सोमवार, 3 फ़रवरी 2020

कलेक्टर श्री दीपक सोनी व पुलिस अधीक्षक श्री राजेश कुकरेजा ने लगातार करते रहे मतदान केन्द्रों का दौरा........

शांतिपूर्ण चुनाव को लेकर पुलिस बल रही मुस्तैद

मतदान के दौरान पुलिस की रही पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था

पुलिस अधीक्षक ने फोर्स के मूव्हमेंट को लेकर की थी व्यापक तैयारियां

तृतीय चरण के मतदान में 03 बजे तक हुआ 70.39 प्रतिशत मतदान

तृतीय चरण के मतदान में 03 बजे तक हुआ 70.39 प्रतिशत मतदान

सूरजपुर। जिला सूरजपुर में 03 फरवरी 2020 त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तृतीय चरण के अन्तर्गत जिले के ओड़गी एवं प्रतापपुर विकास खण्ड के कुल 337 मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं ने उत्साह के साथ अपने-अपने बूथों में जाकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। सोमवार की सुबह से ही जिला निर्वाचन अधिकारी श्री दीपक सोनी व पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा ने संयुक्त रूप से प्रतापपुर विकास खण्ड के मतदान केन्द्र सकलपुर, दवनकरा, बंशीपुर, केवरा, सोनगरा, खुटरापारा, भेड़िया, बड़वार, डांडकरवां सहित दोनों विकास खण्डों के कई मतदान केन्द्रों का दौरा कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया।
       कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने मतदान प्रारंभ होने के बाद से ही दोनों विकासखण्डों के कई मतदान केन्द्रों पर पहुंचे और बूथों पर सुविधाओं एवं सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। मतदान केन्द्रों पर तैनात पुलिस के जवानों से बात कर व्यवस्थित रूप से मतदान प्रक्रिया को सम्पन्न करने के निर्देश दिए। बूथों का जायजा लेने के दौरान मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं ने व्यवस्थित व कतारबद्व होकर मतदान करते रहे। दोपहर 3 बजे तक करीब 70.39 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया है।

मतदान के दौरान पुलिस की रही पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था।

पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तृतीय चरण का मतदान शांतिपूर्वक, निष्पक्ष एवं निर्विग्न सम्पन्न कराने हेतु जोनल अधिकारी, सेक्टर अधिकारी, पेट्रोलिंग, नाकाबंदी व मतदान केन्द्रों पर पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था हेतु 750 से अधिक पुलिस के अधिकारी-कर्मचारी, नगर सेना, वनरक्षक, कोटवार की ड्यूटी लगाई थी, इसके अलावा पुलिस के अधिकारी-कर्मचारियों की कई रिजर्व पार्टी को भी कई स्थानों पर तैनात किया गया। मतदान के लिए पुलिस की व्यवस्था भी चाक-चैबंद रही जिसमें कहीं भी विवाद की स्थिति नहीं देखी गई।

पुलिस अधीक्षक ने फोर्स के मूव्हमेंट को लेकर की थी व्यापक तैयारियां।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के प्रथम, द्धितीय व तृतीय चरण के मतदान के बीच केवल 1 दिन का समय सुरक्षा बलों के पास होता था। फोर्स को एक स्थान से दूसरे स्थान पर भेजना काफी चुनौतिपूर्ण रहा। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने फोर्स के मूव्हमेंट को लेकर व्यापक तैयारियां की थी। जिसके फलस्वरूप प्रथम, द्धितीय व तृतीय चरण के मतदान के दौरान पुलिस फोर्स अपने कर्तव्य स्थल पर समय से पहुंचे और चुनाव प्रक्रिया सफलतापूर्वक सम्पन्न कराया।
        पंचायत चुनाव के प्रथम, द्धितीय व तृतीय चरण के मतदान के दौरान पुलिस अपने रणनीति के तहत् जहां भी तनाव की स्थिति निर्मित होती वहां तत्काल पेट्रोलिंग पार्टी सहित पुलिस के अधिकारीगण मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों को शांत कराते हुए विवाद का निराकरण करती एवं व्यवस्थाओं को सुचारू रूप से संचालित कराती। तृतीय चरण के मतदान के दौरान कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं मिली। पुलिस तृतीय चरण के चुनाव के दौरान मुस्तैदी के साथ अपनी ड्यूटी को किया। इस दौरान लगातार पुलिस के द्वारा पेट्रोलिंग की जाती रही है।

मतदान कर सेल्फी जोन में फोटो खींचते दिखे काफी मतदातागण।

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान मतदान के पश्चात् मतदाताओं द्वारा सेल्फी जोन के समक्ष काफी उत्सुकता से सेल्फी लेते देखे गए। मतदाता सेल्फी लेकर आयोग को वाट्सएप मोबाईल नंबर 8815175580 पर भेज रहे है। बेस्ट सेल्फीज को निर्वाचन आयोग द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा।

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3
सायबर की पाठशाला में आज तीसरे पाठ में हम समझने की कोशिश कर रहे हैं कि एक सुरक्षित लिंक कैसा दिखता या होता है। धोखेबाज/अपराधी आम लोगों को ठगने के लिए बैंको के नाम से मिलते जुलते नाम या अक्षरों का प्रयोग करके एक यूआरएल/URL बनाता है और उसे मोबाइल पर सीधे मैसेज के रूप में भेजता है इन लिंकनुमा URL पर क्लिक करते ही आप ठगी के शिकार हो जाते हैं। यदि लिंक में anydesk, mingle, teamviewer जैसे शब्द हैं तो आपके फोन को हैक करने का प्रयास हो रहा है, तुरंत मैसेज डिलिट करें। लिंक पर क्लिक बिलकुल न करें। अनजान से व्यक्तियों से फोन पर ज्यादा बात न करें और न ही उन्हें किसी भी तरह की जानकारी दें चाहे कुछ भी हो जाए। तभी आप ठगी से बच पाएंगे। इस तरह के फर्जीवाड़ों पर और विस्तार से जानकारी के लिए इस श्रृंखला पर नजर बनाए रखें। पिछले पाठों को फिर से जानने के लिए/ पुनरावलोकन के लिए तस्वीर पर क्लिक करें या ऊपर के संबंधित टैब (सायबर की पाठशाला) पर क्लिक करें।