सोमवार, 28 दिसंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने केरता गन्ना खेत में हुए हत्या के मामले का किया खुलासा। आरोपी प्रेमी ने वारदात को दिया था अंजाम.............

सूरजपुर : थाना प्रतापपुर चौकी खडगवा के ग्राम मानपुर की रहने वाली पविता तिग्गा पति स्व . गोपाल उम्र 40 वर्ष दिनांक 24 12 2020 को अपने घर से बदोलिहा के यहां ग्राम केरता गन्ना काटने जा रही हूं कहकर सुबह 9.00 बजे घर से निकली थी जो रात तक घर वापस नहीं आई दूसरे दिन पविता तिग्गा का शव सुबह 9.00 बजे ग्राम केरता निवासी ज्वाला प्रसाद सिंह के खेत में मिला । पविता की पुत्री ललिता तिग्गा की रिपोर्ट पर मर्ग कायम किया गया । मामले की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा मौके पर पहुंचे और घटना स्थल का सूक्ष्म जायजा लिया साथ ही डॉग स्क्वार्ड , एफएसएल व पुलिस टीम की मौजूदगी में बारीकी से मौके का मुआयना कराया । मृतिका का शव पंचनामा के बाद पीएम के लिए भेजा गया , शॉर्ट पीएम रिपोर्ट में डॉक्टर के द्वारा मृतिका की मृत्यु का कारण होमोसाईडल लेख करने पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व थाना प्रतापपुर में अपराध क्रमांक 214/20 धारा 302 भादस का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया । 
          मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने प्रकरण की जांच एवं आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एसडीओपी प्रतापपुर पी.एस महिलाने , एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन कर जांच में लगाया । पुलिस टीम को विवेचना के दौरान जानकारी मिली कि मृतिका का प्रेम संबध करीब 10 वर्षों से देव सिंह पिता कानगो जाति गोड़ उम्र 40 वर्ष निवासी ग्राम पंपापुर , चौकी खड़गवां से था । जिस पर पुलिस टीम ने प्रेमी देव सिंह को उसके गांव से हिरासत में लेकर पूछताछ किया गया जो उसने बताया कि दिनांक 24.12.2020 को मृतिका पविता तिग्गा को अपने घर फोन करके बुलाया था एवं उसके साथ अपने घर में ही शराब का सेवन किया । दिन में करीब 3.00 बजे मृतिका के साथ देवसिंह उसे लेकर ग्राम केरता निवासी दशरू पनिका के यहां गया था , दोनों वहां भी शराब सेवन किए उसी समय मृतिका पविता की लड़की का फोन आ गया जिसे देवसिंह ने उठा कर हलो हलो बोल दिया और फोन काट दिया फिर दोनों साथ में घर जाने के लिए निकले तो रास्ते में पविता खेत में गिर गई और खेत के पानी से गिला हो गई तो देवसिंह वहां से बनिया गोड के घर से पैरा व अपने घर से आम की लकड़ी , मिट्टी तेल व माचिस लेकर आया और आग जलाकर दोनों आग तापने लगे इसी बीच पविता तिग्गा ने देव सिंह को बोली कि तुम मेरे घर का फोन क्यों उठा लिए थे मेरे घर वाले जान जाएंगे कि मैं गन्ना काटने नहीं गई हूं तुम्हारे साथ हूं बोलकर देवी सिंह को एक झापड़ मार दी तो देव सिंह गुस्सा में उसको वहीं जमीन पर पटक कर मारने लगा एक लात जोर से उसके सीना पर और सिर पर भी मारा तो पविता बेहोश हो गई और उसका श्वास बंद हो गया। देव सिंह उसका पपीता वाला झोला को गन्ना के खेत में एवं हसिया, चप्पल, स्कार्फ को कुछ दूर पर फेंक दिया एवं करता गांव वाले पर शंका हो इसलिए एक पपीता व सॉल को कुछ दूर रास्ते के खेत में फेंक कर अपने घर भाग गया। आरोपी देव सिंह उर्फ देवा के मेमोरेण्डम के आधार पर आरोपी के घर से लकड़ी, चप्पल एवं गमछा जप्त कर अपराध सबूत पाए जाने पर उसे विधिवत् गिरफ्तार किया गया है । 

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, चौकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह , एएसआई बृजकिशोर पाण्डेय , तिवारी, धनंजय पाठक, प्रधान आरक्षक विशाल मिश्रा , इन्द्रजीत सिंह, संतोष सिंह, विवेक पाण्डेय , संजय सिंह, आरक्षक कृष्णकांत पाण्डेय , युवराज यादव, रौशन सिंह, रजनीश पटेल, मोहम्मद नौशाद, अभय तिवारी व प्रमोद गुप्ता सक्रिय रहे ।

बुधवार, 23 दिसंबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने हत्या के मामले में 3 आरोपियों को किया गिरफ्तार........

आरोपीगण प्रार्थियां को करते थे दहेज के लिए प्रताड़ित।

एक माह के मासूम बच्ची को जमीन में पटक कर की हत्या।

सूरजपुर: बुधवार 23 दिसम्बर 2020 की सुबह ग्राम बड़सरा, थाना भैयाथान निवासी सुशीला साहू पति संतोष साहू ने थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 22 दिसम्बर की रात्रि 9.30 बजे इसका पति संतोष साहु, ससुर कमलेश साहु एवं सास सुनीता साहु के द्वारा 01 लाख रूपये एवं मोटर सायकल दहेज में मांग कर शारीरिक एवं मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगे तब प्रार्थीया के द्वारा बोला गया कि मैं कहां से लाऊंगी मेरे पिताजी गरीब है जिस पर तीनों ने मिलकर प्रार्थियां को गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी देते हुए मारपीट किये, मारपीट का हल्ला सुन कर पास पड़ोस एवं प्रार्थियां के माता-पिता एवं भाई भी बीच बचाव करने के लिए पहुंचे जिनके साथ ही गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी देकर हाथ मुक्का से मारपीट किए। प्रार्थियां की 01 माह की बच्ची कुमारी परी साहू को प्रार्थियां का पति संतोष साहू एवं ससुर कमलेश साहू जमीन में पटक दिये जिससे उसकी मृत्यु हो गई। रिपोर्ट पर मर्ग क्रमांक 56/20 कायम कर अपराध क्रमांक 135/20 धारा 302, 498(ए), 294, 506, 323, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध करते हुए थाना प्रभारी झिलमिली ने पूरे मामले की जानकारी से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने पुलिस की टीम को तत्काल मौके पर रवाना करते हुए आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी के निर्देश दिए।
          अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी झिलमिली व पुलिस टीम के द्वारा मौके पर पहुंचकर शव पंचनामा कार्यवाही कर आरोपी पति संतोष साहू पिता कमलेश साहू उम्र 25 वर्ष, ससुर कमलेश साहू पिता रामदुलार साहू उम्र 45 वर्ष, सास - सुनीता साहू पति कमलेश उम्र 40 वर्ष निवासी पतेरापारा-बड़सरा, थाना झिलमिली को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी झिलमिली चित्ररेखा साहू, एएसआई लवकुश राजवाड़े, प्रधान आरक्षक हेमंत सोनवानी, महेन्द्र यादव, आरक्षक निलेश जायसवाल, विश्वजीत सिंह, हेमन्त सिंह, कमलेश मानिकपुरी, रामकुमार सिंह, भीमेश आर्मो, ओम प्रकाश, राजू उईके, शौकी लाल चैहान, रामा कुमार, नोबिन लकड़ा, राकेश सिंह, चंद्रदेव मरावी, महिला प्रफुल्ला मिंज व अंजिता तिर्की सक्रिय रहे।

गुरुवार, 3 दिसंबर 2020

सूरजपुर जिले के झिलमिली थाने को देश के सर्वश्रेष्ठ थानों में मिला चौथा स्थान.....




केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा देशभर के थानों में झिलमिली थाना चौथे नंबर पर।

गृह मंत्रालय भारत सरकार ने जारी की सर्वश्रेष्ठ थाना की रैकिंग।

डीजी छत्तीसगढ़ ने जिले के पुलिस अधीक्षक व कर्मचारियों को दी बधाई।

पूरे देश में सूरजपुर जिले का थाना झिलमिली चौथे स्थान पर।

सूरजपुर। उत्कृष्ट पुलिस थाने 2020 भारत सरकार ने घोषित किया है। देश के 10 शीर्ष थानों में छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले का झिलमिली थानें को चौथा स्थान हासिल हुआ है। भारत सरकार के गृह मंत्रालय के द्वारा उत्कृष्ट थाना को लेकर पूरे भारतवर्ष में सर्वे कराया था और इनमें से 10 शीर्ष पुलिस थानों की रैंकिंग की गई है। इसके लिए पहले थानों में डाटा विश्लेषण, सीधी परख और मिले फीडबैक के आधार पर रैंकिंग प्रक्रिया के तहत सर्वश्रेष्ठ कार्य प्रदर्शन करने वाले थानों की संक्षिप्त सूची तैयार की गई। जिसमें थाना की साफ-सफाई, रंग-रोगन, कैम्प सुरक्षा प्रबंध, पब्लिक बिहेवियर, क्वीक रिस्पांस, रिकार्ड संधारण, सीसीटीएनएस व अपराधों के समाधान के आधार पर बनाई गई।
          गृह मंत्रालय ने उत्कृष्ट थाना को लेकर कराए गए सर्वे में वर्ष 2019-20 नेशनल क्राइम ब्यूरो के तय मानकों पर जिले के थाना झिलमिली ने देश के सर्वश्रेष्ठ थाना केटेगरी में चौथा स्थान हासिल किया है। इस उपलब्धि पर छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिदेशक श्री डी.एम.अवस्थी ने आईजी सरगुजा श्री रतनलाल डांगीपुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा तथा जिले के पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को बधाई दी है।
          पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा ने कहा कि यह गौरव का क्षण है कि छत्तीसगढ़ पुलिस के सूरजपुर जिले के थाना झिलमिली को देशभर के सर्वश्रेष्ठ थानों में चौथा स्थान हासिल हुआ है। उन्होंने इसके लिए एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज, थाना प्रभारी झिलमिली चित्ररेखा साहू सहित थाने के कर्मचारियों को बधाई दी है।