासी जो उप स्वास्थ्य केन्द्र जिला कोरिया में एमपीडब्ल्यू के पद पर पदस्थ विजेन्द्र राजवाड़े गत् 1 दिसम्बर के शाम करीब 4.00 बजे अम्बिकापुर से केतका रोड़ होते हुये परशुरामपुर मोटर सायकल से जा रहा था तभी रास्ते में देवीपुर जंगल के पास चार व्यक्ति तुलसी साहू, खेलसाय, महेन्द्र एवं सूरज धोबी के द्वारा विजेन्द्र से 10 हजार रू. नगदी, सैमसंग मोबाईल एवं सोनाटा कंपनी का घड़ी कुल कीमती 15 हजार रूपये को लूट करते हुये मारपीट किये तथा अपने को टीआई का आदमी है बोला गया। आवेदक विजेन्द्र की रिपोर्ट पर थाना सूरजपुर में आरोपियों के विरूद्व अपराध क्र. 533/16 धारा 394, 34 भादवि के तहत् मामला पंजीबद्व किया गया। मामले की गंभीरता को देखते हुये पुलिस अधीक्षक सूरजपुर डी.आर.आंचला ने मामले के आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने हेतु निर्देशित करते हुये सीएसपी डी.के.सिंह के नेतृत्व में थाना सूरजपुर एवं क्राईम ब्रांच की टीम गठित की गई। प्रकरण में पहली सफलता दिनांक 04 दिसम्बर को लगी आरोपी खेलसाय राजवाड़े को पुलिस टीम ने घेराबंदी कर पकड़ा जिसके कब्जे से प्रार्थी का घड़ी एवं 1 हजार रू. नगदी रकम बरामद किया गया। मामले में जांच जारी ही थी कि मुखबीर के सूचना के आधार पर थाना सूरजपुर एवं क्राईम ब्रांच की टीम ग्राम देवीपुर के जंगल में घेराबंदी कर आरोपी ग्राम देवीपुर निवासी तुलसी साहू एवं महेन्द्र लोहार को गिरफ्तार किया गया जिनके कब्जे से लूट की गई रकम 2 हजार रूपये बरामद किया गया। प्रकरण के आरोपी घटना दिनांक से ही फरार थे इनके द्वारा देवीपुर जंगल में आतंक का माहौल बना दिया गया था। दोनों गिरफ्तार आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। प्रकरण में एक आरोपी फरार है जिसकी पतासाजी की जा रही है। इस कार्यवाही में सीएसपी डी.के.सिंह, थाना प्रभारी सूरजपुर अनूप एक्का, क्राईम ब्रांच प्रभारी सी.पी.तिवारी, एएसआई प्रमोद पाण्डेय, सुनील सिंह, माधव सिंह, प्रधान आरक्षक अभिषेक पाण्डेय, राहुल गुप्ता, बिसुनदेव पैकरा, आरक्षक महिपाल सिंह, महेन्द्र प्रताप सिंह, महिपाल सिंह, अनूज सिंह, संजय व अन्य आरक्षकगण सक्रिय रहे।

शुक्रवार, 2 दिसंबर 2016

पुलिस अधीक्षक ने ली क्राईम मिटिंग, दिए आवश्यक दिशा निर्देश



सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर डी.आर.आंचला ने क्राईम मिटिंग आज पुलिस कन्ट्रोल रूम के सभाकक्ष में ली जिसमें वर्ष के अंत में लंबित अपराध, शिकायत को न्यूनतम स्तर पर लाने अथवा लंबित संख्या शून्य कर देने के संबंध में विस्तृत समीक्षा कर थाना/चौकी प्रभारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया। इस दौरान एसपी श्री आंचला ने विशेष रूप से निर्देश दिया कि लंबित अपराध व शिकायत का निराकरण किया जाना है किन्तु जल्दबाजी में त्रुटिपूर्ण निराकरण नहीं करेंगे, अपने सीएसपी या एसडीओपी से उचित मार्गदर्शन प्राप्त कर कार्यवाही करने, गुम इंसान दस्तयाब करने हेतु विशेष अभियान चलाकर दस्तयाब करने, सभी राजपत्रित अधिकारियों को अपने अनुविभाग के थानों में लंबित अपराधों एवं शिकायतों के निराकरण हेतु समीक्षा बैठक लेने, स्थाई वारंट की तामीली करने, लंबित शिकायतों की जांच शीघ्र पूर्ण करने, ग्राम भ्रमण करने, गुण्डा तथा निगरानी बदमाशों की नियमित चेकिंग करने, झगड़ालू व सीमावर्ती ग्राम में नियमित रूप से प्रभावी गश्त करने निर्देशित किया। ग्राम दतिमा में जम्बूरी कार्यक्रम में पुलिस विभाग की ओर से एडिशनल एसपी एस.आर.भगत को नोडल अधिकारी एवं सीएसपी डी.के.सिंह को सहायक नोडल अधिकारी नियुक्ति किया गया है।  मीटिंग के दौरान एसपी श्री आंचला ने मुख्य रूप से कहा कि पुलिस का कार्य पारदर्शी और पीड़ितों को तत्काल न्याय देने वाला होना चाहिए इस हेतु थाना प्रभारियों को आवश्यक कार्य करने निर्देशित किया। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत, सीएसपी डी.के.सिंह, एसडीओपी ओड़गी जे.एल.लकड़ा, स्टेनो पुष्पेन्द्र शर्मा, रक्षित निरीक्षक रामप्रसाद पैकरा, थाना प्रभारी अनूप एक्का, सुनील तिवारी, तेजनाथ सिंह, दीपक भारद्वाज, रूंगटूराम, डी.पी.साहू, रामेन्द्र सिंह, प्रदुम्मन तिवारी, सी.आर.राजवाड़े, गणेश यादव, अजरूद्दीन, विरेन्द्र कंवर, निरीक्षक जयराम मण्डावी, डीएसबी प्रभारी शिवराम कुंजाम, शिकायत शाखा प्रभारी अमिताभ, रीडर जान प्रदीप लकड़ा, डीसीबी शाखा प्रभारी एस.पी.खाखा, क्राईम ब्रांच प्रभारी सी.पी.तिवारी, यातयात प्रभारी सूरजन राम राजवाड़े, चौकी प्रभारी राजेश तिवारी, बृजनाथ साय पैकरा, कपिलदेव पाण्डेय, रामनरेश गुप्ता, राजाराम राठिया, प्रदीप चन्द्राकर, एवं रामनरेश गुप्ता उपस्थित रहे।