गुरुवार, 23 सितंबर 2021

सूरजपुर पुलिस ने 2 लाख 10 हजार कीमत के 21 किलो गांजा सहित 1 को किया गिरफ्तार......................

 

सूरजपुर। अवैध कार्यो के विरूद्व प्रभावी कार्यवाही को लेकर पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता के कडे़ निर्देश पर लगातार कार्यवाही जारी है। इसी बीच गुरूवार, 23 सितम्बर को पुलिस अधीक्षक को मुखबीर से सूचना मिली कि तिवरागुड़ी निवासी बृजेन्द्र साहू अपने घर में भारी मात्रा में गांजा बिक्री करने हेतु रखा है जिस पर उन्होंने पुलिस टीम गठित कर दबिश देकर कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में पुलिस टीम ग्राम तिवरागुड़ी, थाना रामानुजनगर निवासी बृजेन्द्र साहू पिता सोनसाय के घर पहुंची और विधिवत दबिश देकर घर में छुपाकर रखे 21 किलो मादक पदार्थ गांजा कीमत 2 लाख 10 हजार रूपये का जप्त करते हुए धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही कर उसे गिरफ्तार किया है। कार्यवाही में थाना रामानुजनगर की पुलिस सक्रिय रही।

मंगलवार, 21 सितंबर 2021

सूरजपुर जिले के थाना-चौकी प्रभारी नियमित आयोजित कर रहे चलित थाना। पुलिस ग्रामीणों को कानून, धोखाधड़ी से बचाव की जानकारी देते हुए उनकी समस्याएं सुनी।



कई समस्याओं का त्वरित निराकरण भी किया।

सूरजपुर: पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने पुलिस व आमजनों के साथ मैत्रीय संबंध बढ़ाने को लेकर सामुदायिक पुलिसिंग के तहत थाना-चौकी प्रभारियों को उनके क्षेत्र के हाट-बाजारों सहित अन्य जगहों पर नियमित रूप से चलित थाना लगाने के निर्देश दिए थे। इसी परिपेक्ष्य में पिछले दिनों थाना रामानुजनगर के रामानुजनगर, नावापाराकला, चौकी तारा के ग्राम तारा, चौकी रेवटी के ग्राम नरोला के साप्ताहिक बाजार, चौकी उमेश्वरपुर के ग्राम उमेश्वरपुर, चौकी बसदेई के ग्राम शिवप्रसादनगर व चौकी खड़गवां के सुखदेवपारा में चलित थाना लगाया जहां मौजूद सरपंच सहित पंचायत प्रतिनिधियों की मौजूदगी में लोगों की समस्याओं को सुना और कई का निराकरण भी किया।
          इस दौरान पुलिस अधिकारियों ने ग्रामीणों को कानून की जानकारी देते हुए अपराध से बचने की सलाह दी। नशा को नाश का कारण बताते हुए गांव को नशा मुक्त बनाने की समझाइश देने के अलावा वर्तमान में हो रहे एटीएम कार्ड बदलकर धोखाधड़ी, बैंक का अधिकारी अथवा कर्मचारी बन कर मोबाइल से आधार कार्ड एवं एटीएम कार्ड की गोपनीय जानकारी प्राप्त कर बैंक खातों से रकम पार करने की घटित हो रही घटनाओं की विस्तृत जानकारी ग्रामीणों को देते हुए ठगी का शिकार होने से बचने की समझाईश दी। सूरजपुर पुलिस के वरिष्ठ नागरिकों की पुलिस के सम्पर्क में लाने, देखरेख व समस्या के त्वरित निराकरण समर्पण अभियान, महिला-बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देने हिम्मत कार्यक्रम व समस्या-शिकायतों के त्वरित निराकरण हेतु संवाद नंबर 7999161672 के बारे में ग्रामीणों को अवगत कराया गया और इसका लाभ लेने की समझाईश दी।

सूरजपुर पुलिस के सड़क सुरक्षा अभियान के नेत्र परीक्षण शिविर के दूसरे दिन 52 वाहन चालकों का किया गया नेत्र परीक्षण।



चालकों के नेत्र परीक्षण कर दुर्घटना के जोखिम को कम करना है उद्धेश्य।

सूरजपुर। जिले की पुलिस के द्वारा सड़क सुरक्षा अभियान के तहत सड़क दुर्घटना के जोखिम को कम करने व दुर्घटना में मानव क्षति को रोकने के उद्धेश्य से पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने बीते दिन पुलिस अधिकारियों को ट्रक, बस, ऑटो व रिक्शा चालकों का नेत्र परीक्षण कराने को कहा था। मंगलवार, 21 सितम्बर को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर के मार्गदर्शन में नेत्र परीक्षण शिविर के दूसरे दिन नेत्र विशेषज्ञ डॉ. तेरस कंवर के द्वारा सूरजपुर सहित आसपास क्षेत्र के 52 ट्रक, ऑटो व रिक्शा चालकों का नेत्र परीक्षण किया।
          इस दौरान यातायात प्रभारी आर.सी.राय, नेत्र सहायक मुकेश राजवाड़े, प्रदीप कुजूर, स्टाफ नर्स जयश्री चक्रवर्ती, प्रधान आरक्षक रामजतन सिंह, वाहन चालक सोनू सिंह, बुधराम, आशीष, हफीज, भानू, लतीफ मोहम्मद, बालमीकदास, समयलाल, अकबर, इस्तयाक, अनिल, भूखल, आशीष सोनी, हरिशचंद सहित अन्य वाहन चालकगण मौजूद रहे।

सूरजपुर पुलिस ने जरही एटीएम मशीन में तोड़फोड़ करने वाले 1 आरोपी व 4 अपचारी बालक को किया गिरफ़्तार................

एटीएम तोड़फोड़ मामले में पुलिस ने 48 घंटे के अंदर किया खुलासा।

सूरजपुर: दिनांक 18 सितम्बर के रात्रि में जरही चौक से कुछ दूरी पर स्थित एटीएम मशीन में तोड़फोड़ कर अज्ञात व्यक्तियों के द्वारा पैसा निकालने का प्रयास किया गया। इंडिया 1 एटीएम मशीन मेन्टनेशन करने वाले सुनील राज पुरोहित की रिपोर्ट पर धारा 457, 380, 511, 427 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्व किया गया। मामले की सूचना पर पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने थाना प्रभारी भटगांव को एटीएम में लगे सीसीटीव्ही फुटेज हासिल कर आरोपियों की पतासाजी कर गिरफ्तार करने के निर्देश दिए।
          अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह के मार्गदर्शन में भटगांव की पुलिस टीम ने सीसीटीव्ही फुटेज व मुखबीर की सूचना पर संदेही एक अपचारी बालक को पकड़ा। पूछताछ पर अपचारी बालक ने बताया कि उसने देवप्रकाश उर्फ नानू यादव व 3 अन्य अपचारी बालक के साथ मिलकर एटीएम मशीन से पैसा निकालने के लिए तोड़फोड़ कर पैसा निकालने का प्रयास किए किन्तु पैसा नहीं निकला। आरोपियों के निशानदेही पर एटीएम कक्ष के अंदर लगे कैमरा, घटना में प्रयुक्त आलाजरब जप्त कर आरोपी देवप्रकाश उर्फ नानू यादव उम्र 22 वर्ष निवासी ग्राम श्यामनगर, थाना भटगांव एवं 4 अपचारी बालकों को गिरफ्तार किया है।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, एसआई सीपी तिवारी, प्रधान आरक्षक संजय चौहान, गुड्डू कुशवाहा, भोला शंकर राजवाड़े, सुन्दर लाल, आरक्षक अवधेश कुशवाहा, रजनीश पटेल, विनोद परीड़ा, मनोज जायसवाल, प्रकाश साहू, नौशाद अहमद, जगत पैंकरा, राधाकृष्ण, सोहर सिंह, रामपाल पैंकरा व कमलेश्वर सिंह सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने कराया वाहन चालकों का नेत्र परीक्षण.............

परीक्षण में चालकों में दूर-पास देखने की समस्या आई सामने।

एक सप्ताह तक होगा चालकों का नेत्र परीक्षण, जिन्हें चश्मे की है जरूरत उन्हें निःशुल्क किया जायेगा वितरण।

सूरजपुर। कई सड़क दुर्घटनाओं में यह देखा गया है कि वाहन चालक का नेत्र कमजोर होने के कारण सामने की ओर से आ रहे वाहन अथवा व्यक्ति को स्पष्ट नहीं देखने की वजह से दुर्घटनाएं हुई। वाहन चालक सही तरीके से देख सकेगा तभी सुरक्षित वाहन चलाएगा। सड़क सुरक्षा अभियान के तहत पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्रीमती भावना गुप्ता ने यातायात प्रभारी को ट्रक व आटो चालकों का नेत्र परीक्षण शिविर आयोजित कराने के निर्देश दिए थे। इसी परिपेक्ष्य में सोमवार 20 सितम्बर 2021 को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर के मार्गदर्शन में यातायात प्रभारी ने नेत्र परीक्षण शिविर के प्रथम दिवस 17 ट्रक व आटो चालकों का नेत्र परीक्षण जिला चिकित्सालय के नेत्र विशेषज्ञ डॉ. तेरस कंवर से करवाया। खास बात यह रही कि नेत्र परीक्षण में कई वाहन चालकों के दूर-पास देखने की समस्या सामने आई।
          पुलिस के द्वारा कराया जा रहा यह नेत्र परीक्षण शिविर एक सप्ताह तक चलेगा, डॉक्टर के द्वारा जिन चालकों को चश्मे की जरूरत बताई गई है उन चालकों को निःशुल्क चश्मा प्रदाय किया जायेगा। पुलिस ने ट्रान्सपोर्टरों को सख्त हिदायत दिया है कि वह अपने वाहन चालकों के नेत्र परीक्षण कराए और जिन्हें चश्में की जरूरत है उन्हें उपलब्ध कराए ताकि सड़क दुर्घटना के जोखिम को कम किया जा सके।
          इस दौरान प्र.आर. रामजतन सिंह, बालमुकुन्द पाण्डेय, आरक्षक रामप्रसाद पैंकरा, वाहन चालक उत्तम सिंह, पूरन सिंह, अजय विश्वास, सहदेव सिंह, विरेन्द्र मिंज, विक्सी साहू, श्याम प्रकाश, रंजीत, इमरान आलम, बुधराम, इकबाल, सुखलाल, शेर सिंह, बबला सिंह, कमलेश, अनिल सहित अन्य मौजूद रहे।

मंगलवार, 14 सितंबर 2021

क्राइम मीटिंग में सूरजपुर एसपी के शख्त निर्देश, थाना पहुंचने वाले हर मामले की हो निष्पक्षता से जांच...........


सूरजपुर। मंगलवार को पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने सभी थाना प्रभारियों की बैठक लेकर जिले में हो रहे अपराधों की समीक्षा किया और अपराधों पर नियंत्रण करने के लिए सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिए। जिला पुलिस कार्यालय के सभाकक्ष में कानून व्यवस्था और अपराधों के निराकरण के संबंध में क्राइम मीटिंग ली। इस दौरान उन्होंने थानेवार लंबित मामले, शिकायतें, लंबित अनुसंधान, गैर जमानती वारंट, समन तामिल की समीक्षा की। थाना स्तर पर विवेचना में लंबित अपराध, महिला संबंधी अपराध, एससीएसटी अपराध, चालान, मर्ग, गुम इंसान, स्थाई वारंट, गिरफ्तारी वारंट के साथ संवाद शाखा की लंबित शिकायतों पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि सभी शिकायतों को गंभीरता पूर्वक लिया जाए और निर्धारित समय-सीमा में निराकरण की जाए। पुलिस अधीक्षक ने एक-एक प्रकरण की बारीकी से समीक्षा की और निराकरण हेतु आवश्यक निर्देश दिए
          बैठक में पुलिस अधीक्षक ने कहा कि किसी घटना-दुर्घटना की सूचना पर तत्काल मौके पर पहुंचे, चलित थाना लगाकर नागरिकों की समस्याओं का निराकरण करें। उन्होंने प्रभारियों को निर्देश दिया कि थाना पहुंचने वाले हर मामलों का निष्पक्षता से जांच कर फरियादी को संतुष्ट करें। अवैध कार्यो सहित नशे के कारोबार में लिप्त लोगों के विरूद्व सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
          पुलिस अधीक्षक ने वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा, देखभाल व उनकी समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए समर्पण अभियान, महिला-बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देने हिम्मत कार्यक्रम के बारे में जानकारी ली। उन्होंने हिम्मत कार्यक्रम का अगला सत्र थाना विश्रामपुर, रामानुजनगर में आयोजित करने संबंधी आवश्यक दिशा-निर्देश प्रभारियों को दिए। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एएसपी मुख्यालय पी.एस.महिलाने, सीएसपी जे.पी.भारतेन्दु, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह, सभी थाना-चौकी प्रभारी सहित जिला पुलिस कार्यालय के अधिकारीगण मौजूद रहे।

इन्वेस्टीगेटर ऑफ द मंथ से सम्मानित हुए 1 थाना प्रभारी व 2 आरक्षक।

क्राइम मीटिंग में पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने थाना प्रभारी विश्रामपुर सहित 2 आरक्षकों को इन्वेटीगेटर ऑफ द मंथ से सम्मानित किया है। चैन स्नेचिंग करने वाले नट गिरोह, साईबर ठग को जामताड़ा झारखण्ड, एटीएम टेम्परिंग मामले में संलिप्त आरोपियों को गौरेला से गिरफ्तार करने एवं नाबालिग अपहृत बालिका को पटना बिहार से दस्तयाब करने पर थाना प्रभारी विश्रामपुर सुभाष कुजूर, आरक्षक अखिलेश पाण्डेय एवं महत्वपूर्ण सूचना संकलन करते हुए कई एनडीपीएस एक्ट के प्रकरणों में आरोपियों की गिरफ्तारी में सक्रिय रहने पर आरक्षक अमरेन्द्र दुबे को प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह देकर इन्वेस्टीगेटर ऑफ द मंथ से सम्मानित किया है। पुलिस अधीक्षक ने कहा उत्कृष्ट कार्य करने वाले पुलिस अधिकारी-कर्मचारी प्रत्येक माह इन्वेटीगेटर ऑफ द मंथ से सम्मानित किए जायेंगे।

चोरी के बर्तन व आभूषण सहित 1 गिरफ्तार, थाना सूरजपुर पुलिस की कार्यवाही.............

सूरजपुर: बीते 10 सितम्बर को ग्राम नेवरा निवासी तीरथराम राजवाड़े ने थाना सूरजपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि 9 सितम्बर की रात्रि में इसके घर से बर्तन एवं सोने के जेवर को किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा चोरी कर ले गया है। प्रार्थी की रिपोर्ट पर धारा 457, 380 भा.दं.सं. के तहत मामला पंजीबद्व किया गया।
          एसडीओपी सूरजपुर गीता वाधवानी के मार्गदर्शन में थाना सूरजपुर की पुलिस के द्वारा अज्ञात आरोपी की पतासाजी करने के दौरान मुखबीर की सूचना पर संदेही ग्राम नेवरा निवासी 22 वर्षीय पिंटू राजवाड़े को पकड़ा गया जिससे बारीकी से पूछताछ करने पर उसने चोरी करना कबूल किया जिसके निशानदेही पर पुलिस ने चोरी हुए बर्तन एवं सोने के आभूषण कीमत 44200/- रूपये का जप्त कर आरोपी को विधिवत गिरफ्तार किया है। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एसआई बीडी यादव, एएसआई कृष्णा यादव, प्रधान आरक्षक बिसुनदेव पैंकरा सहित अन्य स्टाफ सक्रिय रहे

सोमवार, 13 सितंबर 2021

सूरजपुर पुलिस ने 8 लाख कीमत के गुम हुए 50 मोबाईल बरामद कर उनके वारिसानों को किया सुपुर्द..........



पुलिस को गुम मोबाईल की सूचना निरंतर ऑनलाईन माध्यम से रहा है मिल।

मोबाईल गुमा है तो लिंक https://forms.gle/hYeR5TfNft3yqTet7 पर दें जानकारी।

सूरजपुर: जिले में गुम हुए मोबाइलों को खोजने के लिए सूरजपुर पुलिस के द्वारा अभियान निरंतर चलाया जा रहा है। पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता के निर्देश पर सूरजपुर पुलिस के ब्लाग में गुम मोबाईल की सूचना देने की सुविधा भी मौजूद है जिसके माध्यम से जिलेवासी आसानी से अपने गुम हुए मोबाईल के बारे में लिंक https://forms.gle/hYeR5TfNft3yqTet7 पर क्लीक कर गुम मोबाईल का ब्यौरा दर्ज करा रहे है। पुलिस के इस नई पहल के बाद बीते माह में 30 गुम मोबाईल रिकव्हर कर उनके वारिशानों को वापस किया गया था और इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए सोमवार 13 सितम्बर को पुलिस अधीक्षक ने 50 नग गुम मोबाईल जिन्हें सर्विलांस में लगाकर ट्रेस किया गया था उन्हें संबंधितों को सौंपा है।
          पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने बताया कि लोगों के गुम हुए मोबाइल की सूचना देने के लिए ऑनलाईन सुविधा सूरजपुर पुलिस के ब्लाग में मौजूद है जिसके जरिए लोग अब आसानी से अपने गुम हुए मोबाईल की जानकारी हम तक पहुंचा पा रहे है। उन्होंने बताया कि गुम मोबाईल को रिकव्हर करने के लिए पुलिस की टीम गठित की गई है, गुम हुए मोबाईल खोजने का यह अभियान निरंतर जारी रहेगा। गुम मोबाईल वितरण कार्यक्रम में जिनके मोबाईल गुमे थे वे अपना मोबाईल लेने उपस्थित हुए थे उन्हें अपने गांव घर के आसपास रहने वाले लोगों को भी गुम मोबाईल खोजबीन के लिए सूरजपुर पुलिस के ब्लाग में मौजूद सुविधा एवं उपरोक्त लिंक के बारे में बताने को कहा। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एएसपी मुख्यालय पीएस महिलाने, स्थापना प्रभारी अखिलेश सिंह सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

करीब 8 लाख रुपए की कीमत के 50 मोबाइल सुपुर्द किए।

          जिनमें आवेदक रामजी साहू, विनय कुमार मिश्रा, प्रहलाद अग्रवाल, अरविंद यादव, राजेश अग्रवाल, संजय सिंह ठाकुर, सुशांत कुमार, आकाश आदिल, सोनी प्रसाद कुशवाहा, राहुल साहू, शिवचंद साहू, हेमंत कुमार, टेकराम सिंह, राजू सिंह, अमर व अफरोज खान को उनके गुम हुए मोबाईल को दिया गया। इसके अलावा 34 अन्य लोग जो जिले के विभिन्न क्षेत्र के निवासी है उन्हें संबंधित थाना-चौकी के माध्यम से मोबाईल को सौंपा जाएगा। मोबाइल खोजने में साइबर सेल से आरक्षक युवराज यादव, रौशन सिंह, विनोद सारथी की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

शुक्रवार, 10 सितंबर 2021

अवैध अंग्रेजी शराब के जखीरा सहित 4 आरोपी गिरफ्तार, रामानुजनगर व खड़गवां पुलिस की कार्यवाही...............

सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने नशे के कारोबार को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए नशे के कारोबार में लिप्त लोगों के विरूद्व सख्त से सख्त कार्यवाही करने के निर्देश जिले के थाना-चौकी प्रभारियों को दिए है। गुरूवार, 09 सितम्बर को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में थाना रामानुजनगर की पुलिस टीम ने मुखबीर की सूचना पर रामानुजनगर में स्कार्पियों वाहन सहित ग्राम नावापारा, चौकी बसदेई निवासी प्यारेलाल देवांगन, विजय कुमार बियार व ग्राम जूनापारा, थाना पटना, जिला कोरिया निवासी राजा कुमार धोबी को पकड़ा जिसने कब्जे से 350 पाव गोवा अंग्रेजी शराब कीमत 45500/- रूपये एवं स्कार्पियों वाहन कीमत 10 लाख रूपये का जप्त कर तीनों के विरूद्व धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुए गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी रामानुजनगर विपिन लकड़ा, एएसआई माधव सिंह, प्रधान आरक्षक रविन्द्र कौल, राजेश पैंकरा, आरक्षक रामसागर साहू, वेदप्रकाश राजवाड़े, धनंजय साहू, कपिल सिंह, संतोष ठाकुर, रविशंकर साहू व देवान सिंह सक्रिय रहे।
          दूसरे मामले में एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह के मार्गदर्शन में चौकी खड़गवां की पुलिस टीम ने मुखबीर की सूचना पर ग्राम मायापुर-2 में घेराबंदी कर वहीं के बलबीर पैंकरा को पकड़ा जिसके कब्जे से 50 पाव गोवा अंग्रेजी शराब कीमत 6500 रूपये का जप्त कर धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुए गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया। इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी खड़गवां विमलेश सिंह, प्रधान आरक्षक मोहर सिंह, आरक्षक प्रमोद गुप्ता व चंदर साय राजवाड़े सक्रिय रहे।

भारी मात्रा में नशीली दवाई सहित 1 आरोपी गिरफ्तार, थाना ओड़गी पुलिस की कार्यवाही...........


सूरजपुर। नशे के धंधे में लिप्त लोगों के विरूद्व पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता के कड़े निर्देश के बाद से लगातार कार्यवाही जारी है। बीते दिन नवपदस्थ एसडीओपी ओड़गी राजेश जोशी के मार्गदर्शन में थाना ओड़गी पुलिस की टीम ने मुखबीर की सूचना पर बांकघाट में घेराबंदी कर स्वीफ्ट डिजायर कार सहित ग्राम बलंगी थाना रघुनाथपुर निवासी रामचंद्र पाल को पकड़ा जिसके कब्जे से नशीली ई स्कूफ कफ सिरप 100 नग एवं पायवेन स्पा कैप्सूल 1200 नग कीमत 23862 रूपये का जप्त किया गया। मामले में नशीली दवाई एवं परिवहन में प्रयुक्त कार जप्त करते हुए आरोपी के विरूद्व धारा 21(सी) एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही कर गिरफ्तार किया है। कार्यवाही में थाना प्रभारी ओड़गी रामसाय पैंकरा, आरक्षक संदीप शर्मा, राकेश सिंह, रामप्रसाद व कामेश्वर टोप्पो सक्रिय रहे।

गुरुवार, 9 सितंबर 2021

घुमाडांड में लगे चलित थाना में लोगों की समस्या-शिकायतों का किया गया निराकरण।............

सूरजपुर: जनता और पुलिस के बीच मैत्रीय संबंध को लेकर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर के निर्देश पर जिले के थाना-चौकी प्रभारियों के द्वारा लगातार चलित थाना का आयोजन किया जा रहा है। बुधवार, 08 सितम्बर को चौकी प्रभारी रेवटी सुमंत पाण्डेय के द्वारा ग्राम घुमाडांड में चलित थाना लगाया गया। इस चलित थाना में पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता भी पहुंची थी जहां लोगों की समस्या-शिकायतों को सुना गया और कई का निराकरण भी किया गया।
          चलित थाना में पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने कहा कि जनता और पुलिस के बीच मैत्रीय संबंध, निरंतर संवाद, लोगों की समस्या-शिकायतों के त्वरित निराकरण, गांव में पुलिस की भौतिक रूप से मौजूदगी के लिए चलित थाना का आयोजन किया जा रहा है। चलित थाना में आप अपनी समस्या-शिकायतों से हमें अवगत कराये ताकि उसका निराकरण किया जा सके। उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग के अलावा दूसरे विभाग से संबंधित कोई समस्या हो तो भी अवगत कराए ताकि संबंधित विभाग को उससे अवगत करा निराकरण कराया जा सके। पुलिस अधीक्षक ने संवाद नंबर 7999161672 के बारे में लोगों को अवगत कराते हुए कहा कि इस नंबर पर आप अपनी शिकायत-समस्या से हमें अवगत कराए जिसका जल्द निराकरण किया जायेगा, समर्पण अभियान एवं महिला बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देने हेतु चलाए जा रहे हिम्मत कार्यक्रम के बारे में बताया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक ने कई जरूरतमंद लोगों को हेलमेट भी वितरण किया।
          एएसपी मुख्यालय पीएस महिलाने ने चलित थाना में मौजूद लोगों को धोखाधड़ी, साइबर क्राइम, यातायात नियमों के बारे में जानकारी देकर जागरूक किया गया। उन्होंने पुलिस अधिकारियों व चौकी प्रभारी के मोबाईन नंबर की जानकारी देकर कहा कि किसी भी समस्या, घटना, दुर्घटना पर फौरन पुलिस को सूचित करें।
          इस दौरान एएसपी मुख्यालय पीएस महिलाने, एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि शिवभजन मरावी, सरपंच सोन कुंवर, अमर सिंह, अजय सिंह मरकाम, वीरेंद्र पटेल, उमेश पटेल, पंच प्यारे, जयप्रकाश, महादेव, सीताराम, हरिप्रसाद, शेर सिंह, सुरेंद्र पटेल, विजय खैरवार, सहित ग्राम घुमाडांड व गोविंदपुर के ग्रामीणजन मौजूद रहे।

सूरजपुर के थाना चंदौरा पुलिस करा रहा फुटबाल टूर्नामेंट.............


खेल से मिलती है प्रेरणा, साहस, अनुशासन और एकाग्रता- पुलिस अधीक्षक।

थाना चंदौरा के सभी गांव के खिलाड़ी ले रहे टूर्नामेंट में हिस्सा।

सूरजपुर: पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता के निर्देश पर चलित थाना के साथ-साथ सामुदायिक पुलिसिंग के तहत जनता और पुलिस के बीच मैत्रीय संबंध बढ़ाने के उद्धेश्य से खेल प्रतियोगिता का आयोजन चंदौरा में किया गया।
          थाना प्रभारी चंदौरा बाजीलाल सिंह के द्वारा सामुदायिक पुलिसिंग को बढ़ावा देने, पुलिस व जनता के बीच मैत्रीय संबंध बढ़ाने के उद्धेश्य से माध्यमिक शाला चंदौरा के खेल मैदान में फुटबाल टूर्नामेंट का आयोजन किया है जिसमें थाना क्षेत्र के सभी 16 गांव जजावल, परमेश्वरपुर, हरिहरपुर, चिकनी, सतीपारा, पहिया, दरहोरा, मयुरधक्की, देवरी, सिंगरी, चंदौरा, मटिगड़ा, दरहोरा, बिहीडांड, पकनी व चिकनी की टीम हिस्सा ले रही है। चंदौरा पुलिस के द्वारा कराये जा रहे फुटबाल टूर्नामेंट का शुभारंभ 08 सितम्बर को पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने एएसपी मुख्यालय पीएस महिलाने, एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि शिवभजन मरावी, जनपद सदस्य व सरपंचगण की मौजूदगी में किया गया। इस टूर्नामेंट में खास बात यह है कि थाना चंदौरा क्षेत्र के सभी गांव के खिलाड़ी इस प्रतियोगिता में भाग ले रहे है। बुधवार का शुभारंभ अवसर पर जजावल की टीम ने परमेश्वरपुर की टीम तथा देवरी और सिंगरी की टीम के बीच मैच खेला गया जिसमें परमेश्वरपुर और देवरी की टीम ने उन्दा खेल का प्रदर्शन करते हुए मैच जीते। इस टूर्नामेंट का फाईनल मैच 15 सितम्बर को खेली जायेगी।
          शुभारंभ अवसर पर पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने कहा कि फिट रहने एवं स्वस्थ शरीर के लिए खेल महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। खेल शारीरिक व मानसिक विकास में मदद करते हैं, खेल हमारे सर्वांगीण विकास के लिए बहुत जरूरी है। यदि हम प्रतिदिन खेलते हैं तो वह हमारे मानसिक कौशल को विकसित करता है। वह हमारे मनोवैज्ञानिक कौशल में भी सुधार लाता है, खेल से हमें प्रेरणा, साहस, अनुशासन और एकाग्रता मिलती है। उन्होंने कहा कि यदि युवा खेल से जुड़े रहेंगे तो वह नशे से दूर रहेंगे। सभी प्रतिभागियों से अपील करते हुए कहा कि अपने-अपने गांवों में नशीली पदार्थ के प्रयोग को रोकने के लिए स्वयंसेवकों के रूप में काम कर सहयोग प्रदान करें।
          चंदौरा में आयोजित फुटबाल टूर्नामेंट का आनंद लेने काफी संख्या में ग्रामीण पहुंचे थे जिन्हें पोस्टर के जरिए धोखाधड़ी से बचाव, यातायात नियमों का पालन करने, सड़क सुरक्षा, हेलमेट पहनने के उपयोगिता के बारे में जागरूक किया गया।
          इस दौरान बीडीसी देवनाथ पैंकरा, कृष्णा सिंह मरावी, पवन नाग, ज्योतिकला पैंकरा, सरपंच रामरतन पैंकरा, रामप्रसाद, सम्पत्ति सिंह, रूद्रप्रसाद, संतोष सिंह, देवशरण सिंह, फुलसाय, लालसाय सहित काफी संख्या में ग्रामीणजन मौजूद रहे।

3 लाख 30 हजार कीमत के 32 नग भैंस-भैंसा किया गया जप्त, प्रतापपुर पुलिस की कार्यवाही..........

सूरजपुर: बीते 7 सितम्बर की देर रात्रि में थाना प्रभारी प्रतापपुर को मुखबीर से सूचना मिला कि दबगड़ी से एक ट्रक में मवेशी भैंस-भैंसा को क्रूरतापूर्वक भरकर झारखंड की ओर ले जा रहा है जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता को अवगत कराए जाने पर उन्होंने तत्काल थाना प्रभारी को पुलिस टीम के साथ आरोपी को धरपकड़ करने के निर्देश दिए।
          एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह के मार्गदर्शन में थाना प्रतापपुर की पुलिस टीम ने सूचना के आधार पर ग्राम बरबसपुर-दबगड़ीपारा मोड़ के पास घेराबंदी करते हुए ट्रक क्रमांक सीजी 15 एसी 5049 को रोकने का इशारा करने पर चालक ने तेजी से ट्रक को भगाते हुए कुछ दूर जाकर वाहन खड़ा कर अंधेरे का फायदा उठाते हुए भाग गया। ट्रक की तलाशी लेने पर उसमें 32 नग भैंस-भैंसा लोड पाया जिसकी कीमत 3 लाख 30 हजार रूपये है। मामले में पुलिस ने भैंस-भैंसा एवं ट्रक जप्त करते हुए छत्तीसगढ़ कृषक पशु परिरक्षण अधिनियम 2004 की धारा 4, 6, 10 एवं पशू क्रूरता निवारण अधिनियम 1960 की धारा 11(1)(घ) के तहत् अपराध पंजीबद्व कर वाहन चालक की पतासाजी में लगी हुई है साथ ही प्रकरण में अन्य व्यक्ति के संलिप्तता के बारे में भी जांच की जा रही है।
          इस कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, एएसआई राजेश तिवारी, आरक्षक इन्द्रजीत सहित अन्य आरक्षकगण सक्रिय रहे।

मंगलवार, 7 सितंबर 2021

सूरजपुर के नए एसडीओपी गीता वाधवानी एवं एसडीओपी ओड़गी राजेश जोशी ने किया पदभार ग्रहण...........


सूरजपुर: सूरजपुर के नए एसडीओपी गीता वाधवानी एवं एसडीओपी ओड़गी राजेश जोशी ने बीते दिन पदभार ग्रहण कर लिया है। सोमवार को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्रीमती भावना गुप्ता व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर से मुलाकात कर दोनों अधिकारियों ने कार्यभार ग्रहण किया।
एसडीओपी गीता वाधवानी वर्ष 2014 बैच के राज्य पुलिस सेवा अधिकारी है वे इसके पूर्व एसडीओपी बेमेतरा व 8वीं वाहिनी छसबल राजनांदगांव में पदस्थ रही। एसडीओपी ओड़गी राजेश जोशी इसके पहले एसडीओपी गोणला, एसडीओपी बलौदाबाजार, गंडई में पदस्थ रहे

सूरजपुर जिले के थाना चांदनी के सुदुर ग्रामीण क्षेत्रों में लगा चलित थाना। संवाद नंबर, हिम्मत कार्यक्रम, समर्पण अभियान व गुम मोबाईल खोजबीन के बारे में दी जानकारी.........


सूरजपुर: पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता के द्वारा सामुदायिक पुलिसिंग को बढ़ावा देने, सीधे गावों में पहुंचकर लोगों की समस्या सुनने व मौके पर ही निराकरण कराने को लेकर ग्रामों में चलित थाना लगाने के निर्देश दिए है। इसी परिपेक्ष्य में बीते दिनों सितम्बर को नवपदस्थ एसडीओपी ओड़गी राजेश जोशी की मौजूदगी में थाना प्रभारी चांदनी शिवकुमार खुटे के द्वारा ग्राम सपहा, नवाटोला, कुबेरपुर, बेगारीडांड, नवगई, महुली, खालबहरा गांव में चलित थाना का आयोजन किया गया।
          चलित थाना में ग्रामीणों को कानून, साइबर क्राईम, ऑनलाईन ठगी के बारे में जानकारी देते हुए सतर्कता बरतने की समझाईश दी गई। चलित थाना के दौरान लोगों की समस्याओं को सुना गया और कई का निराकरण भी किया गया। एसडीओपी राजेश जोशी ने ग्रामीणों को कानून की जानकारी देते हुए अपराध से बचने की समझाईश दी। चलित थाना में मौजूद ग्रामीणों को यातायात नियम से अवगत कराते हुए उसका पालन करने की हिदायत दी गई। थाना प्रभारी चांदनी ने पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में चलाए जा रहे हिम्मत कार्यक्रम जिसके तहत् महिला-बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षित दिए जाने, किसी प्रकार की समस्या-शिकायत के त्वरित निराकरण के लिए स्थापित संवाद नंबर 7999161672, गुम मोबाईल खोजबीन अभियान एवं समर्पण अभियान के बारें में ग्रामीणों को अवगत कराया। इस दौरान काफी संख्या में ग्रामीणजन मौजूद रहे।

सूरजपुर जिले के थाना-चौकी प्रभारी ग्रामीण क्षेत्र के अलावा अब साप्ताहिक बाजार में भी आयोजित करेंगे चलित थाना...............

सूरजपुर: जनता और पुलिस के बीच बेहतर संबंध बनाने, उनकी समस्या-शिकायतों के त्वरित निराकरण के लिए पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने जिले के थाना-चौकी प्रभारियों को उनके क्षेत्र के गांव के अलावा ग्राम में लगने वाले साप्ताहिक बाजार के दिन बाजार के पास चलित थाना लगाने के निर्देश दिए है।
          पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की सुविधा व उनके समस्या-शिकायत को जानते हुए जल्द निराकरण कराने के उद्धेश्य से ग्रामों के अलावा थाना-चौकी प्रभारियों को उनके क्षेत्र में लगने वाले साप्ताहिक बाजार में चलित थाना लगाने के निर्देश दिए गए है, जिससे आमजनों की शिकायतों का त्वरित निराकरण भी होगा और चलित थाना लगने से बाजारों में पुलिस की भौतिक रूप से मौजूदगी भी बनी रहेगी।

सोमवार, 6 सितंबर 2021

सूरजपुर पुलिस ने जिलेभर में चलाया वाहन चेकिंग अभियान, यातायात नियमों के उल्लघन पर हुई कार्यवाही............


सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता  के निर्देश पर शनिवार को पूरे जिले में वाहन चेकिंग अभियान चलाया गया। पुलिस राजपत्रित अधिकारियों, थाना-चौकी प्रभारियों की मौजूदगी में चलाए गए वाहन चेकिंग अभियान के क्रम में 225 दोपहिया वाहन में तीन सवारी, बगैर हेलमेट, लापरवाहीपूर्वक ड्राईविंग करते पाए जाने वालों के विरूद्व मोटर व्हीकल एक्ट के तहत कार्यवाही की गई।
          अम्बेडकर चौक पर थाना विश्रामपुर पुलिस के द्वारा की जा रही वाहन चेकिंग का जायजा लेने पहुंची पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने बिना हेलमेट के वाहन चलाने वालों को समझाईश देते हुए कहा कि अपने जीवन की सुरक्षा के लिए हेलमेट जरूर पहनें। इस दौरान उन्होंने कई जरूरतमंदों को हेलमेट बांटे और सफर के दौरान अनिवार्य रूप से हेलमेट पहनने की समझाईश दी।

कपड़ा दुकान से चोरी मामले में 2 गिरफ्तार, थाना सूरजपुर पुलिस की कार्यवाही.............

सूरजपुर: दिनांक 03.09.2021 को देवनगर निवासी संतलाल गुप्ता ने थाना सूरजपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसका मेन रोड़ देवनगर में नवीन रेडिमेट व साड़ी सेंटर नाम का कपड़ा दुकान है, 2 सितम्बर के रात्रि को दुकान को बंद कर अपने घर चला गया अगले दिन सुबह दुकान पहुंचकर तो देखा कि दुकान में रखा रेडिमेट कपड़ा सामान बिखरा पड़ा था किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा विभिन्न प्रकार के कपड़े कीमत 35 हजार रूपये का चोरी किया गया है कि रिपोर्ट पर धारा 457, 380 भादवि के तहत मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
          थाना सूरजपुर की पुलिस मामले के आरोपी की पतासाजी में लगी हुई थी इसी बीच मुखबीर की सूचना पर संदेही देवनगर महादेवपारा निवासी बाबु शंकर सिंह को पकड़ा गया हिकमत अमली से पूछताछ करने पर उसने अपने साथी सहदेव सिंह के साथ मिलकर कपड़ा दुकान से चोरी करना स्वीकार किया। आरोपियों की निशानदेही पर चोरी किए गए कपड़े कीमत 35 हजार रूपये का जप्त कर दोनों आरोपियों को विधिवत गिरफ्तार किया गया। इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एएसआई बृजकिशोर पाण्डेय, प्रधान आरक्षक बिसुनदेव पैकरा, अखिलेश यादव सहित अन्य सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस के हिम्मत कार्यक्रम का द्वितीय सत्र का चांदनी में हुआ शुभारंभ..............





दुरस्थ थाना चांदनी क्षेत्र के महिला-बालिकाओं को दिया जा रहा है आत्मरक्षा का प्रशिक्षण।

सूरजपुर: पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता के निर्देशन व मार्गदर्शन में आयोजित किए जा रहे हिम्मत कार्यक्रम के प्रथम सत्र में थाना सूरजपुर, विश्रामपुर व चौकी बसदेई के महिला-बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण पुलिस लाईन में दिया गया। इन महिला-बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देकर उन्हें अपनी सुरक्षा के लिए सशक्त बनाने के उपरान्त जिले के दुरस्थ थाना चांदनी क्षेत्र में हिम्मत कार्यक्रम के तहत आत्मरक्षा के द्वितीय सत्र 02 सितम्बर को एसडीओपी प्रकाश सोनी, थाना प्रभारी चांदनी शिवकुमार खुटे, जनप्रतिनिधियों व प्रशिक्षाणार्थियों के पालकों की मौजूदगी में शुभारंभ किया गया है जिसमें चांदनी क्षेत्र के मोहली, बिहारपुर, नवगई, विशालपुर, बेगारीडाड, रामगढ़, कुबेरपुर, नवाटोला, पासल, चौकापारा सहित कई अन्य गांव के 170 महिला-बालिकाएं को मल्खम, योगा, मार्शल आर्ट में ब्लैक बेल्ट पुलिस कमाण्डो चंदन टोप्पो के द्वारा आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

माननीय विशेष सत्र न्यायाधीश ने हत्या के आरोपी को दी आजीवन कारावास की सजा.................

सूरजपुर: दिनांक 27.07.19 को मृतिका अपने सहेलियों के साथ जल लेकर कैलाशगुफा गई थी जो बतौली में सभी अलग-अलग हो गये थे, 29 जुलाई 2019 को एक गवाह ने मृतिका को आरोपी के साथ बांस झाड़ जंगल में मोटर सायकल से आते देखा था। मृतका के घर 2-3 दिन नहीं आने पर आस-पड़ोस में पतासाजी करने पर पता नहीं चलने से मृतिका के परिवार वाले चौकी मणिपुर जाकर घटना के बारे में बताने पर घटना बतौली का होने से मृतिका के माता के द्वारा 9 अगस्त 2019 को रिपोर्ट करने पर गुम इंसान कायम कर पतासाजी किया जा रहा था। दिनांक 05/08/19 को पण्डोनगर में अज्ञात लाश मिलने की सूचना पर थाना जयनगर में मर्ग क्रमांक 81/19 कायम कर जांच में लिया गया, डॉक्टर के द्वारा पीएम रिपोर्ट के ओपेनियन में किसी धारदार हथियार से गर्दन में पहुंचाये गए चोट से मौत होना लेख किए जाने पर दिनांक 01.09.19 को थाना जयनगर में अपराध क्रमांक 215/19 धारा 302, 201 भादवि का अपराध पंजीबद्ध विवेचना में लिया गया। थाना बतौली के पुलिस द्वारा मृतिका के परिवार वालों को 02.09.19 को फोन करके बताए कि लड़की का पता चल गया है। थाना जयनगर पहुंचे परिजन ने मृतिका के शव से जप्त किए कपड़े को निकाल कर दिखाने पर पहचान लिए तब आरोपी सलमान खान निवासी लक्ष्मीपुर, थाना अम्बिकापुर द्वारा अपराध घटित करना कबूल करने पर विवेचक थाना प्रभारी जयनगर दीपक पासवान द्वारा मेमोरण्डम तैयार कर घटना में प्रयुक्त चाकू जप्त किए एवं आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड में जेल भेजा गया। प्रकरण में एक्ट्रोसिटी एक्ट की धारा 3(2-5) जोड़े जाने से अग्रिम विवेचना हेतु थाना अजाक डायरी भेजी गई। प्रकरण में गवाहों का कथन लिया जाकर जप्त हड्डी का डीएनए जांच हेतु भेजा जाकर विवेचना पूर्ण होने पर भली भांति अपराध सबूत पाए जाने पर अभियोग पत्र समीक्षा बाद न्यायालय में पेश किया गया।
          इस मामले की सुनवाई विद्धान न्यायाधीश श्री हेमंत सराफ, माननीय विशेष सत्र न्यायाधीश सूरजपुर के यहां हुई। माननीय न्यायालय ने मामले की सुनवाई पूर्ण करते हुये गवाहों के कथन, डॉक्टर के पीएम रिपोर्ट तथा डॉक्टर के कथन एवं समस्त डॉक्टरी रिपोर्ट के आधार पर आरोपी के विरूद्व अपराध सिद्ध पाए जाने पर आरोपी सलमान खान को धारा 302 भादवि में आजीवन कारावास, 500 रूपये अर्थदण्ड, धारा 201 भादवि में पांच वर्ष कठोर कारावास, 500 रूपये अर्थदण्ड एवं धारा 3(2)(व्ही) एक्ट्रोसिटी एक्ट में आजीवन कारावास व 500 रूपये अर्थदण्ड से दंडित किया है।

सूरजपुर में शिक्षक दिवस विशेष पर शिक्षात्मक वेबिनार का हुआ आयोजन....................





सुपर 30 के संस्थापक श्री आनंद कुमार ने शिक्षकों व पुलिस परिवार के बच्चों का किया मार्गदर्शन।

जिले में ऑनलाईन शिक्षात्मक क्लासेस के लिए सुमीत फाउंडेशन देगा 30 डिवाईसेस।

संसदीय सचिव श्री पारसनाथ राजवाड़े ऑनलाईन वेबिनार से जुड़ शिक्षक दिवस की दी बधाई।

सूरजपुर: 05 सितम्बर शिक्षक दिवस के अवसर पर जिला प्रशासन व पुलिस विभाग के संयुक्त तत्वाधान में शिक्षक दिवस विशेष के तहत ऑनलाईन शिक्षात्मक बेबिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में भटगांव विधायक व संसदीय सचिव श्री पारसनाथ राजवाड़े भी ऑनलाईन जुड़े और सभी को शिक्षक दिवस की बधाई देते हुए जिला व पुलिस प्रशासन के इस पहल को बेहतर शिक्षा के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होने की बात कही।
          कलेक्टर डॉ. गौरव कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता, जिला पंचायत सीईओ श्री राहुल देव ने विशेष पहल करते हुए जिले के शिक्षकों, मेघावी छात्रों व पुलिस परिवार के अध्ययनरत बच्चों को बेहतर शिक्षा कैसे हासिल की जाए इस उद्धेश्य को लेकर यह ऑनलाईन वेबिनार का आयोजन कराया जिसमें सुपर 30 के संस्थापक, एस. रामानुजन व मौलाना अब्दुल कलाम आजाद शिक्षा पुरस्कार से सम्मानित श्री आनंद कुमार, सुमीत फाउंडेशन के संस्थापक श्रीमती मोना पुरी, राष्ट्रपति अवार्ड से पुरस्कृत शिक्षक श्री देवेन्द्र दुबे ने शिक्षकों, मेघावी छात्रों तथा पुलिस परिवार के अध्ययनरत बच्चों को शिक्षा के क्षेत्र में सफलता हासिल करने मार्गदर्शन दिया। इस वेबिनार में एक हजार से अधिक शिक्षक, मेघावी छात्र व पुलिस परिवार के अध्ययनरत बच्चे व अधिकारी-कर्मचारी जुड़े।
          इस बेबिनार में  सुपर 30 के संस्थापक श्री आनंद कुमार  ने कहा कि कमजोर तबके के छात्र जिनमें शिक्षा हासिल करने का जज्बा होता है वह सफल जरूर होते है। उन्होंने बेहतर शिक्षा दिलाने की दिशा में सार्थक पहल करते हुए विशेष आयोजन पर कहा कि किसी भी क्षेत्र में सफलता हासिल करने के लिए महत्वपूर्ण मंत्र बताए जिसमें प्रबल प्रयास, सकरात्मक सोच, कठिन प्रयास, धौर्य बनाए रखने के साथ ही अच्छी किताबे पढ़ने को कहा। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार मछली बिना पानी के नहीं रह सकती ठीक उसी प्रकार छात्रों में शिक्षा के प्रति रूचि होनी चाहिए और जब तक सफलता हासिल न हो तब तक हार नहीं मानने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र यदि ऑनलाईन क्लासेस नियमित चलाई जाती है तो समयानुसार क्लासेस अटेंड करने की बात कही। श्री आनंद कुमार ने जिला व पुलिस प्रशासन के आमंत्रण को स्वीकार करते हुए कहा कि जल्द ही जिले में आयेंगे और जिले के छात्रों व पुलिस परिवार के अध्ययनरत बच्चों को प्रत्यक्ष रूप से मार्गदर्शन देने की बात कही।
           सुमीत फाउंडेशन के संस्थापक श्रीमती मोना पुरी  ने कहा कि छात्रों में कुछ अच्छा कर गुजरने की सदैव ख्वाहिश रहता है उन्हें आगे बढ़ाने का प्रयास करना चाहिए। उन्होंने बताया कि वे भी श्री आनंद कुमार से शिक्षा के क्षेत्र में कई वर्षो जुड़ी हुई है और उनके मार्गदर्शन में निरंतर अच्छी शिक्षा दिलाने को लेकर कार्य कर रही है। उन्होंने जिले के छात्रों को ऑनलाईन बेहतर शिक्षा के लिए 30 डिवाईस देने की बात कही। राष्ट्रपति अवार्ड से पुरस्कृत शिक्षक श्री देवेन्द्र दुबे ने अच्छी शिक्षा को लेकर शिक्षकों एवं छात्रों को मार्गदर्शन किया।
           कलेक्टर डॉ. गौरव कुमार सिंह ने जिले के शिक्षक व छात्रों के लिए कीमती समय निकालने पर सुपर 30 के संस्थापन श्री आनंद कुमार, सुमित फाउंडेशन के संस्थापक श्रीमती मोना पुरी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आपके मार्गदर्शन से निश्चित तौर पर शिक्षक व बच्चों में बेहतर शिक्षा के प्रति रूझान आया है और बच्चें इस कार्यक्रम से प्रोत्साहित होकर सफलता की ओर अग्रसर होंगे।
          पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता  ने कहा कि जिले के छात्रों सहित पुलिस परिवार के अध्ययनरत बच्चों को अच्छी प्रेरणादायक शिक्षा की ओर अग्रसर करने का विचार आया और कम समय में जिला व पुलिस प्रशासन ने संयुक्त रूप से कार्यक्रम की रूपरेखा बनाई। उन्होंने कहा कि इस आयोजन से छात्रों में शिक्षा के लिए काफी प्रेरणा मिली है। सुपर 30 संस्थान के प्रति छात्रों में काफी रूझान होना बताया और आज उनके संस्थापक श्री आनंद कुमार को वर्चुअल माध्यम से अपने बीच पाकर बच्चें शिक्षा के प्रति प्रोत्साहित हुए है। पुलिस अधीक्षक ने कार्यक्रम से जुड़े सभी का आभार व्यक्त किया।
          जिला पंचायत सीईओ श्री राहुल देव  ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में सुपर 30 संस्थान अपने आप में विशेष ख्याति है। इस संस्थान से काफी छात्र अपने मुकाम को हासिल कर चुके है और अच्छे पदों पर आसीन है। इस वर्चुअल शिक्षात्मक वेबिनार से शिक्षा के क्षेत्र में बदलाव आयेंगी और जिला शिक्षा के क्षेत्र में नई दिशा की ओर अग्रसर होगी।

श्री आनंद कुमार ने अपने जीवन से जुड़ी बाते की साझा।

          शिक्षात्मक बेबिनार के आयोजन के दौरान कलेक्टर डॉ. गौरव कुमार सिंह के आग्रह पर श्री आनंद कुमार ने कैसे कठिनाईयों से लड़ते हुए शिक्षा हासिल किया, आर्थिक चुनौतियों से डरे नहीं, कभी हार नहीं मानी। उन्होंने बताया कि जीवन में कुछ भी असंभव नहीं है, दृढ इच्छा शक्ति के बल पर सब संभव है। उन्होंने बताया कि शिक्षा के दम पर ही आज इस उपलब्धि को हासिल किया है।

शिक्षकों व छात्रों को किया मार्गदर्शन।

          सुपर 30 के संस्थापक श्री आनंद कुमार ने इस ऑनलाईन बेबिनार में जुड़े जिले के शिक्षकों व छात्रों से चर्चा कर उनके सवालों को सुना और कहा कि गणित विषय से भागे नहीं, यह अच्छा विषय है, निरंतर प्रयास करने से हर सवाल हल हो जाते है। उन्होंने शिक्षकों को अच्छे पढ़ने और पढ़ाने प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि उपलब्धि के दम से ही अपना जीवन को बदला जा सकता है और समाज व देश के लिए अच्छा कार्य किया जा सकता है। वर्चुअल कार्यक्रम का संचालन अशोक उपाध्याय के द्वारा किया गया।

गुरुवार, 2 सितंबर 2021

सूरजपुर जिले के प्रथम पुलिस महिला सहायता केन्द्र जरही का स्कूल शिक्षामंत्री ने किया शुभारंभ.......





*शिक्षामंत्री ने जरही सहायता केन्द्र के उन्नयन के लिए 5 लाख रूपये देने की घोषणा।**चाईल्ड फ्रेंडली सहायता केंद्र के साथ ही लाइब्रेरी की भी सुविधा मौजूद।*

*सूरजपुर:* जिले के थाना भटगांव क्षेत्र के जरही में बुधवार, 1 सितम्बर को पुलिस महिला सहायता केन्द्र का शुभारंभ हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह ने पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता सहित अन्य जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में विधिवत् पूजा-अर्चना व फीता काटकर उद्घाटन किया। पुलिस महिला सहायता केंद्र भवन चाईल्ड फ्रेंडली सहायता केंद्र के साथ ही लाइब्रेरी की भी सुविधा मौजूद है, जिसें प्रदेश का मॉडल सहायता केंद्र बनाने का संकल्प भी लिया गया। पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता, जिला पंचायत सीईओ श्री राहुल देव, मंत्री प्रतिनिधि कुमार सिंह देव, जीएम भटगांव एसएन झा, नगर पंचायत जरही अध्यक्ष बीजू दासन व भटगांव अध्यक्ष सूरज गुप्ता विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित थे।
          सूरजपुर जिला अंतर्गत जरही में जिले का पहला पुलिस महिला पुलिस सहायता केंद्र खोला गया है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ प्रेमसाय सिंह ने भवन व यहां चाइल्ड फेंडली सहायता केंद्र व लाइब्रेरी का अवलोकन कर उन्होंने विजिट रजिस्टर में शुभकामनाएं लिखीं व सहायता केंद्र की पहली प्रभारी को पदभार दिलाया।
          इस दौरान शिक्षामंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि थानों में सबकी समस्या सुनी जाती है, लेकिन मेरी सोच थी कि महिलाओं के लिए अलग से कोई सहायता केन्द्र हो जहां वे अपनी बातें बिना संकोच के रख सकें, सब आज उनकी सोच पूरी हुई। पुलिस के कार्यप्रणाली को लेकर उन्होंने कहा कि पुलिस का रवैया दोस्ताना होना चाहिए लेकिन अपराधियों में पुलिस का डर भी होना चाहिए ताकि अपराधों पर अंकुश लग सके। उन्होंने कहा कि नशे के विरूद्व पुलिस प्रभावी कार्यवाही बखूबी कर रहा है, हमारी नई पीढ़ी इसकी गिरफ्त में न आये क्योंकि नशा भविष्य के साथ खिलवाड़ है। डॉ. प्रेमसाय सिंह ने पुलिस अधीक्षक की पहल पर बुजुर्गों के लिए समर्पण अभियान, समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए प्रारंभ किए गए संवाद नंबर, महिला बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देने हिम्मत कार्यक्रम, सड़क सुरक्षा के लिए हेलमेट का वितरण सहित अन्य जनहितकारी योजनाओं की प्रशंसा की। उन्होंने जिला प्रशासन के जनसंवाद कार्यक्रम की भी तारीफ की तथा जरही में पुलिस चौकी खोलने की स्वीकृति दिलाने हेतु प्रयास करने की बात कही। उन्होंने सहायता केंद्र भवन के उन्नयन व शेड निर्माण के लिए 5 लाख रूपये देने की घोषणा की।
          पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने कहा कि माननीय मंत्री जी ने जनसंवाद कार्यक्रम में महिलाओं की सुविधा व उनकी शिकायतों के निराकरण के लिए पुलिस महिला सहायता केन्द्र खोलने के निर्देश दिए थे जिसके बाद से पुलिस अधिकारियों ने एसईसीएल प्रबंधन से समन्वय स्थापित कर भवन का चयन कर कम समय के भीतर सहायता केंद्र को तैयार किया। उन्होंने कहा कि सहायता केंद्र के उद्देश्य की पूर्ति तब होगी जब महिला विरुद्ध अपराधों में कमी आएगी, और इसे आदर्श पुलिस महिला सहायता केंद्र बनाने के हरसंभव प्रयास करने की बात कही। उन्होंने कहा कि कई समस्या का निराकरण केवल पुलिस की मौजूदगी से ही हल हो जाता है कार्यवाही की जरूरत नहीं पड़ती। इस सहायता केन्द्र में महिलाओं की शिकायतों को सुना जायेगा, अब यहां के लोगों को पारिवारिक मामले संबंधी शिकायत को लेकर सूरजपुर जाना नहीं पड़ेगा इसी सहायता केन्द्र में परिवार परामर्श केन्द्र भी संचालित होगा।
          जिला पंचायत सीईओ श्री राहुल देव ने कहा कि प्राचीन सभ्यता से ही चला आ रहा है कि रोटी, कपड़ा व मकान के बाद सबसे महत्वपूर्ण है तो वह है सुरक्षा जिसको लेकर जिले की पुलिस निरंतर अच्छे कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि पूरे जिले में कलेक्टर डॉ. गौरव कुमार सिंह के मार्गदर्शन में अच्छा काम हो रहा है, सबकी बातें सुनी जा रही है, समस्याओं का निराकारण हो रहा है।
          भटगांव जीएम एसएन झा ने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए अच्छा प्रयास है, सबसे बड़ी जिम्मेदारी महिला सुरक्षा को लेकर है, इसे लेकर यह पुलिस महिला सहायता केन्द्र खोला जाना सराहनीय कदम है। कार्यक्रम का संचालन डॉ. कृष्ण मोहन पाठक व आभार प्रदर्शन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर के द्वारा किया गया।
          शुभारंभ अवसर पर गुड सेमेरिटन देवेंद्र सिंह व जेपी गुप्ता को पुलिस विभाग की तरफ से स्कूल शिक्षा मंत्री ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इन्होंने सड़क दुर्घटनाओं में घायल होने वाले लोगों की मदद तत्परता से करते हुए हॉस्पिटल पहुंचाने, इलाज उपलब्ध कराने में सहयोग करने पर सम्मानित किया गया।
          इस दौरान एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह, सीएसपी जेपी भारतेन्दु, थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, शक्कर कारखाना अध्यक्ष विद्या सागर, पार्षद निशा दासन, एसईसीएल मंत्री प्रतिनिधि रविन्द्र सिंह, नरेंद्र गर्ग, कांग्रेस के उपाध्यक्ष बनवारीलाल गुप्ता, मुकेश गर्ग, सतीश चौबे, पार्षद भटगांव अभिषेक श्रीवास्तव, अभय विश्वकर्मा, राजू सिंह, संजीव श्रीवास्तव, अनूप गुप्ता, रामायण गुप्ता, मनोज सिंह, अब्दुल मजीद, फिरोज खान, प्रवीण सिंह भोला, हसनैन खान सहित एसडीएम सीएस पैंकरा, जनपद सीईओ निजामुद्दीन सहित पुलिस के अधिकारी-कर्मचारी, सहित काफी संख्या में नागरिकगण मौजूद रहे।