शनिवार, 20 नवंबर 2021

साहस, आत्मबल और सफलता के लिए संर्घष की मशाल थमा गया बाल सुरक्षा सप्ताह


  • सूरजपुर पुलिस ने पूरे सप्ताह बच्चों को दी बाल सुरक्षा से जुड़ी कई जानकारियां
  • हिम्मत कार्यक्रम से जुड़ी बालिकाओं ने किया रोप मलखम का  शानदार प्रदर्शन
  • स्कूली बच्चों की खूबसूरत रंगोली ने किया सभी का ध्यान आकर्षित

सूरजपुर।     पूर्व प्रधानमंत्री स्व.पंडित जवहार लाल नेहरू जी के जयंती को बाल दिवस के रूप मे पूरे देश मे मनाया जाता है, इसी परिप्रेक्ष्य में पुलिस मुख्यालय रायपुर के निर्देशानुसार 14 नवम्बर से 20 नवम्बर 2021 तक बाल सुरक्षा सप्ताह का आयोजन किया गया। पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता के मार्गदर्शन में पूरे जिले में बाल सुरक्षा सप्ताह मनाया गया जिसका शुभारंभ कार्यक्रम 14 नवम्बर को जिला मुख्यालय में किया गया था जिसका समापन शनिवार को थाना रामानुजनगर में किया गया। बाल सुरक्षा सप्ताह के दौरान जिले के पुलिस राजपत्रित अधिकारी, सभी थाना-चौकी प्रभारियों ने अपने क्षेत्र में स्थित स्कूलों में जाकर गुड-टच, बैड-टच, साईबर सुरक्षा, पास्को एक्ट, जेजे एक्ट, मानव तस्करी, नशा के दुष्प्रभाव, मानव तस्करी, बाल विवाह, बाल श्रम, स्वच्छता, नशा के दुष्प्रभाव, पीडित क्षतिपूर्ति की जानकारी देते हुए स्कूली बच्चों को थाना का शैक्षणिक भ्रमण भी कराया। 
            शनिवार को थाना रामानुजनगर में आयोजित समापन कार्यक्रम में हिम्मत कार्यक्रम के तहत आत्मरक्षा का प्रशिक्षण ले रहे बालिकाएं, स्कूली बच्चे के द्वारा रंगोली प्रतियोगिता, कुर्सी दौड़, जूड़ो करोटे एवं रोप मलखम का प्रदर्शन किया। सूरजपुर पुलिस के हिम्मत कार्यक्रम से जुड़े बालिका पूर्णिमा पूरी, दुर्गावती गुर्जर, सुनैना जायसवाल, मायावती जायसवाल, अंजली पूरी, मंजिता राजवाड़े, देवन्ती राजवाड़े ने रोप मलखम का शानदार प्रदर्शन एसडीओपी प्रेमनगर प्रकाश सोनी के नेतृत्व में किया।


            इस दौरान पुलिस अधीक्षक श्रीमती भावना गुप्ता ने बच्चों के अधिकारों की जानकारी देते हुए कहा कि बालकों का शोषण करने वाले असामाजिक तत्वों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई होगी जिसके तहत कठोर कारावास का प्रावधान है, जिससे स्वयं बचें और औरों को भी ऐसा ना करने को प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि हिम्मत कार्यक्रम से बालिकाओं में काफी हिम्मत आई है, रोप मलखम में बालिकाएं राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता के लिए चयनित हुई हैं, बालकों की सुरक्षा सर्वोपरि है जिसमें समाज के सभी वर्गो का सहयोग अपेक्षित है, अभिभावक हिम्मत कार्यक्रम के तहत बच्चों को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण लेने हेतु प्रोत्साहित करें। पुलिस अधीक्षक ने बच्चों द्वारा इस संबंध में पूछे गए प्रश्नों व उनकी जिज्ञासाओं का समाधान किया गया और बच्चों के साथ काफी समय भी बिताए।
            समापन कार्यक्रम में रंगोली प्रतियोगिता में छात्र आरती व लक्ष्मी के द्वारा चाचा नेहरू, माननीय मुख्यमंत्री छ.ग. शासन तथा राष्ट्रीय ध्वज की कलाकृति बनाया जिन्हें प्रथम स्थान हासिल हुआ, कुर्सी दौड़ में आंचल यादव ने प्रथम स्थान हासिल किया जिन्हें पुरस्कृत किया गया। रोप मलखम में शानदार प्रदर्शन करने वाली बालिका पूर्णिमा पूरी का जन्मदिवस होने की जानकारी पर पुलिस अधीक्षक ने जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में बालिका से केक कटवाकर उसका जन्मदिवस मनाया और उसे शुभकामनाएं दी।

                इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हरीश राठौर, सचिव प्रदेश कांग्रेस कमेटी इस्माईल खान, जिला पंचायत सदस्य उषा सिंह, मेंहदी यादव, प्रवक्ता ब्लाक कांग्रेस कमेटी ऋषि दुबे, सरपंच सुशीला सिंह, परमेश्वर यादव, आनंद कुंवर, संदीप जायसवाल, सत्य नारायण दुबे, गणेश, एसआई सुनीता भारद्धाज, एएसआई बृजेश यादव, कमाण्डो ट्रेनर चंदन टोप्पो, अम्मेलाल, बजरंग राजवाड़े, देवन्ती राजवाड़े, काफी संख्या में बच्चे एवं उनके अभिभावकगण मौजूद रहे।