मंगलवार, 28 अप्रैल 2020

सूरजपुर पुलिस ने 2 ट्रकों में लोड 2 लाख 70 हजार रूपये कीमत के चोरी का कोयला किया जप्त.........

सूरजपुर। खड़गवां चौकी की पुलिस ने 2 ट्रकों में चोरी का 2 लाख 70 हजार रूपये कीमत का कोयला परिवहन करते पाए जाने पर उसे जप्त कर आरोपी चालकों के विरूद्व धारा 41(1-4) जा.फौ. 379 भादवि के तहत कार्यवाही कर गिरफ्तार कर किया है।
          मंगलवार 28 अप्रैल 2020 को चौकी प्रभारी खड़गवां को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम केरता मेन रोड से होते हुए खड़गवां की ओर दो ट्रक चोरी का कोयला लोड कर जा रहा है जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने तत्काल चौकी प्रभारी अजहररूद्धीन को पुलिस टीम के साथ घेराबंदी कर पकड़ने के निर्देश दिए।
          चौकी प्रभारी खड़गवां पुलिस टीम के साथ मुखबीर सूचना की तस्दीकी व कार्यवाही के लिए रवाना होकर ग्राम केरता मेन रोड़ पर घेराबंदी कर दोनों ट्रकों को रोका। तस्दीक करने पर ट्रक क्रमांक सीजी 15 डीएम 7947 के चालक नीरज कुमार पटेल व ट्रक क्रमांक सीजी 15 एसी 3733 का चालक आलोक राम से पूछताछ कर कोयला परिवहन संबंधी वैध दस्तावेज की मांग किए जाने पर कोई वैध कागजात पेश नहीं करने पर ट्रक में लोड़ कोयला चोरी का होने की पूर्ण अंदेशा पर गवाहों के समक्ष विधिवत कार्यवाही कर ट्रक क्रमांक सीजी 15 डीएम 7947 में लोड करीबन 25 टन कोयला व ट्रक क्रमांक सीजी 15 एसी 3733 में लोड करीब 20 टन कोयला कीमत 2 लाख 70 हजार रूपये एवं परिवहन में प्रयुक्त दोनों ट्रकों को जप्त कर आरोपी वाहन चालक नीरज पटेल पिता रविचंद्र पटेल उम्र 31 वर्ष थाना दुद्धी, जिला सोनभद्र उत्तरप्रदेश एवं आलोक राम पिता करमू राम उम्र 24 वर्ष निवासी कल्याणपुर, थाना जयनगर के विरुद्ध धारा 41(1-4) जा.फौ. 379 भादवि के तहत् विधिवत् गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया।
          पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि कोयला को महान-2 खदान के किनारे से लगे गांव के मजदूरों से निकलवाकर एकत्र करवाकर वाहन में लोड़ कर अम्बिकापुर ले जा रहे थे और चोरी का कोयला अम्बिकापुर के 2 लोगों का होना बताया है जिसकी जांच पुलिस के द्वारा की जा रही है।

इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी खड़गवां अजहरूद्दीन, प्रधान आरक्षक विशाल मिश्रा, आरक्षक शोभनाथ कुशवाहा, कृष्णकांत पाण्डेय व दीपक एक्का सक्रिय रहे।

पुलिस अधीक्षक की पहल पर कोरोना वारियर्स के तौर पर एनएसएस के छात्र करेंगे कार्य.........

छात्रों ने कोविड-19 के संक्रमण से नागरिकों को बचाने आए आगे।

बैंक, पीडीएस दुकाने, बाजार, गैंस एजेंसी पर एनएसएस छात्र देंगे अपनी सेवाएं।

पुलिस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर करेंगे कार्य।

पुलिस व एनएसएस के छात्रों का बनेगा वाटसएप ग्रुप।


सूरजपुर। सूरजपुर के हाईस्कूल व कालेज के राष्ट्रीय सेवा योजना यूनिट के छात्र-छात्राएं कोरोना वायरस संक्रमण के लिए नागरिकों को जागरूक करने, कोविड-19 संकट के खिलाफ इस संघर्ष में सार्वजनिक स्थानों पर नागरिकों को मास्क लगाने एवं सोशल डिस्टेंसिंग के पालन को लेकर मंगलवार को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने सूरजपुर व विश्रामपुर के हाईस्कूल एवं कालेजों के एनएसएस के छात्र-छात्राओं को देशहित को लेकर कोविड-19 संकट की इस घड़ी में कोरोना वारियर्स के तौर पर अपनी सेवाएं देने हेतु कहा गया।
          इस दौरान पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए एनएसएस के छात्रों को कहा कि कोरोना संकट के बीच देशहित में नागरिकों को इस संक्रमण से सुरक्षित रखने की आवश्यकता है और आपको इस कार्य के लिए चयनित किया गया है। सार्वजनिक स्थानों पर परस्पर सुरक्षित दूरी पर जोर देते हुए लोगों का जीवन बचाने के लिए यह आवश्यक है, सार्वजनिक स्थानों पर आम जनता को लॉकडाउन नियमों के तहत शारीरिक दूरी बनाए रखने एवं अनिवार्य तौर पर मास्क लगाए यह सुनिश्चित करते हुए लोगों को इसके लिए जागरूक करें। देशभक्ति की भावना को लेकर आप सभी देशहित में कोरोना वारियर्स के तौर पर अपनी सेवाएं दे। राष्ट्रीय सेवा योजना से जुड़े छात्र-छात्राएं देशहित में कोरोना वारियर्स के तौर पर अपनी सेवाएं देने को लेकर काफी उत्साहित दिखे। पुलिस अधीक्षक ने एनएसएस के छात्र-छात्राओं से इस कार्य के लिए सहमति जाननी चाही तो सभी छात्र-छात्राओं ने एक स्वर में अपनी सहमति दी। छात्रों को पुलिस की ओर से मास्क भी उपलब्ध कराया गया।
          पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार प्रथम चरण में राष्ट्रीय सेवा योजना से जुड़े सूरजपुर व विश्रामपुर के हाईस्कूल व कालोजों के छात्र-छात्राएं जो 3-4 किलोमीटर के दायरे में रहते है और जो इच्छुक है, स्वस्थ्य एवं मानसिक रूप से तैयार है तथा जिन छात्रों की वर्तमान में परीक्षा नहीं है उन छात्रों की सेवा कोविड-19 के संक्रमण से बचाव एवं सार्वजनिक स्थानों पर नागरिकों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने हेतु उनकी सेवाएं पुलिस के साथ ली जायेगी। एनएसएस के छात्र मास्क लगाकर बैंक, पीडीएस दुकाने, गैस एजेन्सी, किराना दुकानें पर सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित कराने हेतु अपनी सेवाएं पुलिस के साथ मिलकर देंगे, इनकी सेवा दो पालियों मे ली जायेगी पहला सुबह 9 से दोपहर 12 बजे व दूसरा दोपहर 12 से 3 बजे तक की होगी। उन्होंने बताया कि शासन प्रशासन के नियम, आदेश एवं जरूरी सूचनाएं त्वरित गति से सभी को उपलब्ध कराने सूरजपुर पुलिस व एनएसएस के छात्रों की वाटसएप ग्रुप बनेगी जिसमें छात्र, शिक्षक व पुलिस के अधिकारी होंगे। सुरक्षा की दृष्टि से कार्य के दौरान एनएसएस के छात्रों को मास्क एवं सेनेटाइजर दी जायेगी। जिले की पुलिस कोविड-19 जैसी महामारी की स्थिति में कानून व सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने एवं लोगों को जागरुक करने की मुहिम में लगातर काम कर रही हैं।
         इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, रक्षित निरीक्षक भुपेन्द्र कुर्रे, थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एएसआई संजय सिंह, विमलेश सिंह, राष्ट्रीय सेवा योजना के एमसी हिमधर, सी.बी.मिश्रा, ओपी राजवाड़े, विजेन्द्र सिंह, दिलीप शर्मा, गौतमलाल साहू, राजीव सिंह, रामबरन सिंह, रीता गिरी, सुनील चक्रधारी, अमित सिंह बनाफर व एनएसएस के छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

सोमवार, 27 अप्रैल 2020

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने लटोरी, कल्याणपुर, सिलौटा बैरियर किया चेक....

लगन व निष्ठा से ड्यूटी करने पर जवानोें को दिया नगद ईनाम।

सूरजपुर। सूरजपुर पुलिस अंतरराज्जीय एवं अंतर जिले की सीमाओं सहित अन्य बैरियर पर तत्परता के साथ ड्यूटी कर रही है, इन बैरियत पर तैनात पुलिस जवानों का मनोबल बढ़ाने के साथ ही पूरी सावधानी व एहतियात के साथ ड्यूटी सुनिश्चित कराने सोमवार 27 अप्रैल को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने लटोरी, कल्याणपुर एवं सिलौटा बैरियर को चेक किया और जवानों को गंभीरतापूर्वक ड्यूटी करने के निर्देश दिए। इन बैरियरों पर जवानों को लगन व पूर्ण निष्ठा के साथ मुस्तैदी से ड्यूटी करता देख उन्हें नगद ईनाम देने की घोषणा की। पुलिस अधीक्षक ने बैरियर पर तैनात जवानों को मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि लॉकडाउन के नियमों का सख्ती से पालन करवाएं। किंतु किसी से दुर्व्यवहार ना हो इसका विशेष रुप से ध्यान रखें। उन्होंने बैरियर पर तैनात पुलिस जवानों से चर्चा कर उन्हें अनिवार्य रूप से मास्क लगाने एवं हैण्ड सेनेटाईजर का उपयोग नियमित तौर पर किए जाने के निर्देश दिए।
        पुलिस अधीक्षक ने बताया कि सभी बैरियर में पुलिस के अधिकारी व जवान 3 शिफ्ट में मुस्तैदी से ड्यूटी कर रहे हैं, हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता जिले के नागरिकों को कोविड-19 के संक्रमण से सुरक्षित रखना है इस संबंध में जवानों को समय-समय पर शासन प्रशासन के नियम एवं दिशा-निर्देशों से अवगत कराया जा रहा है इसके लिए जिला लेवल एवं सभी थाना- चौकी स्तर पर पुलिस अधिकारी-कर्मचारी के व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से दी जा रही है, पुलिस के अधिकारी कर्मचारी अपनी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए नागरिकों को सुरक्षित रखने हेतु हर आवश्यक कदम उठा रही है।
इस दौरान एसडीएम प्रतापपुर सी.एस.पैंकरा, एसडीओपी प्रतापपुर राकेश पाटनवार, थाना प्रभारी प्रतापपुर विकेश तिवारी, चौकी प्रभारी लटोरी सुभाष कुजूर, सहित बैरियर में तैनात पुलिस के अधिकारी-कर्मचारीगण मौजूद रहे।

शुक्रवार, 24 अप्रैल 2020

सूरजपुर जिले के 3 एएसआई(अ) पदोन्नत होकर बने एसआई(अ).....

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने स्टार लगाकर दी पदोन्नति।

सूरजपुर गुरूवार को पुलिस मुख्यालय रायपुर के द्वारा 57 एएसआई(अ) को एसआई(अ) के पद पर पदोन्नति का आदेश जारी किया है जिसमें सूरजपुर जिले के 03 एएसआई(अ) अखिलेश सिंह, पुष्पेन्द्र शर्मा व सुनील वर्मा को वरिष्ठता क्रम के आधार पर एसआई के पद पर पदोन्नति सूची में सम्मिलित किया गया है।
शुक्रवार 24 अप्रैल 2020 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने पदोन्नत हुए एएसआई(अ) अखिलेश सिंह, पुष्पेन्द्र शर्मा व सुनील वर्मा के कंधों पर स्टार लगाकर एसआई(अ) पद पर पदोन्नति दी। पुलिस अधीक्षक ने पदोन्नत तीनों एसआई(अ) के उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी और उन्हें कहा कि सेवा के अगले पड़ाव में पूर्ण निष्ठा, ईमानदारी से कर्तव्यों का निर्वहन करें। स्टार लगने के बाद पुलिस के अधिकारियों ने पदोन्नत तीनों एसआई(अ) को सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए बधाई एवं शुभकामनाए दी।
इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, पी.एस.महिलाने, मुख्य लिपिक संतोष वर्मा, रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे व अग्रिमा मिश्रा मौजूद रहे।

मंगलवार, 21 अप्रैल 2020

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने दुरस्थ आश्रय स्थल जजावल में ठहरे मजदूरों का जाना कुशलक्षेम.....

आश्रय स्थल में रह रहे मजदूर कर रहे सोशल डिस्टेसिंग का पालन।

व्यवस्था से संतुष्ट मजदूरों को यहां नहीं है किसी प्रकार की कोई दिक्कत।

सूरजपुर। कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण की इस घड़ी में लाॅक डाउन के कारण दूसरे जिलों व राज्यों के मजदूरों को ठहराने के लिए प्रशासन के द्वारा जजावल स्थित बालक व प्री मैट्रिक बालक आश्रम को आश्रय स्थल बनाया गया है जहां पर 97 मजदूर ठहरे हुए है, इस आश्रय स्थल का मंगलवार को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने भ्रमण कर जायजा लिया।
मंगलवार 21 अप्रैल 2020 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने इन आश्रय स्थल का दौरा कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक ने बेहतर वातावरण में सोशल डिस्टेसिंग के तहत् मजदूरों से चर्चा कर उनका कुशलक्षेम जाना और उन्हें साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने, नियमित तौर पर साबुन से हाथ धोते रहने एवं किसी प्रकार की समस्या होने पर अवगत कराने हेतु कहा। चर्चा के दौरान मजदूरों ने कहा कि यहां उन्हें किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं है, खाने तथा अन्य व्यवस्थाएं काफी अच्छी है और उपलब्ध कराए जा रहे सुविधाओं से काफी खुश है।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि यहां रूके सभी मजदूर स्वस्थ्य है और उपलब्ध सुविधाओं से खुश है, सभी ने लाॅक डाउन व सोशल डिस्टेसिंग का विशेष ध्यान रखने हेतु कहे जाने पर सभी ने इसका पालन करने की हामी भरी और पालन भी कर रहे है। उन्होंने बताया कि इन मजदूरों का बीच-बीच में स्वास्थ्य परीक्षण भी किया जा रहा है, आश्रय स्थल का नियमित तौर पर एसडीओपी, एसडीएम व जनपद सीओ के द्वारा भ्रमण कर जायजा लेते हुए सुविधाओं पर नजर बनाए हुए है इसके साथ ही आश्रय स्थल पर पुलिस के अधिकारी-कर्मचारी मुस्तैद है।
इस दौरान एसडीओपी प्रतापपुर राकेश पाटनवार, एसडीएम प्रतापपुर सी.एस.पैंकरा, जनपद सीओ निमानुद्दीन, तहसीलदार राधेश्याम तिर्की, थाना प्रभारी चंदौरा एन.के.त्रिपाठी, पटवारी, सचिव व छात्रावास अधीक्षक धनेश्वर सिंह मौजूद रहे।

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने जिले के पहले सेनेटाईजेशन टर्नल का लिया जायजा...

टर्नल से न केवल नागरिक बल्कि वाहन भी हो रहे सेनेटाइज...

सूरजपुर। ग्राम पंचायत गोविन्दपुर कुम्दा कालोनी में सरपंच सहित वहां के युवा वर्ग ने आपसी सहयोग के बल पर सेनेटाईजेशन टर्नल बनाया है जिससे ना केवल व्यक्ति बल्कि वाहन भी सेनेटाईज हो रहे है। कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए अनुकरणीय पहल कर नागरिकों के लिए बनाए गए जिले के इस पहले सेनेटाईजेशन टर्नल का सोमवार 20 अप्रैल 2020 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि आपसी सहयोग के जरिए इस टर्नल का निर्माण कर कोरोना जैसे भयंकर संक्रमण से बचाव होगा। सहयोग से बनाए गए इस सेनेटाईजेशन टर्नल से न केवल नागरिकों को लाभ हो रहा है बल्कि टर्नल से गुजरने वाले वाहन भी इससे लाभान्वित हो रहे है। टर्नल के निर्माण में सरपंच तरशीला लकड़ा व स्थानीय युवावर्ग ने काफी रूचि लेकर कार्य किया है।
पुलिस अधीक्षक ने कुम्दा कालोनी में स्थित पुलिस सहायता केन्द्र का जायजा लिया और पुलिस के अधिकारी व जवानों का हौसला अफजाई किया। उन्होंने कहा कि स्वयं तथा सहायता केन्द्र की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए, सेनेटाइजर का इस्तेमाल करते रहने, क्षेत्र में लाॅक डाउन एवं सोशल डिस्टेसिंग का पालन सुनिश्चित कराने, कोविड-19 के इस भयंकर संक्रमण से स्वयं को सुरक्षित रख पूरी लगन व निष्ठा से ड्यूटी करने के निर्देश दिए। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि कुम्दा कालोनी के नागरिकगण काफी जागरूक है और पुलिस को सहयोग कर रहे है।
इस दौरान निरीक्षक बाजीलाल सिंह, प्रधान आरक्षक जयप्रकाश कुजूर, आरक्षक रामजन खलखो, बृजलाल सिंह, नवीन सिंह, दयाराम, सरपंच तरशीला लकड़ा, मनी राम लकड़ा, मंजू कुजूर, सिमोन कुजूर, देवराज कुशवाहा, अनुज कुमार, जिम्मी, संतोष विश्वकर्मा व संजीव सिंह मौजूद रहे।

रविवार, 19 अप्रैल 2020

सूरजपुर पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ गांजा के साथ 1 अपचारी बालक सहित 2 को किया गिरफ्तार.....

सूरजपुर। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर के मार्गदर्शन में जिले की पुलिस अवैध मादक पदार्थ की बिक्री करने वाले लोगों के विरूद्व लगातार कार्यवाही कर रही है जहां पिछले दिनों चौकी तारा पुलिस ने 2 लोगों से 1 किलो 20 ग्राम अवैध मादक पदार्थ गांजा जप्त कर कार्यवाही किया था वहीं शनिवार को कोतवाली पुलिस ने अपचारी बालक सहित 2 लोगों से 1 किलो 660 ग्राम अवैध मादक पदार्थ गांजा जप्त कर दोनों के विरूद्व 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला पंजीबद्व कर गिरफ्तार किया है।
        शुक्रवार 18 अप्रैल 2020 को थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला को मुखबीर से सूचना मिली कि प्रेमनगर का रहने वाले मनोज यादव एवं एक अन्य व्यक्ति सिल्वर रंग की होण्डा साईन मोटर सायकल क्रमांक सीजी 15 सीएस 8219 से प्रेमनगर-मानपुर होते हुए विश्रामपुर मादक पदार्थ गांजा लेकर बिक्री करने जा रहे है जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने थाना प्रभारी को सावधानीपूर्वक घेराबंदी कर पकड़ने के निर्देश दिए।
          पुलिस अधीक्षक के निर्देशन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी सूरजपुर पुलिस टीम के साथ मुखबीर सूचना की तस्दीकी व रेड कार्यवाही हेतु मानपुर चौक के पास घेराबंदी लगाई तभी एक सिल्वर रंग की होण्डा साईन मोटर सायकल क्रमांक सीजी 15 सीएस 8219 आते दिखा जिसे रोकने का इशारा करने पर मोटर सायकल चालक वाहन को तेज रफ्तार कर भागने लगे जिसे पुलिस टीम ने पीछा कर तिलसिवां में घेराबंदी कर पकड़ा। पूछताछ करने पर वाहन चला रहे व्यक्ति ने अपना नाम मनोज यादव पिता मनमोहन यादव उम्र 22 वर्ष निवासी ग्राम मोहारीपारा, थाना प्रेमनगर का रहने वाला तथा वाहन में पीछे एक अपचारी बालक बैठा था। पुलिस ने मनोज यादव के कब्जे से एक लाल स्लेटी रंग के पिठू बैग के अंदर एक पारदर्शी पन्नी में 810 ग्राम गांजा एवं अपचारी बालक के कब्जे से एक सफेद रंग के प्लास्टिक बोरा के अंदर एक पारदर्शी पन्नी में 850 ग्राम अवैध मादक पदार्थ गांजा कुल 1 किलो 660 ग्राम गांजा कीमत 16 हजार 6 सौ रूपये एवं परिवहन में प्रयुक्त होण्डा साईन मोटर सायकल क्रमांक सीजी 15 सीएस 8219 को गवाहों के समक्ष जप्त कर दोनों आरोपियों के विरूद्व धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत् कार्यवाही कर विधिवत् गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय में पेश किया गया।
          पूछताछ पर दोनों ने बताया कि प्रेमनगर क्षेत्र से गांजा लाकर ज्यादा लाभ कमाने के उद्धेश्य से विश्रामपुर क्षेत्र के नशेड़ियों को गांजा बिक्री करते थे।

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एसआई हिम्मत सिंह, रश्मि सिंह, एएसआई सरफराज फिरदौसी, प्रधान आरक्षक विनोद सिंह, आरक्षक दरशलाल देवांगन, वसीम राजा, शिवकुमार व शिवमूरत किण्डो सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने पत्नी की हत्या के आरोपी पति को किया गिरफ्तार......

हत्या को छुपाने आरोपी ने पत्नी के शव को आंगन में किया था दफन......


सूरजपुर: दिनांक 18 अप्रैल 2020 को ग्राम भवराही निवासी सज्जन राम ने चौकी बसदेई में उपस्थित होकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि आज सुबह सूचना मिला था कि भवराही गांव का सत्यनारायण चेरवा दिनांक 17 अप्रैल 2020 को दोपहर करीब 2-3 बजे अपनी पत्नी बसंती चेरवा के साथ झगड़ा विवाद कर रहा था जिसे समझाने के लिए सुबह 7.00 बजे उसके घर गया जहां सत्यनारायण चेरवा मिला जिससे उसकी पत्नी बसंती के संबंध में पूछे जाने पर 3.00 बजे भोर में घर से निकलकर घर को बाहर से बंद करके कहीं चले जाना बताया। संदेह होने पर घर के पीछे के दरवाजे से देखा तो आंगन में नया मिट्टी खोदा गया था शंका है कि सत्यनारायण चेरवा अपनी पत्नी को मारपीट कर उसकी हत्या कर आंगन में गाड दिया होगा। चौकी प्रभारी बसदेई ने सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराया जिस पर उन्होंने तत्काल मौके पर पहुंचकर कार्यपालिक मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में शव को उत्खनन कर विधि अनुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
          चौकी प्रभारी बसदेई सुनील सिंह पुलिस टीम के साथ सूचना तस्दीक हेतु मौके पर पहुंचकर घर पर लगे ताला तोड़ने का पंचनामा तैयार कर अंदर जाकर देखा गया, घर के अंदर कई जगहों पर खून के छीटे थे तथा आंगन में नई मिट्टी खोदा गया था जो हत्या कर शव को छुपाने की अंदेशा पर एसडीएम भैयाथान को शव उत्खनन कराने हेतु प्रतिवेदन भेजा गया। तहसीलदार भैयाथान प्रतीक जायसवाल की उपस्थित में शव उत्खनन पंचनामा तैयार कर मिट्टी को खुदवाकर देखा गया तो बसंती चेरवा के रूप में शव की पहचान हुई जिसकी हत्या सत्यनारायण चेरवा के द्वारा शराब के नशे में पारिवारिक बात को लेकर मारपीट करने से आई चोट के कारण होना तथा हत्या कर शव को आंगन में साक्ष्य छुपाने के उद्धेश्य से दफना कर ताला लगाकर भाग गया है। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 153/20 धारा 302, 201 भादवि के तहत मामला पंजीबद्व विवेचना में लिया गया।
          पुलिस अधीक्षक ने जघन्य हत्या कर साक्ष्य को बड़ी चालाकी से छुपाकर फरार हुए आरोपी की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश चौकी प्रभारी बसदेई को दिए। बसदेई पुलिस ने विवेचना में पाए गए साक्ष्य, गवाहों के कथन एवं घटना स्थल निरीक्षण, शव उत्खनन से मृतिका की मृत्यु उसके पति सत्यनारायण के द्वारा मारपीट कर हत्या कर व साक्ष्य छुपाने के उद्धेश्य से दफना कर ताला लगाकर भाग गया था इसी दौरान पुलिस टीम ने मुखबीर की सूचना पर आरोपी सत्यनारायण को ग्राम खुटरापारा से घेराबंदी कर पकड़ा गया।
         पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि घटना दिनांक को पत्नी बसंती से खाना नहीं बनाने की बात को लेकर विवाद हुआ था जो आवेश में आकर पत्नी को मारपीट कर हत्या करना एवं आंगन में मिट्टी खोदकर दफना देना स्वीकार किया। आरोपी के मेमोरण्डम के आधार पर पुलिस ने घटना में प्रयुक्त डण्डा, सब्बल व फावड़ा जप्त किया है। आरोपी सत्यनारायण चेरवा के विरूद्व अपराध सबूत पाए जाने पर उसे विधिवत् गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी बसदेई सुनील सिंह, प्रधान आरक्षक मनोज पोर्ते, आरक्षक देवदत्त दुबे, महेन्द्र प्रताप सिंह, अमरेन्द्र दुबे, महेन्द्र यादव व प्रदीप साहू सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने चोरी हुए 1 लाख 99 हजार 8 सौ रूपये कीमत के 20 नग मोबाईल बरामद कर 3 चोरों को किया गिरफ्तार...

स्पदंना स्फूर्ति फाईनेंशियल कंपनी के कार्यालय में हुई थी चोरी..

सूरजपुर। 18 अप्रैल 2020 को ग्राम करौंदामुड़ा भैयाथान निवासी सरताज आलम ने थाना सूरजपुर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि यह स्पदंना स्फूर्ति फाईनेंशियल कम्पनी मानपुर सूरजपुर कार्यालय में काम करता है। कंपनी के द्वारा ग्रामीणों को वितरण हेतु रखे विवो वाई-11 कंपनी का 54 नग मोबाईल रखा था अज्ञात व्यक्ति के द्वारा 17 अप्रैल की रात्रि में आफिस का ताला तोड़कर 20 नग मोबाईल को चोरी कर लिया। प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना सूरजपुर में अपराध क्रमांक 151/20 धारा 457, 380 भादवि का अपराध पंजीबद्व किया।
         नगर में हुए चोरी की वारदात को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने थाना प्रभारी सूरजपुर को चोरी में संलिप्त व्यक्ति की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिए।
         मामले की विवेचना के दौरान कोतवाली पुलिस को मुखबीर के जरिए सूचना प्राप्त हुई कि मानपुर निवासी 3 लड़के ग्राम कलुआ में मोबाईल बेचने की फिराक में घुम रहे है। मुखबीर की सूचना के आधार पर पुलिस की टीम ने ग्राम कलुआ में घेराबंदी कर 3 व्यक्ति मानपुर निवासी 20 वर्षीय साबिर हुसैन पिता ताहिर हुसैन, 18 वर्षीय भदेव सिंह उर्फ छोटा पिता केशव सिंह एवं 21 वर्षीय विनय देवांगन उर्फ चुक्की पिता त्रिलोचन देवांगन को पकड़ा। पूछताछ पर तीनों ने स्पदंना स्फूर्ति फाईनेंशियल कम्पनी मानपुर के कार्यालय का ताला तोड़कर वहां से 20 नग मोबाईल चोरी करना स्वीकार किया। आरोपियों के मेमोरण्डम के आधार पर चोरी किए गए 20 नग मोबाईल कीमत 1 लाख 99 हजार 8 सौ रूपये एवं ताला तोड़ने में प्रयुक्त औजार को जप्त कर तीनों आरोपियों को विधिवत् गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय में पेश किया गया।

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एएसआई हीरालाल साहू, आरक्षक राजकुमार नायक, दरशलाल देवांगन, जयप्रकाश तिवारी, बृजभवन कंवर, राजीव गवेल, सुरेश साहू व शिवकुमार सक्रिय रहे।

पत्रकारिता की आड़ में अवैध उगाही करने वाले 2 फर्जी पत्रकार गिरफ्तार....

सूरजपुर। सूरजपुर प्रेस क्लब के अध्यक्ष प्रवेश गोयल ने शनिवार को थाना सूरजपुर में लिखित आवेदन पत्र दिया कि 17 अप्रैल 2020 को सूरजपुर निवासी संदीप अगरिया एवं सौरभ साहू के द्वारा चंदरपुर बाईपास के समीप मोटर सायकल से अपने माॅ को लेने जा रहे सोनपुर निवासी एक युवक को रोककर स्वयं को पत्रकार बताकर और विजिटिंग कार्ड दिखाकर रकम की मांग करने लगे न देने पर थाना में कार्यवाही कराने की धमकी दी गई। प्रार्थी की रिपोर्ट पर कोतवाली पुलिस ने लिखित आवेदन पर अपराध क्रमांक 150/20 धारा 419, 420, 34 भादवि के तहत् मामला पंजीबद्व कर मामले की जानकारी से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराया। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक ने फर्जी पत्रकार बनकर अवैध उगाही करने वाले दोनों व्यक्तियों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए।
         मामले की विवेचना के दौरान कोतवाली पुलिस ने अपने आप को पत्रकार बताकर अवैध उगाही करने वाले मेन रोड़ सूरजपुर निवासी 27 वर्षीय सौरभ साहू पिता प्रदुम्मन साहू एवं बड़कापारा निवासी संदीप अगरिया पिता प्यारेलाल अगरिया को तलब कर दोनों से पत्रकार होनेे के संबंध में दस्तावेज की मांग किए जाने पर दोनों ने पत्रकार व रिपोर्टर तथा अन्य किसी पद पर कार्यरत् होने संबंधी कोई वैध दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किये जाने पर पुलिस ने इन दोनों आरोपियों को उपरोक्त धारा के तहत् विधिवत् गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय में पेश किया है।

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एसआई हिम्मत सिंह शेखावत, रश्मि सिंह, एएसआई हीरालाल साहू, आरक्षक राजकुमार नायक, दरश देवांगन, शिवकुमार, रावेन्द्र पाल व सुरेश साहू सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने अवैध मादक पदार्थ गांजा के साथ 02 व्यक्ति को किया गिरफ्तार.......


सूरजपुर: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के खिलाफ चल रही जंग में पुलिस को व्यस्त देख अवैध कार्यो में लिप्त व्यक्ति इस अवसर का फायदा उठाने की फिराक में है पर पुलिस की संवेदनशीलता व सक्रियता के कारण ऐसे व्यक्ति अपने मंसूबे में कामयाब नहीं हो पा रहे है। ऐसे एक मामले में चौकी तारा की पुलिस ने 2 लोगों से 1 किलो 20 ग्राम अवैध मादक पदार्थ गांजा जप्त कर उनके विरूद्व धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला पंजीबद्व कर गिरफ्तार किया है।
          शुक्रवार 17 अप्रैल 2020 को चौकी प्रभारी तारा राजेश तिवारी को मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम कोटिया प्रेमनगर निवासी रामबक्स बिना नंबर के होण्डा साईन मोटर सायकल से ग्राम परोगिया मादक पदार्थ गांजा लेने गया है और तारा होते हुए आएगा जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने विशेष सावधानी के साथ घेराबंदी कर पकड़ने के निर्देश दिए।
          पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के मार्गदर्शन में चौकी प्रभारी तारा पुलिस टीम के साथ मुखबीर सूचना की तस्दीकी व रेड कार्यवाही हेतु तारा चौक नेशनल हाईवे 130 के पास घेराबंदी लगाई तभी दो व्यक्ति बिना नंबर के होण्डा साईन मोटर सायकल से परोगिया होते हुए मुख्य मार्ग पर आते दिखे जिन्हें घेराबंदी कर रोका गया। पूछताछ पर वाहन चालक ने अपना नाम रामबक्स साहू पिता शंकर साहू उम्र 34 वर्ष निवासी कोटेया, थाना प्रेमनगर एवं मोटर सायकल के पीछे बैठे व्यक्ति ने अपना नाम रामप्रसाद प्रजापति पिता ठाकुर राम उम्र 45 वर्ष निवासी बकिरमा, थाना प्रेमनगर का होना बताया। इनके कब्जे से एक कपड़े का छिटदार बैग में रखे दो प्लास्टिक में 1 किलो 20 ग्राम मादक पदार्थ गांजा कीमत 4 हजार 2 रूपये एवं परिवहन में प्रयुक्त बिना नंबर होण्डा साईन मोटर सायकल को जप्त कर दोनों आरोपियों के विरूद्व धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट के तहत् कार्यवाही कर विधिवत् गिरफ्तार किया गया।
          पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि मादक पदार्थ गांजा को परोगिया से लाकर स्वयं भी उपयोग करते थे और आसपास क्षेत्र के नशेड़ियों को अधिक दर पर बिक्री कर लाभ अर्जित करते थे।

इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी तारा राजेश तिवारी, प्रधान आरक्षक बन्धुराम, आरक्षक अनिल मिंज, गोरेश्वर सिंह, बृजनंदन, रामचन्दर साहू एवं देवनिश मिंज सक्रिय रहे।

पुलिस अधीक्षक ने जवानों के लिए पुलिस लाईन में प्रारंभ करवाई मेस......


सूरजपुर: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के बीच जिले के पुलिस कर्मी मुस्तैदी से ड्यूटी कर रहे है ऐसे में उन्हें बेहतर और सेहतमंद खाना की सुविधा को ध्यान में रखते हुए पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने पुलिस के अधिकारी व जवानों के लिए पुलिस लाईन में मेस प्रारंभ करवाई है। रक्षित निरीक्षक भूपेन्द्र कुर्रे के देखरेख में पुलिस लाईन में जवानों के लिए सेहतमंद खाने की व्यवस्था हेतु मेस का संचालन मंगलवार 14 अप्रैल 2020 से प्रारंभ किया गया है। मेस में पहले दिन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, एएसपी मुख्यालय पी.एस.महिलाने, अपर कलेक्टर एम.एस.मोटवानी सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारियों ने सोशल डिस्टेंसिंग के तहत भोजन ग्रहण किया और मेस संचालन के बारे में आवश्यक निर्देश दिए।

          पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कोरोना संक्रमण के बीच हमारे पुलिस के अधिकारी-कर्मचारी दिन-रात विभिन्न स्थानों पर संवेदनशीलता के साथ मुस्तैदी से ड्यूटी कर रहे है कई पुलिस कर्मी अपने घरों से दूर रहकर कर्तव्य का निष्पादन कर रहे है इन परिस्थितियों में इन्हें सेहतमंद भोजन की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए पुलिस लाईन में अधिकारी-कर्मचारियों के लिए मैस प्रारंभ किया गया है। इस मेस में अधिकारी व पुलिस जवान के लिए संयुक्त रूप से खाने की व्यवस्था है इसके अलावा जवान यदि ड्यूटी स्थल पर भोजन ले जाना चाहते है तो उन्हें टिफिन भी तैयार कर दी जा रही है। पुलिस लाईन के सामुदायिक भवन, बैरकों में काफी संख्या में पुलिस के अधिकारी-कर्मचारीगण निवासरत् है उन्हें तथा आसपास क्षेत्र में तैनात जवानों को इस मेस से काफी लाभ होगा और वे आसानी व अपनी सुविधा के अनुसार भोजन प्राप्त कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि थाना प्रभारियों को उनके अधिनस्थ कार्यरत् जवानों के लिए भोजन की व्यवस्था करने हेतु कहा गया था कई थाना प्रभारी के द्वारा अधिनस्थ जवानों को इस प्रकार की व्यवस्था कराई है। उन्होंने बताया कि हमारे जवान अंतर्राज्जीय व अंतर जिला की सीमा सहित विभिन्न चौक-चौराहों, बैरियर, फिक्स पिकेट एवं पेट्रोलिंग ड्यूटी संवेदनशीलता से कर रहे है, ऐसे में उन जवानों को 2 टाईम चाय-बिस्किट तथा गर्मी के मौसम को ध्यान में रखते हुए ऊर्जावर्धक ग्लूकोज दी जा रही है।

गुरुवार, 16 अप्रैल 2020

सूरजपुर पुलिस एवं वन विभाग की संयुक्त कार्यवाही, 1 व्यक्ति से 50 हजार कीमत के चिरान लकड़ी जप्त....


सूरजपुर। भटगांव थाना क्षेत्र के जंगल से इमारती लकड़ियों को काटकर बिक्री करने वाले तस्कर के विरूद्व भटगांव पुलिस व वन विभाग की संयुक्त टीम ने कार्यवाही करते हुए एक तस्कर के कब्जे से 48 नग इमारती लकड़ी चिरान कीमत 50 हजार रूपये का जप्त किया है।
          गुरूवार 16 अप्रैल 2020 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर को मुखबीर ने सूचना दिया कि ग्राम झींगा दोहर निवासी जगरनाथ अगरिया भारी मात्रा में जंगल से इमारती लकड़ी काटकर अवैध रूप से रखा है। सूचना पर पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट को वन अमले के साथ तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिए। थाना भटगांव एवं वन विभाग की संयुक्त टीम ने भटगांव के सरहर्दी ग्राम झींगा दोहर पहुंचकर जगरनाथ अगरिया पिता स्व. देवसाय अगरिया के कब्जे से 48 नग इमारती सरई चिरान लकड़ी एवं चिराई में प्रयुक्त आरा जप्त किया है। जप्त की गई इमारती लकड़ी की बाजारू कीमत करीब 50 हजार रूपये है। मामले में आगे की कार्यवाही वन विभाग के द्वारा की जा रही है। पूछताछ पर जगरनाथ ने बताया सोनगरा जंगल से इमारती लकड़ी काटकर उसे घर लाता था और घर में ही चिरान बनाता था और आसपास के क्षेत्र में अधिक दर पर बिक्री कर लाभ अर्जित करता था।
       प्राप्त सूचनाओं के आधार पर पुलिस लगातार कार्यवाही कर रही है। ज्ञात हो कि इससे पहले पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर थाना चांदनी पुलिस के द्वारा लकड़ी तस्करों से भारी मात्रा में इमारती लकड़ी बरामद कर आगे की कार्यवाही हेतु वन अमले को सुपुर्द किया था।

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी भटगांव किशोर केंवट, एएसआई सुमन्त पाण्डेय, प्रधान आरक्षक राजेश यादव, आरक्षक जगत पैंकरा, अषोक कनौजिया, विनोद परीड़ा, महिला नगर सैनिक बिन्दु वन विभाग के उप वनमण्डाधिकारी मनोज विश्वकर्मा, रेंजर प्रेमचंद मिश्रा व परिक्षेत्र सहायक विजय श्रीवास्तव सक्रिय रहे।

सोमवार, 13 अप्रैल 2020

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर की चिट्ठी अपने सहकर्मी के नाम......

सूरजपुर: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के बीच सभी चुनौतियों को संवेदनशील रहकर उसका डटकर सामना करने पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने एक चिट्ठी अपने सहकर्मियों के नाम लिखा है। पुलिस अधीक्षक के द्वारा अपने सहकर्मियों को लिखे चिट्ठी में उन्होंने जिक्र किया है कि -
          सूरजपुर पुलिस के मेरे साथियों अभी तक आप सभी ने वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण की रोकथाम में अपना सर्वोत्तम देने का प्रयास किया है, फिर भी आप सभी को निर्देशित किया जाता है की लॉकडाउन, सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन बहुत सख्ती से किया जाए। सुनिश्चित करें कि आम नागरिक सार्वजनिक स्थानों पर मास्क, फेस कवर, गमछा, रुमाल, दुपट्टा, पहनकर ही अति आवश्यक कार्य होने पर ही घर से निकले। किसी तरह की कोई भी ढिलाई ना की जाये। बहुत से लोग क्षेत्र में अनावश्यक रूप से घुम रहे हैं, जिनको रोक कर, टोक कर, नियम तोड़ने वाला के विरुद्ध एमव्ही एक्ट की कार्यवाही आदि तरीकों से हतोत्साहित करने की आवश्यकता है साथ ही यह भी सुनिश्चत करें की किसी से दुर्व्यवहार ना हो, कार्य कठिन है, चुनौतीपूर्ण है, फिर भी मानसिक संतुलन बनाते हुए कर्तव्यों का निर्वहन तो करना ही है। अतः सभी राजपत्रित अधिकारी और थाना प्रभारी अधिकतम बल के साथ अधिक से अधिक समय फील्ड में गुजारे और अपना भी ध्यान रखे, स्टाफ को विश्वास में लेकर आप जो भी उनको सुविधाए दे सकते है दे, स्टाफ के स्वास्थ्य का ध्यान रखे उनकी शारीरिक क्षमताओं के आधार पर उनसे कार्य ले, उनसे बात करें, उनका हौसला बढ़ाये, अन्य विभागों एवं जनता से समन्वय बनाकर, गाँव में, मोहल्लो में जाकर जागरूक कर कार्य करें, हिम्मत से जुटे रहे। सभी विभागों को सहयोग करते रहे, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारियों को सुरक्षा प्रदान करें, उनके कर्मचारियों से लगातार पूछते रहे कि उन्हें किसी प्रकार की कोई दिक्कत तो नहीं है और उनकी सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दे। मास्क लगाकर सभी पुलिस अधिकारी कर्मचारी ड्यूटी करना सुनिश्चित करें।
           आगे उन्होंने लिखा है कि अभी जो समय चल रहा है वह कठिन है, इससे भी विकट परिस्थितियों भविष्य में आ सकती है, सभी को संयम बरतने की आवश्यकता है, सभी अपना योगदान दे तो निश्चित ही सुधार होगा, इसे ध्यान में रखते हुए आप अपने आप को पूरी तरह से मानसिक और शारीरिक रूप से तैयार रखे एवं हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार रहे। महिला स्टाफ को घर-गृह कार्य भी देखना पड़ता है, बच्चों को भी देखना है अतः उनके के लिए संवेदनशीलता दिखाते हुए महिला कर्मचारी को भीड़भाड़ वाले स्थान पर ड्यूटी लगाने से यथासंभव राहत दें। देश की आंतरिक सुरक्षा का दायित्व पुलिस पर होता है इसके लिए आप अपना सर्वोत्तम कर्तव्य निष्पादन करें। आम नागरिक की समस्या को देखते हुए उनके साथ संवेदनशीलता से पेश आए ताकि उनके मन में पुलिस के प्रति विश्वास और आदर बना रहे। यही बात आप अपने अधीनस्थ स्टाफ को भी बताए। आपके द्वारा अथक परिश्रम से किए जा रहे उत्कृष्ट कर्तव्य निर्वहन सराहनीय एवं प्रशंसनीय है। पिछले 23 दिनों से दिन रात आप सभी ने अधिनस्थ स्टाफ के साथ मिलकर मुस्तैदी से ड्यूटी कर रहे है और आगे भी ये ड्यूटी जारी रहेगी, संतोष इस बात का है की इसके बावजूद किसी के चेहरे में तनिक भी थकान नहीं दिखी। यह समय हमारे देश में सतर्क रहने का है। शासन के निर्देशों का पालन हो जिससे जनता को बिना किसी असुविधा के सुरक्षित रखने हेतु आप सर्वोत्तम कार्य करते रहे।
                          इन्ही आशा और विश्वास के साथ ....आपका....
            राजेश कुकरेजा, पुलिस अधीक्षक, जिला सूरजपुर (छ.ग.)

शनिवार, 11 अप्रैल 2020

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर को मिली थी जंगल में जुआ खेलने की सूचना...

गेतरा जंगल में जुआ खेल रहे 5 जुआड़ियों को ज्वाइंट पुलिस टीम ने पकड़ा।

जुआड़ियों व जुआ फड़ से 30 हजार 120 रूपये बरामद।


सूरजपुर। सूरजपुर पुलिस ने गेतरा जंगल में जुआ खेल रहे 05 जुआड़ियों को जुआ खेलते पकड़ा है जिनके पास व जुआ फड से 30 हजार 120 रूपये जप्त कर इन लोगों के विरूद्व धारा 188, 34 भारतीय दण्ड संहिता, धारा 13 जुआ एक्ट व महामारी अधिनियम 1897 की धारा 3 के तहत कार्यवाही किया है वहीं मौके से फरार होने वाले 15 लोगों के विरूद्व साक्ष्य एकत्रित कर सख्त विधिसम्मत कार्यवाही करेगी।
          शुक्रवार 10 अप्रैल 2020 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को मुखबीर से सूचना मिली की गेतरा जंगल में कुछ लोग रूपये पैसों का दाव लगाकर जुआ खेल रहे है। पुलिस अधीक्षक ने इन जुआड़ियों को घेराबंदी कर सावधानी बरतते हुए पकड़ने के निर्देश थाना प्रभारी सूरजपुर व विश्रामपुर की ज्वाइंट पुलिस टीम को दिए।
          थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला एवं थाना प्रभारी विश्रामपुर कपिलदेव पाण्डेय की संयुक्त पुलिस टीम मुखबीर सूचना की तस्दीक व कार्यवाही हेतु ग्राम गेतरा जंगल पहुंची और सावधानी बरतते हुए जुआ खेल रहे जुआड़ियों पर दबिश दी जो कुछ जुआड़ियान पुलिस को देखकर भाग गए। पुलिस टीम ने हारजीत का दाव लगाकर जुआ खेल रहे 05 जुआड़ी ग्राम हर्राटिकरा जयनगर निवासी गिरधर प्रसाद राजवाड़े पिता कैलाश नाथ, चोपड़ा कालोनी विश्रामपुर निवासी दीपक राय पिता स्व. भूपेन्द्र नाथ, ग्राम डेडरी सूरजपुर निवासी सुभाष राजवाड़े पिता बोधन राम, नंदलाल देवांगन पिता स्व. रघुबीर एवं ग्राम पतरापाली रामानुजनगर निवासी विवेक पटेल पिता रामानंद पटेल को घेराबंदी कर पकड़ा है पुलिस टीम ने इन जुआड़ियों के पास व जुआ फड़ से 30 हजार 120 रूपये एवं 01 स्कूटी व 3 मोटर सायकल जप्त किया है। जुआड़ियों के द्वारा कोविड-19 महामारी के दौरान लाॅकडाउन की स्थिति में एकत्र होकर जुआ खेलने पर पुलिस ने इन सभी के विरूद्व धारा 188, 34 भारतीय दण्ड संहिता, धारा 13 जुआ एक्ट व महामारी अधिनियम 1897 की धारा 3 के तहत कार्यवाही की है।
          पकड़े गए जुआड़ियों ने पूछताछ पर बताया कि ग्राम डेडरी निवासी बलिन्दर राजवाड़े, मनोज राजवाड़े, रंजीत उर्फ चक्कू, फत्ते राजवाड़े, ग्राम सलका निवासी सुरेन्द्र राजवाड़े, विश्रामपुर निवासी राजा, ग्राम सतपता निवासी गुडडू यादव, ग्राम मानी निवासी दिनेश हरिजन, ग्राम केतरा निवासी राजू गुप्ता, ग्राम मंहगई निवासी नन्दू, ग्राम जगरनाथपुर रामानुजनगर निवासी बिसेन राजवाड़े, सपकरिहा राजवाड़े, ग्राम डगमला निवासी सलमान, दुर्गेश देवांगन एवं ग्राम मांजा रामानुजनगर निवासी दादू साहू मौके से फरार हो गए थे। पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि कई के विरूद्व पूर्व में अलग-अलग जगहों में जुआ के अपराध पंजीबद्व है, आदतन जुआ के खिलाड़ी है और क्षेत्र में चर्चित है। पुलिस और साक्ष्य एकत्रित कर शीघ्र ही गिरफ्तारी कर सख्त विधिसम्मत कार्यवाही करेगी।

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, थाना प्रभारी विश्रामपुर कपिलदेव पाण्डेय, एएसआई सरफराज फिरदौसी, प्रधान आरक्षक वरूण तिवारी, अदीप प्रताप सिंह, आरक्षक अखिलेश पाण्डेय, रावेन्द्र पाल, रामकुमार नायक, आसिफ अख्तर, राजीव गवेल व कैलाश यादव सक्रिय रहे।

सूरजपुर पुलिस ने होम क्वाॅरेंटाइन के उल्लंघन पर 2 लोगों के विरूद्व धारा 188, 269, 270, 34 भारतीय दण्ड संहिता व महामारी अधिनियम 1897 की धारा 3 के तहत दर्ज किया एफआईआर....

होम क्वाॅरेंटाइन नियमों की अनदेखी पर पुलिस कर रही कड़ी कानूनी कार्यवाही।


सूरजपुर। स्वास्थ्य विभाग ने दो लोगों को कोरोना का संदिग्ध मानकर 28 दिन तक होम क्वाॅरेंटाइन कर घर से बाहर न निकलने के सख्त हिदायत दी थी, निर्देशों का पालन न कर दूसरों की जान को खतरे में डालने के अलावा प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के आदेश का पालन नहीं किए जाने पर सूरजपुर पुलिस ने दोनों के विरूद्व धारा 188, 269, 270, 34 भारतीय दण्ड संहिता व महामारी अधिनियम 1897 की धारा 3 के तहत एफआईआर दर्ज किया है। पुलिस व स्वास्थ्य अमला कोरोना संदिग्धों की लगातार पतासाजी व चिन्हित कर बाहर से आने वाले लोगों के होम क्वाॅरेंटाइन कर इन्हें 28 दिन के लिए घर में रहने की सख्त हिदायत दी थी।
          दिनांक 24 मार्च को ग्राम सुन्दरपुर, चौकी बसदेई निवासी 27 वर्षीय मुकेश राजवाड़े पिता तेज प्रताप राजवाड़े एवं 19 वर्षीय प्रेम कुमार पिता कैलाश राजवाड़े दोनों वाहन लेकर कोरबा जिला से आए थे जिसकी सूचना मिलने पर दिनांक 25 मार्च 2020 को स्वास्थ्य विभाग के द्वारा कोरोना वायरस का संक्रमण न फैले इसके लिए इन दोनों को 28 दिन के लिए होम क्वाॅरेंटाइन कर सख्त हिदायत दी थी कि उक्त अवधि में घर के बाहर न निकले।
         दिनांक 10 अप्रैल 2020 को चौकी प्रभारी बसदेई सुनील सिंह के द्वारा इन दोनों को उनके घर ग्राम सुन्दरपुर जाकर चेक किए जाने पर दोनों नहीं मिले जिसकी सूचना से पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को अवगत कराए जाने पर उन्होंने चौकी प्रभारी को अपराध पंजीबद्व कर दोनों की गंभीरतापूर्वक पतासाजी करने के निर्देश दिए। इन दोनों के द्वारा प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों का पालन न करते हुए दूसरों की जान को खतरे में डालकर बाहर चले जाने पर चौकी प्रभारी बसदेई ने इन दोनों के विरूद्ध धारा 188, 269, 270, 34 भारतीय दण्ड संहिता व महामारी अधिनियम 1897 की धारा 3 के तहत एफआईआर दर्ज किया है। पतासाजी करने पर पुलिस को जानकारी हुई कि वाहन स्वामी ग्राम उंचडीह निवासी ललित राजवाड़े पिता भोलाराम राजवाड़े के वाहन को लेकर दोनों आरोपी कोरबा जिला गए हुए है जो दोनों कोरबा में ही है। वाहन स्वामी यह जानते हुए कि स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दोनों लोगों को होम क्वाॅरेंटाइन किया गया है इसके बावजूद भी दोनों को वाहन लेकर कोरबा भेज दिया है। उक्त संबंध में पुलिस वाहन स्वामी के विरूद्व कार्यवाही कर रही है।
      सूरजपुर जिला प्रशासन व पुलिस के द्वारा पूर्व में कई बार नागरिकों से अपील कर चुका है कि होम क्वाॅरेंटाइन किए गए व्यक्ति प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के नियमों का पालन करें इसके बावजूद भी लोग नियमों की अनदेखी कर रहे है। होम क्वाॅरेंटाइन का पालन न कर नियमों की अनदेखी करने वालों पर पुलिस कड़ी कानूनी कार्यवाही कर रही है और इसमें सख्त सजा का प्रावधान भी है। सूरजपुर पुलिस पुनः सभी से अपील करती है कि होम क्वाॅरेटाइन नियम का पालन कर सहयोग प्रदान करें।

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020

सूरजपुर कलेक्टर श्री दीपक सोनी व पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने तारा बार्डर का किया निरीक्षण...

जिला प्रशासन व पुलिस हुई सख्त, बार्डर सील, आवाजाही पर लगाई रोक।

बार्डर पर सख्त चेकिंग के बाद केवल अति आवश्यक वस्तुओं की आवाजाही की अनुमति।


सूरजपुर। गुरूवार को कटघोरा में कोरोना के मामले में बढ़ोत्तरी को देखते हुए सूरजपुर जिला प्रशासन एवं पुलिस ने अपने तेवर कड़े कर दिए है। कलेक्टर सूरजपुर श्री दीपक सोनी ने अंतर जिला की बार्डर को पूर्णतः सील करने के आदेश जारी किए है वहीं पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने पुलिस के अधिकारी-कर्मचारियों को विशेष एहतियात बरतते हुए जिले की सीमाओं को पूर्णतः सील करा भारी संख्या में पुलिस की तैनाती कर सख्त पहरा शुरू करा दिया है और पुलिस की पेट्रोलिंग तथा फिक्स पिकेट के माध्यम से लाॅकडाउन का पालन कड़ाई से करवाने के निर्देश दिए है।
         गुरूवार 09 अप्रैल 2020 की देर रात्रि सूरजपुर कलेक्टर श्री दीपक सोनी व पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने जिले के पुलिस चौकी तारा अन्तर्गत बार्डर का निरीक्षण किया इसके आगे से कोरबा जिले की सीमा प्रारंभ होती है जो अब पूर्णतः सील है और यहां भारी मात्रा में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है किसी भी सूरत में बॉर्डर से किसी की आवाजाही नहीं होने दी जा रही है केवल अति आवश्यक वस्तुओं की आवाजाही को बारीकी से चेक करने के उपरान्त ही प्रवेश दिया जा रहा है इसके अलावा किसी अन्य वाहन का प्रवेश पूर्णतः प्रतिबंधित कर दिया गया है, सूरजपुर जिले की सीमा के भीतर न तो कोई प्रवेश कर सकेगा और न ही जा सकेगा। जिनको इसकी जानकारी नहीं है उन्हें इस बात से अवगत कराकर वापस भेजा जा रहा है।
          कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने पुलिस चौकी तारा बार्डर पर स्थित बैरियर का निरीक्षण कर पुलिस के जवानों से चर्चा कर उनका मनोबल बढ़ाया। उन्होंने एसडीओपी व चौकी प्रभारी को सख्त निर्देश दिया कि जिले के भीतर किसी भी वाहन को प्रवेश न दी जाए, केवल जरूरी वस्तु के परिवहन में लगे वाहनों की कड़े जांच के उपरान्त प्रवेश दें। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने कहा कि यहां ड्यूटी पर तैनात जवानों के लिए आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराए, बार्डर का लगातार जायजा लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम सुनिश्चित की जाए, कार्यपालिक मजिस्ट्रेट व पुलिस के राजपत्रित अधिकारियों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सख्ती से कराते हुए ड्यूटी में किसी तरह लापरवाही न हो यह सुनिश्चित कराने के साथ ही अनावश्यक सड़कों पर घूमना-फिरना बंद कराने, लॉक डाउन का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों के विरूद्व मोटर व्हीकल एक्ट के तहत् कार्यवाही कर उन्हें हतोतसाहित की जाए एवं सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर कड़ी निगाह रखी जाए।

नागरिक कर रहे प्रशासन व पुलिस को सहयोग।

तारा बार्डर पर स्थित बैरियर के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने सोशल डिस्टेंसिंग के तहत् वहां मौजूद गांव के सरपंच, सचिव, पटवारी, डाॅक्टर व स्थानीय नागरिक से चर्चा कर गांव की सरहदी छोटी-छोटी सीमाओं को सील करवां दी गई है जिसमें खास तौर पर ग्रामीणजन सहयोग कर रहे और प्रशासन व पुलिस के साथ कदम से कदम मिलाकर डटे हुए है। कलेक्टर श्री दीपक सोनी ने उन्हें समझाईश दी कि नागरिकों की सुरक्षा तभी संभव है जब गांव में कोई बाहरी व्यक्ति न रूके, संक्रमण न फैलाए, पैदल आने-जाने वाले रास्ते पूर्णतः सील कर दी जाए इस पर सभी ने एक स्वर में प्रशासन व पुलिस को पूर्ण सहयोग करने की बात कही। प्रशासन की इस पहल से ग्रामीणजन खुश नजर आए और कोरोना संक्रमण को रोकने में संवेदनशीलता दिखाई और प्रशासन व पुलिस को धन्यवाद दिया।
         पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने पुलिस कर्मियों को निर्देश दिया है कि नियम-कानून का कड़ाई से पालन करवाए इस दौरान किसी भी नागरिक के साथ दुर्व्यवहार न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने जवानों से कहा कि प्रशासन के समस्त विभाग एवं ग्रामीणों से समन्वय स्थापित कर धैयतापूर्वक स्वयं की सुरक्षा का ध्यान रखते हुए उत्कृष्ट कर्तव्य निर्वहन की समझाईश दी।

इस दौरान एसडीएम सूरजपुर पुष्पेन्द्र शर्मा, एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी, सीईओ जनपद प्रेमनगर एम.एल.वर्मा, नायब तहसीलदार उमेश कुशवाहा, चौकी प्रभारी तारा राजेश तिवारी, एएसआई संजय गोस्वामी, प्रधान आरक्षक दौलत राम, सरपंच ग्राम पंचायत तारा सदन, सचिव रामबिलास यादव, डाॅक्टर रंगनाथ उपाध्याय, पटवारी सहित कई ग्रामीणजन मौजूद रहे।

सोमवार, 6 अप्रैल 2020

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर को मिली थी जुआ खेलने की सूचना.....

पुलिस ने जुआ खेल रहे 11 जुआड़ियों को घेराबंदी कर पकड़ा।

जुआड़ियों के पास व जुआ फड़ से 53 हजार 370 रूपये जप्त।


सूरजपुर। सूरजपुर पुलिस ने गिरवरगंज स्थित निर्माणाधीन मकान के पीछे बांस झाड़ के नीचे जुआ खेल रहे 11 जुआड़ियों को जुआ खेलते पकड़ा है जिनके पास व जुआ फड से 53 हजार 370 रूपये जप्त कर इन लोगों के विरूद्व धारा 188, 34 भारतीय दण्ड संहिता, धारा 13 जुआ एक्ट व महामारी अधिनियम 1897 की धारा 3 के तहत कार्यवाही किया है।
         रविवार 05 अप्रैल 2020 की शाम पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा को मुखबीर ने सूचना दी कि कुछ लोग गिरवरगंज स्थित निर्माणाधीन मकान के पीछे बांस झाड़ के नीचे रूपये पैसों का दाव लगाकर जुआ खेल रहे है। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान लाॅकडाउन की स्थिति में जुआ खेल रहे लोगों को एहतियात बरतते हुए पकड़ने के निर्देश थाना प्रभारी सूरजपुर को दिए।
         थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला पुलिस टीम के साथ गिरवरगंज पहुंचे जहां एक निर्माणाधीन मकान के पीछे बांस झाड़ के नीचे हारजीत का दाव लगाकर जुआ खेल रहे 11 जुआड़ियों को घेराबंदी कर पकड़ा। पुलिस टीम ने इन जुआड़ियों के पास व जुआ फड़ से 53 हजार 370 रूपये जप्त किया है। जुआड़ियों के द्वारा कोविड-19 महामारी के दौरान लाॅकडाउन की स्थिति में एकत्र होकर जुआ खेलने पर पुलिस ने इन सभी के विरूद्व धारा 188, 34 भारतीय दण्ड संहिता, धारा 13 जुआ एक्ट व महामारी अधिनियम 1897 की धारा 3 के तहत कार्यवाही की है।

इन जुआड़ियों पर हुई कार्यवाही।

1. रामश्याम राजवाड़े पिता सुरेश राम उम्र 26 वर्ष ग्राम गिरवरगंज, थाना सूरजपुर
2. राजेश्वर राजवाड़े पिता कौशल प्रसाद उम्र 26 वर्ष, ग्राम पचिरा, थाना सूरजपुर
3. विजय राजवाड़े पिता पारसराम उम्र 23 वर्ष, ग्राम पचिरा, थाना सूरजपुर
4. लालमन राजवाड़े पिता रामदेव राजवाड़े उम्र 30 वर्ष, ग्राम गिरवरगंज, थाना सूरजपुर
5. सुनील कुमार पिता पारस राजवाड़े उम्र 30 वर्ष, ग्राम पचिरा, थाना सूरजपुर
6. शम्भू राजवाड़े पिता सीताराम उम्र 31 वर्ष, ग्राम गिरवरगंज, थाना सूरजपुर
7. रविप्रकाश उर्फ अभिषेक पिता बच्चालाल राजवाड़े उम्र 25 वर्ष, ग्राम गिरवरगंज, थाना सूरजपुर
8. शिवराज राजवाड़े पिता जगसाय उम्र 30 वर्ष, ग्राम पचिरा, थाना सूरजपुर
9. रामलाल पिता रामबत्तीस राजवाड़े उम्र 30 वर्ष, ग्राम पचिरा, थाना सूरजपुर
10. मनोज राजवाड़े पिता जवाहर लाल उम्र 24 वर्ष, ग्राम गिरवरगंज, थाना सूरजपुर
11. विजय सिंह पिता भवरलाल उम्र 28 वर्ष, ग्राम गणेशपुर, थाना रामानुजनगर

कार्यवाही में शामिल पुलिस अधिकारी-कर्मचारी।

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी सूरजपुर धर्मानंद शुक्ला, एसआई हिम्मत सिंह शेखावत, रश्मि सिंह, आरक्षक रामकुमार नायक, प्रेमसागर साहू, अजीत प्रताप सिंह, नूतन किशोर कनौजिया, दरशलाल देवांगन व विरेन्द्र सारथी सक्रिय रहे।

पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में आश्रय स्थल में रूके मजदूरों को किया गया फल वितरित.........


थाना प्रभारी विश्रामपुर व कार्यपालिक मजिस्ट्रेट ने विटामिन सी युक्त फल मजदूरों को कराया उपलब्ध।


सूरजपुर। विश्रामपुर थाना क्षेत्र में प्रशासन के द्वारा डाॅकडाउन में फंसे मजदूरों को अयप्पा ग्राउण्ड, ग्लोबल पब्लिक स्कूल एवं ज्ञानोदय स्कूल में बनाए आश्रय स्थल में ठहराया गया है जहां उनके रहने व खाने की व्यवस्था भी प्रशासन के द्वारा कराई गई है।
            रविवार 05 अप्रैल 2020 को इन मजदूरों तथा उनके परिजनों के बेहतर स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुऐ पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी विश्रामपुर कपिलदेव पाण्डेय सहित कार्यपालिक मजिस्ट्रेट नंदजी पाण्डेय, अंकिता तिवारी, अमृता सिंह ने तीनों आश्रय स्थल पर ठहरे मजदूरों से उनके स्वास्थ्य को लेकर चर्चा किया तथा पौष्टिक आहार के रूप में विटामिन सी युक्त फल संतरा एवं केला वितरित किया ताकि इनमें रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि हो सके। थाना प्रभारी व कार्यपालिक मजिस्ट्रेट ने आश्रय स्थल में रूके मजदूरों से कहा कि किसी प्रकार की दिक्कत होने पर अवगत कराए।
इस दौरान एएसआई विमलेश सिंह, प्रधान आरक्षक इन्द्रजीत सिंह, आनंद सिंह सहित अन्य पुलिस कर्मचारी मौजूद रहे।

शनिवार, 4 अप्रैल 2020

सूरजपुर जिले के 3 एएसआई पदोन्नत होकर बने एसआई...

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने स्टार लगाकर दी पदोन्नति।

सूरजपुर। हाल ही में छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिदेशक श्री डी.एम.अवस्थी के द्धारा राज्यभर के 109 एएसआई को एसआई के पद पर पदोन्नति के आदेश जारी किए थे जिसमें सूरजपुर जिले के 03 एएसआई दिनेश राजवाड़े, महेश्वर सिंह व बसंत गुप्ता को वरिष्ठता क्रम के आधार पर एसआई के पद पर पदोन्नति सूची में सम्मिलित किया गया है।
     शुक्रवार 03 अप्रैल 2020 को पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने पदोन्नत हुए एएसआई दिनेश राजवाड़े, महेश्वर सिंह व बसंत गुप्ता के कंधों पर स्टार लगाकर एसआई पद पर पदोन्नति दी। उन्होंने पदोन्नत तीनों एसआई के उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी और उन्हें कहा कि सदैव पूर्ण निष्ठा, इमानदारी से कर्तव्यों का निर्वहन करें। स्टार लगने के बाद पुलिस के अधिकारियों ने पदोन्नत तीनों एसआई को सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए बधाई एवं शुभकामनाए दी।

इस दौरान एएसपी मुख्यालय पी.एस.महिलाने, मुख्य लिपिक संतोष वर्मा, एसआरसी प्रभारी अखिलेश सिंह व स्टेनो पुष्पेन्द्र शर्मा मौजूद रहे।