मंगलवार, 17 दिसंबर 2019

पुलिस अधीक्षक ने स्टूडेंट पुलिस कैडेट के छात्रों को जागरूकता देने बनाई टीम..........


स्टूडेंट पुलिस कैडेट के छात्रों को दी गई प्रशिक्षण व जानकारियां

घटना, दुर्घटना व अपराध की सूचना पुलिस तक पहुंचाने किया अपील

पुलिस अधिकारियों ने एसपीसी के छात्रों के जिज्ञासा का किया गया समाधान

छात्रों ने कहा स्टूडेंट पुलिस कैडेट से जुड़ने पर हमें गर्व है

कार्यक्रम में कैडेट के परिजन रहे उपस्थित

पुलिस के कार्यो में सहयोग करेंगे स्टूडेंट पुलिस कैडेट

सूरजपुर। भारत सरकार, गृह मंत्रालय की स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम स्कूल आधारित युवाओं के विकास के लिए तैयार की गई है। स्टूडेंट पुलिस कैडेट को इनडोर व आउटडोर प्रशिक्षण देकर इन्हें संवेदनशील व जिम्मेदार बनाने ताकि वे अपराध नियंत्रण व शांति व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस की मदद कर सके। योजना का कुशल क्रियान्वयन पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री राजेश कुकरेजा के मार्गदर्शन में हो रहा है।
पुलिस अधीक्षक ने एसपीसी से जुड़े छात्रों को पुलिस के कार्यो की जानकारी, यातायात नियमों से अवगत कराकर उसकी जानकारी दूसरों तक पहुंचाने, स्मार्ट पुलिसिंग के तहत् आम जनता से मधुर संबंध स्थापित करने, इनडोर व आउटडोर प्रशिक्षण देने सहित अन्य जानकारियां से अवगत कराने हेतु कई पुलिस अधिकारियों को इसकी जिम्मेदारी सौंपी है। इसी परिपेक्ष्य में शनिवार 14 दिसम्बर को शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सूरजपुर के चयनित स्टूडेंट पुलिस कैडेट के छात्रों को जागरूकता सह प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन विद्यालय भवन में किया गया। इस आयोजन में स्टूडेंट पुलिस कैडेट के परिजन भी उपस्थित रहे।
यातायात प्रभारी आर.सी.राय ने एसपीसी के बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि सुुव्यवस्थित एवं दुर्घटनारहित यातायात के लिए आवश्यक है कि वाहन के उपयोग करने वाले एवं सड़क पर चलने वाले प्रत्येक नागरिक को यातायात के नियमों की पूर्ण जानकारी हो, छात्राओं को अनुशासन में रहकर लक्ष्य की दिशा में बढ़ने, महिलाओं एवं बच्चों की सुरक्षा तथा विभिन्न कार्यवाहियों सहित अन्य अनुभवों की जानकारी दी। स्कूल आने-जाने के दौरान सड़क पर विशेष सावधानी बरतने को कहा ताकि किसी प्रकार की दुर्घटना न हो।
इस दौरान एसआई अजहरूद्दीन ने एसपीसी के छात्रों को पुलिस की भूमिका और उनके कार्यो, अपराधों की रोकथाम और नियंत्रण, धोखाधड़ी के शिकार ग्रामीणजन न हो इस दिशा में किए जा रहे पुलिस के प्रयासों से अवगत कराया। चयनित कैडेट को स्टूडेंट पुलिस कैडेट के कार्याे एवं पुलिस क्यों आवश्यक है इसकी विस्तार पूर्वक जानकारी दी। उन्होंने जे.जे.एक्ट, पास्को एक्ट, एटीएम फ्राड, आनलाईन ठगी व विभिन्न माध्यमों से हो रहे ठगी की जानकारी से कैडेट को अवगत कराया और उससे बचाव के उपाए बताए।
चौकी प्रभारी बसदेई सुनील सिंह ने कहा कि पुलिस वह एजेंसी है जो कानून के शासन को लागू करती है और सार्वजनिक व्यवस्था बनाए रखती है। पुलिस का सबसे महत्वपूर्ण कार्य अपराध को रोकना, अपराध का पता लगाना और उसकी जांच करना है। नागरिकों के अधिकार, उनकी स्वतंत्रता, व्यक्तिगत् गरिमा को बनाए रखना तथा सार्वजनिक व्यवस्था यातायात का सुचारू संचालन भी पुलिस का एक महत्वपूर्ण कर्तव्य है। चौकी प्रभारी ने एसपीसी के बच्चों को कहा कि एक स्थान पर चलाए गए जागरूकता कार्यक्रम की सार्थकता तभी सिद्ध होगी जब यह जानकारी कैडेट अपने परिजनों, सहपाठियों, पड़ोस के लोगों तक पहुंचाए। यातायात के प्रधान आरक्षक चमरू राम पैंकरा ने यातायात संकेतो का डेमो के माध्यम से जानकारी दी।

घटना, दुर्घटना व अपराध की सूचना पुलिस तक पहुंचाने किया अपील।

जागरूकता कार्यक्रम में पुलिस अधिकारियों ने स्टूडेंट पुलिस कैडेट के छात्रों को पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, पुलिस कंट्रोल रूम एवं अपना मोबाईल नंबर की नोट कराया और कहा कि किसी विषम परिस्थिति, अपराध, घटना अथवा दुर्घटना की सूचना हमें दें पुलिस आपकी सुरक्षा हेतु तत्पर है। इस अवसर पर यातायात प्रभारी आर.सी.राय ने सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को प्राथमिक उपचार किस प्रकार दी जाती है उसका डेमो के माध्यम से अवगत कराया साथ ही घायल व्यक्ति की मदद करने हेतु प्रोत्साहित किया।

पुलिस अधिकारियों ने एसपीसी के छात्रों के जिज्ञासा का किया गया समाधान।

जागरूकता सह प्रशिक्षण कार्यक्रम में स्टूडेंट पुलिस कैडेट के कई छात्रों ने अपनी जिज्ञासाओं से पुलिस अधिकारियों को अवगत कराया जिसमें प्रमुख रूप से एसपीसी कैडेट कमलसाय ने कहा कि नशा को रोकने हेतु पुलिस क्या प्रयास कर रही है जिस पर चौकी प्रभारी बसदेई सुनील सिंह ने कहा कि पुलिस अधीक्षक सूरजपुर के मार्गदर्शन में वहृद जन जागरूकता अभियान जिले के थाना-चैकी क्षेत्र में चलाया जा रहा है, लोगों को नशा के दुष्परिणाम से अवगत कराया जा रहा है साथ नशे के कारोबार में लिप्त लोगों के विरूद्व पुलिस लगातार सख्त कार्यवाही कर रही है। चैकी प्रभारी ने छात्रों को कहा कि अपनी जिज्ञासा को दबाकर न रखे उसे बताए ताकि उसका समाधान किया जा सके।

छात्रों ने कहा स्टूडेंट पुलिस कैडेट से जुड़ने पर हमें गर्व है।

कार्यक्रम में एसपीसी के छात्रों ने कहा कि स्टूडेंट पुलिस कैडेट से जुड़कर हमें गर्व महसूस हो रहा है, अध्ययन के साथ ही हम कैडेट बनकर अनुशासन में रहकर शिक्षा के साथ ही समाज के हित में कार्य करने का अवसर मिला। एसपीसी से जुड़ने पर परिजनों भी प्रसन्नता है।

कार्यक्रम में कैडेट के परिजन रहे उपस्थित।

कार्यक्रम में स्टूडेंट पुलिस कैडेट के परिजन भी सम्मिलित हुए जिन्हें उनके बच्चों को एसपीसी से जोड़ने का उद्धेश्य एवं उनके कार्यो के बारे में जानकारी दी गई जिस पर उनके अभिभावकों ने इस कदम की सराहना की।

पुलिस के कार्यो में सहयोग करेंगे स्टूडेंट पुलिस कैडेट।

एसपीसी के छात्र यातायात व्यवस्था के तहत् यातायात नियमों के प्रति लोगों को जागरूक करने के साथ ही पुलिस के साथ कदम से कदम मिलाकर पुलिस के कार्यो में सहयोग प्रदान कर रहे है।

इस दौरान प्राचार्य लेफ सिंह, आर.डी.सिंह, एस.एन.नसीम, प्रवीण तिवारी, ओ.पी.राजवाड़े, एनसीसी प्रभारी सुनील दत्त तिवारी, प्रियंका मिश्रा, मुकेश सिंह, डी.एन.चौबे, गुलाबचंद साहू, कमलेश पाण्डेय, आंचला राजवाड़े, एसपीसी प्रभारी योगेश पाण्डेय, छात्रावास अधीक्षक श्री सिसोदिया, हीरामणी पाण्डेय, एसपीसी छात्र के परिजन, एनसीसी एवं स्टूडेंट पुलिस कैडेट के छात्र उपस्थित रहे।