सोमवार, 29 नवंबर 2021

पुलिस महिला सहायता केन्द्र जरही में सुनवाई के बाद 2 जोड़े एक साथ रहने हुए राजी


सूरजपुर।     बीते 1 सितम्बर को पुलिस महिला सहायता केन्द्र जरही का शुभारंभ हुआ है जहां पर महिला संबंधी शिकायतों की सुनवाई के साथ ही परिवार परामर्श केन्द्र भी संचालित हो रहा है। पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता के निर्देश पर रविवार को परामर्श केन्द्र में घरेलू एवं आपसी पति-पत्नी के बीच विवाद के 2 मामलों की सुनवाई की गई।
           अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर व एसडीओपी प्रतापपुर अमोलक सिंह के मार्गदर्शन में परामर्श केन्द्र हुए काउंसलिंग से 2 बिछुडे़ जोड़े राजकुमारी-उजित एवं बसंती-सुखल के बीच सकारात्मक रूप से चर्चा कर आपसी समझौता कराया गया जो दोनों जोड़े सुखी जीवन जीने के लिए राजी हुए। महिला संबंधी शिकायतों व पारिवारिक मामलों की त्वरित सुनवाई के उद्देश्य से पुलिस महिला सहायता केन्द्र को प्रारंभ किया गया है जहां एक बेहतर एवं स्वच्छ वातावरण में काउंसिलिंग के माध्यम से समझाईश देकर पति-पत्नी के बीच आपसी समझौता लगातार कराया जा रहा है। बैठक में थाना प्रभारी भटगांव विमलेश सिंह, पुलिस महिला सहायता केन्द्र जरही प्रभारी एएसआई नील कुसुम बेक, सदस्य विमला राजवाड़े, विकास प्रजापति, आरक्षक राधाकृष्ण पैकरा, अमलेश्वर सिंह, तिलेश्वर सिंह व महिला सैनिक सुशीला यादव उपस्थित रहे।

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3
सायबर की पाठशाला में आज तीसरे पाठ में हम समझने की कोशिश कर रहे हैं कि एक सुरक्षित लिंक कैसा दिखता या होता है। धोखेबाज/अपराधी आम लोगों को ठगने के लिए बैंको के नाम से मिलते जुलते नाम या अक्षरों का प्रयोग करके एक यूआरएल/URL बनाता है और उसे मोबाइल पर सीधे मैसेज के रूप में भेजता है इन लिंकनुमा URL पर क्लिक करते ही आप ठगी के शिकार हो जाते हैं। यदि लिंक में anydesk, mingle, teamviewer जैसे शब्द हैं तो आपके फोन को हैक करने का प्रयास हो रहा है, तुरंत मैसेज डिलिट करें। लिंक पर क्लिक बिलकुल न करें। अनजान से व्यक्तियों से फोन पर ज्यादा बात न करें और न ही उन्हें किसी भी तरह की जानकारी दें चाहे कुछ भी हो जाए। तभी आप ठगी से बच पाएंगे। इस तरह के फर्जीवाड़ों पर और विस्तार से जानकारी के लिए इस श्रृंखला पर नजर बनाए रखें। पिछले पाठों को फिर से जानने के लिए/ पुनरावलोकन के लिए तस्वीर पर क्लिक करें या ऊपर के संबंधित टैब (सायबर की पाठशाला) पर क्लिक करें।