बुधवार, 21 अक्तूबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने चोरी के मामले में वर्षो से फरार 1 आरोपी को किया गिरफ्तार........

सूरजपुर: दिनांक 13.09.18 को बिहारपुर निवासी राजेन्द्र सिंह ने थाना चांदनी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि उनके बंद मकान में लोहे की सिकड़ी को अटास कर दरवाजा खोलकर घर के अन्दर के अलमारी को तोड़कर उसमें रखे सोने-चांदी के जेवरात व नगदी रकम कुल 4,65,100 रूपये को अज्ञात चोरों के द्वारा रात्रि में चोरी कर लिया। रिपोर्ट पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व अपराध क्रमांक 51/18 धारा 380, 457, 34 भादवि के तहत मामला पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया था।
           मामले की विवेचना कर आरोपियों की पतासाजी कर दिनांक 04.01.2019 को 05 आरोपी ग्राम लामीदाह थाना सरई जिला सिंगरौली निवासी सिपाहीलाल बसोर उर्फ रामवृक्ष बसोर, बहादुर बसोर, ग्राम बुधेला, थाना बैढ़न, जिला सिंगरौली निवासी रामकुमार बसोर, गोविन्द बसोर उर्फ सेठ एवं ग्राम बरहवाटोला, थाना बरगांवा, जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश निवासी रामजनम बसोर को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लगभग 964.22 ग्राम चांदी का जेवरात व नगदी समेज कुल 44 हजार 6 सौ 40 रूपये का बरामद कर उनके विरूद्व चालान न्यायालय में पेश किया गया। चॅूकि मामले में 2 अन्य आरोपी फरार थे जिनके विरूद्व धारा 173(8) जा.फौ. के तहत विवेचना कर लगातार पतासाजी की जा रही थी।
         पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने धारा 173(8) जा.फौ. के लंबित मामले में जिनमें आरोपी फरार है ऐसे मामलों के निराकरण में तेजी लाने, फरार आरोपियों की जानकारी जुटाते हुए उन्हें जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश थाना प्रभारियों को दिये थे। एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज के मार्गदर्शन में मामले की विवेचना के दौरान थाना प्रभारी चांदनी को मुखबीर से जानकारी मिली कि मामले में फरार एक आरोपी रामसागर बसोर पिता बेचन बसोर अपने गांव लामीदाह थाना सरई, जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश का गांव में 2 मकान है जहां पर वह लुक-छिप कर रह रहा है। जिसकी जानकारी से पुलिस अधीक्षक को अवगत कराने पर उन्होंने विधिवत् थाना प्रभारी चांदनी के नेृतत्व में पुलिस टीम गठित कर मध्यप्रदेश भेजा। पुलिस टीम ने दिनांक 19.10.2020 को जिला सिंगरौली के पुलिस चौकी तीनगुड़ी के पुलिस अधिकारियों से समन्वय बनाकर आरोपी के दोनों घरों पर कड़ी निगाह रखने के दौरान अंधेरा हो गया इसी बीच आरोपी रामसागर मोटर सायकल से घर के पास आया जिसे पुलिस टीम ने घेराबंदी कर धरदबोचा। आरोपी रामसागर ने पूछताछ पर अपराध करना स्वीकार किया व अपने हिस्से में मिले चोरी के सामान सोने के चैन को फेरीवाले के पास साप्ताहिक बाजार गजराबहरा में 21 हजार रूपये में बेचना तथा नगद मिले को खर्च कर देना बताया। आरोपी से चोरी के समान 2 जोड़ी चांदी का बिछिया कीमत करीब 600 रूपये व मकान के दरवाजे व अलमारी को तोड़ने के लिए उपयोग में लाया गया सब्बल जप्त कर विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। मामले में एक अन्य आरोपी फरार है जिसकी पतासाजी पुलिस टीम के द्वारा की जा रही है।
         इस कार्यवाही में थाना प्रभारी चांदनी शिवकुमार खुटे, प्रधान आरक्षक शरद सिंह, आरक्षक बलजीत पैंकरा, हरिलाल पैंकरा व जिला सिंगरौली के चौकी प्रभारी तीनगुड़ी एसआई ए.के.अग्निहोत्री व स्टाफ सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने सोशल मीडिया पर अश्लील गाली-गलौज करने वाले शख्स को किया गिरफ्तार.......

सूरजपुर: दिनांक 08.09.2020 को ग्राम केवरा निवासी एक महिला ने थाना झिलमिली में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 17 अगस्त के रात्रि करीब 11 बजकर 4 मिनट में इसके फेसबुक पर कोई अज्ञात व्यक्ति एक दूसरे फेसबुक एकाउंट से गाली-गलौज व अश्लील टिप्पणी लिखकर पोस्ट कर रहा है। पीड़िता की रिपोर्ट पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व अपराध क्रमांक 68/20 धारा 509(ख) भादवि व धारा 67 आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करते हुए जांच शुरू की गई।
          महिलाओं के विरूद्व हो रहे आपराधिक मामले तथा सोशल मीडिया पर अश्लील और आपत्तिजनक टिप्पणी पोस्ट करने के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने मामले की जांच की जिम्मेदारी थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान को सौंपते हुए आरोपी की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिए।
          जांच के दौरान नई तकनीक की मदद से फेसबुक प्रोफाईल को लेकर सबूत हाथ लगे, सुराग मिलने के बाद तकनीकी का इस्तेमाल करते हुए उस सुराग को और पुख्ता किया गया और पुलिस अधीक्षक ने विधिवत एक पुलिस टीम को शहडोल मध्यप्रदेश भेजा। टीम वहां पहुंचकर आरोपी आशुतोष साहू पिता त्रिलोकी नाथ साहू उम्र 21 वर्ष, निवासी अरझूला कालोनी, कुदरी सुहागपुर, थाना खैराहा, जिला शहडोल मध्यप्रदेश को हिरासत में लिया। आरोपी ने पूछताछ में अपना गुनाह कबूल लिया जिसे 20 अक्टूबर को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, एएसआई देवनाथ चौधरी, प्रधान आरक्षक अरूण गुप्ता, ऐसन पाल, अदीप प्रताप सिंह, आरक्षक सत्यम सिंह, शक्ति पासवान व अखिलेश पाण्डेय सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने छेड़छाड़ के मामले में 5 दिनों के भीतर पेश किया चालान.............


सूरजपुर: जिले की पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए घर में घुसकर महिला को बेईज्जत करने की नियत से छेड़छाड़ के मामले में आरोपी की गिरफ्तारी व विवेचना पूर्ण कर 5 दिनों के भीतर चालान पेश किया है। छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिदेशक ने पुलिस अधिकारियों को बालिका एवं महिलाओं के विरूद्व घटित होने वाले अपराधों में तत्काल कार्यवाही करने तथा आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए जल्द चालान न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे।         

          पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा के द्वारा जिले के पुलिस अधिकारियों को बालिका एवं महिलाओं पर घटित हुए अपराधों को गंभीरता से लेते हुए त्वरित कार्यवाही एवं मामले की विवेचना शीघ्रता से पूर्ण कर चालान न्यायालय में पेश करने के निर्देश दिए थे ताकि पीड़ित को जल्द न्याय मिल सके।
          
          सूरजपुर जिले के चौकी लटोरी का यह मामला है, जहां 16 अक्टूबर 2020 को एक महिला को घर में अकेला देखकर आरोपी खेलावन सिंह के द्वारा घर में घुसकर बेईज्जत करने की नियत से छेड़छाड़ किया। जिसकी रिपोर्ट चौकी लटोरी में 16 अक्टूबर को पीड़िता के द्वारा की गई। मामले में लटोरी पुलिस ने आरोपी खेलावन सिंह के विरूद्व अपराध क्रमांक 223/20 धारा 454, 354 भारतीय दण्ड संहिता के तहत् मामला दर्ज किया गया।

          मामले की विवेचना चौकी प्रभारी लटोरी सुनील सिंह के द्वारा करते हुए एफआईआर के महज 2 घंटे के भीतर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। जांच में पीड़िता का कथन महिला पुलिस अधिकारी से कराया गया एवं पीड़िता का माननीय न्यायालय में धारा 164 सीआरपीसी का बयान दर्ज कराते हुए मामले में महज 05 दिन के भीतर साक्ष्य संकलित करते हुए विवेचना पूर्ण कर अभियोग पत्र तैयार कर माननीय न्यायालय सूरजपुर में पेश कर किया गया। इससे आरोपी को जल्द सजा मिल सकेगी और इस तरह की सोच रखने वालों को पुलिस की ओर से सख्त मैसेज भी जायेगा। ज्ञात हो कि इसके पूर्व में चौकी रेवटी के एक मामले में घर में घुसकर नाबालिक से अनाचार के प्रयास के मामले में भी 5 दिनों के भीतर चालान पेश की गई थी।

सूरजपुर पुलिस ने डकैती व लूट के 5 आरोपियों को किया गिरफ्तार.......

संजयनगर पेट्रोल पम्प में डकैती व बाईपास में खड्री ट्रक से डीजल निकाल पैसे लूटने की वारदात को दिया थे अंजाम।

मामले में फरार अन्य आरोपियों की जा रही है सरगर्मी से पतासाजी।

सूरजपुर: दिनांक 18.10.20 को माॅ वैष्णणी पेट्रोल पम्प संजयनगर में काम करने वाले मैनेजर अमर दयाल यादव ने थाना जयनगर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 17-18 अक्टूबर की दरम्यिानी रात्रि में 1 स्कार्पियों तथा 1 बोलेरो वाहन में 7-8 लोग लाठी, डण्डा, सब्बल लेकर पहुंचे और डरा धमकाकर उसके सामने ही खड़ी टैंकर के टंकी का लाक तोड़कर 6 जरकीन डीजल निकाले और उसके पाकिट से 2 हजार रूपये, आधार कार्ड व अन्य दस्तावेज लूट लिए। प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना जयनगर में अपराध क्रमांक 224/20 धारा 395 भारतीय दण्ड संहिता का पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।
          मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने थाना प्रभारी जयनगर को पेट्रोल पम्प में लगे सीसीटीव्ही कैमरा की फुटेज प्राप्त कर आरोपियों की पहचान करते हुए पतासाजी कर गिरफ्तार करने एवं संघन वाहन चेकिंग करने तथा थाना प्रभारी जयनगर सहित पुलिस की कई टीमें गठित कर डीजल चोर-लूटेरे गिरोह को पकड़ने के निर्देश दिए।
          पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में मामले के आरोपियों को पकडने थाना जयनगर की पुलिस टीमों ने चारों ओर जाल बिछाकर संदेहियों के धरपकड के प्रयास में लगे थे इसी बीच थाना जयनगर के सामने 19 अक्टूबर के शाम को उस समय सफलता मिली जब संदेेह के आधार पर बिना नंबर के स्कार्पियों वाहन को चेक किया गया। स्कार्पियों वाहन में थाना कोतमा क्षेत्र के गोविन्दा कालोनी निवासी इन्द्रपाल सिंह पिता छोटन सिंह उम्र 22 वर्ष तथा ग्राम सिलपुर निवासी ध्रुव लोनी पिता बलदाउ लोनी उम्र 19 वर्ष, अंशुमान लोनी पिता बिहारी लोनी उम्र 22 वर्ष मिले जो पूछताछ पर दिनांक 17-18 अक्टूबर के मध्य रा़ित्र संजयनगर राष्ट्रीय राजमार्ग किनारे स्थित मां वैष्णवी पेट्रोल पंप केे किनारे खडे टेंकर से 200 लीटर डीजल एवं लाठी, डंडा व सब्बल से जान से मारने की धमकी देकर पेट्रोल पंप के मैनेजर से 2000 रूपये नगद एवं कागजात लूटना कबूल किये। स्कार्पियों वाहन इन्द्रपाल की है एवं बोलेरो 1 साथी की है। आरोपियों के मेमोरंडम के आधार पर इन्द्रपाल से बिना नंबर के स्कार्पियों वाहन, पेट्रोल पंप के मैनेजर से लूटी गई 2000 रूपये नगद एवं कागजात जप्त किया गया है। आरोपी ध्रुव लोनी से घटना में प्रयुक्त सब्बल एवं डीजल निकालने वाला पाइप तथा आरोपी अंशुमान लोनी से घटना में प्रयुक्त डंडा एवं ,खाली प्लास्टिक का जरकीन जप्त किया गया है।
          पुलिस टीम रात में ही कोतमा सिलपुर मध्यप्रदेश में रेड कार्यवाही कर आरोपी इंदल लोनी एवं बसंत उर्फ ठाकुर को सूझबझ व कड़ी मशक्कत के बाद गिरफ्तार किया गया। इनसे भी पूछताछ की गई जो आरोपियों ने बताया कि दिनांक 3-4 अक्टूबर के दरमियानी रात सूरजपुर बाईपास में खडी ट्रक से 100 लीटर डीजल एवं 500 रूपये नगद एवं कागजात लूटना स्वीकार किया। थाना सूरजपुर के अपराध क्रमांक 222/20 धारा 392 भादवि के मामले में आरोपी इंदल से सूरजपुर में ट्रक से लूट की गई नगद रकम 500 रूपये एवं दस्तावेज जप्त किया गया है। आरोपीगण चोरी एवं लूट की गई डीजल को ग्राम खूंटाटोला निवासी एक व्यक्ति को बेचते है। प्रकरण में शामील अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास पुलिस टीम के द्वारा निरंतर की जा रही है। दोनों ही मामलों में 5 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया है।
          सूरजपुर पुलिस की इस कार्यवाही से राष्ट्रीय राजमार्गों से गुजरने वाले माल वाहक वाहनों के चालक राहत महसूस कर रहे है, आरोपीगण लंबे समय से डीजल चोरी एवं लूट की घटनाओं को अंजाम दिए थे, पकड़े गए आरोपियों के विरूद्व किन-किन थानों में अपराध पंजीबद्व है उसकी जानकारी खंगाली जा रही है।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, एएसआई देवनाथ चौधरी, विराट विशी, राजाराम राठिया, कमलदास बनर्जी, प्रधान आरक्षक अरूण गुप्ता, ऐसन पाल, रजनीश त्रिपाठी, अदीप प्रताप सिहं, तालीब सेख, शिवकुमार सारथी, विवेक पाण्डेय, पुष्पा रवि, आरक्षक राजकुमार पासवान, सत्यम सिंह, अखिलेश पाण्डेय, चन्द्रप्रकाश पाल, रावेन्द्र पाल, अनिल सिंह, जितेन्द्र सिंह, रवि पाण्डेय, सुरेश तिवारी, ललन सिहं, शिव राजवाडे, जयप्रकाश यादव, दीपक दुबे, मदन लाल, बंधु सारथी, सैनिक नोहर राजवाडे, दीपक मूर्ति व श्याम सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने पुलिस स्मृति दिवस पर किया खेलकूद का आयोजन.......

स्वस्थ शरीर और मस्तिष्क के लिए खेल जरूरी-पुलिस अधीक्षक सूरजपुर।

सूरजपुर: पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर पुलिस लाईन सूरजपुर में पुलिस अधिकारी व जवानों ने बाॅलीबाल व कबड्डी खेल का शानदान प्रदर्शन किया। बुधवार 21 अक्टूबर को पुलिस स्मृति दिवस पर पुलिस लाईन में बालीवाल व कबड्डी खेलकूद का आयोजन किया गया जिसका पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने शुभारंभ किया। पुलिस लाईन में आयोजित बाॅलीबाल प्रतियोगिता में आरआई इलेवन व जाबिर इलेवन की टीम ने शानदार खेल का प्रदर्शन कर रोमांच से भर दिया और 1-1 मैच जीता जिसके बाद अगले मैच में जाबिर इलेवन की टीम ने शानदार जीत दर्ज किया। इसके उपरान्त कबड्डी प्रतियोगिता भी खेली गई।
          पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री कुकरेजा ने कहा कि पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन कराया गया। जिले के पुलिस अधिकारी व जवानों में काफी खेल प्रतिभा है। उन्होंने कहा कि खेल सभी के जीवन में विशेष स्थान रखता है। खास कर यह पुलिस जवानों के जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जवानों को खेल में सक्रिय रूप से भाग लेना चाहिए। खेल से जवान शारीरिक और मानसिक रूप से तंदरुस्त रह सकते हैं। जिन लोगों की दिनचर्या व्यस्त रहती है वे बहुत जल्द काम के दौरान थक जाते हैं। उन्होंने कहा कि सफलता के लिए कड़ी मेहनत की आवश्यक है। उसी प्रकार स्वस्थ शरीर और मस्तिष्क प्राप्त करने के लिए खेल आवश्यक है। इसी उद्देश्य से बाॅलीबाल व कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है।
          इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एएसपी मुख्यालय पी.एस.महिलाने, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी ओड़गी मंजूलता बाज, रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे, थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, कार्यालय अधीक्षक संतोष वर्मा, अखिलेश सिंह, चौकी प्रभारी बसदेई सुनीता भारद्धाज सहित पुलिस के अधिकारी-कर्मचारीगण मौजूद रहे।

शनिवार, 17 अक्तूबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने चोरी के मामले में 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार...........

सूरजपुर: दिनांक 14.10.2020 को ग्राम डुमरिया निवासी तुलेश्वर राजवाड़े ने थाना सूरजपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 13 अक्टूबर की रात्रि में किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा घर के अंदर आलमारी में रखे सोने चांदी के जेवर सहित अन्य वस्तुओं कीमत 37 हजार 9 सौ रूपये को चोरी कर लिया, रिपोर्ट पर अज्ञात के विरूद्व धारा 457, 380 के तहत अपराध पंजीबद्व किया है। दूसरे मामले में दिनांक 16.10.2020 को ग्राम नरेशपुर निवासी साथराम चैधरी ने थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया कि अपने मकान में 05 अगस्त को ताला लगाकर ससुराल गया था जो पिछले दिन इसके भाई सुखराम ने फोन कर बताया कि रात में कोई अज्ञात चोर घर में चोरी किया है तब यह अपने घर आकर देखा तो आलमारी में रखा 10 हजार नगदी रकम, कांस का थाली व लोटा कुल 12 हजार रूपये की चोरी किया है। रिपोर्ट पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व धारा 457, 380 के तहत अपराध पंजीबद्व किया गया।
          चोरी के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने थाना प्रभारी को चोरी के मामले में संलिप्त आरोपियों की पतासाजी कर जल्द पकड़ने के निर्देश दिए। तुलेश्वर के घर हुए चोरी के मामले की जांच विवेचना के दौरान मुखबीर की सूचना पर संदेही सहदेव देवांगन पिता जागर साय देवांगन उम्र 25 वर्ष ग्राम डुमरिया, को तलब कर पूछताछ करने पर तुलेश्वर राजवाड़े के घर अपने एक साथी के साथ मिलकर चोरी कर आपस में बटवारा करना स्वीकार किया। जिसके निशानदेही पर एलसीडी टीव्ही 1 नग, रिसिवर 3 नग, कांस का लोटा 1 नग, साड़ी 1 नग जप्त कर गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। मामले में 1 आरोपी फरार है जिसकी पतासाजी की जा रही है। दूसरे मामले में नरेशपुर के साधराम के यहां हुए चोरी के मामले में संदेही हीरूलाल पिता स्व. ललुआ राम हरिजन उम्र 30 वर्ष निवासी नरेशपुर को तलब कर पूछताछ करने पर अपने 1 साथी के साथ मिलकर चोरी करना स्वीकार किया। आरोपी के निशानदेही पर 2 नग कांस का थाली, 2 नग थाली कीमत 5 हजार रूपये का जप्त किया गया तथा हिस्से में प्राप्त रकम को खाने-पीने में खर्च कर देना बताया जिसे विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          मामले के आरोपी हीरूलाल से चोरी की वस्तुएं बरामद करने के दौरान उसके घर से चोरी का 1 नग टुल्लू पम्प बरामद किया गया जिसके बारे में पूछताछ करने पर बताया कि अपने एक साथी के साथ मिलकर करीब 2 माह पूर्व ग्राम नेवरा तरफ रात में जाकर बाड़ी के कुआं में लगे अलग-अलग जगहों से 2 नग टूल्लू पम्प चोरी किए थे और आपस में बटवारा कर लिए थे, इसके साथी के द्वारा 1 नग टुल्लू पम्प को डुमरिया के सहदेव देवांगन को बेच देना बताया जिसके कब्जे से 1 नग टूल्लू पम्प बरामद की गई उक्त दोनों पम्प चोरी की होने की पूर्ण संभावना पर हीरूलाल व सहदेव देवांगन के विरूद्व धारा 41(1-4)/379 के तहत कार्यवाही कर गिरफ्तार किया गया।
         इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एसआई हिम्मत सिंह शेखावत, प्रधान आरक्षक बिसुनदेव पैंकरा, आरक्षक प्रेमसागर साहू, जयप्रकाश तिवारी सक्रिय रहे।

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने पेट्रोल पम्प व कई संस्थानों का लिया जायजा.........



पेट्रोल पम्प संचालकों को नो मास्क-नो पेट्रोल का पालन सख्ती से कराने दिया निर्देश।

सड़क पर अव्यवस्थित खड़े वाहन के चालकों पर हुई कार्यवाही।


सूरजपुर: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण जिले में लगातार बढ़ती जा रही है परन्तु लोग सुरक्षा की अनदेखी कर रहे है। मास्क न लगाने वालों को समझाईश के साथ ही सख्ती को लेकर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने प्रशासन व पुलिस की टीम के साथ शुक्रवार, 16 अक्टूबर को जिला मुख्यालय स्थित पेट्रोल पम्प सहित अन्य संस्थानों का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने पेट्रोल पम्प सहित अन्य संस्थानों के संचालकों को संक्रमण से बचाव के लिए स्वयं तथा काम करने वाले कर्मचारियों को मास्क लगाने, नो मास्क-नो पेट्रोल, बिना मास्क लगाए दुकान में आने वाले ग्राहकों को सामग्री न देने के कड़ी हिदायत दी है।
          शुक्रवार की दोपहर में पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा प्रशासन व पुलिस की टीम के साथ स्थानीय नत्थू,अशोक व तिवारी पेट्रोल पम्प पहुंचे और संचालकों एवं वहां काम करने वाले कर्मचारियों को सख्त हिदायत दी कि बिना मास्क लगाए वाहन में पेट्रोल भरवाने हेतु आने वाले ग्राहकों को पेट्रोल न दिया जाए। इस दौरान बिना मास्क के पहुंचे कई वाहन चालकों पर चालानी कार्यवाही भी की गई। उन्होंने भ्रमण के दौरान मेन रोड़ स्थित कपड़ा व बर्तन दुकान में काफी भीड़ देखकर वहां रूके और दुकान संचालकों को मास्क लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिग का पालन करने की हिदायत दी। इस दौरान सड़क पर अव्यवस्थित तरीके से खड़े कई फोर व्हीकल वाहन पर चालानी कार्यवाही करने के निर्देश यातायात प्रभारी को दिए।
         पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारी व यातायात प्रभारी को निर्देश दिया कि पुलिस लाईन से पर्याप्त बल लेकर प्रशासन व नगर पालिका की टीम के साथ शहर के मेन रोड़, भैयाथान रोड़ एवं प्रमुख चौक-चौराहों पर बिना मास्क, बिना नंबर के वाहनों तथा सड़क के किनारे अव्यवस्थित रूप से खड़े वाहनों पर नियमित रूप से अभियान चलाकर चालानी कार्यवाही की जाए।
        इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एसडीएम पुष्पेन्द्र शर्मा, थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, यातायात प्रभारी आर.सी.राय सहित कई पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।

गुरुवार, 15 अक्तूबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने विश्रामपुर ओसीएम खदान में हुए डकैती के मामले में 2 अपचारी बालक सहित 4 को गिरफ्तार......

योजनाबद्व तरीके से वारदात को दिए अंजाम।

सूरजपुर: बीते 13 अक्टूबर को प्रार्थी एसईसीएल विश्रामपुर सुरक्षा प्रहरी सुरेन्द्र राम पिता स्व. शिवशंकर राम उम्र 41 वर्ष निवासी चोपडा कालोनी विश्रामपुर थाना उपस्थित आकर इस आशय का लिखित आवेदन पत्र पेश किया कि 10 अक्टूबर के रात्रि अन्य गार्डो के साथ ओसीएम खदान क्वारी नंबर 10 की सुरक्षा में लगी थी, रात्रि करीब 1 से 2.30 बजे के मध्य ओसीएम क्वारी नम्बर 10 के अगल-बगल स्थित एसईसीएल की नर्सरी से 10 से 15 अज्ञात व्यक्ति अपना मुंह बांध कर हाथ में डंडा, टांगी व हेक्सा ब्लेड रखे खदान में आये प्रार्थी एवं उसके अन्य साथी गार्ड तथा ओसीएम में तैनात अधिकारी व कर्मचारियों कुल 08 लोग को एक जगह इकट्ठा कर गोल घेरा में बैठा दिये उसमे से 05-06 लोग अपने हाथ में टांगी, डंडा रखे थे जिसके भय से वहां पर तैनात सभी अधिकारी/कर्मचारी भयभीत हो गये तथा सभी को बंधक बना लिये सभी के पाकिट की तलाशी लेकर मोबाईल फोन व पैकेट में रखा पैसा व गाडी की चाभी लूट कर अपने पास रख लिये, इसके पाकिट में 7 सौ रूपये था उसे भी लूट लिये, इसे तथा वहां उपस्थित गार्ड तथा कर्मचारी व अधिकारियो को गाली-गलौज करते हुये जान से मारने की धमकी दिये उनमें से 4-5 व्यक्ति ड्रग लाईन शक्ति मशीन के पास गये वहीं लगे ट्रांसफार्मर से बिजली का तार को टांगी से काट दिये और काटकर अपने पास रखे हेक्सा ब्लेड से केबल वायर के दोनों छोर का करीब 35 मीटर कापर केबल वायर कीमती 56 हजार रूपये को काट कर ले गये, अज्ञात व्यक्तियों के द्वारा घटना करने के बाद केबल वायर को उठाकर वहां से चले गये, लूटा हुआ मोबाईल फोन व गाड़ियों की चाबी वहीं पर फेक दिये थे, उनके जाने के बाद ये सभी अपना-अपना मोबाईल व चाभी पहचान कर अपने-अपने पास रख लिये, अज्ञात व्यक्ति आपस में सरगुजिहा, हिन्दी भाषा में बात कर रहे थे, तथा अपने साथी को गुडमार्निंग नाम से पुकार रहा था रिपोर्ट पर धारा 395, 294, 506, 342 भा.दं.सं. का अपराध पंजीबद्व किया गया। मामले के पूरे हालात से थाना प्रभारी ने पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराया जिस पर उन्होंने केबल, कोयला, कबाड़ चोरी एवं पूर्व में इस प्रकार के मामले में शामील व्यक्ति पर कड़ी निगाह रखने के निर्देश दिए।
          पुलिस टीम के द्वारा अज्ञात आरोपियों एवं लूटा गया केबल वायर की सरगर्मी से तलाश की जा रही थी कि इसी बीच पुलिस अधीक्षक श्री कुकरेजा को मुखबीर से जानकारी मिली कि कुम्दा बस्ती में गुडमार्निंग उर्फ संतोष नाम का लड़का रहता है जिसकी पिछले कुछ दिनों से गतिविधियां संदिग्ध है और कई संदिग्ध लोगों के साथ उठना-बैठना है जिस पर उन्होंने थाना प्रभारी विश्रामपुर को उस लड़के से कड़ाई से पूछताछ करने के निर्देश दिए।
           थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर ने गुडमार्निंग को तलब कर घटना के संबंध में बारीकी से पूछताछ करने पर जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि यह कोयला कबाड का काम करता है इसके साथ कुम्दा के ओम प्रकाश राजवाड़े व एक अपचारी बालक व अन्य भी कोयला कबाड़ का काम करते है, कोयला कबाड़ का काम करते समय एसईसीएल विश्रामपुर के 10 नम्बर क्वारी में कोयला खुदाई में लगे बड़ा शक्ति ड्रग लाईन मशीन में बड़ा मोटा केबल तार को कई बार देखे थे, कोयला कबाड़ का काम करने के दौरान भटगांव क्षेत्र में कबाड़ चोरी का काम करने वाले केनापारा के 1 अन्य व्यक्ति एवं अन्य साथियों से जान पहचान हुआ था जो कही भी ताॅबा तार केबल मिलेगा तो बताना बोले थे, तब इसने शक्ति ड्रगलाईन मशीन में लगे केबल तार के बारे में उन्हें बताया जो 10 अक्टूबर 2020 को सभी मिलकर टीम तैयार कर शक्ति मशीन का केबल काटने की योजना बनाये इसके बाद यह अपने साथ काम करने वाले ओम प्रकाश राजवाड़े व 2 अपचारी बालक सहित अन्य को बताकर ड्रग लाईन शक्ति मशीन में लगे केबल तार को चोरी करने का प्लान बनाये और 10 अक्टूबर की रात करीब 08ः00 बजे यह कुम्दा बस्ती के ओम प्रकाश राजवाड़े, 2 अपचारी बालक व अन्य लोगों के साथ कुम्दा बस्ती से निकलकर 10 नंबर पोखरी के पास पहुंचे वहां पर योजनानुसार सरस्वतीपुर के अन्य साथियों को लेकर पोखरी के पास पहुंचा, सभी मिलकर 10 नंबर क्वारी में लगे ड्रगलाईन मशीन के पास पहुंचे इसके बाद 4-5 आदमी ट्रांसफार्मर के पास से बिजली तार को टांगी से काट दिये और मशीन के चारो तरफ लगे केबल में से लगभग 30-35 मीटर केबल को कटर, टांगी व हेक्सा ब्लेड से काट लिये और मोबाइल छिनते समय यह एक वर्दी वाले गार्ड का 700 रूपये को भी लूट लिया, सभी मिलकर केबल को ढो कर पोखरी के रास्ते से ग्राम गांगीकोट के गौठान के पीछे पोखरी जंगल में ले गए और केबल के कव्हर को छिल-काट कर तांबा तार को अलग निकाले और कव्हर को वहीं पर छोड़ दिए और ताबा तार वहीे पर छोड दिये और तोबा तार को ढो कर 7-8 खदान के तरफ से करवां तक ले गये, वहां इसके 1 साथी ने अपने रिश्तेदार का पीकप मंगवाया जिसमें चोरी किये तांबा तार को लोडकर दिये जिसे बेचने के लिये ले जाना बताया है।
मामले में आरोपियों के निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त टांगी, लाठी, कटर, हेक्सा ब्लेड, केबर तार का कंवर जप्त करते हुए आरोपी 1. संतोष सिंह उर्फ गुडमार्निंग पिता ललन सिंह उम्र 18 वर्ष निवासी कुम्दा बस्ती विश्रामपुर 2. ओमप्रकाश राजवाड़े पिता दुधनाथ राजवाड़े उम्र 22 वर्ष, निवासी कुम्दा बस्ती एवं 2 अपचारी बालक को गिरफ्तार किया गया है, मामले में फरार अन्य आरोपियों की पतासाजी सरगर्मी से की जा रही है।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर, एएसआई उमेश सिंह, कमलदास बनर्जी, सोहन सिंह, सोहन सिंह, प्रधान आरक्षक आनंद सिंह, जयप्रकाश कुजूर, अविनाश सिंह, आरक्षक अकरम मोहम्मद, अखिलेश पाण्डेय, संजीव राजवाड़े, संजय राजपूत, सोनू सिंह, अजय प्रताप, खेलसाय राजवाड़े, बिहारी पाण्डेय, रविशंकर पाण्डेय, नागेश नाहक व प्यारेलाल सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ गांजा के साथ 01 को किया गिरफ्तार.....

सूरजपुर: जिले की पुलिस के द्वारा नशे के कारोबारियों पर लगातार कार्यवाही जारी है। नशे के विरूद्व एक और कार्यवाही में एक व्यक्ति से 1 किलो 300 ग्राम अवैध मादक पदार्थ गांजा जप्त कर उसके विरूद्व धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही किया है।
          गत् दिवस चौकी प्रभारी उमेश्वरपुर को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम श्यामपुर का शिवप्रसाद यादव गांजा बिक्री करने के लिए अपने घर में रखा है। जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर को अवगत कराए जाने पर उन्होंने कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
         एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में चौकी प्रभारी महेश्वर सिंह पुलिस टीम के साथ मुखबीर से प्राप्त सूचना की तस्दीकी व कार्यवाही हेतु श्यामपुर निवासी शिवप्रसाद यादव के घर पहुंचे और गवाहों के समक्ष विधिवत तलाशी पंचनामा तैयार करते हुए घर की तलाशी ली इस दौरान घर से मादक पदार्थ गांजा 1 किलो 3 सौ ग्राम कीमत 6 हजार रूपये का मिला जिसे जप्त कर धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत् अपराध पंजीबद्व कर शिवप्रसाद यादव पिता देवगुन यादव उम्र 35 वर्ष को विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि उड़ीसा से गांजा जाकर क्षेत्र में चोरी-छिपे पुड़िया बनाकर नशेड़ी प्रवृत्ति के लोगों को बेचता था।
       इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी उमेश्वरपुर महेश्वर सिंह, आरक्षक सोहन सिंह नेताम, मंगलमूर्ति नेताम, शिवशंकर व अम्बिका सिंह सक्रिय रहे।


मंगलवार, 13 अक्तूबर 2020

सूरजपुर पुलिस ने पकड़ा अंग्रेजी शराब का बड़ा जखीरा..........

 

2 लाख 49 हजार 140 रूपये कीमत के अंग्रेजी शराब व परिवहन में प्रयुक्त 8 लाख कीमत के बोलेरो वाहन जप्त।

फरार वाहन चालक की सरगर्मी से की जा रही पतासाजी।

सूरजपुर: पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में जिले की पुलिस नशे के कारोबार को जड़ से उखाड़े फेंकने की दिशा में लगातार अवैध नशीली दवाईयों व मादक पदार्थ गांजा के कारोबार में संलिप्त लोगों पर कार्यवाही करने में लगी है, निरंतर हो रहे कार्यवाहियों से पुलिस को भी महत्वपूर्ण सूचना मिल रही है, इसी का नजीता यह रहा कि सोमवार की रात्रि पुलिस ने 2 लाख 49 हजार 140 रूपये कीमत के अंग्रेजी शराब व परिवहन में प्रयुक्त 8 लाख रूपये कीमत के बोलेरो वाहन जप्त की गई, मामले में फरार आरोपी वाहन चालक के विरूद्व आबकारी एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्व कर उसकी सरगर्मी से पतासाजी में पुलिस की टीमें लगी हुई है।
          सोमवार, 12 अक्टूबर 2020 की रात्रि में पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को मुखबीर से सूचना मिली कि मध्यप्रदेश से मनेन्द्रगढ़ रोड़ होते हुए अम्बिकापुर की ओर बोलेरो वाहन में भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब जाने वाली है जिस पर उन्होंने पुलिस की टीमों को संघन वाहन चेकिंग करने के निर्देश दिए।
          अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान पुलिस टीम के साथ जयनगर रेलवे फाटक के पास वाहनों की संघन चेकिंग कर रहे थे इसी दौरान एक सफेद कलर की बोलेरो वाहन आकर रूकी जिसका चालक वाहन से निकलकर भागने लगा जिसे पुलिस टीम ने पीछा किया किन्तु रात्रि में अंधेरे का फायदा उठाकर वह व्यक्ति भाग निकला।
          बोलेरो वाहन की तलाशी लेने पर अंग्रेजी शराब गोवा 20 पेटी में 998 पाव, रायल स्टेज 1 पेटी में 48 पाव, मेगडावल नंबर वन 1 पेटी में 48 पाव, हेंडरेड पाईपर 2 पेटी में 750 एमएल का 24 बाॅटल, ब्लेडर प्राईट 2 पेटी में 750 एमएल का 24 बाॅटल कुल शराब 232.92 लीटर कीमत 2 लाख 49 हजार 140 रूपये एवं परिवहन में प्रयुक्त बोलेरो वाहन क्रमांक सीजी 10 एफ 9688 कीमत करीब 8 लाख रूपये को जप्त कर अज्ञात वाहन चालक के विरूद्व अपराध क्रमांक 221/20 धारा 34(2), 36 आबकारी एक्ट के पंजीबद्व किया गया। मामले में फरार आरोपी बोलेरो वाहन के चालक एवं वाहन स्वामी की पतासाजी सरगर्मी से की जा रही है।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान, एएसआई देवनाथ चैधरी, राजाराम राठिया, विराट विशी, प्रधान आरक्षक ऐसन पाल, अरूण गुप्ता, शिव सारथी, आरक्षक राजकुमार पासवान, जितेन्द्र सिंह, दीपक दुबे, अनिल सिंह, रवि पाण्डेय, सैनिक जहांगीर आलम, मुजाहिद, महेश यादव, श्याम व नौहर राजवाड़े सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने नशे के कारोबार करने वाले 2 लोगों को किया गिरफ्तार........

 1 लाख 32 हजार 5 सौ रूपये मूल्य के नशीली दवाई जप्त।

सूरजपुर: सूरजपुर पुलिस के द्वारा नशीले दवाई इंजेक्शन, टेबलेट व मादक पदार्थ गांजा के अवैध कार्यो में लिप्त लोगों के विरूद्व लगातार एक के बाद एक बड़ी कार्यवाही कर रही है। इसी क्रम में पुलिस के द्वारा 2 लोगों से करीब 1 लाख 32 हजार 5 सौ रूपये मूल्य के नशीली दवाई जप्त कर एनडीपीएस एक्ट के तहत् कार्यवाही किया है। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने नशीले पदार्थ के क्रय-विक्रय पर अंकुश लगाने एवं अवैध कारोबार में संलिप्त लोगों के विरूद्व कठोर कार्यवाही करने को लेकर पुलिस अधिकारियों को पहले ही कड़े निर्देश दिए थे।
          सोमवार, 12 अक्टूबर को चौकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम नरेशपुर थाना सूरजपुर निवासी दीपक तिवारी व शशिकांत तिवारी दोनों सगे भाई ग्राम नरेशपुर से बोझा के रास्ते खड़गवां की ओर नशीली दवाई इंजेक्शन टेबलेट कैप्सूल बिक्री करने आने वाले है। जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने चैकी प्रभारी को घेराबंदी लगाकर पकड़ने के निर्देश दिए।
          चौकी प्रभारी पुलिस टीम के साथ खड़गवां गुड़रूडांड तिराहा पहुंचकर घेराबंदी लगाए इसके कुछ देर बाद मुखबीर के बताए अनुसार एक बजाज एवेंजर मोटर सायकल क्रमांक सीजी 15 डीसी 0881 में सवार दो लोग आते दिखे जिन्हें घेराबंदी कर पकड़ा गया। नाम पता पूछने पर दीपक तिवारी पिता गंगाराम तिवारी उम्र 37 वर्ष तथा शशिकांत तिवारी पिता गंगाराम तिवारी उम्र 24 वर्ष दोनों सगे भाई निवासी ग्राम नरेशपुर थाना सूरजपुर का होना बताए जो विधिवत तलाशी लिए जाने पर दीपक तिवारी से एविल इजेक्शन 69 नग, रेक्सोजेसिक इंजेक्शन 145 नग, लोरी इंजेक्शन 45 नग कुल 259 नग इंजेक्शन तथा स्पास्मो प्रॉक्सीवान प्लस कैप्सूल 06 पत्ता जिसमें कुल 144 नग कैप्सूल तथा शशिकांत तिवारी से एल्प्राजोलम टेबलेट 10 पत्ता कुल 600 नग टेबलेट मिला तथा परिवहन में प्रयुक्त मोटर सायकल को जप्त किया गया इन सभी दवाईयों का बाजार मूल्य करीब 1 लाख 32 हजार 5 सौ रूपये है। दोनों आरोपियों के विरूद्ध एनडीपीएस एक्ट के धारा 21(सी) एनडीपीएस एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्व कर विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।
          आरोपी दीपक तिवारी वर्ष 2015 से लगातार नशीली दवाईयां इंजेक्शन अवैध रूप से विक्री करने का कार्य करते आ रहा है। इसके विरुद्ध थाना सूरजपुर एवं थाना झिलमिली में एनडीपीएस एक्ट के कुल 04 मामले दर्ज हैं तथा थाना सूरजपुर के वर्ष 2018 के मामले में माननीय न्यायालय के द्वारा 05 वर्ष का सश्रम कारावास से दण्डित किया गया है आरोपी अपील अवधि में जमानत पर है तथा इसी दौरान पुनः नशीली दवा इंजेक्शन के अवैध कारोबार में संलिप्त हो गया है।
       इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह, प्रधान आरक्षक इन्द्रजीत सिंह, विशाल मिश्रा, माणिकचंद, आरक्षक कृष्णकांत पाण्डेय, श्याम सिंह, दीपक सिंह, शैलेष सिंह व प्रमोद गुप्ता सक्रिय रहे।