शुक्रवार, 26 मई 2017

आईजी के दिशा निर्देश पर मिली सूरजपुर पुलिस को बड़ी सफलता




* सूरजपुर विकास ज्वेलर्स में हुई उठाईगिरी के अंतर्राज्यीय गिरोह का मुख्य सरगना सहित दो गिरफ्तार
* चोरी की पूरी सम्पत्ति 25 लाख 50 हजार का माल बरामद
* टीम के प्रोत्साहन के लिए आईजी द्वारा 50 हजार रूपये  के नगद पुरस्कार की घोषणा 

सूरजपुर। पिछले सप्ताह 18 मई को नगर के विकास ज्वेलर्स के यहां हुई चोरी के मामले में सूरजपुर पुलिस को सफलता प्राप्त हुई है। 18 मई को भैयाथान रोड मंदिरपारा सूरजपुर निवासी विकास कुमार पिता सुरेन्द्र कुमार सोनी ने थाना सूरजपुर में रिपोर्ट दर्ज कराई कि सुबह 10 बजे अपने निवास से प्रतिदिन की भांति अपने दुकान आया। चेन से बंद एक सफेद रंग के झोले में जिसमें 25 लाख 50 हजार रूपये मूल्य के सोने चांदी के जेवर व सामान भरे हुए थे व नगद राशि लगभग 45 हजार रखी हुई थी लेकर आया। मुख्य शटर खोलकर झोले को काउंटर के अंदर फर्श पर रखकर बगल वाले शटर को खोलने गया उसी दौरान एक अज्ञात चोर द्वारा प्रार्थी के दुकान के अंदर घुसकर काउंटर से उक्त सोने, चांदी के जेवर सामान व नगदी से भरे झोला को चोरी कर ले गया। विकास सोनी की रिपोर्ट पर थाना सूरजपुर में अपराध क्र. 213/17 धारा 454, 380, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध किया गया।
             दिन दहाड़े शहर के मध्य हुए इस घटना की सूचना मिलते ही सूरजपुर थाने की टीम व स्पेशल पुलिस टीम घटना स्थल पहुंच कर मामले की विवेचना प्रारंभ कर दी। मामले की गंभीरता को देखते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आर.पी.साय द्वारा घटना की जानकारी पुलिस महानिरीक्षक को देते हुए अज्ञात आरोपियों व चोरी हुई सम्पत्ति के पता तलाश के लिए नगर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर डी. के. सिंह के नेतृत्व में एक पुलिस टीम का गठन किया व अग्रिम कार्यवाही के लिए दिशा निर्देश दिये। इसी बीच 19 मई को अम्बिकापुर के इमलीपारा गली स्थित मनीष सोनी की जय मां शारदा ज्वेलरी की दुकान के सामने गंदगी फैलाकर घटना कारित करने का प्रयास किया गया था जिसकी सूचना मिलने पर सूरजपुर की स्पेशल टीम द्वारा जाकर घटना स्थल का मौका मुआयना करने पर पाया गया कि घटना के तरीके में समानता व पेशेवर तरीके को देखते पाया गया कि यह एक ही गिरोह का काम है।
                  इस घटना के बाद संभाग में अंतर्राज्यीय गिरोह के सक्रिय होने की आशंका से रेंज पुलिस महानिरीक्षक श्री हिमांशु गुप्ता के दिशा निर्देशन पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी. साय, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सरगुजा आर.एस.नायक एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर. भगत के मार्गदर्शन में नगर पुलिस अधीक्षक डी.के. सिंह के नेतृत्व में अम्बिकापुर क्राईम ब्रांच, स्पेशल पुलिस टीम सूरजपुर, कोतवाली सूरजपुर की पुलिस टीम, जिला बलरामपुर एवं जिला जशपुर की पुलिस टीम के द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में पूर्व में हुए इसी तरह की घटनाओं के तथ्यों व संदेहियों के संबंध में लगातार बारीकी से विवेचना एवं सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए पता तलाश की कार्यवाही की गई। इस दौरान जानकारी मिली की थाना-कुसमी जिला बलरामपुर के अपराध क्र. 30/17, धारा 398, 420, 511 भादवि व 25 आम्र्स एक्ट के फरार आरोपी विजय प्रधान, राकेश प्रधान दोनों निवासी ग्राम पूर्वोकोट, थाना-कोरेई जिला-जाजपुर ओडिशा का पतासाजी करते हुए सीसीटीवी फुटेज से प्राप्त फोटो का मिलान करने पर पाया गया कि सूरजपुर की घटना में भी यही लोग संलिप्त थे। इन लोगों का पता तलाश सभी पुलिस टीम द्वारा सरगर्मी से किया जा रहा था तभी मुखबिर द्वारा सूचना मिली की संदेहियों को जयनगर थाना क्षेत्र के ग्राम ठाकुरपुर स्थित बाजार के पास देखा गया है। सूचना मिलते ही अम्बिकापुर क्राईम ब्रांच व सूरजपुर पुलिस टीम के द्वारा घेराबंदी कर एक बजाज पल्सर मोटर सायकल सहित आरोपी विजय प्रधान, पिता जेलगा उम्र 19 वर्ष निवासी दशमड़या थाना कोरेई जिला जाजपुर ओडिशा को पकड़ा गया इसका दूसरा साथी राकेश प्रधान पिता सारंग प्रधान भीड़भाड़ का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गया। विजय प्रधान से बारीकी से पूछताछ करने पर बताया कि वे किराए का मकान लेकर ठाकुरपारा में रहकर अलग-अलग क्षेत्र में हाईस्पीड मोटर सायकल रखकर ज्वेलरी दुकानों का रेकी कर घटना को अपने साथियों के साथ अंजाम देना बताया। जो उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखण्ड, ओडिशा, आंध्रप्रदेश एवं छततीसगढ़ में पिछले कई वर्षों से निचली बस्तियों में झुग्गी झोपड़ी में किराए के मकान में फर्जी पहचान पत्र देकर परिवार सहित निवास कर आसपास के 40-50 किलोमीटर के दायरे में हाईस्पीड मोटर सायकल का उपयोग कर घूम-घूम कर क्षेत्र में स्थित शहर एवं कस्बों में सोने चांदी के दुकानों की रेकी कर दुकान के सामने गंदगी फैलाकर, ताले में ग्रीस व फेविक्विक लगाकर दुकानदार का ध्यान भटकाकर भारी मात्रा में आभूषणों की उठाईगिरी करते थे। इनका मुखिया भीमो प्रधान पिता सुको प्रधान उम्र 48 वर्ष निवासी पूर्वोकोट थाना कोरेई जिला जाजपुर ओडिशा द्वारा संपूर्ण वारदात को योजनाबद्ध तरीके से अंजाम दिया जाता था और चोरी के जेवरों को ओडिशा के साप्ताहिक बाजारों में टुकड़ो में बेचा जाता था।
         मुख्य आरोपी भीमो प्रधान को किराये के मकान ठाकुरपुर से अपाचे मोटरसायकल सहित पुलिस टीम के द्वारा पकड़ा गया जिनसे पूछताछ करने पर संपूर्ण घटना को अपने साथियों विजय प्रधान, राकेश प्रधान, शंकर प्रधान के साथ मिलकर अपाचे एवं पल्सर मोटरसायकल से इस घटना को अंजाम देना एवं तत्काल दूसरे दिन आरोपी शंकर प्रधान के हाथ विकास ज्वेलर्स से उठाईगिरी किये हुए संपूर्ण सोने चांदी के जेवरों को अपने मूल निवास ओडिशा भेजकर छिपाना बताया।
          तत्पश्चात एसएसपी श्री आर.पी.साय द्वारा पुलिस महानिरीक्षक श्री हिमांशु गुप्ता को इस बाबत जानकारी दी गई। पुलिस महानिरीक्षक श्री हिमांशु गुप्ता के निर्देश पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आर.पी. साय द्वारा सीएसपी डी.के. सिंह के नेतृत्व में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अनूप एक्का, एसआई सुनीता भारद्वाज, बलरामपुर एसआई राजेन्द्र साहू, स्पेशल पुलिस टीम प्रभारी सरफराज फिरदौसी, पत्थलगांव एसआई अशोक पाण्डेय, एएसआई राजेश प्रताप सिंह, प्रधान आरक्षक वरूण तिवारी, प्रधान आरक्षक चालक अजय सिंह, आरक्षक सतेन्द्र दुबे, महेन्द्र प्रताप सिंह, विकास पटेल, रिंकू गुप्ता, महिला सैनिक बीना सिंह की टीम गठित कर ओडिशा राज्य रवाना किया गया। टीम द्वारा ओडिशा जाकर नक्सल प्रभावित क्षेत्र ग्राम पूर्वोकोट में आरोपियों के निशानदेही पर अभ्यस्त आरोपी गिरोह के निवास पर रेड कार्यवाही कर भीमो प्रधान के मकान के पीछे स्थित बाड़ी में जमीन में गाड़कर रखना पाया गया जो विधिवत बरामद करने पर प्रार्थी के चोरी गये समस्त सोने चांदी के जेवरात अपने मूलरूप में जप्त किया गया जिसकी कीमत 25 लाख 50 हजार रूपये है।
पकड़े गये आरोपियों से सघन पूछताछ जारी है जो इस तरह के पूर्व में कुनकुरी एवं पत्थलगांव में घटना घटित हो चुकी है जिसके संबंध में महत्वपूर्ण सुराग मिले है जिससे कई मामलों का खुलासा होने की पूर्ण संभावना है। इस तरह सूरजपुर नगर में दिन दहाड़े हुये करीब 26 लाख रूपये के सोने चांदी के जेवर की उठाईगिरी हुये पूरे सामग्री को सम्पूर्ण मूल स्वरूप में तत्काल एक कुख्यात अंतर्राज्जीय गिरोह के मुख्य सरगना सहित कुल दो आरोपी 1. भीमो प्रधान पिता सूको प्रधान उम्र 45 वर्ष निवासी पूर्वोकोट, थाना कोरई, जिला जाजपुर ओडिशा एवं 2. विजय प्रधान पिजा जेलगा प्रधान उम्र 19 वर्ष साकिन दशमड़या, थाना कोरई, जिला जाजपुर ओडिशा के कब्जे से सोने एवं चांदी के जेवर व नगदी रकम 8 हजार एवं मोटर सायकल अपाचे एवं प्लसर, 2 नग मोबाईल फोन अलग-अलग जप्त करते हुये गिरफ्तार किया गया है एवं अन्य 2 फरार आरोपियों की पता तलाश सरगर्मी से जारी है। इस सफलता को देखते हुये पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज सरगुजा श्री हिमान्शु गुप्ता के द्वारा पुलिस टीम को 50 हजार रूपये नगद का पुरस्कार देने की घोषणा की है एवं प्रकरण के प्रार्थी विकास कुमार सोनी के द्वारा पुलिस की तत्परतापूर्वक कार्यवाही कर ओडिशा राज्य से सम्पूर्ण सम्पत्ति बरामदगी करने एवं आरोपियों को पकड़ने पर 51 हजार रूपये नगद का ईनाम देने की घोषणा की गई है। 
                इस ऐतिहासिक सफलतम कार्यवाही में सीएसपी सूरजपुर डी.के.सिंह, थाना प्रभारी सूरजपुर अनूप एक्का, एसआई सुनीता भारद्वाज, साईबर सेल प्रभारी निलाम्बर मिश्रा, स्पेशल पुलिस टीम प्रभारी सूरजपुर सरफराज फिरदौसी, एएसआई राजेश प्रताप सिंह, सुनील सिंह, प्रधान आरक्षक वरूण तिवारी, अभिषेक पाण्डेय, बिसुनदेव पैकरा, आनंद सिंह, राहुल गुप्ता, प्रधान आरक्षक चालक अजय सिंह, आरक्षक सतेन्द्र दुबे, महेन्द्र प्रताप सिंह, विकास पटेल, दिलीप सिंह, दिने श ठाकुर, कृष्णकांत पाण्डेय, सीताराम पैकरा, जगत पैकरा, श्याम सिंह, सुरे श तिवारी, महिला आरक्षक प्रमिला आडिल्य, चन्द्रकान्ता मुजंनी, महिला सैनिक बीना सिंह, क्राईम ब्रांच अम्बिकापुर के प्रभारी एएसआई भुपेश सिंह, विनय सिंह, प्रधान आरक्षक धीरज गुप्ता, आरक्षक उपेन्द्र सिंह, विकास सिंह, राकेश शर्मा, जितेश साहू, मनीष यादव, अमित वि श्व कर्र्मा, बृजेश राय, दशरथ राजवाड़े, संजय एक्का, बलरामपुर एसआई राजेन्द्र साहू, आरक्षक रिंकू गुप्ता, ज श पुर क्राईम ब्रांच प्रभारी जितेन्द्र पटेल, प्रधान आरक्षक मनोज सिंह, आरक्षक रत्नेश, पत्थलगांव एसआई अशो क पाण्डेय, वंश नारायण शर्मा, एएसआई नसरूद्दीन एवं अन्य आरक्षकगण सक्रिय रहे।

पुलिस थाना भटगांव क्षेत्र के शासकीय अधिकारियों/कर्मचारियों की समन्वय बैठक हुई




सूरजपुर । गत 24 मई को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत के मार्गदशर्न में सामुदायिक पुलिसिंग को बढावा देने के उद्देश्य से थाना भटगांव के मिटिंग हॉल में पुलिस मित्र अभियान के अन्तर्गत थाना क्षेत्र के समस्त विभागों के शासकीय अधिकारी/कर्मचारियों एवं अन्य गणमान्य नागरिकों के उपस्थिति में समन्वय बैठक ली गई जिसमें थाना भटगांव पुलिस स्टाफ के साथ नगर पंचायत विभाग, स्वास्थ्य विभाग, राजस्व विभाग, शिक्षा विभाग, वन विभाग, बैंकिंग के अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित आये। बैठक में उपस्थित नगर पंचायत भटगांव के सीएमओ ज्ञानपुंज कुलमित्र, पीएचसी सलका के डॉ0 ए0के0 शर्मा, भारतीय स्टेट बैंक के शाखा प्रबंधक विभाष कुमार, प्राचार्य लालचंद सिंह, रूपनारायण सिंह पैकरा, गोवर्धन सिंह, मण्डल महामंत्री भाजपा अशोक सिंह एवं अन्य उपस्थित आये। जिनके समक्ष विभागीय कर्तव्य के निर्वहन में आने वाले व्यवहारिक कठिनाईयों को मिलजुल कर सुलझाकर कार्य करने एवं मद्द की भावना से कार्य करने की चर्चा कर समाज में बच्चों/बालिकाओं/महिलाओं एवं अन्य सम्पत्ति व शरीर संबंधी अपराधों से बचाव करने की पुलिस के द्वारा अपील की गई, तत्पश्चात थाना क्षेत्र के शासकीय हायर सेकेण्ड्री स्कूल बालक एवं कन्या भटगांव, सेन्ट चाल्र्स हायर सेकेण्डरी मिशन स्कूल भटगांव, ए0डी0 जुबली मेमोरियल स्कूल भटगांव, सरस्वती शिशु मंदिर जरही, शासकीय हायर सेकेण्ड्री स्कूल बालक एवं कन्या जरही, सोनगरा, सलका, अनरोखा एवं शासकीय हाई स्कूल सोनगरा, बुंदिया, लक्ष्मीपुर, चुनगडी, विद्यालय के हाईस्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा एवं हायर सेकेण्डरी सर्टिफिकेट परीक्षा 20162017 में अपने विद्यालय में सर्वाधिक अंक अर्जित कर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले 36 छात्र/छात्राओं के उत्साहवर्धन हेतु प्रशस्ति पत्र एवं पुरस्कार देकर बैठक में उपस्थित शिक्षक, शिक्षिकाओं, जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिकों, महिलाओं, पुरूषो, पत्रकारों, नगर पंचायत अधिकारी, चिकित्सा विभाग, बिजली विभाग, वन विभाग एवं भारतीय स्टेट बैंक के शाखा प्रबंधक के समक्ष सम्मानित किया गया तथा सम्मान समारोह पश्चात छात्र/छात्राओं एवं सम्मानित अतिथियों को स्वल्पाहार कराया जाकर बैठक स्थगित किया गया। 

मंगलवार, 23 मई 2017

सूरजपुर जिले के दो प्रधान आरक्षक एवं तीन आरक्षक हुये पदोन्नत



सूरजपुर। जिला सूरजपुर में कार्यरत् प्रधान आरक्षक जीवननाथ गिरी एवं श्रीमती मंजू सिंह एसआई पद पर एवं आरक्षक शत्रुघन सिंह, आनंद सिंह एवं अजय पाण्डेय प्रधान आरक्षक के पद पर पदोन्नत हुए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत के द्वारा आज इन्हें स्टार एवं फीता लगाया गया। इस दौरान मुख्य लिपिक संतोष वर्मा, रक्षित निरीक्षक रामप्रसाद पैकरा, स्टेनो पुष्पेन्द्र शर्मा, एसआरसी आनंद राम पैकरा, सुनील वर्मा एवं दशरथ पैकरा उपस्थित रहे।

सफलता : हत्या के मामले का खुलासा, 3 आरोपी गिरफ्तार


सूरजपुर। गत् 17 मई को ग्राम कुम्पा निवासी जगमोहन सिंह ने थाना ओड़गी में सूचना दी कि इसके घर के पास स्थित कुआं में एक महिला मृत अवस्था में पड़ी हुई है। सूचना पर थाना ओड़गी में मर्ग क्रमांक 6/17 कायम कर पुलिस टीम घटना स्थल पर पहुंचकर कुआं से महिला की लाश निकलवाये जाने पर उसकी शिनान ख्त ग्राम कुप्पा निवासी 60 वर्षीय मुनिया सिंह पति बलसाय के रूप में हुई। महिला की लाश निकालने पर उसके उसकी साड़ी में पत्थर बंधा हुआ मिला जो मामला प्रथम दृष्टया हत्या का होना प्रतीत होने पर थाना ओड़गी में अज्ञात व्यक्ति के विरूद्ध अपराध क्रमांक 29/17 धारा 302, 201 भादवि का अपराध पंजीबद्ध किया गया एवं इसकी जानकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय को दी गई जिनके द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत एवं एसडीओपी ओड़गी जे.एल.लकड़ा के नेतृत्व में थाना प्रभारी ओड़गी को गंभीरता पूर्वक मामले की जांच कर आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने के निर्देश दिये। 
जांच के दौराथाना प्रभारी ओड़गी अजरूद्दीन को जानकारी मिली कि मृतका मुनिया सिंह का जमीन संबंधी विवाद उसके देवर बैजनाथ सिंह एवं उसका लड़का भुनेश्वर सिंह से चल रहा था। पुलिस ने संदेह के आधार पर दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ किया। पूछताछ के दौरान भुनेश्वर सिंह ने बताया कि दिनांक 14/05/17 के रात्रि करीब 11 बजे वह अपने दोस्त धनन्जय सिंह, प्रताप सिंह एवं बालम सिंह के साथ मिलकर मुनिया के घर जाकर मुनिया का गला दबाकर हत्या कर दिये और शव को छुपाने के नियत से मुनिया के साड़ी में पत्थर बांधकर कुआं में डाल दिये ताकि शव ऊपर न आ सके। तीनों आरोपियों के विरूद्व हत्या करने का अपराध सबूत पाये जाने पर ग्राम कुम्पा निवासी 30 वर्षीय भुनेश्वर सिंह पिता बैजनाथ, 19 वर्षीय धनन्जय सिंह पिता रामाधीन एवं 25 वर्षीय प्रताप सिंह पिता दखल सिंह को गिरफ्तार किया गया है। जिन्हें न्यायालय में पेश किया जायेगा। वहीं इस मामले के चौथे आरोपी बालम सिंह पिता देवराम फरार है जिसकी पतासाजी पुलिस टीम के द्वारा की जा रही है। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी ओड़गी अजरूद्दीन, एएसआई क्लेमेंट तिर्की, प्रधान आरक्षक लवकुष राजवाड़े, बहादूर सिंह, आरक्षक राजीव तिवारी, खेलसाय राजवाड़े, जगमोहन बेक एवं संतोष कंवर, नगर सैनिक रमेश सारथी सक्रिय रहे।

दुर्घटनाएं रोकने शहर में भारी वाहनों के प्रवेश का समय निर्धारित

सूरजपुर। कलेक्टर सूरजपुर के.सी.देव सेनापति ने गत् दिवस नगर में भारी वाहनों के शहर में प्रवेश प्रतिबंधित करने के आदेश जारी कर दिये हैं। जिला सूरजपुर में नगरीय क्षेत्र सूरजपुर में सघन आबादी एवं भीड़-भाड़ होने से अम्बिकापुर-मनेन्द्रगढ़ मुख्य मार्ग एवं भैयाथान मार्ग नगर के मध्यभाग से गुजरने के कारण आये दिन दुर्घटना की संभावना एवं जाम की स्थिति बनी रहती है जिसे देखते हुये नगर के बाहरी सीमा में दोनों तरफ बायपास सड़क का निर्माण किया गया है। नगर की स्थिति को संतुलित बनाये रखने हेतु प्रातः 9 बजे से रात्रि 9 बजे तक नगर में भारी वाहनों के प्रवेश को कलेक्टर सूरजपुर ने प्रतिबंधित किया गया है। उक्त समयानुसार भारी वाहन बायपास सड़क से आवागमन करेगी। कलेक्टर सूरजपुर के द्वारा इस आदेश को जारी करने के बाद बायपास रोड पर यातायात के आरक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है ताकि भारी वाहन शहर के भीतर प्रवेश न करें और उन्हें बायपास रोड़ में डायवर्ट किया जा सके।

आपरेशन गर्जना का हुआ समापन: कुछ झलकियाँ




सोमवार, 15 मई 2017

थाना रामानुजनगर में अायोजित जनजागरुकता कार्यक्रम

साभार: पत्रिका अंबिकापुर संस्करण 

गुम इंसानों की खोजबीन हेतु एक माह चलेगा अभियान ‘‘तलाश’’


सूरजपुर।वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय के निर्देश पर आज अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत के द्वारा स्थानीय पुलिस कन्ट्रोल रूम सभाकक्ष में जिले के थाना चौकी प्रभारियों, पैरालिगल वाॅलेन्टियर, लेबर आफिसर एवं चाॅईल्ड लाईन के अधिकारियों की उपस्थिति में गुम इंसानों की खोजबीन हेतु अभियान ‘‘तलाश’’ के तहत बैठक ली। 
इस दौरान एएसपी ने प्रत्येक गुम बच्चे की जांच के लिये नियुक्त जांचकर्ता अधिकारी को गुमशुदा के घर पर जाकर जांच करने एवं गुमशुदा के रहने के हर संभावित स्थानों पर जाकर पतासाजी करने, गुमशुदा के परिजनों से अद्यतन जानकारी लेने, उनके परिजनों का मोबाईल नंबर की जानकारी लेने, जिला विधिक सेवा प्राधिकारण एवं पैरालिगन वाॅलेन्टियर को गुमशुदा बच्चों की पूरी जानकारी उपलब्ध कराने, गुमशुदा बच्चों को ढूंढने हेतु सोशल मिडिया का उपयोग करने, रेडियों, दूरदर्शन के माध्यम से गुमशुदा बच्चों के पतासाजी हेतु प्रसारण कराने, स्थानीय मुख्य समाचार पत्रों में प्रकाशित कराने कराने के निर्देश दिये। इस दौरान उपस्थित पैरालिगल वाॅलेन्टियर, लेबर आफिसर एवं चाॅईल्ड लाईन के अधिकारियों को गुमशुदा बच्चों की पतासाजी में पूर्ण सहयोग देने हेतु कहा। बैठक में एएसपी श्री भगत ने उपस्थित थाना चौकी प्रभारियों, पैरालिगल वाॅलेन्टियर, लेबर आफिसर एवं चाॅईल्ड लाईन के अधिकारियों को 15 मई से 15 जून 2017 तक एक माह चलाये जाने वाले अभियान ‘‘तलाश’’ के दौरान अधिक से अधिक गुम इंसान की पतासाजी कर दस्तयाब करने हेतु निर्देशित किया। 
इस दौरान थाना प्रभारी एम.आर.कश्यप, सी.पी.तिवारी, रामेन्द्र सिंह, प्रमोद डनसेना, एसआई अश्वीनी पाण्डेय, के.एस.पैकरा, एस.पी.खाखा, चैकी प्रभारी रामनरेश गुप्ता, एएसआई सोहन सिंह, प्रधान आरक्षक विमल सिंह, आरक्षक संजय दुबे, पैरालिगल वाॅलेन्टियर जेनेन्द्र रवि, संगीता तान्जे, सुनीता, रीना पैकरा, चाईल्ड लाईन के आनंद कुमार, लेबर आफिसर तिलेश्वरी राजवाडे़ एवं दुर्गावती साहू उपस्थित रहे।

शुक्रवार, 12 मई 2017

निवर्तमान कलेक्टर श्री जी. अार. चुरेन्द्र की विदाई व नये कलेक्टर श्री देवसेनापति के स्वागत समारोह की झलकियाँ







वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने ली थाना प्रभारियों की क्राईम मीटिंग



 
सूरजपुर। अपराधों में कमी लाने, पंजीबद्व हुए अपराध के निकाल, शिकायत, मर्ग एवं अन्य कार्यवाही की विस्तृत जानकारी लेने हेतु आज सूरजपुर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आर.पी.साय के द्वारा क्राईम मीटिंग पुलिस कन्ट्रोल रूम के सभा कक्ष में ली गई।इस दौरान एसएसपी आर.पी.साय ने थाना में पंजीबद्व अपराध, मर्ग, गुम इंसान, लंबित शिकायत की विस्तृत जानकारी लेते हुये थाना प्रभारियों को शीघ्र जांच पूर्ण करने, थाना चौकी प्रभारियों को आमजन के द्वारा किसी अपराध या एक्सीडेंट होने की जानकारी दिये जाने पर तत्काल मौके पर पहुंचने, सामुदायिक पुलिसिंग के तहत् थाना के दुरस्थ अंचल में चलित थाना एवं पुलिस मित्र अभियान के दौरान मौके पर शिकायतों का निराकरण करने, ग्रामीणों को धोखाधड़ी, सोना सफाई गिरोह के द्वारा ठगी करने से बचने की समझाईश देने, स्वच्छता अभियान, अवैध शराब बिक्री की सूचना देने, गांव के सरपंच, पंच एवं सचिव की बैठक लेने, दिगर जिला व प्रदेश के फरार आरोपियों की धरपकड़ शीघ्र करने, थाना चौकी में मरम्मत अथवा निर्माण कार्य संबंधी प्राक्कलन तैयार कर भेजने, मेधावी छात्र/छात्राओं को पुरस्कृत करने, वर्तमान में संचालित निर्माण कार्य गुणवत्तापूर्वक कराने, नवीन पुलिस चौकी खोले जाने हेतु विधिवत् प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिये। इस दौरान एसएसपी श्री साय ने पुलिस लाईन पर्री में पुलिस के अधिकारी/कर्मचारियों की सुविधा हेतु पुलिस कैन्टीन खोलने हेतु प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये। 
इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत, सीएसपी डी.के.सिंह, एसडीओपी प्रतापपुर आर.के.शुक्ला, एसडीओपी ओड़गी जे.एल.लकड़ा, डीएसपी अजाक बी.एल.केहरी, स्टेनो पुष्पेन्द्र शर्मा, थाना प्रभारी अनूप एक्का, प्रमोद डनसेना, सी.पी.तिवारी, रूंगटू राम टोप्पो, नरेन्द्र सिंह, व्ही.एन.भारद्वाज, दीपक भारद्वाज, अजरूद्दीन, प्रदुम्मन तिवारी, रामेन्द्र सिंह, निरीक्षक शिवराम कुँजाम, तरशीला टोप्पो, रक्षित निरीक्षक रामप्रसाद पैकरा, सूबेदार सनत ठाकुर, एमटीओ गंगाधर जोशी, एसआई जानॅप्रदीप लकड़ा, एस.पी.खाखा, एसआई(अ) आनंदराम पैकरा, अमिताभ, साईबर सेल प्रभारी नीलाम्बर मिश्रा, स्पेशल पुलिस टीम प्रभारी सरफराज फिरदौसी, चौकी प्रभारी रामनरेश गुप्ता, कपिलदेव पाण्डेय, एएसआई अगस्त सिंह, प्रधान आरक्षक अश्वनी पाण्डेय उपस्थित रहे।

बुधवार, 10 मई 2017

आॅपरेशन गर्जना के तहत् महिलाओं के आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ









सूरजपुर। महिलाओं की आत्मरक्षा के लिए प्रशिक्षण शिविर का आयोजन राष्ट्रीय संगठन क्रीड़ा भारती, राष्ट्रीय पत्रिका मितान पुलिस टाईम्स के संयुक्त तत्वाधान एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय के मार्गदर्शन में सूरजपुर के पुलिस लाईन पर्री में 10 मई को प्रातः 6 बजे शुभारंभ किया गया। 
उक्त प्रशिक्षण शिविर में सूरजपुर नगर एवं आसपास के ग्रामों के काफी संख्या में बालिका एवं महिलाएं उपस्थित हुईं जिन्हें अपनी सुरक्षा के संबंध में आवश्यक जानकारी दी गई। महिलाएं अपने निजी परिधानों एवं अपने आसपास उपलब्ध सामानों से अपनी सुरक्षा कैसे कर सकती है इसका प्रशिक्षण भी आने वाले दिनों में शिविर में दिया जाएगा। 
इस शिविर में महिला सशक्तिकरण, आत्मरक्षा हेतु जूड़ो प्रशिक्षक श्रीमती चित्रा मिश्रा, अरविन्द सिन्हा, श्वेता सिंह, श्रृति यादव, कराटे प्रशिक्षक राहुल दास, ताइक्वांडो प्रशिक्षक मुकेश पुरी, कौशल पैकरा, विनोद कुमार के द्वारा महिलाओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है। इस दौरान प्रशिक्षण शिविर उद्घाटन के मुख्य अतिथि अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत ने कहा कि आज के परिवेश में जब महिला पुरूषों के साथ कदम से कदम मिलाकर आगे बढ़ रही है उन्हें अपने घरेलू, स्कूल एवं कार्यालयीन कार्य में जाने आने के दौरान कई बार अवांछनीय परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है इस दौरान उन्हें अपनी आत्मरक्षा हेतु मार्शल आर्ट की जानकारी होना अति आवश्यक है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य है कि महिलाए जूड़ो, कराटे, मार्शल आर्ट से प्रशिक्षित होकर सशक्त हो और स्वयं के साथ दूसरों की भी सुरक्षा कर सके।
थाना प्रभारी अजाक तरशीला टोप्पो के द्वारा महिलाओं को हिंसा से बचाव एवं उनके साथ हो रहे दुव्यवहार से बचने की जानकारी दी गई। शिविर में उपस्थित बालिकाओं एवं महिलाओं को पुलिस के अधिकारियों, पुलिस कन्ट्रोल रूम एवं थाना चौकी के मोबाईल नंबर की जानकारी दी गई। उद्घाटन कार्यक्रम का संचालन रक्षित निरीक्षक सूरजपुर रामप्रसाद पैकरा एवं आभार प्रदर्शन सूबेदार सनत कुमार ठाकुर के द्वारा किया गया। यह शिविर 10 मई से संचालित होकर 17 मई को इसका समापन होगा। सामुदायिक पुलिसिंग की दृष्टि से भी यह एक अच्छी पहल है।इस दौरान एसबी के निरीक्षक रामश्रृंगार यादव, महिला बाल विभाग अधिकारी सीडीपीओ रजनी कुजूर, डाॅ. अजय मरकाम, आॅपरेशन गर्जना के जिला समन्वयक नलिन जिन्दल, जिला सह संयोजक संस्कार अग्रवाल, रक्षित केन्द्र में पदस्थ महिला कर्मचारी, प्रशिक्षण ले रहे नगर एवं आसपास के ग्रामों के 350 बालिका एवं महिलाएं उपस्थित रही।

शुक्रवार, 5 मई 2017

अवैध महुआ एवं अंग्रेजी शराब बेचने वाले 12 व्यक्तियों के विरूद्व आबकारी एक्ट के तहत् सूरजपुर पुलिस ने की कार्यवाही


सूरजपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय के द्वारा जिले में पदस्थ राजपत्रित अधिकारियों को अपने अनुभाग के थाना चौकी क्षेत्र में अवैध शराब बेचने वालों के विरूद्व अभियान चलाकर कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। जिसके परिप्रेक्ष्य में गत् दिवस जिले के थाना प्रभारियों के द्वारा अवैध महुआ एवं अंग्रेजी शराब बेचने वाले 12 व्यक्तियों के विरूद्व आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही किया है । जिन लोगों के विरूद्व कार्यवाही की गई उनमें सूरजपुर क्षेत्र के ग्राम देवनगर निवासी बाजीलाल देवांगन से 3 लीटर कीमत 240 रूपये, ग्राम देवनगर निवासी भैयालाल रजक से 1 लीटर कीमत 80 रूपये, ग्राम देवनगर के सुशीला रजक से 3 लीटर कीमत 240 रूपये, ओड़गी क्षेत्र के ग्राम रजवारीपारा निवासी रामधनी राजवाड़े से 2 लीटर कीमत 160 रूपये, रामानुजनगर क्षेत्र के ग्राम कैलाशपुर निवासी दिलबसियां देवांगन से 2 लीटर कीमत 200 रूपये, प्रतापपुर क्षेत्र के ग्राम अमनदोन निवासी देवकुमार सोनपाकर एवं विजय कुमार बघेल से 4 लीटर कीमत 225 रूपये एवं 3 लीटर कीमत 200 रूपये, ग्राम माझापारा निवासी सिलेन्दर सिंह से 4 लीटर कीमत 400 रूपये, ग्राम केवरा घुटरापारा निवासी कलावती जायसवाल के पास से 16 पाव गोवा अंग्रेजी शराब कीमत 1210 रूपये, भटगांव थाना क्षेत्र के ग्राम खोखापारा निवासी ओमप्रकाश राजवाड़े से 2 लीटर कीमत 200 रूपये, झिलमिली क्षेत्र के ग्राम बड़सरा निवासी पन्नालाल प्रजापति से 2 लीटर कीमत 200 रूपये, ग्राम खैरी निवासी त्रिलोचन देवांगन से 2 लीटर कीमत 200 रू. का अवैध महुआ शराब बनाकर बिक्री करने हेतु रखे पाये जाने पर पुलिस ने शराब जप्त कर सभी के विरूद्व आबकारी एक्ट के तहत् कार्यवाही किया है।

04 किलो गांजा के साथ एक गिरफ्तार


 

स्पेशल पुलिस टीम एवं थाना प्रेमनगर की संयुक्त कार्यवाही

सूरजपुर। पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज हिमांशु गुप्ता के मार्गदर्शन में जिले में अवैध कारोबारियों एवं नशेड़ियों के विरूद्ध वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय के द्वारा चलाए गये विशेष अभियान के तहत् गत् दिवस स्पेशल पुलिस टीम प्रभारी सरफराज फिरदौसी को मुखबीर से सूचना मिली कि प्रेमनगर के चिरंजी बाबा के आगे मेन रोड़ पर एक व्यक्ति काले रंग के बैग में अवैध मादक पदार्थ गांजा रखकर बिक्री करने हेतु बस का इंतजार कर रहा है जिसकी सूचना एसएसपी सूरजपुर आर.पी.साय को दी गई जिनके मार्गदर्शन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस.आर.भगत के निर्देशन में स्पेशल पुलिस टीम एवं थाना प्रेमनगर के संयुक्त टीम के द्वारा युवक को घेराबंदी कर पकड़ा गया। पूछताछ किये जाने पर वह अपना नाम बनस सिंह पिता दसंत राम जाति गोंड़ उम्र 24 वर्ष निवासी टिकरापारा थाना प्रेमनगर का रहने वाला बताया उसके बैग की तलाशी लेने पर 04 किलो अवैध मादक पदार्थ गांजा कीमत करीब 20 हजार रू. का बरामद होने पर आरोपी के विरूद्ध थाना प्रेमनगर में अपराध क्रमांक 46/17 धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत् मामला पंजीबद्व किया गया । पकड़े गये आरोपी से पूछताछ करने पर कई अन्य महत्वपूर्ण सुराग मिला है। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रेमनगर व्ही.एन.भारद्वाज, स्पेशल पुलिस टीम प्रभारी सरफराज फिरदौसी, आरक्षक महेन्द्र प्रताप सिंह, दिनेश ठाकुर, विकास पटेल, कृष्णकांत पाण्डेय, श्याम सिंह, जगत पैंकरा, शरद सिंह, अजय खेस एवं विजय साहू सक्रिय रहे।

सोमवार, 1 मई 2017

भटगांव, चंदौरा व बसदेई में पुलिस ने किया लोगों को जागरूक




सूरजपुर |  पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज हिमांशु गुप्ता के निर्देशानुसार वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर आर.पी.साय के मार्गदशर्न में थाना भटगांव के ग्राम अनरोखा एवं बंशीपुर में थाना प्रभारी भटगांव प्रदुम्मन तिवारी के द्वारा एक कार्यक्रम का आयोजन कर दोनों ग्रामों की महिलाओं एवं पुरूषों को एत्रक कर राज्य शासन की नई आबकारी नीति के प्रावधानों की जानकारी दी जाकर अवैध शराब बिक्री करने वाले कोचियों के विरूद्व सख्त कार्यवाही की जाकर अवैध शराब बिक्री पर पूर्णतः रोक लगाई जाने की जानकारी दी गई, इस दौरान उन्होंने अवैध रूप से स्पि्रट एवं यूरिया आदि का उपयोग कर घरों में जहरीली महुआ शराब बना कर सेवन करने से होने वाले संभावित दुष्प्रभावों, नुकसान एवं समाज, घर परिवार में होने वाली सामाजिक, आर्थिक छति बुराई की जानकारी दी जाकर महिलाओं एवं पुरूषों को अवैध शराब नहीं बनाने, न पीने, न पिलाने और न ही बिक्री करने की समझाईश देकर जागरूक किया गया। गांव में अवैध रूप से अंग्रेजी, देशी एवं महुआ शराब बिक्री होने की सूचना पुलिस को देने की अपील की गई साथ ही बाल विवाह, टोनही प्रताड़ना, मोबाईल ठगी से सावधान रहने की समझाईश दी जाकर कर पुलिस मित्र संबंधी पम्पलेट बांटे गए, पुलिस मित्रों को अवैध शराब बिक्री के खिलाफ सजग नजर रखकर पुलिस को सूचित करने की समझाईश दी गई। इस दौरान विजय तिवारी, अशोक गुप्ता, पूनम गुप्ता, नन्दकेश्वर सोनपाकर, सरपंच अनरोखा राजाराम सिंह, सरपंच बंशीपुर, एएसआई नवल किशोर दुबे, एल.पी.गुप्ता, आरक्षक अतुल शर्मा, राधेश्याम साहू, संतोष जायसवाल, महिला आक्षक सुषा मिंज, हेमकुमारी एवं काफी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे।
        इसी प्रकार थाना प्रभारी चंदौरा सी.पी.तिवारी के द्वारा चन्दौरा के द्वारा इस संबंध में आवश्यक समझाईश देकर अवैध अंग्रेजी, देशी एवं महुआ बेचने वालों की सूचना पुलिस को देने हेतु मोबाईल नंबर दिया।
     चौकी प्रभारी बसदेई बृजनाथ साय पैकरा के द्वारा ग्राम कुसमुसी के ग्रामीणों को इस संबंध में आवश्यक समझाईश देकर जागरूक किया गया।