सोमवार, 9 जनवरी 2023

राज्य स्तरीय मानवाधिकार वाद विवाद प्रतियोगिता में सूरजपुर पुलिस का रहा उत्कृष्ट प्रदर्शन। पुलिस अधीक्षक सूरजपुर ने प्रतियोगिता में उपलब्धि अर्जित करने पर एसआई व आरक्षक को नगद पुरस्कार देकर किया सम्मानित

सूरजपुर। बीते दिन जिला महासमुन्द में राज्य स्तरीय मानव अधिकार वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन हुआ जिसमें सरगुजा रेंज का प्रतिनिधित्व करते हुए जिला पुलिस सूरजपुर के एसआई नीलाम्बर मिश्रा एवं आरक्षक हेमन्त यादव ने पुलिस एवं मानवाधिकार विषय में खुलकर अपने विचारों को मजबूती के साथ रखा और उत्कृष्ट एवं उत्साहपूर्ण सहभागिता करते हुए इस प्रतियोगिता में द्धितीय एवं तृतीय स्थान को प्राप्त कर सरगुजा रेंज सहित जिला पुलिस सूरजपुर का नाम रौशन किया है।
            प्रतियोगिता से वापस जिला आने पर पुलिस अधीक्षक सूरजपुर श्री रामकृष्ण साहू (भा.पु.से.) ने दोनों पुलिस अधिकारी-कर्मचारी को कार्यालय में बुलाकर मानवाधिकार वाद-विवाद प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर अर्जित उपलब्धि पर सम्मानित करते हुए उत्साहवर्धन हेतु एसआई नीलाम्बर मिश्रा को 500 रूपये एवं आरक्षक हेमन्त यादव को 300 रूपये का नगद पुरस्कार से पुरस्कृत किया और दोनों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए शुभकामनाएं दी। पुलिस अधीक्षक ने इन दोनों अधिकारी-कर्मचारी को जिले में मानवाधिकार से जुड़े विषय पर नागरिकों को जागरूक करने की जिम्मेदारी भी सौंपी है।
            विदित हो कि मानव अधिकार विषय पर आयोजित वाद-विवाद प्रतियोगिता में जिले एवं सरगुजा रेंज में एसआई व आरक्षक ने प्रथम स्थान हासिल करते हुए राज्य स्तरीय प्रतियोगिता के लिए चयनित हुए थे। इस दौरान स्टेनो अखिलेश सिंह, निरीक्षक धर्मानंद शुक्ला, जावेद मियादाद, पंकज नेमा, आनंद पैंकरा, दशरथ पैंकरा व विराट विशी मौजूद रहे।

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3

'सायबर की पाठशाला' : सायबर जागरूकता अभियान कड़ी-3
सायबर की पाठशाला में आज तीसरे पाठ में हम समझने की कोशिश कर रहे हैं कि एक सुरक्षित लिंक कैसा दिखता या होता है। धोखेबाज/अपराधी आम लोगों को ठगने के लिए बैंको के नाम से मिलते जुलते नाम या अक्षरों का प्रयोग करके एक यूआरएल/URL बनाता है और उसे मोबाइल पर सीधे मैसेज के रूप में भेजता है इन लिंकनुमा URL पर क्लिक करते ही आप ठगी के शिकार हो जाते हैं। यदि लिंक में anydesk, mingle, teamviewer जैसे शब्द हैं तो आपके फोन को हैक करने का प्रयास हो रहा है, तुरंत मैसेज डिलिट करें। लिंक पर क्लिक बिलकुल न करें। अनजान से व्यक्तियों से फोन पर ज्यादा बात न करें और न ही उन्हें किसी भी तरह की जानकारी दें चाहे कुछ भी हो जाए। तभी आप ठगी से बच पाएंगे। इस तरह के फर्जीवाड़ों पर और विस्तार से जानकारी के लिए इस श्रृंखला पर नजर बनाए रखें। पिछले पाठों को फिर से जानने के लिए/ पुनरावलोकन के लिए तस्वीर पर क्लिक करें या ऊपर के संबंधित टैब (सायबर की पाठशाला) पर क्लिक करें।